कभी अल्मोड़ा जिले का हिस्सा रहा पिथौरागढ़ सामरिक रूप से देश के लिए है अति महत्वपूर्ण, जानें कैसे

पिथौरागढ़| लम्बे समय तक अल्मोड़ा जिला का हिस्सा रहा पिथौरागढ़ 24 फरवरी 1960 को एक जिले के रूप में अस्तित्व में आया. पिथौरागढ़ का पुराना नाम सोरघाटी है. सोर शब्द का अर्थ यहां सरोवर से था.

चीन के साथ खराब होते रिश्तों को देखते हुए तत्कालीन यूपी सरकार ने 1960 में एक ही दिन पिथौरागढ़, चमोली और उत्तरकाशी जिलों को गठन किया था.

सामरिक नजरिए से अहम ये तीनों जिले लम्बे समय तक उत्तराखंड कमिश्नरी के बजाय यूपी के मुख्य सचिव के अधिन होते थे. माना जाता है कि पहले इस घाटी में सात सरोवर थे.

वक्त के साथ सरोवरों का पानी सूखता चला गया और यहां पर पठारी भूमि का जन्म हुआ. पठारी भूमि होने के कारण इसका नाम पिथौरागढ़ पड़ा.

पर अधिकांश लोगों का मानना है कि यहां राय पिथौरा (पृथ्वीराज चौहान) की राजधानी थी. उन्हीं के नाम से इस जगह का नाम पिथौरागढ़ पड़ा.

पीरू गोसाई ने पिथौरागढ़ की स्थापना की
पिथौरागढ़ के इतिहास का एक अन्य विवादास्पद वर्णन है. एटकिंसन के अनुसार चंद वंश के एक सामंत पीरू गोसाई ने पिथौरागढ़ की स्थापना की.

यह भी पढ़ें -  India US 2+2 dialogue: भारत-यूएस के बीच BECA पर लगी मुहर, रक्षा सहयोग को और मजबूत करेंगे दोनों देश

ऐसा लगता है कि चंद वंश के राजा भारती चंद के शासनकाल 1437 से 1450 में उसके पुत्र रत्न चंद ने नेपाल के राजा दोती को परास्त कर सोर घाटी पर कब्जा कर लिया और 1440 में इसे कुमाऊं या कुर्मांचल में मिला लिया.

उसी के शासनकाल में पीरू यानी पृथ्वी गोसांई ने पिथौरागढ़ नाम से यहां एक किला बनाया. किले के नाम पर ही बाद में इस नगर का नाम पिथौरागढ़ हुआ.

चंदों ने 1740 तक कुमाऊं में राज किया
चंदों ने 1740 तक कुमाऊं में राज किया. उन्होंने कई कबीलों को परास्त किया तथा पड़ोसी राजाओं से युद्ध भी किया. 1740 में गोरखियाली कहे जाने वाले गोरखाओं ने कुमाऊं पर कब्जा कर चंदवंश पर शासन किया.

यह भी पढ़ें -  सीएम रावत आज नैनीताल दौरे पर, झील-अस्पताल से संबंधित योजनाओं का करेंगे शुभारंभ

1815 में गोरखा शासकों का अंत ईस्ट इंडिया कंपनी ने उन्हें परास्त कर किया. एटकिंसन के अनुसार, वर्ष 1881 में पिथौरागढ़ की कुल जनसंख्या 552 थी.

यह भी पढ़ें -  गृह मंत्रालय का आदेश, 31 अक्टूबर तक लागू होने वाली अनलॉक गाइडलाइंस अब 30 नवंबर तक लागू

अंग्रेजों के समय में यहां एक सैनिक छावनी, एक चर्च तथा एक मिशन स्कूल था. इस क्षेत्र में क्रिश्चियन मिशनरी बहुत सक्रिय थे.

