आखिरकार भाजपा के चंगुल से निकली राजस्थान की गहलोत सरकार


आखिरकार आज राजस्थान में कांग्रेस सरकार के लिए राहत वाली खबर रही. लगभग एक महीने से भाजपा के चंगुल में फंसी अशोक गहलोत सरकार को आजादी मिली. लेकिन उससे पहले गहलोत सरकार को कुदरत के कहर से गुजरना पड़ा. शुक्रवार सुबह से ही राजस्थान की राजधानी जयपुर में बारिश ने इस कहर बरपाया कि इससे गहलोत सरकार घिर गई. राज्य विधानसभा सत्र में भी बारिश ने खलल डाला.

दरअसल गहलोत खेमे के विधायक सत्र में हिस्सा लेने के लिए फेयरमांट होटल से दो बसों में सवार होकर रवाना हुए थे. लेकिन भारी बारिश के कारण तालाब बन चुकी जयपुर की सड़क पर दोनों बसें फंस गईं, इससे अनेक विधायक समय पर सदन में नहीं पहुंच पाए. इस वजह से विधानसभा सत्र की कार्यवाही भी दोपहर एक बजे तक के लिए स्थगित कर करनी पड़ी थी. उससे पहले कांग्रेस के विधायकों की एक बस पहले ही होटल से सदन पहुंच चुकी थी, जिसके बाद बीजेपी विधायक भी सदन पहुंचे उसके बाद और विधानसभा का सत्र शुरू हो सका.

इससे पहले कांग्रेस की हुई बैठक में गहलोत व पायलट के साथ कांग्रेस के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल, पार्टी के प्रदेश प्रभारी अविनाश पांडे व पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा भी मौजूद थे. इसके बाद कांग्रेस विधायक दल की बैठक मुख्यमंत्री निवास में हुई जिसमें गहलोत, पायलट के साथ साथ कांग्रेस व उनके समर्थक विधायक भी शामिल हुए. शुक्रवार की सबसे महत्वपूर्ण घटना पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट की मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से मुलाकात रही. लगभग एक महीने की सियासी खींचतान का एक तरह से पटाक्षेप करते हुए दोनों नेता मुख्यमंत्री निवास में मिले.


विधानसभा में गहलोत सरकार ने विश्वासमत जीता
अशोक गहलोत सरकार ने शुक्रवार को विधानसभा में विश्वास मत जीत लिया. विश्वास प्रस्ताव पर बहस के दौरान मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा भाजपा ने सरकार गिराने की साजिश रची थी. इसी के साथ राजस्थान में एक महीने से जारी सियासी नाटक का भी अंत माना जा रहा है. विधानसभा सत्र के दौरान गहलोत के जवाब के बाद स्पीकर सीपी जोशी ने ध्वनिमत से विश्वास मत पारित कर सदन की कार्यवाही अगले शुक्रवार यानी 21 अगस्त तक के लिए स्थगित कर दी. बहस के दौरान संसदीय कार्य मंत्री शांति धारीवाल ने कहा कि राजस्थान में न तो किसी शाह की चली, न तानाशाह की.

दूसरी और कांग्रेस के जवाब में भाजपा भी आज आक्रामक मूड में नजर आई. भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया बोले, ‘मैं विश्वास मत प्रस्ताव का विरोध करता हूं. प्रदेश भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि राजस्थान का जुगाड़ मशहूर है. उस जुगाड़ के लिए जादूगर भी मशहूर हैं. यहां हम आपको बता दें कि गहलोत सरकार के विधानसभा सत्र में अपनी सरकार बचाने के लिए विश्वास मत प्राप्त करने के लिए सियासी गलियारों में निगाहें लगी हुई थी. आज भले ही सरकार गहलोत सरकार ने अपनी सरकार बचा ली है, लेकिन आने वाले दिनों में उनके सामने सरकार चलाने की भी चुनौती कम नहीं होगी. एक और जहां मुख्यमंत्री गहलोत को सचिन पायलट गुट के विधायकों को विश्वास में लेना वहीं तिलमिलाई भाजपा से भी सतर्क रहना होगा.


बारिश के कहर से पूरा जयपुर हुआ अस्त व्यस्त
हम आपको बता दें कि राजस्थान की राजधानी जयपुर में जोरदार बारिश के चलते कई इलाके पानी में डूबे हुए हैं. शहर के कई सड़कों पर गर्दन तक पानी भरा हुआ है. लगातार तेज बारिश में फंसे हुए लोगों को अपने वाहन सड़कों पर छोड़ने पड़े. पानी का बहाव इतना तेज था कि उसमें कारें बहती नजर आईं. प्रशासन सिविल डिफेंस की टीमों के साथ 13 इलाकों में रेस्क्यू ऑपरेशन चला रहा है.

भारी बारिश के कारण राजधानी की सड़कें तालाब बन गई हैं, सड़क पर खड़ी गाड़ियां डूब गई हैं, वहीं लोगों को आवाजाही में काफी परेशानी का सामना करना पड़ा. दोपहर 3 बजे तक जयपुर में 195 एमएम बारिश दर्ज की गई इससे पहले 8 साल पहले वर्ष 2012 में इतनी रिकॉर्ड बारिश दर्ज की गई थी. जयपुर के मकानों और दुकानों में पानी भर गया है.

