विशेष: चंद्रमा के रहस्य और रोमांच के साथ समुद्र की तूफानी लहरें भी होंगी उफान पर

प्राकृतिक आपदाओं का दौर तो एक वर्ष से भारत में चल ही रहा है. कुछ दिनों पहले ‘तौकते’ अब ‘यास’ चक्रवात बंगाल, उड़ीसा के तटों पर ‘शोर’ मचा रहा है. इस चक्रवात की तीव्रता और रौद्र रूप कैसा होगा, मौसम विज्ञानियों के साथ केंद्र से लेकर राज्य सरकारों तक निगाहें लगी हुई हैं. यह तूफान 26 मई को पूरी तरह ‘उफान’ पर होगा . यानी कल धरती से लेकर आसमान तक हलचल देखने को मिलेगी.

यह तो रही प्राकृतिक आपदाओं की बात, अब आइए रहस्य और रोमांच के बारे में भी बात कर लिया जाए. कल बुधवार को ही एक और घटना घटित होगी. जिसे लेकर दुनिया भर के खगोल शास्त्रियों और देश के ज्योतिषाचार्यों में ‘उत्सुकता’ का माहौल है. आपने सही पहचाना हम बात कर रहे हैं ‘चंद्र ग्रहण’ की. देश में पिछले कुछ समय से बदलते मौसम के बीच कल चंद्रमा भी अपना ‘रंग’ बदल लेगा. इस बार का चंद्र ग्रहण कई मायनों में ‘अद्भुत’ है.

पहली बात तो ये ग्रहण वाले दिन ही ‘सुपरमून’ कहलाएगा. दूसरा ये खूनी लाल रंग का होगा. ये दोनों संयोग कई सालों में एक बार आता है. वैज्ञानिक इसे ‘सुपर लूनर इवेंट’ कह रहे हैं. क्योंकि सुपरमून होगा, ग्रहण भी होगा और चांद का रंग खूनी लाल रंग का दिखेगा. बता दे कि चंद्रमा जब धरती के नजदीक आ जाता है तब उसका आकार 12 फीसदी बड़ा दिखता है. आमतौर पर चांद की दूरी धरती से 406,300 किलोमीटर रहती है, लेकिन जब यह दूरी कम होकर 356,700 किलोमीटर हो जाती है तब चांद बड़ा दिखाई देता है, इसलिए इसे सुपरमून कहां जाता है.

यह भी पढ़ें -  कल उत्तराखंड का दौरा करेंगे अमित शाह, रुद्रप्रयाग में करेंगे डोर-टू-डोर संपर्क

इसके साथ इस साल का पहला चंद्रग्रहण वैशाख मास के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि को लग रहा है . इसकी अवधि करीब 4 घंटे की होगी . चंद्र ग्रहण के दिन बुद्ध पूर्णिमा का पर्व भी मनाया जाएगा. ज्योतिषाचार्यों के मुताबिक यह चंद्रग्रहण एक पूर्ण चंद्र ग्रहण होगा लेकिन भारत में यह एक ‘उपच्छाया चंद्रग्रहण’ के रूप में दिखाई देगा. हालांकि यह चंद्रग्रहण भारत में हर जगह से नहीं दिखाई देगा.

यह भी पढ़ें -  69 साल बाद टाटा की हुई एयर इंडिया, आज से यात्रियों को मिलेगी ये खास सुविधा

उपच्छाया होने की वजह से इस चंद्रग्रहण का भारत में खास असर नहीं
26 मई को पड़ने वाले इस ग्रहण का खास असर भारत में नहीं बताया जा रहा है . क्योंकि यह ‘उपच्छाया चंद्रग्रहण’ है. इसके साथ भारत में यह दिखाई भी नहीं देगा . यह चंद्र ग्रहण पूर्वी एशिया, उत्तरी व दक्षिण अमेरिका के ज्यादातर हिस्सों सहित और ऑस्ट्रेलिया से यह पूर्ण चंद्रग्रहण दिखाई देगा. यह चंद्र ग्रहण जापान, बांग्लादेश, दक्षिण कोरिया, बर्मा, सिंगापुर, फिलीपींस, उत्तरी एवं दक्षिणी अमेरिका में भी पूर्ण व स्पष्ट दिखाई देगा.

भारत में यह चंद्र ग्रहण उपच्छाया की तरह होगा. देश में चंद्र ग्रहण का नजारा बुधवार दोपहर करीब 3 बजे शुरू होकर शाम 7:15 तक खत्म हो जाएगा. अन्य देशों में इसका समय अलग-अलग है. ज्योतिष शास्त्र के अनुसार ग्रहण का ‘सूतक काल’ ग्रहण के 9 घंटे पहले शुरू हो जाता है. लेकिन उपच्छाया चंद्र ग्रहण में सूतक का प्रभाव औपचारिकता भर रहता है. शाम के बाद जैसे-जैसे अंधेरा बढ़ेगा ये सुपरमून अपने ग्रहण की ओर आगे जाएगा. जैसे पूर्ण चंद्र ग्रहण होगा ये पूरा खूनी लाल रंग का दिखाई देगा. बस इसी समय ये नजारा देखने लायक होगा.

