हल्द्वानी: डॉ कोमल जोशी को शिक्षा के क्षेत्र में मिला बड़ा सम्मान

अखिल भारतीय स्वतंत्र पत्रकार एवं लेखक संघ, दिल्ली के तत्वावधान में शिक्षक दिवस की पूर्व संध्या पर आयोजित होने वाला 36वे डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन शिक्षक सम्मान अबकी बार कोरोना संक्रमण के कारण कॉन्स्टिट्यूशन क्लब के बजाय केंद्रीय समाजिक न्याय एवं सेवायोजन मंत्री रामदास अठावले के सरकारी निवास पर संछिप्त और वर्चुअल रूप से किया गया.

ज्ञातव्य हो कि प्रतिवर्ष शिक्षक दिवस की पूर्व संध्या पर सामाजिक सेवा, शिक्षा और मीडिया के क्षेत्र में यह पुरस्कार दिया जाता है. वर्ष 1984 में विभिन्न क्षेत्रों पर कर्मवीरों के मनोबल के प्रोत्साहन के लिए इसकी सुरुआत की गयी थी.

उसी कड़ी में अब तक शिक्षा क्षेत्र में किये गए उल्लेखनीय योगदान के लिए डॉ कोमल चन्द्र जोशी जी को 36 वाँ डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन स्मृति शिक्षक सम्मान-2020 प्रदान किया गया.

डॉ जोशी ने बताया कि सम्पूर्ण भारत वर्ष से उक्त चयन समिति व्यक्तियों को उनके योगदान के हिसाब से स्वतः संज्ञान लेकर चयन करती है एवं यह संस्था पूरे भारतवर्ष की सबसे पुरानी प्रतिष्ठित संस्था है जो लगातार 36 वर्षों से यह पुनीत कार्य अनवरत कर रही है.

डॉ जोशी पिछले 19 सालों से शिक्षा के क्षेत्र में अपनी सेवाएं दे रहें हैं और अभी तक उनको डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन के पौत्र डॉ के.एस. रत्नाकर द्वारा प्रिंसिपल ऑफ द ईयर-कोलकाता जिसमें देशभर से बेहतरीन 40 प्रधानाचार्यों को चुना गया था.

एडुकेशज एवं रिसर्च इंडस्ट्री थर्टी वन वेंचर्स मुम्बई से एडुकेशन आइकॉन, देश की प्रतिष्ठित सामाजिक संस्था पोद्दार फाउंडेशन की ट्रस्टी प्रकृति पोद्दार द्वारा मानसिक स्वास्थ और तनाव में सेवा के लिए एप्रिसिएशन वालंटियर, एडुफ़ीड फाउंडेशन द्वारा लेटर ऑफ एप्रिसिएशन एवं सर्टिफिकेट ऑफ एप्रिसिएशन के साथ-साथ लगभग अन्य कई बड़े सम्मानित पुरुस्कारों से अब तक नवाजा जा चुका है.

उनको पिछले ही वर्ष देश के प्रतिष्ठित प्रबंधन संस्थान आई. आई. एम.-काशीपुर से एग्जीक्यूटिव इन स्ट्रेटेजिक मैनेजमेंट में भी सर्टिफिकेशन प्राप्त हुआ है और शिक्षा के क्षेत्र में ऐसा करने वाले वह अकेले थे.

अखिल भारतीय स्तर पर देश के चुनिंदा 6 शिक्षाविदों, 11 चिकित्सकों और पत्रकारों को को प्रदान किया जाने वाला यह पुरस्कार देश का दूसरा सबसे बड़ा पुरुस्कार माना जाता है. उत्तराखंड से यह पुरस्कार प्राप्त करने वाले डॉ जोशी एकमात्र शिक्षाविद है.

वह हल्द्वानी(नैनीताल) के निवासी है और इस बात से उनके घर में हर्ष का माहौल है. उनकी माताजी बीना जोशी और पिताजी रमेश जोशी दोनों ही सामाजिक कार्यकर्ता है.

