एआईयूडीएफ प्रमुख बदरूद्दीन का विवादित बयान, ‘2024 में सत्ता में आई तो मस्जिदों को गिरा देगी भाजपा’

इस साल अप्रैल- मई महीने में असम में विधानसभा चुनाव होंगे. राज्य में विधानसभा की 126 सीटों के लिए सभी राजनीतिक दलों ने अपनी तैयारी शुरू कर दी है.

असम में पहली बार 2016 में सरकार बनाने वाली भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को इस बार चुनौती देने के लिए कांग्रेस ने ऑल इंडिया यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फंट (एआईयूडीएफ) को अपने गठबंधन में शामिल किया है. कांग्रेस के गठबंधन में शामिल दलों की संख्या बढ़कर अब छह हो गई है.

वोटरों को अपनी तरफ आकर्षित करने के साथ-साथ ध्रुवीकरण का भी काम तेज हो गया है. एआईयूडीएफ के सुप्रीमो एवं लोकसभा सांसद बदरूद्दीन अजमल ने विवादित बयान दिया है. उन्होंने बुधवार को अपने धुबरी निर्वाचन क्षेत्र के गौरीपुर में एक सभा को संबोधित करते हुए जो बयान उसे वोटों के ध्रुवीकरण से जोड़कर देखा जा रहा है.

2024 में सत्ता में आई तो मस्जिदों को गिरा देगी भाजपा-अजमल
अजमल ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा, ‘भाजपा के पास देश भर की 3,500 मस्जिदों को सूची है, 2014 के आम चुनावों में अगर वह जीतकर आई तो वह इन मस्जिदों को गिरा देगी. तीन तलाक हमारे कूरान में हैं और हमारे इस ग्रंथ ने इस चीज की इजाजत दी हुई है लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली भाजपा सरकार ने इसे खत्म कर दिया. भाजपा ने बाबरी मस्जिद को गिराया और अब वह मस्जिद की जगह पर मंदिर का निर्माण कर रही है.’ एआईयूडीएफ नेता ने आरोप लगाते हुए कहा कि भाजपा देश देश, महिलाओं, तीन तलाक और मस्जिदों की दुश्मन है.

‘हम क्या खाएंगे यह भाजपा नहीं बताए’
खाने की आदतों पर भाजपा पर निशाना साधते हुए अजमल ने कहा कि ‘हम कूरान में दिए गए जानवरों का मांस निश्चित रूप से खाएंगे. क्या भाजपा आपको बताएगी कि आपको अपने घरों में कौन सा मांस खाना चाहिए? क्या आप इसे स्वीकार करेंगे? क्या हम भाजपा के नौकर हैं? कूरान ने जो हमें खाने की इजाजत दी है हम उन जानवरों का मांस खाएंगे. हम सरकार के अन्य निर्देशों का पालन करेंगे लेकिन हम इस तरह की बातों को नहीं मानेंगे.’

‘महिलाओं को बुर्का पहनकर निकलना बंद हो जाएगा’
एआईयूडीएफ नेता ने आगे कहा, ‘असम में यदि भाजपा सत्ता में बनी रहती है तो जो बात मैंने कही है उसे वह लागू करेगी. महिलाओं का बुर्का पहनकर बाहर निकलना बंद हो जाएगा. दाढ़ी बढ़ाकर ओर स्कल आकार वाली टोपी पहनकर लोग बाहर नहीं निकल पाएंगे. आप मस्जिदों में अजान नहीं दे पाएंगे. क्या आप ऐसी पार्टी को वोट देंगे. आप उस पार्टी के पक्ष में वोट देंगे जो आपको बर्दाश्त नहीं करती है. एआईयूडीएफ की सीटों पर भाजपा इस बार मुस्लिम उम्मीदवारों को खड़ा करेगी. उससे सावधान हो जाइए. हेमंत पहले ही कह चुका है कि मुस्लिम इलाकों से भाजपा 26 सीटें जीतेगी.’

मुस्लिम वोटों पर कांग्रेस-एआईयूडीएफ की नजर
राजनीतिक विश्लेषकों का मानना है कि राज्य में कांग्रेस और एआईयूडीएफ दोनों कमजोर हुए हैं. तरुण गोगोई की मौत के बाद कांग्रेस के पास कोई बड़ा चेहरा नहीं है जबकि एआईयूडीएफ के वोट प्रतिशत में कमी आई है. दोनों पार्टियों का मानना है कि अलग-अलग चुनाव लड़ने पर उन्हें नुकसान और भाजपा को फायदा होगा. भाजपा को हराने के लिए कांग्रेस ने अपने गठबंधन में एआईयूडीएफ को शामिल किया है. यह अलग बात है कि तरुण गोगोई ने कभी एआईयूडीएफ को ‘सांप्रदायिक पार्टी’ और भाजपा की बी टीम बताया था. साल 2006 में अजमल की पार्टी ने पहली बार विस चुनाव लड़ा और इस चुनाव में उसने 10 सीटों पर जीत दर्ज की. 2011 के चुनाव में उसके हिस्से 18 सीटें और 2016 के विधानसभा चुनाव में उसे 13 सीटों पर जीत मिली.