पिथौरागढ़ में 11 तहसील और 8 विकासखंड हैं
वर्तमान में पिथौरागढ़ जिले में 4 विधानसभाएं हैं, जबकि 2007 तक यहां 5 विधानसभा थीं. तकरीबन 5 लाख की आबादी वाले पिथौरागढ़ में 11 तहसील और 8 विकासखंड हैं.

पिथौरागढ़ अपने प्राकृतिक सौन्दर्य के लिए विश्व विख्यात है. चौकोड़ी, मुनस्यारी और हिमालय की ऊंचे इलाकों में साल भर सैलानियों का तांता लगा रहता है.

चीन सीमा के करीब छियालेख में यहां फूलों की घाटी भी है. यही नहीं मिलम और रालम जैसे विश्व विख्यात ग्लेशियर भी यहीं हैं.

पर्वतारोहण की चाह रखने वालों के लिए नंदा देवी ईस्ट भी यहीं मौजूद है. गंगोलीहाट का हाट-कालिका मंदिर महाकाली के उपासकों के लिए आस्था का केन्द्र बिंदू है. इस मंदिर में कालिका की दर्शनों के लिए देश भर से भक्त पहुंचते हैं.

नारायण आश्रम की स्थापना नारायण स्वामी ने 1936 में की थी
वहीं, धारचूला से 30 किलोमीटर की दूरी पर नारायण स्वामी द्वारा बनाया गया नारायण आश्रम भी यहीं पर है. नारायण आश्रम की स्थापना नारायण स्वामी ने 1936 में की थी. धारचूला और मुनस्यारी तहसील में यहां भोटिया जनजातियां भी रहती हैं.

दुनिया भर के हिन्दुओं की आस्था का केन्द्र कैलाश-मानसरोवर जाने वाले तीर्थ यात्री भी इसी जिले से होकर गुजरते हैं. टनकपुर से तवाघाट मार्ग को मानसरोवर यात्रा का परम्परागत मार्ग माना जाता है. मानसखंड में इस स्थान का वर्णन किया गया है.

पिथौरागढ़ की सीमाएं चीन और नेपाल से सटी हैं
पिथौरागढ़ उत्तराखंड का इकलौता ऐसा जिला है, जिसकी सीमाएं चीन और नेपाल से सटी हैं. यही वजह है कि यहां सेना, आईटीबीपी और एसएसबी की कई बटालियन तैनात रहती हैं.

यह भी पढ़ें -  IPL 2020-KXIP Vs KKR: मनदीप, गेल के अर्धशतक, पंजाब की एक और जीत
यह भी पढ़ें -  अब अन्य राज्यों के लोग जम्मू-कश्मीर में जमीन खरीद सकेंगे, विरोध के बीच केंद्र का कानून लागू

पिथौरागढ़ से काली,सरयू और धौली जैसी नदियां भी निकलती हैं. उत्तराखंड के पहाड़ी जिलों में ये इकलौता जिला है जहां पर एयरपोर्ट मौजूद हैं. नैनी-सैनी एयरपोर्ट के जरिए ये इलाका हवाई सेवा से सीधे जुड़ा हुआ है.

साभार -न्यूज़ 18



Related Articles

पीएम मोदी बोले -विकराल रूप से चुका है भ्रष्टाचार का वंशवाद, कई राज्यों में राजनीतिक परंपरा का हिस्सा बना

नई दिल्ली| मंगलवार को पीएम मोदी ने कहा कि भ्रष्टाचार का वंशवाद ना सिर्फ एक बड़ी चुनौती है बल्कि वह कई राज्यों...

Covid19: उत्तराखंड में एक्टिव केस चार हजार से कम, 24 घंटे में मिले 213 नये मामले

उत्तराखंड में कोरोना की कम होती रफ्तार सुकून दे रही है. प्रदेश में एक्टिव केस भी अब चार हजार से नीचे पहुंच...

अगर आप उत्तराखंड में किराये के मकान में रहते हैं तो जरूर पढ़े ये खबर

अगर आप उत्तराखंड में किराये के मकान में रहते हैं तो ये खबर आपके लिए है. उत्तराखंड में आदर्श किरायेदारी अधिनियम (एमटीए)...

Stay Connected

57,055FansLike
2,837FollowersFollow
474SubscribersSubscribe

- Advertisement -

Latest Articles

पीएम मोदी बोले -विकराल रूप से चुका है भ्रष्टाचार का वंशवाद, कई राज्यों में...

नई दिल्ली| मंगलवार को पीएम मोदी ने कहा कि भ्रष्टाचार का वंशवाद ना सिर्फ एक बड़ी चुनौती है बल्कि वह कई राज्यों...

Covid19: उत्तराखंड में एक्टिव केस चार हजार से कम, 24 घंटे में मिले 213...

उत्तराखंड में कोरोना की कम होती रफ्तार सुकून दे रही है. प्रदेश में एक्टिव केस भी अब चार हजार से नीचे पहुंच...

अगर आप उत्तराखंड में किराये के मकान में रहते हैं तो जरूर पढ़े ये...

अगर आप उत्तराखंड में किराये के मकान में रहते हैं तो ये खबर आपके लिए है. उत्तराखंड में आदर्श किरायेदारी अधिनियम (एमटीए)...

उत्तराखंड: पिथौरागढ़-घाट हाईवे पर दर्दनाक हादसा, ट्रक पर टूटकर गिरी चट्टान-दो लोगों की दर्दनाक...

पिथौरागढ़| पिथौरागढ़ से एक बड़ी खबर सामने आ रही है. पिथौरागढ़-घाट एनएच पर गुरना के समीप पहाड़ी का मलबा कैंटर के...

भारत सरकार का बड़ा फैसला, हिज्बुल प्रमुख सलाहुद्दीन समेत 18 को कियाआतंकी घोषित

नई दिल्ली|मंगलवार को भारत सरकार ने गैरकानूनी गतिविधि (रोकथाम) अधिनियम (यूएपीए) 1967 के तहत 18 और लोगों को आतंकवादी घोषित किया...

बिस्ला, रसेल समेत 5 विदेशी खिलाड़ी लंका प्रीमियर लीग से बाहर हुए

कोलंबो|..... भारत के मनविंदर बिस्ला, वेस्टइंडीज के ऑलराउंडर आंद्रे रसेल और दक्षिण अफ्रीका के फाफ डु प्लेसिस सहित पांच विदेशी खिलाड़ियों ने...

देहरादून: ऑनलाइन हुआ उत्तराखण्ड वन विभाग, सीएम रावत ने की इन कार्यों की घोषणाएं

मंगलवार को सीएम रावत ने राजपुर रोड स्थित उत्तराखण्ड वन विभाग मुख्यालय में ई-ऑफिस कार्यप्रणाली का शुभारम्भ किया. इस अवसर पर...

गृह मंत्रालय का आदेश, 31 अक्टूबर तक लागू होने वाली अनलॉक गाइडलाइंस अब 30...

नई दिल्ली| गृह मंत्रालय ने 31 अक्टूबर तक लागू अनलॉक 5 की गाइडलाइंस को 30 नवंबर तक बढ़ा दिया है. इसमें कहा...

IPL 2020-KXIP Vs KKR: मनदीप, गेल के अर्धशतक, पंजाब की एक और जीत

शारजाह|..... मनदीप सिंह, क्रिस गेल की अर्धशतकीय पारियों के बूते किंग्स इलेवन पंजाब ने सोमवार को शारजाह क्रिकेट स्टेडियम में खेले गए...

विशेष खबर: चुनावी रण में ‘चाणक्य’ का सियासी दांव मौन, राजनीति पंडितों में छाई...

इस बार चुनावी रणक्षेत्र में 'चाणक्य का सियासी दांव' देखने को नहीं मिल रहा है. जिससे राजनीति पंडितों में बेचैनी छाई हुई...