Mohini Ekadashi 2021: जानें कब है मोहिनी एकादशी, इसका माहात्म्य, पूजा विधि एवं कथा

वैशाख शुक्ल पक्ष एकादशी को मोहिनी एकादशी कहा जाता है। मान्यता है की इस दिन भगवान विष्णु ने देवताओं को अमृत पान कराने के लिए विश्वमोहिनी रूप धारण किया था। कामना पूर्ति और सुखद वैवाहिक जीवन के लिए इस दिन श्रद्धालु भगवान विष्णु की विधिपूर्वक पूजा अर्चना करते हैं। इस वर्ष इस शुभ तिथि के सन्दर्भ में स्थानानुसार पञ्चाङ्ग भेद के कारण किस दिन मनाई जाये इसमें मतभेद हैं। आइये आगे जानते हैं मोहिनी एकादशी (Mohini Ekadashi 2021) कब है, क्या है इसका माहात्म्य, पूजा विधि एवं कथा।

कब है मोहिनी एकादशी
इस वर्ष मोहिनी एकादशी स्थान और पञ्चाङ्ग भेद के कारण दो दिन पड़ रही है। वाराणसी आदि क्षेत्रों में जहाँ यह शनिवार 22 मई को होगी क्योंकि वहां उस दिन एकादशी तिथि सूर्योदय काल में होने के साथ समाप्त भी हो रही है तो दिल्ली आदि क्षेत्रों में रविवार 23 मई को होगी क्योंकि इस दिन ही यहाँ सूर्योदय काल में एकादशी तिथि रहेगी। अतः उचित होगा की आप अपने स्थानीय पञ्चाङ्ग के अनुसार व्रत के सही दिन का चुनाव करें।

यह भी पढ़ें -  आईपीएल का फाइनल शुरू, चेन्नई सुपरकिंग और कोलकाता नाइटराइडर्स आमने-सामने

मोहिनी एकादशी माहात्म्य
मोहिनी एकादशी व्रत के प्रभाव से जातक मोहमाया के जाल और पाप से मुक्त हो जाता है तथा सब कष्ट और विपत्तियों से उसे छुटकारा मिलता है। इस व्रत के पालन और इस दिन भगवान विष्णु की पूजा करने से व्यक्ति की सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं और उसे सुख-समृद्धि तथा सफल दांपत्य जीवन की प्राप्ति होती है। जातक को भगवान विष्णु की अनन्य भक्ति प्राप्त होती है और उसके प्रभुत्व और व्यक्तित्व में वृद्धि होती है। ऐसी मान्यता है कि त्रेता युग में भगवती सीता के वियोग में दुखी भगवान श्रीराम ने इस व्रत को किया और बिछोह से मुक्ति पाई। द्वापर युग में भगवान श्रीकृष्ण के कहने पर युधिष्ठिर ने भी मोहिनी एकादशी का व्रत रखा और अपने कष्टों से मुक्ति पाई।

यह भी पढ़ें -  अमित शाह की पाक को चेतावनी, एक और सर्जिकल स्ट्राइक का करना पड़ेगा सामना
यह भी पढ़ें -  यशपाल आर्य की 'घर वापसी' से बढ़ा बीजेपी का सिरदर्द, तो उधर कांग्रेस के भीतर भी मची खलबली

मोहिनी एकादशी पूजा विधि
मोहिनी एकादशी से एक दिन पहले व्रती को एकभुक्त सात्विक भोजन करना चाहिए। फिर एकादशी के दिन जातक प्रातः स्‍नानादि नित्यकर्म से निवृत्त होकर “ममाखिलपापक्षयपूर्वक श्रीपरमेश्वरप्रीतिकामनया मोहिनी एकादशीव्रतं करिष्ये” मंत्र से व्रत का संकल्‍प करे। तदुपरांत गरुड़ध्वज भगवान विष्णु की पूरी श्रद्धा और भक्ति से षोडशोपचार पूजन कर विष्णु सहस्रनाम का पाठ एवं मोहिनी एकादशी कथा का श्रवण करे। तत्पश्चात रात्रि में भगवन्नाम स्मरण करते हुए जागरण कर अगले दिन द्वादशी में व्रत का पारण करे।

यह भी पढ़ें -  जन्मदिन विशेष: मिसाइल-मैन और पूर्व राष्ट्रपति डॉ कलाम के विचार हमेशा प्रासंगिक रहेंगे

मोहिनी एकादशी कथा
मोहिनी एकादशी की कथा के अनुसार प्राचीन काल में सरस्वती के तट पर एक भद्रावती नामक नगर था। वहां के राजा द्युतिमान के पांच पुत्र थे जिनमें से धृष्टबुद्धि नामक पुत्र कुसंगति में पड़कर वेश्यागमन आदि पतन के मार्ग पर चलने लगा। जब अपनी दुर्वृत्तियों की वजह से वह धन, धान्य, गृह, मान-सम्मान आदि से हीन हो गया तो वह चोरी, डकैती आदि हिंसावृत्ति में लग गया। उसकी इस दुर्गति से दयाद्र होकर कौण्डिन्य ने उसके उद्धार के लिए मोहिनी एकादशी व्रत करने को कहा। उनकी बात मानकर धृष्टबुद्धि ने मोहिनी एकादशी का व्रत किया जिसके प्रभाव से वह सुखपूर्वक जीवन व्यतीत कर स्वर्ग प्राप्त किया.

