जोरआजमाइश: टीम मोदी का घाटी के नेताओं के बीच सियासी महामुकाबले में कश्मीर तलाश रहा भविष्य

--Advertisement--

आज राजधानी दिल्ली की फिजा बदली हुई है. सियासी गलियारे में गहमागहमी है. पहली बार घाटी के एक साथ इतने नेताओं का जमावड़ा लगा हुआ है. सभी अपने-अपने ‘बुलंद इरादों और एजेंडे’ के साथ आए हैं. यह वाकई सियासत की ‘महाबैठक’ है, जिसकी ‘धमक’ पाकिस्तान में सुनाई दे रही है.

क्योंकि मामला कश्मीर से जुड़ा हुआ है . ‘पांच अगस्त 2019 को केंद्र सरकार के जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज दोपहर बाद 3 बजे पहली बार घाटी के नेताओं के साथ राजधानी में सीधे तौर पर रूबरू हो रहे हैं’. 370 हटने के बाद जम्मू-कश्मीर में राजनीतिक ‘हलचल’ बढ़ी है.

‘मोदी सरकार और घाटी के नेताओं के बीच होने जा रही बातचीत को लेकर तमाम देशों की नजरें लगी हुई हैं. सभी जानना चाहते हैं कि पीएम मोदी के कश्मीर को लेकर नया ‘एजेंडा’ क्या है’ ? ‘सही मायने में आज राजधानी दिल्ली में सियासत के दो छोर होंगे.

यह भी पढ़ें -  प्रदेश में उद्योगों को दिया जायेगा बढ़ावा, बनायी जायेगी उद्योगों के अनुकुल और अधिक कारगर नीतिः सीएम धामी

एक छोर में जम्मू-कश्मीर के राजनीतिक दलों के नेताओं के एजेंडे तो दूसरी ओर पीएम मोदी की टीम की ओर से घाटी को लेकर बनाया गया नया ‘प्लान’ रहेगा, इस महाबैठक में दोनों ओर से अपने-अपने हितों को साधा जाएगा’.

कश्मीर के राजनीतिक दलों के नेताओं ने जितनी इस बातचीत के लिए तैयारी की है उतनी ही मोदी टीम ने भी पूरी रणनीति बना रखी है. यहां हम आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आवास पर आज जम्मू-कश्मीर के नेताओं के साथ होने वाली सर्वदलीय बैठक का एजेंडा सार्वजनिक न किए जाने से स्पष्ट हो गया है कि वार्ता का दायरा ‘सीमित’ नहीं होगा.

यह भी पढ़ें -  'चाय पॉलिटिक्स': मोदी सरकार को घेरने के साथ राहुल गांधी विपक्ष में भी अपनी ताकत बढ़ा गए

सभी अपने ‘दिल’ की बात खुलकर कह सकेंगे. बैठक में जम्मू-कश्मीर के ये नेता हो रहे हैं शामिल. इनमें चार पूर्व मुख्यमंत्री फारुक अब्दुल्ला, गुलाम नबी आजाद, उमर अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती के अलावा चार पूर्व उपमुख्यमंत्री ताराचंद, मुजफ्फर हुसैन बेग, डा. निर्मल सिंह और कवींद्र गुप्ता भी शामिल हैं. जम्मू कश्मीर के भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष रवींद्र रैना को भी बुलाया गया है. अन्य नेताओं में जम्मू-कश्मीर अपनी पार्टी के चेयरमैन सैयद अल्ताफ बुखारी, पीपुल्स कांफ्रेंस के सज्जाद गनी लोन, प्रदेश कांग्रेस प्रमुख जीए मीर, भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी-मा‌र्क्सवादी (माकपा) नेता मोहम्मद युसुफ तारीगामी और पैंथर्स पार्टी के भीम सिंह शामिल हो रहे हैं.

यह भी पढ़ें -  अब अल्मोड़ा से हल्द्वानी के बीच का सफर कुछ ही मिनटों में होगा पूरा, केंद्र ने दी हेली सेवा शुरू करने को अनुमति

दूसरी ओर केंद्र सरकार की ओर से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह, केंद्रीय रक्षामंत्री राजनाथ सिंह और जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा भी मौजूद रहेंगे. ‘वहीं दूसरी ओर घाटी के नेताओंं को बातचीत के लिए दिल्ली बुलाकर केंद्र सरकार ने अलगाववादियों और उनके आका पाकिस्तान को संदेश दिया है कि कश्मीर पूरी तरह से भारत का आंतरिक मुद्दा है’. इस बैैठक से इमरान सरकार ‘तिलमिलाई’ हुई है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और जम्मू-कश्मीर के नेताओं के बीच होने वाली बैठक का एजेंडा फिलहाल ‘गुप्त’ रखा गया है, लेकिन माना जा रहा है कि पीएम मोदी जम्मू-कश्मीर के विकास समेत परिसीमन और अन्य मुद्दों पर स्थानीय नेताओं के साथ बात करेंगे. बता दें कि आज होने वाली बैठक से पहले 22 जून को जम्मू कश्मीर की छह बड़ी पार्टियों के संगठन ‘गुपकार’ की एक बैठक फारुक अब्दुल्ला के आवास पर हुई थी.

