सोनिया-राहुल बीजेपी से मिलीभगत के आरोपों से नाराज़ आजाद को मनाने में जुटे


कांग्रेस कार्य समिति की बैठक में भी गांधी परिवार और सीनियर नेताओं में तकरार बढ़ती जा रही है. जिसके बाद अब गांधी परिवार डैमेज कंट्रोल मोड में आ गया है. बैठक में राहुल गांधी ने पार्टी में नेतृत्व के मुद्दे पर सोनिया गांधी को चिट्ठी लिखने वाले सीनियर नेताओं पर निशाना साधा था. राहुल ने कथित रूप से आरोप लगाये कि यह सब बीजेपी के इशारे पर हो रहा है.

गुलाम नबी आजाद और कपिल सिब्बल ने इस पर कड़ी नाराजगी जताई. ऐसे में गुलाम नबी आजाद को मनाने के लिए खुद सोनिया गांधी को आगे आना पड़ा है. सोमवार को सोनिया ने आजाद से काफी देर तक फोन पर बात की. अब सूत्रों के हवाले से खबर है कि राहुल गांधी भी गुलाम नबी आजाद से गिले शिकवे दूर करने में जुट गए हैं. सूत्रों के मुताबिक, मंगलवार को राहुल ने भी आजाद को मनाने के लिए फोन पर कुछ देर बात की.

एक अंग्रेजी अखबार के मुताबिक, सोनिया गांधी ने सोमवार शाम को गुलाम नबी आजाद से फोन कर बात की. हालांकि, यह पता नहीं चल सका है कि दोनों नेताओं के बीच क्या बातचीत हुई. अनुमान लगाया जा रहा है कि गांधी परिवार किसी भी कीमत पर पार्टी के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद को रूठने नहीं देना चाहता है.

क्योंकि, गुलाम नबी आजाद राज्य सभा में विपक्ष के नेता के साथ संसद में कांग्रेस की दमदार आवाज भी हैं. एक महीने के अंदर ही संसद का मानसून सत्र शुरू होने वाला है. ऐसे में कांग्रेस आलाकमान यह नहीं चाहता कि पार्टी की एकता को खतरा हो या संसद में उनकी आवाज कमजोर पड़े.

सीडब्लूसी की बैठक से एक दिन पहले रविवार को पार्टी में उस वक्त नया सियासी तूफान आ गया, जब पूर्णकालिक व जमीनी स्तर पर सक्रिय अध्यक्ष बनाने और संगठन में ऊपर से लेकर नीचे तक बदलाव की मांग को लेकर सोनिया गांधी को एक चिट्ठी लिखे जाने की बात सामने आई. इस चिट्ठी में 23 वरिष्ठ नेताओं के साइन थे.

कांग्रेस में नेतृत्व को लेकर 23 नेताओं ने सोनिया गांधी को लेटर लिखा था. इनमें गुलाम नबी आजाद, राज्यसभा में कांग्रेस के उपनेता आनंद शर्मा, पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा, पृथ्वीराज चव्हाण, राजिंदर कौर भट्टल , पूर्व मंत्री मुकुल वासनिक, कपिल सिब्बल, एम वीरप्पा मोइली, शशि थरूर, सांसद मनीष तिवारी, पूर्व सांसद मिलिंद देवड़ा, जितिन प्रसाद, संदीप दीक्षित और कई अन्य नेताओं के नाम शामिल हैं.

हालांकि, इस चिट्ठी की खबर सामने आने के साथ ही पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और पार्टी के कई अन्य वरिष्ठ व युवा नेताओं ने सोनिया और राहुल गांधी के नेतृत्व में भरोसा जताया. उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि गांधी परिवार ही पार्टी को एकजुट रख सकता है.

कांग्रेस में नेतृत्व के मुद्दे पर सोनिया गांधी को पत्र लिखने वाले नेताओं पर निशाना साधते हुए राहुल गांधी ने आरोप लगाये कि यह सब बीजेपी की साठ-गांठ से हो रहा है. राहुल ने कहा कि जब पार्टी राजस्थान और मध्य प्रदेश में विरोधी ताकतों से लड़ रही थी और सोनिया गांधी अस्वस्थ थीं, तो उस समय ऐसा लेटर क्यों लिखा गया?

आजाद बोले-आरोप साबित करें, दे दूंगा इस्तीफा
राहुल के बयान पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद और कपिल सिब्बल ने नाराजगी जताई. आजाद ने कहा कि अगर आरोप सही साबित हुआ कि बीजेपी से साठ-गांठ है, तो मैं इस्तीफा दे दूंगा.

उधर, वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने ट्वीट कर नाराजगी जताई. सिब्बल ने कहा कि राहुल गांधी कहते हैं कि हमारी बीजेपी के साथ साठ-गांठ है. मैंने राजस्थान हाईकोर्ट में पार्टी को सफलता दिलाई. मणिपुर में बीजेपी के खिलाफ पूरी ताकत से पार्टी का बचाव किया. पिछले 30 सालों में बीजेपी के पक्ष में एक भी बयान नहीं दिया. फिर भी हम पर बीजेपी से साठ-गांठ का आरोप लग रहा है.


