हैलो उत्तराखंड!

यूएस के एक शीर्ष पैनल के सनसनीखेज दावे से चीन बेनकाब, गलवान घटना थी जिनपिंग सरकार की योजना

15-16 जून की रात लद्दाख के पूर्वी सेक्टर के गलवान में क्या कुछ हुआ था दुनिया वाकिफ है. पीएलए के सैनिकों ने इलाके में गश्त कर रहे है भारतीय सैनिकों पर धोखे से हमला किया और उस भिड़ंत में 20 जवान शहीद हो गए जिसमें एक कमांडिंग अफसर भी थे, हालांकि उस घटना में चीनी सेना को भी नुकसान पहुंचा.

चीन की तरफ से नकारात्मक बयान आता रहा कि उसने कुछ किया ही नहीं.लेकिन एक शीर्ष अमेरिकी पैनेल का कहना है कि गलवान की घटना चीनी सरकार की योजना थी.

यूनाइटेड स्टेट्स-चीन इकोनॉमिक और सेक्यूरिटी रिव्यू कमीशन का कहना है कि कुछ साक्ष्य साफ साफ इशारा करते हैं कि चीनी सरकार ने गलवाव के लिए योजना बनाई जिसमें वो खुद बड़े नुकसान का आंकलन कर चुकी थी.पैनल का कहना है कि गलवान की घटना से कुछ हफ्तों पहले चीन के रक्षा मंत्री वी ने कहा था कि स्थायित्व को बनाए रखने के लिए लड़ाई जरूरी है, हमें समय समय पर बल का इस्तेमाल करना होगा.

ग्लोबल टाइम्स का दिया हवाला
गलवान घटना से महज दो हफ्ते पहले चीन के सरकारी अखबार द ग्लोबल टाइम्स में जो कुछ छपा उससे संकेत साफ थे कि चीन की मंशा क्या है, ग्लोबल टाइम्स ने लिखा कि अगर अमेरिका और चीन के व्यापारिक रिश्ते में भारत आता है तो उसे गंभीर खामियाजा भुगतना होगा. सैटेलाइट तस्वीरों से भी साफ है कि गलवान में खूनी झड़प से पहले किस तरह से पीएलए ने अस्थाई ढांचे के साथ साथ 1000 से ज्यादा सैनिकों की तैनाती की थी. पैनल का यह भी कहना है कि वैसे सीमा पर चीन और भारत बीच आपसी झड़प होती रही है. लेकिन 2012 में शी जिनपिंग के सत्ता में आने के बाद अब तक पांच बार बड़ी झड़पें हुईं हैं.

यह भी पढ़ें -  चरमराई अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए बजट 2021 में होंगे कई बड़े ऐलान, कुछ सरकारी बैंकों का होगा निजीकरण!

Related Articles

Stay Connected

58,026FansLike
2,849FollowersFollow
474SubscribersSubscribe

Latest Articles

लाल किले पर झंडा मामले को लेकर भड़के नेता, शशि थरूर से लेकर संजय...

दिल्ली में आज का दिन कई मायनों में याद रखा जाएगा, आज किसानों ने कृषि कानूनों के विरोध में ट्रैक्टर रैली का आयोजन किया...

Kisan tractor Rally: दिल्ली-एनसीआर के कई इलाकों में रात 12 बजे इंटरनेट बैन,...

गणतंत्र दिवस के दिन किसानों के ट्रैक्टर मार्च में हिंसा के बाद दिल्ली-एनसीआर के कई इलाकों में इंटरनेट बैन कर दिया...

चरमराई अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए बजट 2021 में होंगे कई बड़े...

नई दिल्ली| भारत धीरे-धीरे कोविड-19 महामारी के प्रकोप बाहर निकल रहा है और इसको देखते हुए कि टीकाकरण अभियान पहले ही शुरू हो...

Kisan tractor Rally: किसानों के कब्जे में लाल किला, फहराए अपने संगठनों के झंडे

केंद्र के तीन नए कृषि कानूनों का विरोध कर रहे 41 किसान संगठनों का संयुक्त किसान मोर्चा ने आज (26 जनवरी 2021) ट्रैक्टर रैली...

भारत में लॉन्च हुआ FAU-G गेम, जानें फोन में डाउनलोड करने का तरीका- इसके...

FAU-G गेम आखिरकार भारत में लॉन्च हो गया है. बेसब्री से इंतज़ार हो रहे इस गेम को nCORE गेमिंग नाम की भारतीय कंपनी...

उत्तराखंड: बीजेपी मिशन 2022 में जुटी, जीत के लिए बनाया ये खास प्लान…

देहरादून| उत्तराखंड बीजेपी मिशन 2022 में जुट गई है. इस बार टारगेट 60 सीटों के साथ सत्ता में वापसी का है. पिछले विधानसभा चुनाव...

Tractor Parade: किसानों पर संजय गांधी ट्रांसपोर्ट नगर में छोड़ी आंसू गैस, गाजीपुर में...

दिल्ली पुलिस से इजाजत मिलने के बाद आज गणतंत्र दिवस के अवसर पर तीनों कृषि कानूनों के खिलाफ किसान दिल्ली में 'ट्रैक्टर परेड' निकाल...

Tractor Parade : किसानों ने गाजीपुर टोल पार किया, सिंघु और टिकरी बॉर्डर पर...

दिल्ली पुलिस से इजाजत मिलने के बाद आज गणतंत्र दिवस के अवसर पर तीनों कृषि कानूनों के खिलाफ किसान दिल्ली में 'ट्रैक्टर परेड' निकाल...

गणतंत्र दिवस परेड और किसान ट्रैक्टर मार्च पर दिल्ली में इन इलाकों पर ट्रैफिक...

गणतंत्र दिवस परेड और किसान ट्रैक्टर रैली के चलते नई दिल्ली व मध्य दिल्ली के कुछ मार्ग बंद रहें तो कुछ का मार्ग परिवर्तित...
फटाफट समाचार

फटाफट समाचार (26 -01 -2021) सुनिए आज के मुख्य समाचार

01 गणतंत्र दिवस के अवसर पर राजपथ पर होने वाली परेड में इस बार उत्तराखंड की झांकी 'केदारखंड' भी नजर आएगी। इस झांकी में...