RADIO! ! HELLO UTTARAKHAND

न्यूज़ हाइलाइट्स टुडे – 02-12-2020

सुनिए कार्तिक पुर्णिमा का महत्व

दुनिया के रोमांटिक देश सेशेल्स के रामकलावन हुए महामहिम, भारत के और करीब आया ये द्वीप

आइए आज आपको प्राकृतिक छटा के बीच बसे एक खूबसूरत देश लिए चलते हैं. यह छोटा सा राष्ट्र अपने समुद्र बीचों के लिए दुनिया भर के सैलानियों का आकर्षण का केंद्र रहा है, यही नहीं इसकी आमदनी का बहुत बड़ा भाग पर्यटन उद्योग से ही आता है. जी हां हम बात कर रहे हैं सेशेल्स देश की.

लेकिन आज हम इसकी खूबसूरती और शानदार द्वीपीय नजारों के साथ राजनीति पर भी चर्चा करेंगे. सेशेल्स ने एक बार फिर भारतीयों का ध्यान खींचा है.

भारत की मिट्टी से निकले पूर्वज के बेटे वैवेल रामकलावन इस देश के राष्ट्रपति निर्वाचित घोषित किए गए हैं. यह हमारे देश के लिए गर्व की बात है. बता दें कि 43 साल बाद विपक्ष का कोई नेता सेशेल्स का राष्ट्रपति चुना गया है. रामकलावन की जड़ें बिहार से जुड़ी हैं. राष्ट्रपति निर्वाचित होने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रामकलावन को बधाई दी है.

पीएम मोदी ने कहा कि स्वतंत्र, निष्पक्ष और शांतिपूर्ण चुनाव के लिए सेशेल्स के लोगों को बधाई. यह लोकतंत्र के लिए एक जीत है, एक सामान्य मूल्य जो भारत और सेशेल्स को बांधता है. पूर्वी अफ्रीकी देश सेशेल्स की आबादी एक लाख से कम है. सेशेल्स में 1977 के बाद पहली बार विपक्ष का कोई नेता राष्ट्रपति निर्वाचित हुआ है. रामकलावन की पार्टी का नाम लिनयोन डेमोक्रेटिक सेसेलवा पार्टी है.

यह भी पढ़ें -  Covid19: उत्तराखंड में मिले 473 नए संक्रमित, 7 की मौत

निवर्तमान राष्ट्रपति फॉरे की यूनाइडेट सेशेल्स पार्टी पिछले 43 साल से सत्ता में थी
रामकलावन ने निवर्तमान राष्ट्रपति फॉरे के साथ मिलकर काम करने का वादा किया. यहां हम आपको बता दें कि आमतौर पर अफ्रीकी देशों में सत्ता का हस्तांतरण सामान्य तरीके से नहीं होता. जीत के बाद रामकलावन ने कहा कि फॉरे और मैं अच्छे दोस्त हैं, एक चुनाव का यह मतलब नहीं है कि अपनी मातृभूमि में किसी का योगदान खत्म हो जाता है.

यह भी पढ़ें -  Covid19: देश में 24 घंटे में मिले 31118 नए मरीज- 482 मौतें

उन्होंने कहा इस चुनाव में न कोई पराजित हुआ है और न कोई विजयी. यह हमारे देश की जीत है. रामकलावन जब भाषण दे रहे थे तब फॉरे उनकी बगल में ही बैठे थे. रामकलावन की बातों से अंदाजा लगाया जा सकता है कि इस देश की राजनीति में नैतिकता और मर्यादा सर्वोपरि है .

बिहार के मोतिहारी के रहने वाले थे रामकलावन के पूर्वज
रामकलावन के परदादा 130 साल पहले 1883 में बिहार के मोतीहारी जिले के परसौनी गांव से कलकत्ता (अब कोलकाता) होते हुए मारीशस पहुंचे थे. जहां वह गन्ने के खेत में काम करने लगे. कुछ समय बाद वह सेशेल्स चले गए थे.

