उत्तराखंड के टिहरी जिले में है यह शापित राजमहल, जानें क्या है इसकी जुड़ी कहानी

आज हम आपको उत्‍तराखंड के टिहरी के एक ऐसे राजमहल के बारे में बताने जा रहे है जिसे शापित राजमहल कहा जाता है. राजशाही खत्म होने के बाद प्रताप शाह के इस ऐतिहासिक राजमहल में अब सिर्फ आत्माएं भटकती है और आशिक अपने टूटे हुए दिल का दर्द इसकी दीवारों पर लिखते है. पढ़ें ये पूरी रिपोर्ट…

महाराजा सुदर्शन शाह ने टिहरी को अपनी राजधानी बनाया था और उसके बाद उनके उत्तराधिकारियों प्रताप शाह ने प्रतापनगर, कीर्तिशाह ने कीर्तिनगर और नरेन्द्रशाह ने नरेन्द्रनगर को अपनी राजधानी बनाया और 1815 से 1949 तक शासन किया. राजा प्रताप शाह ने प्रतापनगर की सुंदरता को देखते हुए प्रतापनगर में ऐतिहासिक राजमहल का निर्माण कराया, जहां ग्रीष्मकाल में उनका राजदरबार चला करता था और इसके ठीक सामने रानी का महल भी बनाया गया.

यह भी पढ़ें -  आर्थर रोड जेल में बंद बेटे आर्यन खान से मिलने पहुंचे शाहरुख खान

स्थानीय निवासी मनीष राणा ने बताया क‍ि 1949 में राजशाही का अंत होने के बाद इस ये राजमहल वीरान पड़ गया और खंडहर में तब्दील हो गया. उस समय के इस ऐतिहासिक राजमहल में जाने से आज डर लगता है और आत्माओं के होने आभास होता है. वहीं इसकी दीवारों पर आपकों आशिकों के टूटे हुए दिल का दर्द साफ दिखाई देता है.

यह भी पढ़ें -  पुलिस स्मृति दिवस पर मुख्यमंत्री धामी ने सिपाहियों को 4600 ग्रेड पे की दी सौगात

प्रतापनगर ब्लाक प्रमुख प्रदीप रमोला ने बताया क‍ि प्रताप शाह के इस ऐतिसाहिक राजमहल अब आवारा पशुओं का भी ठीकाना बन गया है. आवारा पशु दिन भर राजमहल के आसपास चरते है और गोबर और विश्राम करने इसी राजमहल में आते है. जहां राजशाही के समय यहां राजदरबार लगता था वहीं आज ये भूत प्रेत आत्माओं का बसेरा माना जाता है और दिन में जाने में भी यहां डर लगता है. इस ऐतिहासिक धरोहर को अब पर्यटन की दृष्टि से डेवलेप किए जाने की योजना चल रही है जिससे स्थानीय युवाओं को भी रोजगार मिलेगा.

यह भी पढ़ें -  अखिलेश यादव और प्रियंका गांधी की फ्लाइट में कुछ इस प्रकार हुई मुलाकात

जहां राजशाही के समय राजा प्रताप शाह का ये राजमहल प्रतापनगर की पहचान हुआ करता था. वहीं आज ये भूत प्रेत आत्माओं का ठीकाना माना जाता है. जहां दिन के उजाले में भी जाने से लोग डरते है ऐसे में इस ऐतिहासिक धरोहर को टिहरी झील पर्यटन सर्किट से जोड़ने से इसे एक नई पहचान मिलेगी.

साभार-न्यूज 18

Related Articles

स्वामी का नाम: प्रदीप चन्द्र पाठक
फ़र्म का नाम: यूटी मीडिया वेंचर्स
पता: HNo - 6 , सर्वोदय कॉलोनी, रनवीर गार्डेन के सामने, धानमिल रोड, हल्द्वानी। पिन: 263139
ईमेल - [email protected]
फोन: 8650000291

Stay Connected

58,944FansLike
3,109FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

-- Advertisement --

--Advertisement--
--Advertisement--

Latest Articles

अखिलेश यादव और प्रियंका गांधी की फ्लाइट में कुछ इस प्रकार हुई मुलाकात

0
समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव और कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव, यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी की आज एक फ्लाइट में अचानक मुलाकात हुई....

सीएम धामी ने की अपने एक माह का वेतन मुख्यमंत्री राहत कोष में देने...

0
मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने अपने एक माह का वेतन मुख्यमंत्री राहत कोष में देने की घोषणा की है. मुख्यमंत्री ने राज्य में अक्तूबर...

…तो इस कारण नरसिम्हा राव सरकार नहीं लाई नेताजी की अस्थियां, हुआ बड़ा खुलासा

0
पीवी नरसिम्हा राव सरकार 1990 के दशक में जापान से नेताजी सुभाष चंद्र बोस की अस्थियां भारत लाने के करीब पहुंच गई थी,...

Covid19: बीते 24 घंटे में उत्तराखंड में मिले  12 नए मामले, एक भी मरीज...

0
उत्तराखंड में अब कोरोना संक्रमण काबू में आ गया है. बीते 24 घंटे में प्रदेश में 12 नए कोरोना संक्रमित मिले हैं. वहीं, एक भी मरीज की मौत...

लौटे गृह राज्य: आलाकमान ने सुनी फरियाद, पंजाब प्रभारी पद से हरीश रावत मुक्त...

0
पंजाब की सियासत में पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और कांग्रेस के नेता नवजोत सिंह सिद्धू के बीच घमासान में फंसे पूर्व मुख्यमंत्री...

टीम इंडिया और इंग्लैंड के बीच रद्द टेस्ट मैच का आया नया शेड्यूल, जानें...

0
टीम इंडिया और इंग्लैंड के बीच रद्द हुए सीरीज के 5वें टेस्ट मैच (IND vs ENG) को अगले साल जुलाई महीने के लिए शेड्यूल...

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी की चुनावी प्रतिज्ञा के अनुसार कल से शुरू होगी यूपी...

0
यूपी विधानसभा चुनाव लिए कांग्रेस पार्टी प्रदेश भर में 23 अक्तूबर से प्रतिज्ञा यात्रा निकालेगी. इसके लिए सभी तैयारिया पूरी हो चुकी है. पूरे...

सत्यपाल मलिक ने किया बड़ा खुलासा: “अंबानी से जुड़ी फाइल पास करने के लिए...

0
जम्मू-कश्मीर के पूर्व गवर्नर एवं मौजूदा मेघालय के उप राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने एक बड़ा खुलासा किया है. सत्यपाल मलिक नें दावा किया है...

बिगड़ा बजट: फिलहाल राहत नहीं, अभी पेट्रोल-डीजल के दामों में और हो सकती है...

0
यह भी कहा जा रहा है कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल का भाव 90 डॉलर प्रति बैरल तक पहुंच सकता है. ऐसे में...

देहरादून: डिफेन्स कॉलोनी में हुआ अनोखी रामलीला का मंचन, बच्चों ने निभाए सभी पात्र

0
उत्तराखंड में बुराई खत्म करने का प्रतीकात्मक पर्व विजय दशमी पर्व धूमधाम एवं हर्षोल्लास के साथ मनाया गया. राजधानी दून के कई जगहों में दशहरे मेले...