चमोली: दुर्मीताल में खुदाई के दौरान मिली ब्रिटिश कालीन नाव

चमोली| उत्तराखंड ऐतिहासिक धरोहरों का खजाना है. आध्यात्म के साथ-साथ इतिहास में रुचि रखने वाले लोगों के यहां बहुत कुछ है. इतिहास का ऐसा ही एक खजाना चमोली जिले के दुर्मीताल में मिला है, जिसे देख लोग हैरान हैं. यहां दुर्मीताल में खुदाई के दौरान करीब 50 साल पुरानी नाव मिली है.

कुछ लोग इसे ब्रिटिश काल की नाव भी कह रहे हैं. बताया जा रहा है कि जिस क्षेत्र में नाव मिली है, वो जगह ब्रिटिश काल में नौकायन के लिए मशहूर थी. स्थानीय ग्रामीण प्रशासन से दुर्मीताल के पुनर्निर्माण की मांग कर रहे हैं. यहां नाव मिलने की कहानी भी बड़ी दिलचस्प है. दुर्मीताल चमोली जिले की निजमूला घाटी में स्थित है.

बताया जाता है कि अंग्रेजी शासनकाल के दौरान निजमूला घाटी के तकरीबन पांच किमी क्षेत्र में दुर्मीताल फैला हुआ था. ब्रिटिश हुकूमत के दौरान इस जगह की शान देखने लायक होती थी. बताया जाता है कि उस दौरान यहां अंग्रेज अफसर नौकायन का लुत्फ उठाने आते थे. आजादी के बाद भी ये ताल घाटी के एक दर्जन से ज्यादा गांवों के लिए रोजगार का प्रमुख जरिया बना रहा.

यहां बड़ी तादाद में पर्यटक आते थे, लेकिन साल 1971 में आई आपदा में दुर्मीताल बाढ़ की भेंट चढ़ गया. उस दौरान यहां रखीं ज्यादातर नावें बाढ़ की भेंट चढ़ गईं, कुछ मलबे में दब गई थीं. जिससे घाटी की ग्रामीणों का रोजगार छिन गया.

काम की तलाश में ग्रामीण पलायन करने लगे. पलायन रोकने के लिए यहां के ग्रामीण लंबे अर्से से दुर्मीताल के पुनर्निर्माण की मांग कर रहे थे, लेकिन ना तो सरकार ने इस तरफ ध्यान दिया और ना ही संबंधित विभागों ने. सरकारी स्तर पर कोई सुनवाई नहीं हुई तो ग्रामीणों ने खुद ही दुर्मीताल की हालत सुधारने का बीड़ा उठा लिया. स्वतंत्रता दिवस के मौके पर घाटी के एक दर्जन से ज्यादा गांवों के लोग दुर्मीताल में इकट्ठे हुए और ताल के पुनर्निर्माण का संकल्प लिया.

दुर्मीताल में जोर-शोर से खुदाई शुरू हुई. खास बात ये रही कि पहले ही दिन खुदाई में यहां मलबे से ब्रिटिश काल की नाव निकल आई. जैसे ही ये खबर क्षेत्र में फैली नाव देखने के लिए लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी. ईराणी गांव के प्रधान मोहन सिंह नेगी बताते हैं कि दुर्मीताल में अंग्रेजों की कई नावें थीं, जिन्हें रखने के लिए यहां एक किश्ती घर भी बनाया गया था. लेकिन 1971 में आई बाढ़ में किश्ती घर बह गया.

यहां रखीं ज्यादातर नावें बाढ़ की भेंट चढ़ गईं, कुछ मलबे में दब गई थीं. अब दुर्मीताल को दोबारा सजाने-संवारने के लिए स्थानीय ग्रामीण खुद आगे आए हैं. यहां ईरानी, पाणा, झींझी, पगना, दुर्मी, गौना, निजमूला, थोलि और ब्यारा समेत कई गांवों के ग्रामीण दुर्मीताल को संवारने में जुटे हैं, ताकि दुर्मीताल को उसका खोया हुआ रुतबा वापस मिल सके.

Related Articles

सूरत: ओएनजीसी प्लांट में विस्फोट के बाद लगी भीषण आग, किसी जान-माल के नुकसान की खबर नहीं

सूरत (गुजरात)| सूरत स्थित ऑयल एंड नेचुरल गैस कॉरपोरेशन (ओएनजीसी) के संयंत्र...

