नेशनल पेंशन सिस्टम में पैसा लगाने वालों के लिए बड़ी खबर, जारी हुए नए नियम

पेंशन फंड रेग्‍युलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी ने आयकर कानून की धारा-80C के तहत नेशनल पेंशन सिस्टम टीयर-2 इनकम टैक्स सेविंग स्कीम के लिए नए दिशानिर्देश जारी किए हैं. नए नियमों के मुताबिक, एनपीएस टीयर-2 स्कीम के तहत केवल केंद्र सरकार के कर्मचारियों को ही इनकम टैक्स में छूट मिलेगी.

इसमें मिलने वाली छूट एनपीएस टीयर-1 स्कीम के तहत मिलने वाले इनकम टैक्स बेनिफिट से अलग है. आसान शब्‍दों में समझें तो केंद्रीय कर्मचारियों को एनपीएस टीयर-1 और टीयर-2 दोनों के तहत मिलने वाली इनकम टैक्‍स छूट का फायदा मिलेगा.

एनपीएस टीयर-2 अकाउंट में किए जाने वाले योगदान पर इनकम टैक्‍स छूट का लाभ सिर्फ सरकारी कर्मचारियों को ही मिलेगा. केंद्र सरकार के कर्मचारी एनपीएस टीयर-2 अकाउंट में किए जाने वाले सालाना 1.50 लाख रुपये तक के योगदान में से तीन साल तक कोई रकम नहीं निकाल सकेंगे यानी निवेश का लॉक-इन पीरियड तीन साल का है. हालांकि, एनपीएस सब्सक्राइबर की मौत होने पर उसका नॉमिनी या कानूनी उत्तराधिकारी पैसे निकाल सकता है.

एनपीएस टीयर-2 स्‍कीम के तहत टैक्‍स छूट का फायदा उठाने के इच्‍छुक केंद्रीय कर्मचारी के तीन एनपीएस अकाउंट होंगे. पहला टीयर-1 में अनिवार्य अकाउंट होगा. दूसरा टीयर-2 में ऑप्‍शनल अकाउंट होगा, जिसमें से स्‍वतंत्र रूप से पैसे निकाले जा सकते हों.

वहीं, तीसरा अकाउंट टीयर-2 ऑप्शनल अकाउंट होगा. इसका लॉक-इन पीरियड तीन साल होगा. इसमें धारा-80C के तहत टैक्‍स छूट का लाभ मिलेगा. बता दें कि एनपीएस में किए गए योगदान पर सरकारी और निजी क्षेत्र के सभी कर्मचारियों को इनकम टैक्‍स बेनिफिट मिलता है.

एनपीएस टीयर-1 अकाउंट में किए गए योगदान पर आयकर कानून की धारा-80CCD (1B) के तहत 50,000 रुपये की छूट मिलती है. यह छूट धारा-80CCD (1) के तहत 1.5 लाख रुपये तक के योगदान पर मिलने वाली छूट से अl) होती है.

यहां ये ध्यान रखना जरूरी है कि धारा-80 सी, 80CCC (किसी इंश्योरर की तरफ से दिए पे-पेंशन प्लान में निवेश) और धारा-80CCD (1) एनपीएस के तहत मिलने वाली छूट की राशि किसी वित्‍त वर्ष में 1.5 लाख रुपये से ज्यादा नहीं होनी चाहिए.

अगर कोई एनपीएस सब्सक्राइबर अप्रैल 2020 से नए इनकम टैक्स स्लैब का विकल्प चुनता है तो धारा-80CCD (1B) के तहत मिलने वाली 50, 000 रुपये की विशेष छूट या धारा-80CCD (1) के तहत मिलने वाली 1.5 लाख रुपये की छूट और धारा-80C के तहत मिलने वाली छूट लागू नहीं होगी.

अगर करदाता नया टैक्स स्लैब नहीं चुनता है तो पुराना टैक्स नियम ही लागू होगा. बता दें कि अगर आप नए टैक्स स्‍लैब का चुनाव करते हैं तो भी आप कर्मचारी के एनपीएस अकाउंट में कंपनी के योगदान पर इनकम टैक्स छूट के लिए दावा कर सकते हैं.

Related Articles

गुप्तेश्वर पांडेय के वीआरएस पर संजय राउत का बड़ा बयान- ‘महाराष्ट्र पर राजकीय तांडव का बिहार से मिला इनाम’

मुंबई| बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने वीआरएस यानी वॉलंटरी रिटायरमेंट...