राज्य की 33 सीटें मुस्लिम बाहुल्य
राज्य में कम से कम 33 सीटें ऐसी हैं जहां के चुनाव नतीजे मुस्लिम मतदाता तय करते हैं. जानकारों का मानना है कि मुस्लिम वोटों में यदि बंटवारा नहीं हुआ तो कांग्रेस-एआईयूडीएफ गठबंधन कम से कम 40 सीटें आसानी से जीत सकता है. कांग्रेस-एआईयूडीएफ की कोशिश अपने इस वोट बैंक को एकजुट रखने की है. एआईयूडीएफ के साथ कांग्रेस के इस गठबंधन पर भाजपा ने हमला बोला है. हेमंत बिस्वा सरमा ने कहा कि असम की संस्कृति एवं पहचान के लिए जो ‘खतरा’ है उसके लिए कांग्रेस अपना दरवाजा खोल रही है और लाल कालीन बिछा रही है.

यह भी पढ़ें -  देश में आज टीकाकरण का आंकड़ा 100 करोड़ डोज को कर जाएगा पार, चीन-अमेरिका में फिर बढ़े मामले

Related Articles

स्वामी का नाम: प्रदीप चन्द्र पाठक
फ़र्म का नाम: यूटी मीडिया वेंचर्स
पता: HNo - 6 , सर्वोदय कॉलोनी, रनवीर गार्डेन के सामने, धानमिल रोड, हल्द्वानी। पिन: 263139
ईमेल - [email protected]
फोन: 8650000291

Stay Connected

58,944FansLike
3,108FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

-- Advertisement --

--Advertisement--
--Advertisement--

Latest Articles

चीन में हुई कोरोना की वापसी, फिर से लोग हुए घरों में कैद

0
चीन में एक बार फिर से कोरोना वायरस बेकाबू होने लगा है. महामारी का प्रकोप बढ़ने से सरकार ने कई फ्लाइटें रद्द कर दिए...

इन स्मार्ट फोन्स पर एक नवम्बर से नहीं चलेगा वॉट्सऐप, कही आप का फोन...

0
अगले महीने (नवम्बर) की एक तारीख से कुछ स्मार्टफोन्स पर वॉट्सऐप काम करना बंद कर देगा. यदि वॉट्सऐप काम करना बंद कर देता...

पढ़े पीएम मोदी के संबोधन की 10 बड़ी बातें

0
कोविड-19 के खिलाफ 100 करोड़ डोज का आंकड़ा छूने के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश के नाम संबोधन दे रहे हैं. उन्होंने इसे...

उत्तराखंड: आपदा में मृतकों की कुल संख्या पहुंची 69, अभी भी तलाश जारी

0
उत्तराखंड में 17 से 19 अक्तूबर तक हुई भारी बारिश से अभी तक नुक्सान देखने को मिल रहा है. आपदा में जान गंवाने वालो...

Covid 19: पिछले 24 घंटों में सामने आये 15,786 नए मामले, केरल बना चिंता...

0
भारत में वैश्विक महामारी की धीमी होती रफ्तार के बीच शुक्रवार को 15,786 नए मामलों का आंकड़ा दर्ज किया गया. इसका प्रमुख कारण केरल...

फारूक अब्दुल्ला ने एक बार फिर की पाक के साथ बातचीत की वकालत, बोले-बातचीत...

0
जम्मू के पूर्व सीएम और नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता फारूक अब्दुल्ला ने एक बार फिर पाकिस्तान के साथ बातचीत की वकालत की है....

पेट्रोल-डीजल के दामों में फिर लगी आग, जानें आज का भाव

0
शुक्रवार को एक बार फिर सरकारी तेल कंपनियों ने पेट्रोल और डीजल की कीमतों में इजाफा कर दिया है. इस बढ़ोतरी के बाद सिर्फ...

एक बार फिर राष्ट्र को संबोधित करेंगे पीएम मोदी, आज 10 बजे देशवासियों से...

0
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार को सुबह 10 बजे एक बार फिर देशवासियों को संबोधित करेंगे. प्रधानमंत्री कार्यालय की तरफ से ट्वीट कर इस...

प्रभारी मंत्री अपने जनपदों में आपदा राहत कार्यों का स्थलीय निरीक्षण करें : सीएम...

0
सीएम पुष्कर सिंह धामी ने सभी जनपदों के प्रभारी मंत्रीगणों से अपेक्षा की है कि प्रदेश में घटित प्राकृतिक आपदा से प्रभावित लोगों को...

इस मंदिर में झूला झूलती हैं देवी दुर्गा, मां की रखवाली में पहरा देते...

0
झुला देवी मंदिर रानीखेत शहर से 7 कि.मी. की दुरी पर स्थित एक लोकप्रिय पवित्र एवम् धार्मिक मंदिर है. यह मंदिर माँ दुर्गा को...