यह भी पढ़ें -  उत्तराखण्ड में बनेंगी सूर्यधार जैसी आठ झीलें, घाटियां फिर से होगी आबाद

सेशेल्स में ही 1961 में रामकलावन का जन्म हुआ था. वर्ष 2018 में रामकलावन सांसदों के पहले सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए दिल्ली आए थे. तब वह अपने पूर्वजों के गांव परसौनी भी गए थे. उस समय वह सेशेल्स की संसद नेशनल असेंबली के सदस्य थे. जब इसकी जानकारी बिहार खासतौर पर मोतिहारी के लोगों को हुई तो उन्होंने भी खुशियां मनाई . इन दिनों बिहार भी विधानसभा चुनाव के शोर में मशगूल है.

सेशेल्स दुनिया के सबसे खूबसूरत द्वीपो में गिना जाता है
सेशेल्स एक रोमांटिक द्वीप समूह के अलावा एक खूबसूरत देश भी है. इस देश की राजधानी विक्टोरिया है. यह द्वीप समूह दुनिया के खूबसूरत द्वीपो में गिना जाता है. अगर आप घूमना पसंद करते हैं तो कम खर्च में जा सकते हैं. यहां पर मालदीव जैसा नजारा देखने को मिलता है.

यह द्वीप समूह चारों ओर से सागरों से घिरा हुआ है और दुनिया में प्रसिद्ध है. देश के सभी कोनों से लोग यहां घूमने आते हैं . आपको बता दें कि सेशेल्स हिंद महासागर में स्थित 115 द्वीपों वाला एक द्वीपसमूह राष्ट्र है. यह अफ्रीकी मुख्यभूमि से लगभग 1500 किलोमीटर दूर पूर्व दिशा मे और मेडागास्कर के उत्तर पूर्व मे हिंद महासागर में स्थित है. इसके पश्चिम मे जांजीबार, दक्षिण मे मॉरीशस और रीयूनियन, दक्षिण पश्चिम मे कोमोरोस और मयॉट और उत्तर पूर्व मे मालदीव का सुवाडिवेस स्थित है.

यह भी पढ़ें -  किसान आंदोलन के बीच समझें क्या है कृषि कानून और क्यों हो रहा है विरोध!
यह भी पढ़ें -  पत्नी और पांच बच्चों को कुल्हाड़ी से काटा, फिर बोला-मैं नहीं, 'भूत' है हत्यारा!

सेशेल्स‌ को वर्ष 1976 में अंग्रेजों से मिली थी आजादी
सेशेल्स‌ देश (द्वीपसमूह) का खोज 1500 ईस्वी के बाद यूरोपीयन द्वारा किया गया था. अगले 150 साल तक कई यूरोपीयन यहां रहने लगे थे. 1756 में फ्रांस ने इन द्वीपसमूहों पर कब्जा कर लिया. इन सभी द्वीपसमूहों का नाम ‘सेशेल्स’ दिया गया था जो एक फ्रांसीसी वित्तमंत्री के नाम पर रखा गया था.

1814 में अंग्रेजों ने जब फ्रांस के सम्राट नेपोलियन को हरा दिया तब इन द्वीपसमूहों पर अंग्रेजों का कब्जा हो गया. 1976 में इन द्वीपसमूहों को अंग्रेजों से पूरी तरह आजादी मिली.

माहे देश का सबसे बड़ा द्वीप है. जिसका क्षेत्रफल 157 वर्ग किलोमीटर है. बता दें कि इस देश के ज्यादातर द्वीपों पर आबादी नहीं रहती है, और ये द्वीप प्राकृतिक संसाधनों से भरे पड़े हैं.

शंभू नाथ गौतम, वरिष्ठ पत्रकार

Related Articles

पंजाब: सीएम अमरिंदर सिंह लेंगें कोरोना वैक्सीन का पहला डोज

चंडीगढ़| भारत में कोविड-19 वैक्सीन का ट्रायल अंतिम चरण में होने के साथ, सीएम अमरिंदर सिंह ने बुधवार को कहा कि इंडियन काउंसिल ऑफ...

