Akshaya Tritiya 2021: जानें कब है अक्षय तृतीया, क्या है इसका माहात्म्य और कैसे मनाएं इस पर्व को

वैशाख शुक्ल पक्ष तृतीया को अक्षय तृतीया का पर्व मनाया जाता है. यह आखातीज और परशुराम जयंती के नाम से प्रसिद्द है. इस दिन नर-नारायण एवं हयग्रीव के भी अवतार हुए थे और इसी तिथि को त्रेतायुग का आरंभ हुआ था जिस वजह से इसे युगादि तिथि भी कहते हैं.

इस बहुश्रुत एवं बहुमान्य पर्व का मत्स्य, नारद, भविष्य आदि पुराणों में उल्लेख किया गया है और कई कथाएं हैं. इस वर्ष यह परम पुण्यदायी स्वयं सिद्ध तिथि (Akshaya Tritiya 2021) शुक्रवार, 14 मई 2021 को पड़ रही है. आइये आगे जानते हैं क्या है इसका माहात्म्य और कैसे मनाएं इस पर्व को.

यह भी पढ़ें -  देश में आज टीकाकरण का आंकड़ा 100 करोड़ डोज को कर जाएगा पार, चीन-अमेरिका में फिर बढ़े मामले

अक्षय तृतीया का माहात्म्य
अक्षय का शाब्दिक अर्थ है जिसका कभी नाश न हो अर्थात् जो स्थायी रहे. “न क्षयः इति अक्षय” जिसका क्षय नहीं होता ऐसी अक्षय तृतीया स्वयं सिद्ध अभिजित् मुहूर्त है. यह स्वयं में समाहित अनंत सामर्थ्य, अखंड आनंद, अक्षय ऊर्जा के साथ दिव्य संभावनाओं को सिद्ध एवं साकार करने एवं अक्षय पुण्यफल की प्राप्ति का पर्व है.

इस दिन सूर्य एवं चंद्रमा दोनों ही अपनी उच्च राशि में स्थित होते हैं अतः अभीष्ट सिद्धि और कामना पूर्ति के लिए यह उत्तम तिथि होती है. यह मनुष्य को विपत्ति और विपन्नता से उबारने वाली एवं दैहिक, दैविक, भौतिक त्रिविध तापों से शांति दिलाने वाली तिथि है. इस दिन किये गए दान, स्नान, जप, तप, हवन आदि का अनंत एवं अक्षय फल मिलता है “स्नात्वा हुत्वा च दत्त्वा च जप्त्वानन्तफलं लभेत्.”

यह भी पढ़ें -  देर रात देहरादून पहुंचे गृहमंत्री अमित शाह, बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का आज लेंगे जायजा

क्या करें अक्षय तृतीया के दिन
इस दिन जातक को चाहिए कि प्रातः स्नानादि से निवृत्त होकर “ममाखिलपापक्षयपूर्वक सकलशुभफलप्राप्तये भगवत्प्रीतिकामनया देवत्रयपूजनमहं करिष्ये” से संकल्प लेकर भगवान का यथाविधि षोडशोपचार पूजन करे. नैवेद्य में नर-नारायण के निमित्त सत्तू, परशुराम के निमित्त ककड़ी और हयग्रीव के निमित्त भीगी हुई चने की दाल अर्पित करे. हो सके तो पवित्र नदी, सरोवर या समुद्र में स्नान करे और उपवास रखे.