इसमें चर्चा की गई थी कि आर्टिकल 370 की फिर से बहाली की मांग की जाएगी. गुपकार नेताओं ने कहा कि पीएम की तरफ से बैठक का कोई एजेंडा नहीं दिया गया है, हम अपने एजेंडे पर बात करेंगे और आर्टिकल 370 पर कोई समझौता नहीं होगा. वहीं ‘पूर्व मुख्यमंत्री और पीडीपी नेता महबूबा मुफ्ती ने कहा था कि कश्मीर मुद्दे पर प्रधानमंत्री को पाकिस्तान से भी बात करनी चाहिए’.

इस महाबैठक का कोई ठोस नतीजा बेशक न निकले, लेकिन हर मुददे पर खुलकर बात होगी और जम्मू-कश्मीर की बेहतरी के लिए आगेे केे लिए एक नया रास्ता भी तैयार करेगी.

यह भी पढ़ें -  जम्‍मू कश्‍मीर: सुरक्षाबलों के निशाने पर हैं 10 आतंकी, करीब 225 सक्रिय-हिट लिस्ट जारी
यह भी पढ़ें -  जन्मदिन विशेष: हरफनमौला और प्रतिभा के धनी किशोर दा के गाए गाने हर पीढ़ी की जुबां पर गूंजे

शंभू नाथ गौतम, वरिष्ठ पत्रकार

Related Articles

स्वामी का नाम: प्रदीप चन्द्र पाठक
फ़र्म का नाम: यूटी मीडिया वेंचर्स
पता: HNo – 6 , सर्वोदय कॉलोनी, रनवीर गार्डेन के सामने, धानमिल रोड, हल्द्वानी। पिन: 263139
ईमेल – [email protected]
फोन: 8650000291

Stay Connected

58,944FansLike
3,045FollowersFollow
474SubscribersSubscribe
--Advertisement--
--Advertisement--

Latest Articles

Ind Vs Eng 1 Test: पहले दिन का खेल खत्म, टीम इंडिया का स्कोर...

नॉटिंघम|....बुधवार को टीम इंडिया और इंग्लैंड के बीच पांच टेस्ट मैचों की सीरीज का पहला मुकाबला खेला जा रहा है. दोनों टीमें नॉटिंघम...

यूपी चुनाव से पहले ओम प्रकाश राजभर की ‘ब्लैकमेलिंग’ से नतमस्तक भाजपा

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव जैसे-जैसे नजदीक आते जा रहे हैं भाजपा, सपा, कांग्रेस और बसपा सियासी पिच पर अपनी 'बिसात' बिछाने में लगी हुई...

शर्तें लागू: राजभर ने एनडीए में लौटने के लिए भाजपा के सामने रख दी...

आखिरकार दो साल बाद भाजपा और ओमप्रकाश राजभर करीबी देखने को मिली. बता दें कि इसकी शुरुआत मंगलवार सुबह यूपी की राजधानी लखनऊ से...

सड़क पर भिड़े: कृषि बिल पर संसद के बाहर कांग्रेस-अकाली दल की सांसद के...

मानसून सत्र के दौरान संसद भवन में जारी हंगामे और शोर-शराबे का असर अब बाहर भी दिखने लगा है. जहां संसद के अंदर कांग्रेस...

राकेश टिकैत ने किसानों के साथ किया धोखा, आंदोलन में पड़ी दरार!

किसान आंदोलन के नाम पर आठ महीने से दिल्ली की सीमाओं पर आंदोलन चल रहा है. अब इस आंदोलन में बड़ी दरार पड़ गई...

Covid19: उत्तराखंड में बीते 24 घंटे में मिले 37 नए कोरोना संक्रमित, जानें अपने जिले का...

उत्तराखंड में बीते 24 घंटे में 37 नए कोरोना संक्रमित मिले हैं. वहीं एक भी मरीज की मौत नहीं हुई है. जबकि 42 मरीजों को ठीक होने...

सीएम धामी ने किया उत्तराखण्ड भूकम्प एलर्ट एप लांच, ऐसा एप बनाने वाला उत्तराखण्ड...

बुधवार को सीएम पुष्कर सिंह धामी ने सचिवालय में मोबाइल एप्लीकेशन ‘‘ उत्तराखण्ड भूकंप अलर्ट’’ एप का शुभारम्भ किया. उत्तराखण्ड राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण,...

श्री राम मंदिर के निर्माण कार्य को शुरू हुए 1 साल पूरा, जानें कब...

पिछले साल 5 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण हेतु भूमिपूजन किया था. इसके पश्चात निर्माण का कार्य...

Tokyo Olympics: भारतीय महिला हॉकी टीम सेमीफाइनल हारी, पर मेडल की उम्मीद अब भी...

टोक्‍यो|.... भारतीय महिला हॉकी टीम बुधवार को टोक्‍यो ओलंपिक्‍स में सेमीफाइनल मुकाबले में अर्जेंटीना से पार नहीं पा सकी. भारत को अर्जेंटीना के हाथों...

अब अल्मोड़ा से हल्द्वानी के बीच का सफर कुछ ही मिनटों में होगा पूरा,...

अब अल्मोड़ा से हल्द्वानी के बीच का सफर कुछ ही मिनटों में पूरा हो जाएगा. केंद्र सरकार ने अल्मोड़ा-हल्द्वानी-पिथौरागढ़ हेली सेवा शुरू करने को...