हिन्दू धर्म में पूजी जाने वाली तुलसी गंभीर बीमारियों के इलाज में कारगर

घरों के आंगन और छतों पर मिलने वाली तुलसी हिंदू मान्यताओं के अनुसार पूजनीय होती है. लेकिन तुलसी सिर्फ एक पौधा ही नहीं है बल्कि इसका इस्तेमाल जड़ी-बूटी के तौर पर किया जाता है. तुलसी में बहुत रोगों से लड़ने की क्षमता होती है इसलिए इसे ‘क्वीन ऑफ हर्ब्स’ कहा जाता है.

आज हम आपको यहां बता रहे हैं कि तुलसी के क्या-क्या लाभ हैं और इसका इस्तेमाल कहां-कहां किया जाता है? दरअसल, इस समय पूरी दुनिया में कोरोनावायरस फैला हुआ है तो उसको देखते हुए सभी लोग अपने-अपने स्तर पर इससे बचनेे के लिए प्रयास कर रहे हैं. लेकिन मेडिकल साइंस की मानें तो अगर किसी व्यक्ति की रोग प्रतिरोधक क्षमता अधिक होगी, तो उसे किसी भी वायरस से लड़ने में मदद मिलेगी.

तुलसी से बढ़ती है रोग प्रतिरोधक क्षमता
तुलसी के बीजों में फ्लैवोनोइड्स और फेनोलिक शामिल होते हैं जो कि मानव के शरीर में प्रतिरक्षा प्रणाली को सुधारते हैं. तुलसी एंटी-ऑक्सीडेंट गुणों से भरपूर होती है जो कि शरीर में फ्री रेडिकल्स से होने वाले नुकसान से बचाती है. अगर आप इसकी पत्तियां चबाते हैं या फिर इससे हर्बल-टी बनाकर पीते हैं तो उससे शरीर को लाभ होता है. अगर किसी भी इंसान का इम्युनिटी सिस्टम स्ट्रॉन्ग है तो उसे बीमारियां कम लगती हैं और वह उनका मुकाबला कर लेता है.

जुकाम और सर्दी में दे राहत

वैसे तो सर्दी जुकाम बहुत आम बीमारी है, लेकिन इससे लोगों को अक्सर काफी परेशानी हो जाती है. तुलसी इंसान को सर्दी और जुकाम में भी राहत प्रदान करने का काम करती है. एंटीस्पास्मोडिक प्रभाव वाली तुलसी सर्दी और जुकाम से परेशान लोगों की मदद करती है. वहीं इसके सेवन से बुखार में भी राहत मिल सकती है.

पिंपल्स को करे खत्म
लड़कियों में पिंपल्स की बहुत ज्यादा परेशानी होती है और वह इससे अक्सर राहत चाहती हैं और कई तरह के उपाए करती रहती हैं. अगर आप भी पिंपल्स से परेशान हैं तो आप तुलसी के पत्तों और संतरे के छिलकों का पाउडर लें और उसमें गुलाब जल मिलाकर पेस्ट तैयार करें. इस पेस्ट को करीब 15 मिनट के लिए चेहरे लगा रहने दें और उसके बाद धो लें. इसके अलावा आप तुलसी के पत्तों का रस और चंदन पाउडर से पेस्ट बनाकर उसे भी चेहरे पर लगा सकती हैं.

स्ट्रेस करे दूर
भागदौड़ भरी इस जिंदगी में कुछ लोग मानसिक परेशानियों से जूझ रहे होते हैं और उनमें स्ट्रेस रहने लगता है. कई बार जब दवाई से फायदा नहीं होता है तो कुछ घरेलू नुस्खे अपनाए जाते हैं. तुलसी के पत्तों में एंटी- स्ट्रेस एजेंट होते हैं जो कि इंसान के शरीर में मानसिक परेशानी और तनाव को ठीक करते हैं. इसी के साथ तुलसी के सेवन से स्ट्रेस की वजह से पैदा होने वाले नाकारात्मक विचारों से मुकाबले करने में भी मदद मिलती है.

कैंसर से लड़ने में मददगार
कैंसर बहुत ज्यादा खतरनाक बीमारी है, लेकिन इसका इलाज भी आयुर्वेद में मौजूद है. हमारे घर में मौजूद तुलसी का पौधा इस बीमारी से लड़ने में मदद करता है. तुलसी में यूजेनॉल कंपाउंड पाया जाता है जो कि इंसान के शरीर में कैंसर से लड़ने में मददगार साबित होता है. कई रिसर्च में भी पाया गया है कि तुलसी कैंसर से लड़ने में मददगार रहती है. वहीं, जो लोग नियमित रूप से तुलसी का सेवन करते हैं तो उन्हें कैंसर होने की संभावना बहुत कम होती है.

Related Articles

IPL 2020 MI vs CSK: चेन्‍नई सुपर किंग्‍स ने मुंबई इंडियंस को पांच विकेट से हराया

भारत का लोकप्रिय क्रिकेट टूर्नामेंट इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) 2020 शनिवार से...

