स्टडी में खुलासा, ये दवा कोविड-19 के गंभीर रोगियों की जान बचा सकती

लंदन|…… कॉर्टिकोस्टेरॉइड दवाओं के साथ गंभीर रूप से बीमार कोविड-19 रोगियों का इलाज करने से मृत्यु का जोखिम 20% कम हो जाता है. बुधवार को सात अंतरराष्ट्रीय परीक्षणों का विश्लेषण करने पर ऐसे परिणाम मिले हैं जो कि विश्व स्वास्थ्य संगठन को भी इलाज के लिए इसकी सलाह देने के लिए प्रेरित करता है.

यह विश्लेषण कम खुराक वाली हाइड्रोकार्टिसोन, डेक्सामेथासोन और मेथिलप्रेडिसोलोन के अलग-अलग परीक्षणों से डेटा एकत्र किया – पाया कि स्टेरॉयड ऐसे कोविड​​-19 रोगियों के रिकवरी में सुधार करते हैं जो अस्पताल में गहन देखभाल में बीमार हैं.

शोधकर्ताओं ने एक बयान में कहा, “यह कॉर्टिकोस्टेरॉइड्स के साथ इलाज के बाद जीवित रहने वाले (कॉर्टिकोस्टेरॉइड्स के लगभग 60%) रोगियों के लगभग 68% के बराबर है.” WHO की क्लिनिकल केयर लीड, जेनेट डियाज ने कहा कि एजेंसी ने गंभीर और महत्वपूर्ण कोविड​​-19 वाले रोगियों में स्टेरॉयड के उपयोग के लिए “मजबूत सिफारिश” को शामिल करने के लिए अपनी सलाह को अपडेट किया है.

- Advertisement -

उन्होंने डब्ल्यूएचओ सोशल मीडिया लाइव इवेंट में बताया “सबूतों से पता चलता है कि अगर आप कॉर्टिकोस्टेरॉइड देते हैं … प्रति 1,000 रोगियों में 87 कम मौतें हुईं.” “ये लवो लोग हैं जिन्हें जिंदा बचा लिया गया.”

ब्रिटेन के ब्रिस्टल विश्वविद्यालय में काम करने वाले चिकित्सा सांख्यिकी और महामारी विज्ञान के प्रोफेसर जोनाथन स्टर्न ने कहा, “स्टेरॉयड एक सस्ती और आसानी से उपलब्ध दवा है, और हमारे विश्लेषण ने पुष्टि की है कि वे लोगों में कोविड​​-19 से सबसे अधिक प्रभावित होने वाली मौतों को कम करने में प्रभावी हैं.”
उन्होंने कहा कि ब्रिटेन, ब्राजील, कनाडा, चीन, फ्रांस, स्पेन और संयुक्त राज्य अमेरिका में शोधकर्ताओं द्वारा किए गए परीक्षणों में, लगातार एक संदेश दिया गया, जिसमें दिखाया गया कि ड्रग्स, उम्र या सेक्स या फिर या कितने समय तक रोगी बीमार रहा इसकी की परवाह किए बिना सबसे बीमार रोगियों में फायदेमंद थे.

अमेरिकन मेडिकल एसोसिएशन के जर्नल में प्रकाशित निष्कर्ष, परिणामों को सुदृढ़ करते हैं जिन्हें एक बड़ी सफलता के रूप में देखा गया और जून में घोषणा की गई, जब डेक्सामेथासोन गंभीर ड्रग कोविड ​​-19 रोगियों के बीच मृत्यु दर को कम करने में सक्षम होने वाली पहली दवा बन गई.

डेक्सामेथासोन तब से कुछ देशों में कोविड ​​-19 रोगियों का इलाज करने वाले गहन देखभाल वार्डों में व्यापक उपयोग में है.

ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय में मेडिसिन और महामारी विज्ञान के एक प्रोफेसर मार्टिन लैंडरे, जो बुधवार को प्रकाशित किए गए विश्लेषण के एक प्रमुख भाग डेक्सामेथासोन परीक्षण पर काम कर रहे थे, ने कहा कि दुनिया भर के अस्पतालों में डॉक्टरों का कहना है कि जान बचाने के लिए दवाओं का उपयोग करने के लिए सुरक्षित रूप से स्विच किया जा सकता है.

उन्होंने संवाददाताओं से कहा “ये परिणाम स्पष्ट हैं, और नैदानिक अभ्यास में तुरंत प्रयोग करने योग्य हैं. “कोविड -19 के साथ गंभीर रूप से बीमार रोगियों में, कम खुराक वाले कॉर्टिकोस्टेरॉइड … मौत के जोखिम को काफी कम करते हैं.”

शोधकर्ताओं ने कहा कि फायदे के लिए कि रोगियों समय इलाज जब वह वेंटिलेशन पर थे तब शुरू कर दिया और इसने इसकी परवाह किए बिना फायदे दिखाए. उन्होंने कहा कि डब्ल्यूएचओ ताजा परिणामों को प्रतिबिंबित करने के लिए अपने दिशानिर्देशों को तुरंत अपडेट करेगा.

