अभिनेत्री कंगना रनौत में भाजपा को दिखने लगा अपना ‘फायरब्रांड’


दुनिया में एक प्रचलित कहावत है, एक हाथ से ले दूसरे हाथ से दे. यानी कुछ हमने किया, अब बारी आपकी है. आज फिर बात होगी भारतीय जनता पार्टी और बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत की. पिछले कुछ दिनों से कंगना रनौत और महाराष्ट्र की शिवसेना सरकार के साथ उठा ‘तूफान’ अब शांत हो रहा है. यह सभी जानते हैं कि कंगना के उद्धव ठाकरे सरकार को चुनौती देने के पीछे किसका हाथ है.

अभी तक अभिनेत्री रनौत की ताकत के पीछे भाजपा कदम कदम पर साथ खड़ी रही, कंगना भी भाजपा की उम्मीदों पर खरी उतरी है. अब बीजेपी को कंगना की ललकार पसंद आ गई है. पार्टी अब अभिनेत्री को अपना ‘फायरब्रांड नेता’ बनाने की तैयारी में जुट गई है.

इसी को लेकर आरपीआई के मुखिया और भाजपा सरकार में केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले ने गुरुवार शाम को मुंबई स्थित अभिनेत्री रनौत के घर पर जाकर मुलाकात की.

अठावले ने अभिनेत्री को भारतीय जनता पार्टी ज्वाइन करने का निमंत्रण दिया है. वैसे सियासी गलियारों में चर्चा है कि केंद्रीय सामाजिक न्याय और अधिकारिता राज्यमंत्री रामदास अठावले को भारतीय जनता पार्टी के दूत के रूप में देखा जा रहा है. आरपीआई अध्यक्ष अठावले का मुंबई में अच्छा जनाधार माना जाता है.

साथ ही उनकी पार्टी आरपीआई केंद्र की भाजपा सरकार में सहयोगी दल भी है. हालांकि अभी तक अभिनेत्री कंगना ने राजनीति में आने के लिए स्थिति स्पष्ट नहीं की है लेकिन जो संकेत मिल रहे हैं उससे कयास लगाए जा रहे हैं कि रनौत जल्द ही भाजपा में शामिल हो सकती हैं.

अभिनेत्री के गृह राज्य हिमाचल प्रदेश में भी भाजपा की सरकार है. हिमाचल के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर एक्ट्रेस कंगना रनौत को भाजपा में लाने के लिए जी जान लगाए हुए हैं.‌

भाजपा में फायर ब्रांड नेताओं का सियासी भविष्य अच्छा रहा है
भारतीय जनता पार्टी में फायर ब्रांड नेताओं का ‘सियासी भविष्य अच्छा रहा है’. अगर हम बात करें 80 के दशक में जब भाजपा का उदय हुआ था तब से ही भाजपा में कई फायर ब्रांड नेता उभर कर आए थे.

‌ लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, कल्याण सिंह, नरेंद्र मोदी (जब गुजरात की राजनीति में सक्रिय थे) विनय कटियार, उमा भारती, साध्वी ऋतंभरा आदि ऐसे नेता रहे हैं जिनकी छवि सियासी गलियारे में फायर ब्रांड के रूप में देखी जाती थी.

इनमें से नरेंद्र मोदी ही ऐसे रहे जो प्रधानमंत्री हैं और केंद्र की राजनीति में सक्रिय हैं. पिछले एक दशक में भारतीय जनता पार्टी में फायर ब्रांड नेताओं की कमी होने लगी है.

हालांकि पार्टी के पास आज भी कई कुशल रणनीतिकार और प्रवक्ता मौजूद हैं लेकिन यह सब भाजपा कार्यालय में रणनीति बनाने में लगे रहते हैं. भाजपा को एक ऐसी ‘तेजतर्रार और हिंदू विचारधारा’ वाली नेता चाहिए जो फील्ड (मैदान) में जाकर पार्टी के लिए दहाड़ सके’.

अभी उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और भोपाल की भारतीय जनता पार्टी की सांसद साध्वी प्रज्ञा पार्टी में फायर ब्रांड नेता के रूप में पहचाने जाते हैं. भाजपा के कई नेता कंगना रनौत को पार्टी में शामिल कराने के लिए प्रयास में जुटे हुए हैं.

इसकी कवायद हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने शुरू कर दी है. अभिनेत्री कंगना के पास हिंदू विचारधारा, मैदान में ललकारने वाली आवाज समेत वह सब कुछ है जो भाजपा को जरूरत है.


अभिनेत्री कंगना की मां आशा रनौत भाजपा से जुड़ीं
अभिनेत्री कंगना रनौत की मां आशा रनौत ने अपनी बेटी को सुरक्षा मुहैया करवाने और हर कदम पर साथ देने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह का आभार जताया है. आशा रनौत कांग्रेसी विचारधारा को छोड़कर भारतीय जनता पार्टी से जुड़ गईं हैं.

भाजपा से जुड़ने के बाद आशा रनौत ने कहा कि उनका परिवार कांग्रेस पार्टी की विचारधारा से जुड़ा रहा है, लेकिन जब कंगना पर परेशानी आई तब भाजपा ने उसका खुलकर साथ दिया.