बताया जा रहा है कि कांग्रेस हाईकमान गुलाम नबी आजाद के साथ ही कपिल सिब्बल को भी मनाने की कोशिश कर रही है. पार्टी चाहती है कि ये मामला जल्द से जल्द सुलझा लिया जाए और मतभेद दूर करके अन्य मुद्दों पर ध्यान दिया जाए.

Related Articles

मोदी सरकार के कृषि विधेयक ने शिवराज की बढ़ाई टेंशन, सीएम किसानों की आवभगत में जुटे

केंद्र की भाजपा सरकार ने कृषि विधेयक संसद से पारित कराकर किसानों...

बड़ी खबर: इनकम टैक्स से जुडे़ बिल को संसद से मिली मंजूरी, आपको होंगे ये फायदें

नई दिल्ली| संसद में टैक्सेशन और अन्य कानून (कुछ प्रावधानों में...

महाराष्ट्र: भिवंडी इमारत हादसे में मरने वालों की संख्या 20 पहुंची

भिवंडी| महाराष्ट्र में ठाणे जिले के भिवंडी इलाके में सोमवार को हुई...

रिया की ज्यूडिशियल कस्टडी 6 अक्टूबर तक बढ़ी

सुशांत मामले की जांच के सिलसिले में ड्रग्स केस में गिरफ्तार रिया...

1 नवंबर से देशभर में शुरू होंगी ग्रेजुएशन की क्लास’- यहां देखें पूरा शेड्यूल

नईदिल्ली| शिक्षा मंत्रालय ने कोरोना वायरस के बढ़ते खतरे और देश में लागू अनलॉक...

पौड़ी: खतरे में पारंपरिक घराटों का वजूद, जा‍निए कैसे चलता है घराट

पहाड़ी क्षेत्रों में पारंपरिक घराटों (पनचक्‍की) का वजूद खतरे में है.

महाभारत की ‘शकुंतला’ आशालता वाबगांवकर का निधन, कोरोना से थी संक्रमित

जानी मानी मशहूर एक्ट्रेस और महाभारत में शकुंतला का रोल निभाने वाली...

Latest Updates

सामने आया योगी सरकार की फिल्म सिटी का मास्टर प्लान, जानिए इस फिल्म सिटी से जुड़ी खासियत

लखनऊ | यूपी में नई फिल्म सिटी की रूपरेखा सामने आ गई है. उत्तर प्रदेश सरकार ने इस फिल्म सिटी के निर्माण के लिए...

रिया की ज्यूडिशियल कस्टडी 6 अक्टूबर तक बढ़ी

सुशांत मामले की जांच के सिलसिले में ड्रग्स केस में गिरफ्तार रिया चक्रवर्ती की ज्यूडिशियल कस्टडी 6 अक्टूबर तक बढ़ा दी गई...

संसद के बाद अब सड़क पर भी भाजपा-विपक्ष में किसानों का नेता बनने की छिड़ी सियासी जंग

कमाल की राजनीति है. कोई भी राजनीतिक दल देश की जनता के सामने अपने आपको सबसे बड़ा हितेषी बताने के लिए तमाम...

अन्य खबरें

मोदी सरकार के कृषि विधेयक ने शिवराज की बढ़ाई टेंशन, सीएम किसानों की आवभगत में जुटे

केंद्र की भाजपा सरकार ने कृषि विधेयक संसद से पारित कराकर किसानों के साथ मध्य प्रदेश 'शिवराज सिंह चौहान सरकार की भी...

संसद के बाद अब सड़क पर भी भाजपा-विपक्ष में किसानों का नेता बनने की छिड़ी सियासी जंग

कमाल की राजनीति है. कोई भी राजनीतिक दल देश की जनता के सामने अपने आपको सबसे बड़ा हितेषी बताने के लिए तमाम...

उत्तराखंड में बढ़ा ‘आप’ का कुनबा सैकड़ों समर्थकों के साथ जितेंद्र मलिक ने ज्वाइन की पार्टी

उत्तराखंड में साल 2022 का चुनावी रण दिलचस्प होने वाला है. विधानसभा चुनाव की तैयारियों में जुटी आम आदमी पार्टी हर स्तर...

ब्रेकिंग: राज्यसभा से निलंबित सभी 8 सांसदों का धरना ख़त्म

राज्यसभा से निलंबित किए जाने वाले सांसदों ने अपना धरना खत्म कर दिया है.विपक्ष के वाकआउट के बाद धरने पर बैठे विपक्षी...

सांसदों का निलंबन वापस होने तक विपक्ष कार्यवाही का बहिष्कार करेगा: गुलाम नबी

नयी दिल्ली| राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद ने मंगलवार को कहा कि जब तक उच्च सदन के आठ सदस्यों का,...

निलंबित सांसद रात भर संसद के पास देंगे धरना, संजय सिंह ने घर से मंगवाया तकिया-बिस्तर: सूत्र

संसद के मॉनसून सत्र का सोमवार को 8वां दिन है. किसान बिल को लेकर सरकार और विपक्ष की तनातनी आज...