Related Articles

बंगाल में बढ़ी गवर्नर और सीएम में तकरार, धनखड़ ने दी ये चेतावनी

कोलकाता| पश्चिम बंगाल में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी तथा राज्यपाल जगदीप धनखड़ के...

उत्तराखंड में मिले 457 नए कोरोना पॉजिटिव, 1854 लोग स्वस्थ

सोमवार को उत्तराखंड में 457 लोग कोरोनावायरस संक्रमित मिले हैं. लेकिन इससे...

उत्तराखंड परिवहन की गाड़ियों में नहीं देना होगा डबल किराया, पढ़ें आदेश

उत्तराखंड सरकार द्वारा गाड़ियों में जो 50% सवारी बैठाने का प्रावधान था...

देश में कब तक उपलब्ध होगी कोरोना वायरस की वैक्सीन, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने दिया ये जवाब

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोविड-19 की वैक्सीन के लिए एक ऑनलाइन...

सुशांत सिंह राजपूत की मौत की जांच कर रही सीबीआई ने दिया ये बड़ा बयान…

दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत की जांच कर रही केंद्रीय...

Latest Updates

वर्ल्ड रेबीज डे विशेष: रेबीज भी खतरनाक वायरस, इसकी अनदेखी पड़ सकती है भारी

28 सितंबर को पूरी दुनिया एक खतरनाक वायरस को दिवस के रूप में मनाती है. पिछले कई महीनों...

उत्तराखंड: देहरादून में कांग्रेस पार्टी ने कृषि कानूनों के खिलाफ किया विरोध प्रदर्शन, पुलिस ने बैरिकेडिंग पर रोका

देहरादून| कृषि से संबंधित तीन बिलों के विरोध में आज भारी भीड़ के साथ कांग्रेस कार्यकर्ता राजभवन कूच के लिए निकले.

उत्तराखंड परिवहन की गाड़ियों में नहीं देना होगा डबल किराया, पढ़ें आदेश

उत्तराखंड सरकार द्वारा गाड़ियों में जो 50% सवारी बैठाने का प्रावधान था वह सोमवार को समाप्त हो गया है और कल दिनांक...

अन्य खबरें

सीएम नीतीश कुमार के दलित दांव से चिराग पासवान में है जबरदस्त नाराजगी

पिछले कई दिनों से चिराग पासवान सीएम नीतीश कुमार और जदयू सरकार पर हमलावर हैं. बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर सीएम नीतीश...

एलजीपी आक्रामक मूड में, चिराग पासवान के सियासी सौदे से भाजपा आलाकमान टेंशन में

बिहार में भाजपा और जेडीयू विधानसभा चुनाव की तैयारियों को लेकर जैसे-जैसे एक कदम आगे बढ़ते हैं वैसे ही लोक जनशक्ति पार्टी...

हरिद्वार: गंगा को नहर घोषित करने का शासनादेश जारी करने पर पूर्व सीएम हरीश रावत को भेजा लीगल नोटिस

हरिद्वार में हरकी पैड़ी पर बह रही गंगा को नहर (स्कैप चैनल) घोषित करने का शासनादेश जारी करने पर पूर्व सीएम हरीश...

अपने गृह राज्य हिमाचल में जेपी नड्डा को नई टीम के लिए कोई नेता नहीं दिखा काबिल

आठ माह पहले जेपी नड्डा को भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने पर उनका गृह राज्य हिमाचल प्रदेश झूम उठा था,...

तेजस्वी यादव का चुनावी वादा, कहा-पहली कैबिनेट में ही बिहार के 10 लाख युवाओं को नौकरी

बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर राजनीति दलों ने कमर कस ली है और कार्यकर्ताओं को एक्टिव करने के साथ ही वोटरों को...

फडणवीस से मुलाकात के बाद संजय राउत ने दी ये प्रतिक्रिया…

नई दिल्‍ली| शनिवार को महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस और शिवसेना सांसद संजय राउत के बीच मुलाकात हुई.