भारतीय सेना ने पैंगोंग त्सो झील के करीब फिंगर-4 पर किया कब्जा

लेह| पूर्वी लद्दाख में भारत-चीन के बीच जारी तनाव के बीच एक अच्छी खबर आई है. भारतीय सेना ने पैंगोंग त्सो झील के किनारे फिंगर 4 पर चीनी सेना की स्थिति को देखते हुए ऊंचाइयों पर कब्जा कर लिया है. सूत्रों के हवाले से इस बात की जानकारी मिली है. सूत्रों ने बताया कि अगस्त के आखिर में पंगोंग त्सो झील के दक्षिणी किनारे के पास ऊंचाइयों पर कब्जा करने के लिए पूर्ववर्ती कार्रवाइयों के साथ ये ऑपरेशन किए गए थे.

भारतीय सेना के सूत्रों ने जानकारी दी कि भारत और चीन की सेनाओं ने आज पूर्वी लद्दाख में ब्रिगेड कमांडर-स्तर और कमांडिंग ऑफिसर स्तर पर बातचीत की. बातचीत का उद्देश्य दोनों पक्षों के बीच बातचीत को खुला रखना है. ये खबर ऐसे समय आई है जब मॉस्को में विदेश मंत्री एस जयशंकर जल्द ही अपने चीनी समकक्ष वांग यी से बातचीत करने जा रहे हैं. नियंत्रण रेखा के पास भारत और चीन की सेनाओं के बीच झड़प के बाद पूर्वी लद्दाख में सीमा पर तनाव के मद्देनजर दोनों विदेश मंत्रियों के बीच वार्ता होगी.

विदेश मंत्री जयशंकर वार्ता के दौरान पूर्वी लद्दाख की स्थिति पर बातचीत करेंगे, यह पूछे जाने पर विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने कहा कि ‘‘इस मुद्दे पर चर्चा होगी.’’ जयशंकर और वांग शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) की बैठक में भाग लेने के लिए मास्को में है.

गौरतलब है कि भारत ने मंगलवार को कहा था कि छड़, भाले और रॉड आदि से लैस चीनी सैनिकों ने पूर्वी लद्दाख में रेजांग-ला रिज लाइन के मुखपारी क्षेत्र स्थित एक भारतीय ठिकाने की ओर सोमवार शाम आक्रामक तरीके से बढ़ने का प्रयास किया तथा हवा में गोलियां चलाईं. सीमा पर जारी तनाव के बीच वास्तविक नियंत्रण रेखा पर 45 साल में ऐसा पहली बार हुआ है जब आग्नेयास्त्रों का इस्तेमाल किया गया.

उल्लेखनीय है कि चीन के सैनिकों ने पूर्वी लद्दाख में गलवान घाटी में 15 जून को हुई झड़पों के दौरान पत्थरों, कील लगे डंडों, लोहे की छड़ों आदि से भारतीय सैनिकों पर बर्बर हमला किया था, जिसमें 20 भारतीय जवान शहीद हो गए थे. अमेरिका की एक खुफिया रिपोर्ट के अनुसार गलवान घाटी में हुई झड़पों में भारतीय सैनिकों ने चीन के 35 सैनिकों को मार गिराया था.

वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर तनाव बढ़ने के बीच सूत्रों ने कहा कि चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) के लगभग 50-60 सैनिक सोमवार शाम छह बजे के आसपास पैंगोंग झील क्षेत्र के दक्षिणी तट स्थित भारतीय चौकी की ओर बढ़े लेकिन वहां तैनात भारतीय सेना के जवानों ने दृढ़ता से उनका सामना किया, जिससे उन्हें पीछे हटने के लिए मजबूर होना पड़ा.

साभार-न्यूज़ 18

Related Articles

RR vs CSK: महेंद्र सिंह धोनी पर बरसे सुनील गावस्कर, उठा दिये रवैये पर सवाल

पहले मैच में मुंबई इंडियंस को 5 विकेट से हराने के बाद...

ड्रग्स केस: दीपिका पादुकोण, श्रद्धा कपूर और सारा अली खान को एनसीबी ने भेजा समन

मुंबई| सुशांत सिंह राजपूत की मौत से जुड़े ड्रग्‍स केस की जांच...