अभिनेत्री की मां ने कहा कि केंद्र में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली और हिमाचल प्रदेश में जयराम ठाकुर के नेतृत्व वाली बीजेपी सरकार उनकी मदद के लिए खड़ी हुई.

आशा ने कहा कि बीजेपी ने उनकी बेटी को सुरक्षा मुहैया करवाई. हालांकि आशा रनौत का ये बयान आने के बाद कयास लगाए जाने लगे हैं कि वे बीजेपी का दामन जल्द ही थाम सकती हैं.

दूसरी ओर भाजपा केंद्रीय आलाकमान की ओर से आशा को पार्टी में ज्वाइन करने संबंधित कोई अधिकारिक बयान अभी तक नहीं आया है. दूसरी ओर भाजपा के कई दिग्गज नेता ऐसे हैं जो अभिनेत्री कंगना रनौत को पार्टी में शामिल कराने के लिए प्रयासरत हैं.

शंभू नाथ गौतम, वरिष्ठ पत्रकार

Related Articles

बंगाल में बढ़ी गवर्नर और सीएम में तकरार, धनखड़ ने दी ये चेतावनी

कोलकाता| पश्चिम बंगाल में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी तथा राज्यपाल जगदीप धनखड़ के...

उत्तराखंड में मिले 457 नए कोरोना पॉजिटिव, 1854 लोग स्वस्थ

सोमवार को उत्तराखंड में 457 लोग कोरोनावायरस संक्रमित मिले हैं. लेकिन इससे...

उत्तराखंड परिवहन की गाड़ियों में नहीं देना होगा डबल किराया, पढ़ें आदेश

उत्तराखंड सरकार द्वारा गाड़ियों में जो 50% सवारी बैठाने का प्रावधान था...

देश में कब तक उपलब्ध होगी कोरोना वायरस की वैक्सीन, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने दिया ये जवाब

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोविड-19 की वैक्सीन के लिए एक ऑनलाइन...

सुशांत सिंह राजपूत की मौत की जांच कर रही सीबीआई ने दिया ये बड़ा बयान…

दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत की जांच कर रही केंद्रीय...

मध्य प्रदेश: पत्नी के साथ मारपीट करने पर डीजी पुरुषोत्तम शर्मा को पद से हटाया

मध्य प्रदेश के वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी पुरुषोत्तम शर्मा अपने 2 वीडियो सामने...

Latest Updates

वर्ल्ड रेबीज डे विशेष: रेबीज भी खतरनाक वायरस, इसकी अनदेखी पड़ सकती है भारी

28 सितंबर को पूरी दुनिया एक खतरनाक वायरस को दिवस के रूप में मनाती है. पिछले कई महीनों...

उत्तराखंड: देहरादून में कांग्रेस पार्टी ने कृषि कानूनों के खिलाफ किया विरोध प्रदर्शन, पुलिस ने बैरिकेडिंग पर रोका

देहरादून| कृषि से संबंधित तीन बिलों के विरोध में आज भारी भीड़ के साथ कांग्रेस कार्यकर्ता राजभवन कूच के लिए निकले.

उत्तराखंड परिवहन की गाड़ियों में नहीं देना होगा डबल किराया, पढ़ें आदेश

उत्तराखंड सरकार द्वारा गाड़ियों में जो 50% सवारी बैठाने का प्रावधान था वह सोमवार को समाप्त हो गया है और कल दिनांक...

अन्य खबरें

सीएम नीतीश कुमार के दलित दांव से चिराग पासवान में है जबरदस्त नाराजगी

पिछले कई दिनों से चिराग पासवान सीएम नीतीश कुमार और जदयू सरकार पर हमलावर हैं. बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर सीएम नीतीश...

एलजीपी आक्रामक मूड में, चिराग पासवान के सियासी सौदे से भाजपा आलाकमान टेंशन में

बिहार में भाजपा और जेडीयू विधानसभा चुनाव की तैयारियों को लेकर जैसे-जैसे एक कदम आगे बढ़ते हैं वैसे ही लोक जनशक्ति पार्टी...

हरिद्वार: गंगा को नहर घोषित करने का शासनादेश जारी करने पर पूर्व सीएम हरीश रावत को भेजा लीगल नोटिस

हरिद्वार में हरकी पैड़ी पर बह रही गंगा को नहर (स्कैप चैनल) घोषित करने का शासनादेश जारी करने पर पूर्व सीएम हरीश...

अपने गृह राज्य हिमाचल में जेपी नड्डा को नई टीम के लिए कोई नेता नहीं दिखा काबिल

आठ माह पहले जेपी नड्डा को भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने पर उनका गृह राज्य हिमाचल प्रदेश झूम उठा था,...

तेजस्वी यादव का चुनावी वादा, कहा-पहली कैबिनेट में ही बिहार के 10 लाख युवाओं को नौकरी

बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर राजनीति दलों ने कमर कस ली है और कार्यकर्ताओं को एक्टिव करने के साथ ही वोटरों को...

फडणवीस से मुलाकात के बाद संजय राउत ने दी ये प्रतिक्रिया…

नई दिल्‍ली| शनिवार को महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस और शिवसेना सांसद संजय राउत के बीच मुलाकात हुई.