यह भी पढ़ें -  20 नवंबर को शीतकाल के लिए बंद होंगे बद्रीनाथ के कपाट, विजयदशमी के खास मौके पर हुआ ऐलान

Related Articles

स्वामी का नाम: प्रदीप चन्द्र पाठक
फ़र्म का नाम: यूटी मीडिया वेंचर्स
पता: HNo – 6 , सर्वोदय कॉलोनी, रनवीर गार्डेन के सामने, धानमिल रोड, हल्द्वानी। पिन: 263139
ईमेल – [email protected]
फोन: 8650000291

Stay Connected

58,944FansLike
3,082FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

-- Advertisement --

--Advertisement--
--Advertisement--

Latest Articles

सिंघु बॉर्डर पर युवक की हत्या के 15 घंटे बाद निहंग का सरेंडर

सिंघु बॉर्डर पर युवक की हत्या के 15 घंटे बाद एक निहंग ने पुलिस के सामने सरेंडर कर दिया है. कुंडली थाने से पुलिस...

वरिष्ठ पत्रकार हरीश कोठारी मुख्यमंत्री धामी के बने मीडिया कोऑर्डिनेटर, शासनादेश जारी

साल 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने अपनी टीम में एक और नियुक्ति की. सीनियर रिपोर्टर हरीश...

उत्तराखंड में बीते 24 घंटे में मिले 10 नए कोरोना संक्रमित, एक भी मरीज की मौत...

उत्तराखंड में बीते 24 घंटे में 10 नए कोरोना संक्रमित मिले हैं. वहीं, एक भी मरीज की मौत नहीं हुई है. जबकि पांच मरीजों को ठीक होने...

आईपीएल का फाइनल शुरू, चेन्नई सुपरकिंग और कोलकाता नाइटराइडर्स आमने-सामने

चेन्‍नई सुपरकिंग्‍स और कोलकाता नाइटराइडर्स के बीच आज दुबई इंटरनेशनल स्‍टेडियम में आईपीएल 2021 का फाइनल मुकाबला शुरू हो गया है. सीएसके ने पहले...

छाई रौनक: मैसूर और कुल्लू का दशहरा रहा है आकर्षण का केंद्र, देश-दुनिया से...

देश में दशहरा पर्व की रौनक छाई हुई है. सभी लोग शाम को होने वाले दशहरा उत्सव की तैयारी में जुटे हैं. मैदानों...

हल्द्वानी: हड़ताल के चलते नलकूप बंद, ढाई लाख से ज्यादा आबादी प्रभावित

जल संस्थान संविदा श्रमिक संघ के आह्वान पर आउटसोर्स कर्मी अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले गए हैं. जिससे हल्द्वानी में जल संकट पैदा हो गया...

20 नवंबर को शीतकाल के लिए बंद होंगे बद्रीनाथ के कपाट, विजयदशमी के खास...

15 अक्टूबर विजयदशमी के खास मौके पर श्री बद्रीनाथ धाम के कपाट बंद होने की तारीख का ऐलान कर दिया गया है. 20 नवंबर...

केंद्रीय कर्मचारियों को इस साल दिवाली से पहले मिल सकती है ये तीन सौगातें,...

केंद्रीय कर्मचारियों के लिए इस साल दिवाली बेहद खास होने वाला है. इस साल दिवाली से पहले सरकारी कर्मचारियों को तीन सौगातें मिलने...

पुंछ एकाउंटर में घायल दो जवानों ने भी दम तोड़ा, अब तक कुल...

जम्मू-कश्मीर के पुंछ में जारी एकाउंटर में गुरुवार से अब तक कुल चार जवान शहीद हो चुके हैं. घायल हुए दो राइफलमैन भी इलाज...

विजयदशमी विशेष: बुराई पर अच्छाई का प्रतीक और शुभ कार्यों के साथ पूजन उत्सव...

आज देशवासियों में विजय उत्सव के साथ हर्षोल्लास का माहौल है. देश में रौनक छाई है. बाजारों में चहल-पहल है. घरों में सभी छुट्टी...