भारी बारिश के बाद शहर के कई उफनते नाले सड़कों पर दिखाई दिए. सड़क पर खड़े वाहन बहते दिखे. नाले का पानी कॉलोनियों में पहुंच गया. सरकारी दफ्तरों और अस्पताल के बेसमेंट में भी पानी भर गया है. आफत की बारिश के बीच जयपुर में चट्टान सड़क पर आ गिरी. जयपुर में बिजली व्यवस्था भारी बारिश के कारण पूरी तरह चरमरा गई.


शंभू नाथ गौतम, वरिष्ठ पत्रकार

Related Articles

गुप्तेश्वर पांडेय के वीआरएस पर संजय राउत का बड़ा बयान- ‘महाराष्ट्र पर राजकीय तांडव का बिहार से मिला इनाम’

मुंबई| बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने वीआरएस यानी वॉलंटरी रिटायरमेंट...

जानिए पृथ्वी जैसे बाह्यग्रह का नाम क्यों ‘Pi Earth’ रखा है खगोलविदों ने

खगोलविदों को हमारे सौरमंडल के बाहर कई तरह के बाह्यग्रह ...

टाइम मैग्जीन ने सौ प्रभावशाली लोगों में पीएम मोदी को शामिल कर प्रशंसा भी की

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए बुधवार अंतरराष्ट्रीय स्तर पर काफी सुखद कहा...

बड़ी खबर: भारत की आर्थिक मदद से तिलमिलाया चीन, आने लगी मालदीव की सम्प्रभुता की याद

पड़ोसी देश मालदीव को भारत द्वारा आर्थिक मदद दिए जाने से चीन...

कोरोना की दहशत में शुरू हुआ उत्तराखंड विधानसभा का एक दिन का मानसून सत्र

बुधवार को उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में कोरोना के साए में सभा...

उत्तराखंड सरकार ने पर्यटकों के लिए हटाया कोविड निगेटिव रिपोर्ट और दो दिन ठहरने का प्रतिबंध

सरकार ने बाहरी राज्यों से उत्तराखंड आने वाले पर्यटकों के लिए कोविड...

बिहार के डीजपी गुप्तेश्वर पांडे ने लिया वीआरएस, चुनाव लड़ने की अटकले हुई तेज

बिहार के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) गुप्तेश्वर पांडेय ने स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति (वीआरएस) ले...

Latest Updates

बड़ी खबर: भारत की आर्थिक मदद से तिलमिलाया चीन, आने लगी मालदीव की सम्प्रभुता की याद

पड़ोसी देश मालदीव को भारत द्वारा आर्थिक मदद दिए जाने से चीन चिढ़ गया है. चीन का कहना...

कोरोना की दहशत में शुरू हुआ उत्तराखंड विधानसभा का एक दिन का मानसून सत्र

बुधवार को उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में कोरोना के साए में सभा का एक दिन का मानसून सत्र शुरू हो गया है....

कोरोना से जूझते उत्तराखंड में कांग्रेसी विधायकों ने विधानसभा जाने के लिए ट्रैक्टर पर चढ़कर किया तमाशा

उत्तराखंड में कोरोना वायरस बेकाबू होता जा रहा है, शासन से लेकर प्रशासन और आम लोग तक डरे सहमे हुए हैं.

अन्य खबरें

गुप्तेश्वर पांडेय के वीआरएस पर संजय राउत का बड़ा बयान- ‘महाराष्ट्र पर राजकीय तांडव का बिहार से मिला इनाम’

मुंबई| बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने वीआरएस यानी वॉलंटरी रिटायरमेंट ले लिया है. अब इस मामले को लेकर सियासी बयानबाजी...

कोरोना से जूझते उत्तराखंड में कांग्रेसी विधायकों ने विधानसभा जाने के लिए ट्रैक्टर पर चढ़कर किया तमाशा

उत्तराखंड में कोरोना वायरस बेकाबू होता जा रहा है, शासन से लेकर प्रशासन और आम लोग तक डरे सहमे हुए हैं.

बसपा संगठन में अहम बदलाव, मुनकाद अली से ली गई उत्तराखंड की जिम्मेदारी वापस

बहुजन समाज पार्टी ने मंडल स्तरीय संगठन में अहम बदलाव कर दिया है. बसपा की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने फरमान...

मोदी सरकार के कृषि विधेयक ने शिवराज की बढ़ाई टेंशन, सीएम किसानों की आवभगत में जुटे

केंद्र की भाजपा सरकार ने कृषि विधेयक संसद से पारित कराकर किसानों के साथ मध्य प्रदेश 'शिवराज सिंह चौहान सरकार की भी...

संसद के बाद अब सड़क पर भी भाजपा-विपक्ष में किसानों का नेता बनने की छिड़ी सियासी जंग

कमाल की राजनीति है. कोई भी राजनीतिक दल देश की जनता के सामने अपने आपको सबसे बड़ा हितेषी बताने के लिए तमाम...

उत्तराखंड में बढ़ा ‘आप’ का कुनबा सैकड़ों समर्थकों के साथ जितेंद्र मलिक ने ज्वाइन की पार्टी

उत्तराखंड में साल 2022 का चुनावी रण दिलचस्प होने वाला है. विधानसभा चुनाव की तैयारियों में जुटी आम आदमी पार्टी हर स्तर...