यह भी पढ़ें -  केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने लिया उत्तराखंड में आपदा की स्थिति का जायजा, कहा-भारत सरकार हर तरीके से देवभूमि के साथ

पितरों की प्रसन्नता के लिए जलपूर्ण कलश, पंखा, पादुका, छाता, सत्तू, फल, मिष्ठान आदि का दान करे. इस दिन वस्त्र, शस्त्र और आभूषणादि का क्रय एवं धारण करना उत्तम माना गया है. नवीन कार्य, मकान, दुकान की स्थापना के लिए भी यह उत्तम दिन है. अबूझ मुहूर्त होने के कारण इस दिन विवाहादि अन्य सभी मांगलिक कार्य संपन्न किये जाते

Related Articles

स्वामी का नाम: प्रदीप चन्द्र पाठक
फ़र्म का नाम: यूटी मीडिया वेंचर्स
पता: HNo - 6 , सर्वोदय कॉलोनी, रनवीर गार्डेन के सामने, धानमिल रोड, हल्द्वानी। पिन: 263139
ईमेल - [email protected]
फोन: 8650000291

Stay Connected

58,944FansLike
3,108FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

-- Advertisement --

--Advertisement--
--Advertisement--

Latest Articles

57 के हुए गृहमत्री: भाजपा में कुशल प्रबंधन के साथ सियासी दांवपेच में भी...

0
मौजूदा राजनीति जगत में सबसे व्यस्त नेताओं में शुमार गृहमत्री अमित शाह आज 57 साल के हो गए हैं. भारतीय जनता पार्टी को हाल...

उत्तराखंड: आपदा में लापता लोगो के परिजनों से मुलाकात करने चमोली-पौड़ी दौरे पर सीएम...

0
आज मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी राज्य के पौड़ी और चमोली जिले के आपदाग्रस्त इलाकों के दौरे पर पहुंच गए हैं. सबसे पहले चमोली पहुंचकर...

चीन में हुई कोरोना की वापसी, फिर से लोग हुए घरों में कैद

0
चीन में एक बार फिर से कोरोना वायरस बेकाबू होने लगा है. महामारी का प्रकोप बढ़ने से सरकार ने कई फ्लाइटें रद्द कर दिए...

इन स्मार्ट फोन्स पर एक नवम्बर से नहीं चलेगा वॉट्सऐप, कही आप का फोन...

0
अगले महीने (नवम्बर) की एक तारीख से कुछ स्मार्टफोन्स पर वॉट्सऐप काम करना बंद कर देगा. यदि वॉट्सऐप काम करना बंद कर देता...

पढ़े पीएम मोदी के संबोधन की 10 बड़ी बातें

0
कोविड-19 के खिलाफ 100 करोड़ डोज का आंकड़ा छूने के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश के नाम संबोधन दे रहे हैं. उन्होंने इसे...

उत्तराखंड: आपदा में मृतकों की कुल संख्या पहुंची 69, अभी भी तलाश जारी

0
उत्तराखंड में 17 से 19 अक्तूबर तक हुई भारी बारिश से अभी तक नुक्सान देखने को मिल रहा है. आपदा में जान गंवाने वालो...

Covid 19: पिछले 24 घंटों में सामने आये 15,786 नए मामले, केरल बना चिंता...

0
भारत में वैश्विक महामारी की धीमी होती रफ्तार के बीच शुक्रवार को 15,786 नए मामलों का आंकड़ा दर्ज किया गया. इसका प्रमुख कारण केरल...

फारूक अब्दुल्ला ने एक बार फिर की पाक के साथ बातचीत की वकालत, बोले-बातचीत...

0
जम्मू के पूर्व सीएम और नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता फारूक अब्दुल्ला ने एक बार फिर पाकिस्तान के साथ बातचीत की वकालत की है....

पेट्रोल-डीजल के दामों में फिर लगी आग, जानें आज का भाव

0
शुक्रवार को एक बार फिर सरकारी तेल कंपनियों ने पेट्रोल और डीजल की कीमतों में इजाफा कर दिया है. इस बढ़ोतरी के बाद सिर्फ...

एक बार फिर राष्ट्र को संबोधित करेंगे पीएम मोदी, आज 10 बजे देशवासियों से...

0
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार को सुबह 10 बजे एक बार फिर देशवासियों को संबोधित करेंगे. प्रधानमंत्री कार्यालय की तरफ से ट्वीट कर इस...