यह भी पढ़ें -  बड़ी राहत: दिल्ली में वीकेंड कर्फ्यू और ऑड-ईवन का नियम खत्म, स्कूल खोलने पर अभी नहीं बनी सहमति

भारत में यह ‘आंशिक रूप’ से दिखाई दे सकता है. दूसरी ओर चंद्र ग्रहण को लेकर खगोलशास्त्रियों ने अपनी- अपनी भविष्यवाणी की है. इस आंशिक चंद्रग्रहण को लेकर खगोल वैज्ञानिकों ने कहा है कि यह किसी भी तरह से समुद्र की ज्वारीय लहरों पर अपना असर नहीं डालेगा. इस आंशिक चंद्रग्रहण को किसी चक्रवात से नहीं जोड़ा जा सकता है. बता दें कि एक ही तारीख 26 मई को चंद्र ग्रहण और चक्रवात यास की घटना घटित होने पर देश में इसे एक साथ जोड़ कर देखा जा रहा है.

जबकि खगोल वैज्ञानिकों का कहना है कि यदि समुद्र में नदियों और जल निकायों में प्रवाह बढ़ रहा है या उच्च ज्वार भाटे जैसी स्थिति है तो इसे किसी भी ग्रह की स्थिति से नहीं जोड़ा जा सकता है.

शंभू नाथ गौतम, वरिष्ठ पत्रकार

Related Articles

Stay Connected

58,944FansLike
3,183FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

Latest Articles

69 साल बाद टाटा की हुई एयर इंडिया, आज से यात्रियों को मिलेगी ये...

0
आखिरकार विमानन कंपनी एयर इंडिया अब टाटा समूह के हाथों में चली गई है. टाटा ग्रुप द्वारा विमानन कंपनी एयर इंडिया के टेकओवर...

उत्तराखंड में आप ने 6 प्रत्याशियों की पांचवीं सूची जारी की, अब तक 70...

0
उत्तराखंड में आम आदमी पार्टी ने गुरुवार शाम अपने प्रत्याशियों की पांचवीं लिस्ट भी जारी कर दी है. इस सूची में पार्टी ने 6...

उत्तर प्रदेश चुनाव के लिए बीएसपी ने अपने 53 प्रत्याशियों की चौथी लिस्ट की...

0
यूपी विधानसभा चुनाव के लिए बहुजन समाजवादी पार्टी ने आज अपने उम्मीदवारों की चौथी लिस्ट भी जारी कर दी है. जारी की गई इस...

डीसीजीआई ने दी कोविशील्ड और कोवैक्सीन को बाजार में बिक्री की अनुमति, ये...

0
भारतीय औषधि महानियंत्रक (DCGI) ने कोविड-19 रोधी वैक्सीन कोविशील्ड और कोवैक्सीन को वयस्क आबादी के लिए कुछ शर्तों के साथ नियमित रूप से...

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए सपा ने 56 उम्मीदवारों की तीसरी लिस्ट की...

0
यूपी विधानसभा चुनाव के लिए सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने अपने उम्मीदवारों की तीसरी लिस्ट भी आज जारी कर दी है। सपा...

हॉकी लीजेंड चरणजीत सिंह का निधन, 1964 टोक्यो ओलंपिक में जीता था स्वर्ण पदक

0
भारतीय हॉकी टीम के पूर्व कप्तान चरणजीत सिंह का गुरुवार सुबह पांच बजे निधन हो गया. वे 91 साल के थे. ऊना में उन्होंने...

उत्तराखंड में सियासी भूचाल: धन सिंह नेगी हुए कांग्रेस में शामिल

0
उत्तराखंड भाजपा और कांग्रेस में प्रत्याशियों की सूची जारी होने के बाद सियासी घमासान तेज हो गयी है. गुरुवार को भाजपा के टिहरी और...

पंजाब चुनाव 2022: बीजेपी ने जारी की 27 उम्मीदवारों की दूसरी लिस्ट

0
बीजेपी ने पंजाब के लिए 27 उम्मीदवारों की लिस्ट जारी की. फतेह सिंह बाजवा को बटाला से टिकट, वहीं विजय सांपला फगवाड़ा से लड़ेंगे...

कल उत्तराखंड का दौरा करेंगे अमित शाह, रुद्रप्रयाग में करेंगे डोर-टू-डोर संपर्क

0
उत्तराखंड विधानसभा चुनाव के नजदीक आते आते भाजपा का प्रचार गरमाने कल केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह उत्तराखंड पहुंचेंगे. बताया जा रहा है कि आगामी 14 फरवरी को होने...

बड़ी राहत: दिल्ली में वीकेंड कर्फ्यू और ऑड-ईवन का नियम खत्म, स्कूल खोलने पर...

0
राजधानी दिल्ली में अब धीरे-धीरे पाबंदियां हटने लगी है. पिछले कुछ दिनों से कोरोना केस भी कम आने लगे हैं. इसी को देखते हुए...
%d bloggers like this: