भारत-चीन के विदेश मंत्रियों के बीच मैराथन बैठक, शांति के लिए 5 सूत्रीय फॉर्मूले पर बनी सहमति

मास्को| गुरुवार को लद्दाख में सीमा विवाद पर विदेश मंत्री एस जयशंकर की अपने चीनी समकक्ष यांग यी के साथ मास्को में महत्वपूर्ण बैठक हुई. इस बैठक में दोनों नेता सीमा पर तनाव कम करने के लिए एक पांच सूत्रीय फॉर्मूले पर सहमत हुए हैं. दोनों नेताओं के बीच यह बैठक शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) सम्मेलन से इतर हुई. बताया गया है कि जयशंकर और यी ने लद्दाख सहित वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर तनाव कम करने के लिए सैनिकों की वापसी एवं शांति कायम करने के तरीकों पर चर्चा की. दोनों नेताओं के बीच यह बैठक अपने तय समय से करीब तीन घंटे की देरी से शुरू हुई और लगभग दो घंटे तक चली.

दोनों देशों की तरफ से संयुक्त बयान जारी
भारत-चीन के विदेश मंत्रालय की तरफ से जारी संयुक्त बयान में कहा गया है कि दोनों विदेश मंत्रियों के बीच ‘भारत-चीन सीमा क्षेत्र के साथ ही दोनों देशों के संबंधों पर स्पष्ट एवं रचनात्मक बातचीत हुई. दोनों पक्ष अपनी बातचीत जारी रखने, सैनिकों के बीच टकराव टालने के कदम उठाने एवं तनाव कम करने के उपाय करने पर सहमत हुए हैं.’ बता दें कि गत सोमवार की रात पैंगोंग त्सो झील के दक्षिणी इलाके में फायरिंग की घटना के बाद सीमा पर तनाव और ज्यादा बढ़ गया है.

विदेश मंत्रियों के बीच जिन पांच बिंदुओं पर सहमति बनी है, वे इस प्रकार हैं-

दोनों विदेश मंत्री इस बात पर सहमत हुए हैं कि भारत-चीन संबंधों के विकास पर नेताओं के बीच बनी सहमतियों से दोनों पक्ष मार्गदर्शन हासिल करेंगे. दोनों पक्ष मतभेदों को विवाद का रूप नहीं लेने देंगे.दोनों विदेश मंत्री सहमत हुए कि सीमा पर जो स्थिति बनी है वह दोनों देशों के हित में नहीं है.

सहमति के अनुसार दोनों देशों की सेना को आपस में बातचीत जारी रखनी चाहिए. दोनों देश की सेना को एक-दूसरे से उचित दूरी रखनी चाहिए और तनाव कम करना चाहिए.

दोनों मंत्री इस बात पर सहमत हुए हैं कि भारत और चीन सीमा से जुड़े सभी मौजूदा करारों एवं प्रोटोकॉल का पालन करना चाहिए. दोनों देशों को सीमा क्षेत्र में शांति एवं सौहार्द कायम करते हुए विवाद बढ़ाने वाला किसी भी तरह का कदम उठाने से बचना चाहिए.

दोनों पक्ष सहमत हुए हैं कि भारत-चीन सीमा विवाद पर बातचीत के लिए वे स्पेशल रिप्रेजेनटेटिव व्यवस्था का उपयोग करेंगे. दोनों देश इस बात पर भी सहमत हुए हैं कि भारत-चीन मामलों पर मौजूदा (डब्ल्यूएमसीसी) को अपनी बैठकें जारी रखनी चाहिए.

दोनों मंत्रियों ने सहमति जताई है कि सीमा पर तनाव में एक बार कमी आने के बाद दोनों पक्ष बॉर्डर पर शांति एवं सौहार्द बढ़ाने के लिए अपने विश्वास बहाली के उपायों को तेज करेंगे.

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक बैठक के दौरान यी ने इस बात को रेखांकित किया कि भारत और चीन पड़ोसी देश हैं, ऐसे में दोनों देशों के बीच मतभेदों का होना सामान्य बात है. रिपोर्ट के मुताबिक यी ने कहा, ‘महत्वपूर्ण बात यह है कि इन मतभेदों को उचित संदर्भ में रखने की जरूरत है.’

समाचार एजेंसी के मुताबिक के मुताबिक यी ने कहा कि भारत और चीन के संबंध एक बार फिर तल्ख हुए हैं. दोनों देश अपने संबंधों को यदि सही दिशा देने की कोशिश जारी रखते हैं तो उन्हें नहीं लगता कि किसी तरह की चुनौती या परेशानी को दूर नहीं किया जा सकता.

Related Articles

मोदी सरकार के कृषि विधेयक ने शिवराज की बढ़ाई टेंशन, सीएम किसानों की आवभगत में जुटे

केंद्र की भाजपा सरकार ने कृषि विधेयक संसद से पारित कराकर किसानों...

बड़ी खबर: इनकम टैक्स से जुडे़ बिल को संसद से मिली मंजूरी, आपको होंगे ये फायदें

नई दिल्ली| संसद में टैक्सेशन और अन्य कानून (कुछ प्रावधानों में...

महाराष्ट्र: भिवंडी इमारत हादसे में मरने वालों की संख्या 20 पहुंची

भिवंडी| महाराष्ट्र में ठाणे जिले के भिवंडी इलाके में सोमवार को हुई...

रिया की ज्यूडिशियल कस्टडी 6 अक्टूबर तक बढ़ी

सुशांत मामले की जांच के सिलसिले में ड्रग्स केस में गिरफ्तार रिया...

1 नवंबर से देशभर में शुरू होंगी ग्रेजुएशन की क्लास’- यहां देखें पूरा शेड्यूल

नईदिल्ली| शिक्षा मंत्रालय ने कोरोना वायरस के बढ़ते खतरे और देश में लागू अनलॉक...

पौड़ी: खतरे में पारंपरिक घराटों का वजूद, जा‍निए कैसे चलता है घराट

पहाड़ी क्षेत्रों में पारंपरिक घराटों (पनचक्‍की) का वजूद खतरे में है.

महाभारत की ‘शकुंतला’ आशालता वाबगांवकर का निधन, कोरोना से थी संक्रमित

जानी मानी मशहूर एक्ट्रेस और महाभारत में शकुंतला का रोल निभाने वाली...

Latest Updates

सामने आया योगी सरकार की फिल्म सिटी का मास्टर प्लान, जानिए इस फिल्म सिटी से जुड़ी खासियत

लखनऊ | यूपी में नई फिल्म सिटी की रूपरेखा सामने आ गई है. उत्तर प्रदेश सरकार ने इस फिल्म सिटी के निर्माण के लिए...

रिया की ज्यूडिशियल कस्टडी 6 अक्टूबर तक बढ़ी

सुशांत मामले की जांच के सिलसिले में ड्रग्स केस में गिरफ्तार रिया चक्रवर्ती की ज्यूडिशियल कस्टडी 6 अक्टूबर तक बढ़ा दी गई...

संसद के बाद अब सड़क पर भी भाजपा-विपक्ष में किसानों का नेता बनने की छिड़ी सियासी जंग

कमाल की राजनीति है. कोई भी राजनीतिक दल देश की जनता के सामने अपने आपको सबसे बड़ा हितेषी बताने के लिए तमाम...

अन्य खबरें

मोदी सरकार के कृषि विधेयक ने शिवराज की बढ़ाई टेंशन, सीएम किसानों की आवभगत में जुटे

केंद्र की भाजपा सरकार ने कृषि विधेयक संसद से पारित कराकर किसानों के साथ मध्य प्रदेश 'शिवराज सिंह चौहान सरकार की भी...

संसद के बाद अब सड़क पर भी भाजपा-विपक्ष में किसानों का नेता बनने की छिड़ी सियासी जंग

कमाल की राजनीति है. कोई भी राजनीतिक दल देश की जनता के सामने अपने आपको सबसे बड़ा हितेषी बताने के लिए तमाम...

उत्तराखंड में बढ़ा ‘आप’ का कुनबा सैकड़ों समर्थकों के साथ जितेंद्र मलिक ने ज्वाइन की पार्टी

उत्तराखंड में साल 2022 का चुनावी रण दिलचस्प होने वाला है. विधानसभा चुनाव की तैयारियों में जुटी आम आदमी पार्टी हर स्तर...

ब्रेकिंग: राज्यसभा से निलंबित सभी 8 सांसदों का धरना ख़त्म

राज्यसभा से निलंबित किए जाने वाले सांसदों ने अपना धरना खत्म कर दिया है.विपक्ष के वाकआउट के बाद धरने पर बैठे विपक्षी...

सांसदों का निलंबन वापस होने तक विपक्ष कार्यवाही का बहिष्कार करेगा: गुलाम नबी

नयी दिल्ली| राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद ने मंगलवार को कहा कि जब तक उच्च सदन के आठ सदस्यों का,...

निलंबित सांसद रात भर संसद के पास देंगे धरना, संजय सिंह ने घर से मंगवाया तकिया-बिस्तर: सूत्र

संसद के मॉनसून सत्र का सोमवार को 8वां दिन है. किसान बिल को लेकर सरकार और विपक्ष की तनातनी आज...