आज से पंजीकरण करवाइए और आराम से घूमिए उत्तराखंड

बुधवार को उत्तराखंड की त्रिवेंद्र सिंह रावत सरकार ने एक अहम...

उतराखंड में मुख्यमंत्री सौर ऊर्जा स्वरोजगार योजना लागू

उतराखंड में मुख्यमंत्री सौर ऊर्जा स्वरोजगार योजना लागू हो गई है. सचिव...

IPL 2020: सनराइजर्स हैदराबाद को लगा तगड़ा झटका, चोट के कारण मिचेल मार्श आईपीएल 2020 से बाहर

दुबई|.... ऑस्ट्रेलिया के धाकड़ ऑलराउंडर मिचेल मार्श आईपीएल 2020 से चोट के...

एफिल टावर को बम से उड़ाने की धमकी, पुलिस ने खाली कराया, एरिया को घेरा

पेरिस|... पेरिस स्थित एफिल टॉवर को उस समय खाली करा दिया...

गुप्तेश्वर पांडेय के वीआरएस पर संजय राउत का बड़ा बयान- ‘महाराष्ट्र पर राजकीय तांडव का बिहार से मिला इनाम’

मुंबई| बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने वीआरएस यानी वॉलंटरी रिटायरमेंट...

Latest Updates

उतराखंड में मुख्यमंत्री सौर ऊर्जा स्वरोजगार योजना लागू

उतराखंड में मुख्यमंत्री सौर ऊर्जा स्वरोजगार योजना लागू हो गई है. सचिव ऊर्जा राधिका झा ने योजना लागू करने के आदेश जारी...

IPL 2020: सनराइजर्स हैदराबाद को लगा तगड़ा झटका, चोट के कारण मिचेल मार्श आईपीएल 2020 से बाहर

दुबई|.... ऑस्ट्रेलिया के धाकड़ ऑलराउंडर मिचेल मार्श आईपीएल 2020 से चोट के कारण बाहर हो गए हैं. सनराइजर्स...

एफिल टावर को बम से उड़ाने की धमकी, पुलिस ने खाली कराया, एरिया को घेरा

पेरिस|... पेरिस स्थित एफिल टॉवर को उस समय खाली करा दिया गया, जब एक शख्स ने सब कुछ उड़ाने की धमकी...

अन्य खबरें

गुप्तेश्वर पांडेय के वीआरएस पर संजय राउत का बड़ा बयान- ‘महाराष्ट्र पर राजकीय तांडव का बिहार से मिला इनाम’

मुंबई| बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने वीआरएस यानी वॉलंटरी रिटायरमेंट ले लिया है. अब इस मामले को लेकर सियासी बयानबाजी...

कोरोना से जूझते उत्तराखंड में कांग्रेसी विधायकों ने विधानसभा जाने के लिए ट्रैक्टर पर चढ़कर किया तमाशा

उत्तराखंड में कोरोना वायरस बेकाबू होता जा रहा है, शासन से लेकर प्रशासन और आम लोग तक डरे सहमे हुए हैं.

बसपा संगठन में अहम बदलाव, मुनकाद अली से ली गई उत्तराखंड की जिम्मेदारी वापस

बहुजन समाज पार्टी ने मंडल स्तरीय संगठन में अहम बदलाव कर दिया है. बसपा की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने फरमान...

मोदी सरकार के कृषि विधेयक ने शिवराज की बढ़ाई टेंशन, सीएम किसानों की आवभगत में जुटे

केंद्र की भाजपा सरकार ने कृषि विधेयक संसद से पारित कराकर किसानों के साथ मध्य प्रदेश 'शिवराज सिंह चौहान सरकार की भी...

संसद के बाद अब सड़क पर भी भाजपा-विपक्ष में किसानों का नेता बनने की छिड़ी सियासी जंग

कमाल की राजनीति है. कोई भी राजनीतिक दल देश की जनता के सामने अपने आपको सबसे बड़ा हितेषी बताने के लिए तमाम...

उत्तराखंड में बढ़ा ‘आप’ का कुनबा सैकड़ों समर्थकों के साथ जितेंद्र मलिक ने ज्वाइन की पार्टी

उत्तराखंड में साल 2022 का चुनावी रण दिलचस्प होने वाला है. विधानसभा चुनाव की तैयारियों में जुटी आम आदमी पार्टी हर स्तर...