नैनीताल: उत्तराखंड हाईकोर्ट ने कोरोना संक्रमण पर निगरानी के लिए हर ज़िले में कमेटी बनाने का दिया आदेश

नैनीताल| उत्तराखण्ड हाईकोर्ट ने राज्य के सभी ज़िलों में कोरोना संक्रमण से...

देश में 24 घंटे में मिले कोरोना के करीब 87 हजार मरीज, अब तक 91 हजार से ज्यादा लोगों की मौत

भारत में कोरोना वायरस के संक्रमितों का आंकड़ा 57 लाख पार कर...

राशिफल 24-09-2020: आज इन राशि वालो को मिलेगी करियर में उड़ान

मेष-: आज का दिन आपके लिए ठीक रहने वाला है. किसी बात...

MI Vs KKR: रोहित शर्मा ने जड़ा धुआंधार अर्धशतक, बना डाले नए आईपीएल रिकॉर्ड- एक रिकॉर्ड से चूके

अबु धाबी|..... मुंबई इंडियंस और कोलकाता नाइट राइडर्स के बीच आईपीएल 2020...

Latest Updates

रिया चक्रवर्ती ने जमानत याचिका में खुद को बताया निर्दोष, कहा- सुशांत ही लेते थे ड्रग्‍स, मैंने उनके कहने पर खरीदे

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत से जुड़े ड्रग्स मामले में गिरफ्तार अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती ने मुंबई हाई कोर्ट में दायर...

देश में 24 घंटे में मिले कोरोना के करीब 87 हजार मरीज, अब तक 91 हजार से ज्यादा लोगों की मौत

भारत में कोरोना वायरस के संक्रमितों का आंकड़ा 57 लाख पार कर गया है. पिछले 24 घंटे में कोरोना के 86 हजार...

IPL 2020, KKR vs MI: पहले मैच में कोलकाता नाइट राइडर्स को मिली करारी शिकस्त, मुंबई ने 49 रन से जीता मुकाबला

अबु धाबी|.... आईपीएल 2020 में पहला मैच गंवाने के बाद मुंबई इंडियंस जीत की राह पर लौट आई है. मुंबई ने अपने दूसरे...

अन्य खबरें

गुप्तेश्वर पांडेय के वीआरएस पर संजय राउत का बड़ा बयान- ‘महाराष्ट्र पर राजकीय तांडव का बिहार से मिला इनाम’

मुंबई| बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने वीआरएस यानी वॉलंटरी रिटायरमेंट ले लिया है. अब इस मामले को लेकर सियासी बयानबाजी...

कोरोना से जूझते उत्तराखंड में कांग्रेसी विधायकों ने विधानसभा जाने के लिए ट्रैक्टर पर चढ़कर किया तमाशा

उत्तराखंड में कोरोना वायरस बेकाबू होता जा रहा है, शासन से लेकर प्रशासन और आम लोग तक डरे सहमे हुए हैं.

बसपा संगठन में अहम बदलाव, मुनकाद अली से ली गई उत्तराखंड की जिम्मेदारी वापस

बहुजन समाज पार्टी ने मंडल स्तरीय संगठन में अहम बदलाव कर दिया है. बसपा की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने फरमान...

मोदी सरकार के कृषि विधेयक ने शिवराज की बढ़ाई टेंशन, सीएम किसानों की आवभगत में जुटे

केंद्र की भाजपा सरकार ने कृषि विधेयक संसद से पारित कराकर किसानों के साथ मध्य प्रदेश 'शिवराज सिंह चौहान सरकार की भी...

संसद के बाद अब सड़क पर भी भाजपा-विपक्ष में किसानों का नेता बनने की छिड़ी सियासी जंग

कमाल की राजनीति है. कोई भी राजनीतिक दल देश की जनता के सामने अपने आपको सबसे बड़ा हितेषी बताने के लिए तमाम...

उत्तराखंड में बढ़ा ‘आप’ का कुनबा सैकड़ों समर्थकों के साथ जितेंद्र मलिक ने ज्वाइन की पार्टी

उत्तराखंड में साल 2022 का चुनावी रण दिलचस्प होने वाला है. विधानसभा चुनाव की तैयारियों में जुटी आम आदमी पार्टी हर स्तर...