उत्तराखंड: बिजली कर्मचारियों-पेंशनर्स को अब फ्री बिजली नहीं मिलेगी


उत्तराखंड के 15 हजार से ज्यादा बिजली कर्मचारियों, पेंशनर्स को अब फ्री बिजली नहीं मिलेगी. बिजली के तीनों निगमों के कर्मचारी, अफसर और पेंशनर्स के लिए बिजली के रेट और बिजली खर्च की एक सीमा तय कर दी गई है. इससे ज्यादा बिजली खर्च करने पर आम जनता जैसी ही वसूली होगी.

हाईकोर्ट में दायर जनहित याचिका के बाद तीनों निगमों के प्रबंधन स्तर पर कर्मचारियों और पेंशनर्स के लिए रेट तय किए गए. तीनों निगमों के बोर्ड से भी प्रस्ताव पास कराया जा चुका है. अब जुलाई महीने से ये नई दरें लागू होने जा रही हैं.

जुलाई अगस्त के बाद सितंबर में आने वाला बिल नई दर पर ही आएगा. अब चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी को हर महीने 100 रुपये बिल देना होगा. बदले में उसे 500 यूनिट तक बिजली खर्च का अधिकार होगा.

इससे ज्यादा खर्च पर आम जनता की दरों के हिसाब से ही बिल देना होगा. नई दरें एक जुलाई से लागू किए जाने के विधिवत आदेश यूपसीएल प्रबंधन ने अब जाकर जारी कर दिए हैं.

अब राज्य में बिजली कर्मचारी और पेंशनर्स के घरों में शत प्रतिशत बिजली मीटर अनिवार्य कर दिए गए हैं. अभी तक कर्मचारी, पेंशनर्स बिना बिजली मीटर के ही बेहिसाब बिजली खर्च करते थे. कई बार नियामक आयोग भी इस सम्बन्ध में सख्त आदेश जारी कर चुका है.

ऊर्जा कामगार संगठन समेत तमाम दूसरे कर्मचारी बिजली बिल की नई व्यवस्था से खुश नहीं हैं. अध्यक्ष राकेश शर्मा ने कहा कि हर विभाग अपने कर्मचारियों को सुविधा देता है. बेहतर यही होता कि पूर्व की राज्य विद्युत परिषद की न्यूनतम भुगतान की व्यवस्था को ही लागू रखा जाता. जो लोग दुरुपयोग करते हैं, उनके खिलाफ कार्रवाई हो. ऊर्जा ऑफिसर्स सुपरवाइजर्स एंड स्टाफ एसोसिएशन के अध्यक्ष डीसी गुरुरानी ने कहा कि बिजली कर्मचारियों को राहत मिलनी चाहिए थी. क्योंकि सबसे मुश्किल और विपरीत हालात में अपनी जान जोखिम में डाल कर बिजली कर्मचारी जनता तक बिजली पहुंचाते हैं.

बिजली कर्मचारियों, पेंशनर्स के लिए जो नए रेट और दरें तय की गई हैं, वो अभी भी नाममात्र की हैं. एक चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी को हर महीने 500 यूनिट बिजली खर्च करने पर सिर्फ 100 रुपये बिल देना होगा. जबकि इसी 500 यूनिट बिजली के लिए आम जनता को कम से कम 2500 रुपये महीने बिल का भुगतान करना पड़ता है.

Related Articles

अल्मोड़ा: एक ही गांव में 91 लोग निकले कोरोना पॉज़िटिव, स्वास्थ्य विभाग में मचा हड़कंप

अल्मोड़ा के धौलादेवी के काभड़ी गांव में 91 लोग कोरोना पॉज़िटिव पाए...

IPL2020: आज पंजाब-बैंगलोर आमने-सामने, विराट की नजर लगातार दूसरी जीत पर

दुबई| इंडियन प्रीमियर लीग के 13वें सीजन का 6वां मैच आज...

सीएफएसएल की रिपोर्ट में बड़ा खुलासा, सुशांत सिंह की हत्‍या के नहीं मिले कोई सबूत

नई दिल्‍ली| सुशांत सिंह राजपूत के मौत केस में बड़ा खुलासा हो...