जानिए पृथ्वी जैसे बाह्यग्रह का नाम क्यों ‘Pi Earth’ रखा है खगोलविदों ने

खगोलविदों को हमारे सौरमंडल के बाहर कई तरह के बाह्यग्रह ...

टाइम मैग्जीन ने सौ प्रभावशाली लोगों में पीएम मोदी को शामिल कर प्रशंसा भी की

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए बुधवार अंतरराष्ट्रीय स्तर पर काफी सुखद कहा...

बड़ी खबर: भारत की आर्थिक मदद से तिलमिलाया चीन, आने लगी मालदीव की सम्प्रभुता की याद

पड़ोसी देश मालदीव को भारत द्वारा आर्थिक मदद दिए जाने से चीन...

कोरोना की दहशत में शुरू हुआ उत्तराखंड विधानसभा का एक दिन का मानसून सत्र

बुधवार को उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में कोरोना के साए में सभा...

उत्तराखंड सरकार ने पर्यटकों के लिए हटाया कोविड निगेटिव रिपोर्ट और दो दिन ठहरने का प्रतिबंध

सरकार ने बाहरी राज्यों से उत्तराखंड आने वाले पर्यटकों के लिए कोविड...

बिहार के डीजपी गुप्तेश्वर पांडे ने लिया वीआरएस, चुनाव लड़ने की अटकले हुई तेज

बिहार के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) गुप्तेश्वर पांडेय ने स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति (वीआरएस) ले...

Latest Updates

बड़ी खबर: भारत की आर्थिक मदद से तिलमिलाया चीन, आने लगी मालदीव की सम्प्रभुता की याद

पड़ोसी देश मालदीव को भारत द्वारा आर्थिक मदद दिए जाने से चीन चिढ़ गया है. चीन का कहना...

कोरोना की दहशत में शुरू हुआ उत्तराखंड विधानसभा का एक दिन का मानसून सत्र

बुधवार को उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में कोरोना के साए में सभा का एक दिन का मानसून सत्र शुरू हो गया है....

कोरोना से जूझते उत्तराखंड में कांग्रेसी विधायकों ने विधानसभा जाने के लिए ट्रैक्टर पर चढ़कर किया तमाशा

उत्तराखंड में कोरोना वायरस बेकाबू होता जा रहा है, शासन से लेकर प्रशासन और आम लोग तक डरे सहमे हुए हैं.

अन्य खबरें

गुप्तेश्वर पांडेय के वीआरएस पर संजय राउत का बड़ा बयान- ‘महाराष्ट्र पर राजकीय तांडव का बिहार से मिला इनाम’

मुंबई| बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने वीआरएस यानी वॉलंटरी रिटायरमेंट ले लिया है. अब इस मामले को लेकर सियासी बयानबाजी...

कोरोना से जूझते उत्तराखंड में कांग्रेसी विधायकों ने विधानसभा जाने के लिए ट्रैक्टर पर चढ़कर किया तमाशा

उत्तराखंड में कोरोना वायरस बेकाबू होता जा रहा है, शासन से लेकर प्रशासन और आम लोग तक डरे सहमे हुए हैं.

बसपा संगठन में अहम बदलाव, मुनकाद अली से ली गई उत्तराखंड की जिम्मेदारी वापस

बहुजन समाज पार्टी ने मंडल स्तरीय संगठन में अहम बदलाव कर दिया है. बसपा की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने फरमान...

मोदी सरकार के कृषि विधेयक ने शिवराज की बढ़ाई टेंशन, सीएम किसानों की आवभगत में जुटे

केंद्र की भाजपा सरकार ने कृषि विधेयक संसद से पारित कराकर किसानों के साथ मध्य प्रदेश 'शिवराज सिंह चौहान सरकार की भी...

संसद के बाद अब सड़क पर भी भाजपा-विपक्ष में किसानों का नेता बनने की छिड़ी सियासी जंग

कमाल की राजनीति है. कोई भी राजनीतिक दल देश की जनता के सामने अपने आपको सबसे बड़ा हितेषी बताने के लिए तमाम...

उत्तराखंड में बढ़ा ‘आप’ का कुनबा सैकड़ों समर्थकों के साथ जितेंद्र मलिक ने ज्वाइन की पार्टी

उत्तराखंड में साल 2022 का चुनावी रण दिलचस्प होने वाला है. विधानसभा चुनाव की तैयारियों में जुटी आम आदमी पार्टी हर स्तर...