टिकटॉक-वीचैट पर बैन के बाद बौखलाया चीन, अमेरिका को दी चेतावनी

चीन ने वीचैट और टिकटॉक ऐप की डाउनलोडिंग को रोकने के...

पूर्व सैन्य अधिकारियों ने सीएम रावत से भेंट कर हाउस टैक्स में छूट बरकरार रखने का किया अनुरोध

शनिवार को सीएम त्रिवेन्द्र सिंह रावत से सीएम आवास में पूर्व सैन्य...

उत्तराखंड में कोरोना संक्रमण के नए मामलों का रिकॉर्ड टूटा, एक दिन में मिले दो हजार से अधिक मामले

उत्तराखंड में एक बार फिर कोरोना संक्रमण के नए मामलों का रिकॉर्ड टूट गया....

‘द कपिल शर्मा शो’ में चंदन प्रभाकर की वापसी, बताया क्यों लिया था ब्रेक

मुंबई| द कपिल शर्मा शो की टीम से बीते कुछ समय में गायब रहे...

योगी सरकार के मंत्री ने कहा लव जिहाद रोकने के लिए यूपी में बनेगा कानून

यूपी योगी सरकार के एक मंत्री ने लव जिहाद रोकने के लिए...

आईपीएल में एंकरिंग करती दिखेगी पहाड़ की तान्या पुरोहित

आज शनिवार से शुरू हो रहे आईपीएल-2020 में उत्तराखंड के श्रीनगर की तान्या पुरोहित...

उत्तराखंड: नहीं मिल रहा आयुष्मान योजना का लाभ, निजी अस्पतालों में महंगे पड़ रहे इंजेक्शन

कोरोना के गंभीर मरीजों को लगने वाले महंगे इंजेक्शन निजी अस्पतालों में...

Latest Updates

‘बॉर्डर पर होने वाली झड़पें बढ़ रही हैं और लोग मर रहे हैं’- पाकिस्तान के साथ बातचीत के पक्ष में फारूक अब्दुल्ला

नई दिल्ली| नेशनल कॉन्फेंस के सांसद फारूक अब्दुल्ला ने एक बार फिर कश्मीर में शांति के लिए पाकिस्तान के साथ बातचीत पर...

उत्तराखंड में कोरोना संक्रमण के नए मामलों का रिकॉर्ड टूटा, एक दिन में मिले दो हजार से अधिक मामले

उत्तराखंड में एक बार फिर कोरोना संक्रमण के नए मामलों का रिकॉर्ड टूट गया. शनिवार को राज्य में 2087 नए मामले सामने आए हैं.जिनमें...

‘द कपिल शर्मा शो’ में चंदन प्रभाकर की वापसी, बताया क्यों लिया था ब्रेक

मुंबई| द कपिल शर्मा शो की टीम से बीते कुछ समय में गायब रहे चंदू उर्फ ​​चंदन प्रभाकर एक बार फिर वापस लौट चुके...

अन्य खबरें

‘बॉर्डर पर होने वाली झड़पें बढ़ रही हैं और लोग मर रहे हैं’- पाकिस्तान के साथ बातचीत के पक्ष में फारूक अब्दुल्ला

नई दिल्ली| नेशनल कॉन्फेंस के सांसद फारूक अब्दुल्ला ने एक बार फिर कश्मीर में शांति के लिए पाकिस्तान के साथ बातचीत पर...

योगी सरकार के मंत्री ने कहा लव जिहाद रोकने के लिए यूपी में बनेगा कानून

यूपी योगी सरकार के एक मंत्री ने लव जिहाद रोकने के लिए महत्वपूर्ण बयान दिया है.‌ यह बयान यूपी शासन की ओर...

केंद्र से लेकर योगी सरकार तक युवाओं के आक्रोश पर विपक्ष की चमक रही राजनीति

केंद्र से लेकर उत्तर प्रदेश की योगी सरकार के खिलाफ युवाओं और बेरोजगारों का आक्रोश अब भारी पड़ने लगा है. 'भाजपा सरकार...

अकाली दल एनडीए से अलग हुई या पंजाब चुनावों के लिए भाजपा से किया समझौता !

एनडीए का सबसे पुराना घटक दल शिरोमणि अकाली दल भाजपा सरकार के खिलाफ विरोध में उतरना सियासी पंडितों को भी समझ नहीं...

यूपी विधानसभा उपचुनाव: कांग्रेस-बसपा के चुनावी समर में उतरने से दिलचस्प होगा मुकबला

लखनऊ| यूपी के आठ विधानसभा क्षेत्रों में होंने वाले उप चुनावों में कांग्रेस ने कमेटी बनाकर तो बसपा ने उम्मीदवारों के चयन...

हरसिमरत बादल का इस्तीफा राष्ट्रपति ने स्वीकार किया, तोमर को मिला अतिरिक्त प्रभार

नई दिल्ली| शिरोमणि अकाली दल (शिअद) की नेता एवं खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने कृषि से जुड़े तीन विधेयकों...