दिल्ली: करकरडूमा इलाके में एक मॉल में लगी आग, कोई हताहत नहीं

नई दिल्ली| गुरुवार सुबह दिल्ली के करकरडूमा इलाके में एक मॉल में...

सूरत: ओएनजीसी प्लांट में विस्फोट के बाद लगी भीषण आग, किसी जान-माल के नुकसान की खबर नहीं

सूरत (गुजरात)| सूरत स्थित ऑयल एंड नेचुरल गैस कॉरपोरेशन (ओएनजीसी) के संयंत्र...

नैनीताल: उत्तराखंड हाईकोर्ट ने कोरोना संक्रमण पर निगरानी के लिए हर ज़िले में कमेटी बनाने का दिया आदेश

नैनीताल| उत्तराखण्ड हाईकोर्ट ने राज्य के सभी ज़िलों में कोरोना संक्रमण से...

देश में 24 घंटे में मिले कोरोना के करीब 87 हजार मरीज, अब तक 91 हजार से ज्यादा लोगों की मौत

भारत में कोरोना वायरस के संक्रमितों का आंकड़ा 57 लाख पार कर...

Latest Updates

दिल्ली: करकरडूमा इलाके में एक मॉल में लगी आग, कोई हताहत नहीं

नई दिल्ली| गुरुवार सुबह दिल्ली के करकरडूमा इलाके में एक मॉल में आग लग गई. हालांकि आग पर...

उत्तराखंड राज्य विश्वविद्यालय विधेयक 2020 विधानसभा में पास, समस्त विश्वविद्यालयों के लिए एक समान नियम होंगे लागू

उत्तराखंड राज्य विश्वविद्यालय विधेयक 2020 को विधानसभा में ध्वनिमत से पास कर दिया गया है. उच्च शिक्षा राज्य...

सूरत: ओएनजीसी प्लांट में विस्फोट के बाद लगी भीषण आग, किसी जान-माल के नुकसान की खबर नहीं

सूरत (गुजरात)| सूरत स्थित ऑयल एंड नेचुरल गैस कॉरपोरेशन (ओएनजीसी) के संयंत्र में गुरुवार तड़के भीषण आग लग गई. इसके बाद फायर...

अन्य खबरें

गुप्तेश्वर पांडेय के वीआरएस पर संजय राउत का बड़ा बयान- ‘महाराष्ट्र पर राजकीय तांडव का बिहार से मिला इनाम’

मुंबई| बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने वीआरएस यानी वॉलंटरी रिटायरमेंट ले लिया है. अब इस मामले को लेकर सियासी बयानबाजी...

कोरोना से जूझते उत्तराखंड में कांग्रेसी विधायकों ने विधानसभा जाने के लिए ट्रैक्टर पर चढ़कर किया तमाशा

उत्तराखंड में कोरोना वायरस बेकाबू होता जा रहा है, शासन से लेकर प्रशासन और आम लोग तक डरे सहमे हुए हैं.

बसपा संगठन में अहम बदलाव, मुनकाद अली से ली गई उत्तराखंड की जिम्मेदारी वापस

बहुजन समाज पार्टी ने मंडल स्तरीय संगठन में अहम बदलाव कर दिया है. बसपा की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने फरमान...

मोदी सरकार के कृषि विधेयक ने शिवराज की बढ़ाई टेंशन, सीएम किसानों की आवभगत में जुटे

केंद्र की भाजपा सरकार ने कृषि विधेयक संसद से पारित कराकर किसानों के साथ मध्य प्रदेश 'शिवराज सिंह चौहान सरकार की भी...

संसद के बाद अब सड़क पर भी भाजपा-विपक्ष में किसानों का नेता बनने की छिड़ी सियासी जंग

कमाल की राजनीति है. कोई भी राजनीतिक दल देश की जनता के सामने अपने आपको सबसे बड़ा हितेषी बताने के लिए तमाम...

उत्तराखंड में बढ़ा ‘आप’ का कुनबा सैकड़ों समर्थकों के साथ जितेंद्र मलिक ने ज्वाइन की पार्टी

उत्तराखंड में साल 2022 का चुनावी रण दिलचस्प होने वाला है. विधानसभा चुनाव की तैयारियों में जुटी आम आदमी पार्टी हर स्तर...