योगी आदित्‍यनाथ के मुंबई दौरे से बढ़ी जुबानी जंग, यूपी में फिल्म सिटी को लेकर सियासी घमासान

मुंबई| यूपी में प्रस्तावित फिल्म सिटी को लेकर सियासी घमासान मचा हुआ है. यूपी के सीएम योगी मुंबई पहुंचे हैं, जहां उन्‍होंने...

स्वस्थ जीना है तो गेहूं छोड़ो!

अमेरिका के एक हृदय रोग विशेषज्ञ हैं डॉ विलियम डेविस. 2011 में उन्होंने एक पुस्तक लिखी थी जिसका नाम था Wheat belly...

Stay Connected

57,573FansLike
2,853FollowersFollow
474SubscribersSubscribe

Latest Articles

पंजाब: सीएम अमरिंदर सिंह लेंगें कोरोना वैक्सीन का पहला डोज

चंडीगढ़| भारत में कोविड-19 वैक्सीन का ट्रायल अंतिम चरण में होने के साथ, सीएम अमरिंदर सिंह ने बुधवार को कहा कि इंडियन काउंसिल ऑफ...

योगी आदित्‍यनाथ के मुंबई दौरे से बढ़ी जुबानी जंग, यूपी में फिल्म सिटी को...

मुंबई| यूपी में प्रस्तावित फिल्म सिटी को लेकर सियासी घमासान मचा हुआ है. यूपी के सीएम योगी मुंबई पहुंचे हैं, जहां उन्‍होंने...

स्वस्थ जीना है तो गेहूं छोड़ो!

अमेरिका के एक हृदय रोग विशेषज्ञ हैं डॉ विलियम डेविस. 2011 में उन्होंने एक पुस्तक लिखी थी जिसका नाम था Wheat belly...

Covid19: उत्तराखंड में मिले 516 नए संक्रमित, 13 की मौत

उत्तराखंड में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा बढ़ता ही जा रहा है. बीते 24 घंटे के भीतर 516 नए संक्रमित मिले हैं. वहीं, 13 संक्रमित मरीजों की...

उत्तराखण्ड में बनेंगी सूर्यधार जैसी आठ झीलें, घाटियां फिर से होगी आबाद

उत्तराखण्ड| सूर्यधार यानि बरसाती नदी को बहुपयोगी और सदा नीरा बनाने की एक सफल कोशिश। इस झील के बन जाने से न...

उत्तरकाशी: सामूहिक भोजन के बाद हड़कंप, लोगों को होने लगी खून की उल्‍ट‍ियां

उत्‍तरकाशी| उत्‍तरकाशी के बडकोट तहसील के क्वाल गांव में एक धार्मिक कार्यक्रम में जब सामूहिक भोज हुआ तो वहां सभी ग्रामीणों ने खाना खाया....

Ind Vs Aus: तीसरे वनडे में टीम इंडिया की रोमांचक जीत, ऑस्ट्रेलिया ने 2-1...

कैनबरा| टीम इंडिया ने बुधवार को कैनबरा के मनुका ओवल मैदान पर खेले गए तीसरे और आखिरी वनडे मैच में आस्ट्रेलिया को 13 रनों...

पाकिस्तान के संस्थापक के नाम पर शराब की बोतल का नाम, लिखा- ‘इन द...

पाकिस्तान के संस्थापक मोहम्मद अली जिन्ना के नाम पर एक शराब का नाम रखा गया है. जिन्ना का नाम रखते हुए कहा गया है...

योगी सरकार लव जिहाद कानून के बाद अब अंतरधार्मिक विवाह पर प्रोत्‍साहन राशि योजना...

लखनऊ| शादी के लिए जबरन धर्म परिवर्तन के खिलाफ अध्यादेश लाने के बाद यूपी सरकार अब करीब चार दशक पुरानी उस योजना को खत्‍म...

150 साल पहले अंग्रेज कारोबारी ने देखा था सपना,अब उत्तराखंड सरकार करेगी पूरा, बदलेंगे...

उत्तरकाशी| तकरीबन 150 साल पहले हर्षिल घाटी को विशेष पहचान दिलाने वाले अंग्रेज व्यापारी विल्सन के सपनों को अब जमीन पर उतारने के लिए...