डेक्सामेथासोन पर जून के निष्कर्षों तक, नए कोरोनोवायरस के कारण होने वाले श्वसन रोग कोविड ​​-19 के रोगियों में मृत्यु दर को कम करने के लिए कोई प्रभावी उपचार नहीं दिखाया गया था.

पूरी दुनिया में 2.5 करोड़ से अधिक लोग कोविड -19 से संक्रमित हुए हैं और 856,876 लोग मारे गए हैं.

गिलियड साइंसेज इंक के रेमेडिसविर को संयुक्त राज्य अमेरिका के नियामकों द्वारा मई में गंभीर कोविड -19 के रोगियों में इस्तेमाल के लिए अधिकृत किया गया था.

इंपीरियल कॉलेज लंदन के प्रोफेसर एंथोनी गॉर्डन, जिन्होंने विश्लेषण पर भी काम किया, ने कहा कि इसके परिणाम उन रोगियों के लिए अच्छी खबर है जो कोविड ​​-19 के साथ गंभीर रूप से बीमार हो जाते हैं, लेकिन संक्रमण के प्रकोप को कम करने या संक्रमण नियंत्रण उपायों को कम करने के लिए पर्याप्त नहीं होगा.

“ये परिणाम के रूप में प्रभावशाली हैं पर, यह एक इलाज नहीं है. अब हमारे पास कुछ ऐसा है जो मदद करेगा, लेकिन यह एक इलाज नहीं है, इसलिए यह महत्वपूर्ण है कि हम सभी रोकथाम रणनीतियों को बनाए रखें.”

- Advertisement -

More Today

आज 01 अक्टूबर 2020 राशिनुसार कैसा रहेगा आपका दिन,जानिए

मेष:- भूमि भवन संबंधित मामले सुलझने की संभावना के बीच मकान...

Latest Updates

अनलॉक-5 की गाइडलाइन जारी, सिनेमाघर खुलेंगे- स्कूल-कॉलेज पर राज्य लेंगे फैसला

बुधवार को केंद्रीय गृह मंत्रालय ने अनलॉक 5 के लिए गाइडलाइंस जारी कर दी हैं. गृह मंत्रालय के निर्देश के मुताबिक...

उत्तराखंड: निजी पैथोलॉजी लैब में रेपिड एंटीजन टेस्ट के रेट निर्धारित, अब इतने में होगी जांच

उत्तराखंड सरकार ने कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए निजी पैथोलॉजी लैब में रेपिड एंटीजन टेस्ट के रेट निर्धारित कर दिए...

केदारनाथ हेलीसेवा को मिली हरी झंडी, किराया भी हुआ तय

केदारनाथ व गोविंदघाट को हेलीसेवा इसी सप्ताह शुरू होने की उम्मीद है. नागरिक उड्डयन विभाग ने सेवाओं के लिए कोविड एसओपी तैयार...

अन्य खबरें

बाबरी विध्वंस के फैसले पर ओवैसी ने जताई निराशा, कहा-यह फैसला भारतीय न्यायपालिका के लिए एक काला दिन

बाबरी मस्जिद विध्वंस केस में सीबीआई की विशेष अदालत के फैसले पर ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के प्रमुख असदुद्दीन...

बिहार विधानसभा चुनाव में महागठबंधन से एक और तीसरा मोर्चा के निकलने की छटपटाहटें

हमारे देश में पुरानी कहावत है उठी पैंठ (बाजार) सात दिन बाद ही लगती है. 'ऐसा ही सियासी बाजार का हाल है,...

बाबरी विध्वंस केस में 30 को फैसला, आरोपी उमा भारती बोलीं- ‘जेल जाना मंजूर लेकिन जमानत नहीं लूंगी’

बीजेपी नेता और पूर्व केन्द्रीय मंत्री उमा भारती कोरोना वायरस से संक्रमित होने के बाद ऋषिकेश स्थित एम्स में भर्ती हुई...

सीएम नीतीश कुमार के दलित दांव से चिराग पासवान में है जबरदस्त नाराजगी

पिछले कई दिनों से चिराग पासवान सीएम नीतीश कुमार और जदयू सरकार पर हमलावर हैं. बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर सीएम नीतीश...

एलजीपी आक्रामक मूड में, चिराग पासवान के सियासी सौदे से भाजपा आलाकमान टेंशन में

बिहार में भाजपा और जेडीयू विधानसभा चुनाव की तैयारियों को लेकर जैसे-जैसे एक कदम आगे बढ़ते हैं वैसे ही लोक जनशक्ति पार्टी...

हरिद्वार: गंगा को नहर घोषित करने का शासनादेश जारी करने पर पूर्व सीएम हरीश रावत को भेजा लीगल नोटिस

हरिद्वार में हरकी पैड़ी पर बह रही गंगा को नहर (स्कैप चैनल) घोषित करने का शासनादेश जारी करने पर पूर्व सीएम हरीश...