सोशल मीडिया और वेब पोर्टल्स की फेक न्यूज पर सुप्रीम कोर्ट ने गंभीर जताई चिंता

समाचार पत्रों एवं टेलिविजन की तरह सोशल मीडिया एवं यूट्यूब के लिए नियामक तंत्र की व्यवस्था हो सकती है. सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को सोशल मीडिया, वेब पोर्टल्स एवं यूट्यूब पर चलने वाले ‘फेक न्यूज’ पर गंभीर चिंता जताई.

कोर्ट ने कहा कि नियामक तंत्र के अभाव में वेब पोर्टल्स एवं यूट्यूब चैनल के जरिए ‘फेक न्यूज’ फैलाई जा रही है. प्रधान न्यायाधीश एनवी रमना, जस्टिस सूर्यकांत एवं जस्टिस एएस बोपन्ना की पीठ ने कहा, ‘आप अगर यूट्यूब पर जाएं तो आप पाएंगे कि कैसे फेक न्यूज को फैलाया जा रहा है. कोई भी यूट्यूब पर अपना चैनल शुरू कर सकता है.’

यह भी पढ़ें -  नए कोरोना वैरिएंट के दृष्टिगत सीएम धामी की प्रदेश वासियों से अपील, कोविड एप्रोप्रियेट बिहेवियर का पूरा पालन करें

प्रधान न्यायाधीश ने कहा कि ये पोर्टल्स बिना किसी जवाबदेही के न्यायाधीशों, संस्थाओं के खिलाफ जो मन में आए लिखते हैं. ये केवल ताकतवार लोगों की बातें सुनते हैं. सीजेआई ने कहा, ‘इन फेक न्यूज के लिए किसके पास जाया जाए…इसके बारे में कोई जानकारी नहीं. ये पोर्टल्स केवल उन्हीं की बातें सुनते हैं जो ताकतवर हैं. ये न्यायाधीशों, आम आदमी के लिए परेशान नहीं होते.

‘यही नहीं पीठ ने कुछ मीडिया संगठनों पर भी तल्ख टिप्पणी की जो सांप्रदायिक रंग वाला कंटेंट पेश करते हैं. सुप्रीम कोर्ट ने महाधिवक्ता तुषार मेहता से पूछा, ‘निजी मीडिया के एक वर्ग में जो कुछ दिखाया जाता है उसका एक सांप्रदायिक रंग होता है. इससे अंत में देश का नाम खराब होता है. क्या आपने इन निजी चैनलों को कभी निर्देशित करने का प्रयास किया.’

यह भी पढ़ें -  किसान आंदोलन: किसानों के रुख में नरमी, एसकेएम ने 29 नवंबर को संसद में होने वाली टैक्टर रैली को किया स्थगित

शीर्ष अदालत के इस सवाल पर मेहता ने बताया कि प्रधान न्यायाधीश ने जिन बातों पर चिंता जताई है, उसे दूर करने के लिए सरकार सूचना एवं प्रौद्दोगिकी के नए नियम लेकर आई है. हालांकि, नए आईटी नियमों को चुनौती देते हुए उच्च न्यायालयों में कई याचिकाएं दायर हैं. उन्होंने कोर्ट से बताया कि इन सभी अर्जियों को सुप्रीम कोर्ट में स्थानांतरित करने के लिए केंद्र सरकार ने अर्जी दाखिल की है.

यह भी पढ़ें -  डब्लूएचओ ने 'ओमीक्रॉन' को लेकर दक्षिण पूर्व एशिया क्षेत्र के देशों को किया आगाह

कोर्ट ने कहा, ‘समाचार पत्रों एवं टीवी के लिए नियामक है लेकिन हमें लगता है कि वेब के लिए कोई नियामक तंत्र नहीं है. वेब के लिए भी आत्मनियमन का कोई तंत्र होना चाहिए. ये वेब पोर्टल जो मन में आए पब्लिश करते हैं. यहां तक कि हम जब उन्हें लिखते हैं तो वे उसका जवाब भी नहीं देते. इन वेब पोर्टल्स को लगता है कि ऐसा लिखने का उन्हें अधिकार मिला हुआ है.’

Related Articles

Stay Connected

58,944FansLike
3,152FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

-- Advertisement --

--Advertisement--
--Advertisement--

Latest Articles

Covid19: उत्तराखंड में मिले 14 नए कोरोना संक्रमित, एक भी मरीज की मौत नहीं

0
उत्तराखंड में बीते 24 घंटे में 14 नए कोरोना संक्रमित मिले हैं. वहीं, एक भी मरीज की मौत नहीं हुई है. शनिवार को आठ मरीजों को ठीक होने के...

देवस्थानम बोर्ड पर गर्म सियासत, पुरोहितों ने दून में निकाली आक्रोश रैली, पुलिस से...

0
देवस्थानम बोर्ड को भंग करने को लेकर चारों धामों के तीर्थ पुरोहित और पंडा समाज अब खुलकर मैदान में आ गए हैं. वहीं दूसरी...

त्रिपुरा हिंसा: सीएम बिप्लब देब ने दिए UAPA मामलों की समीक्षा करने के निर्देश,...

0
त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब ने त्रिपुरा के शीर्ष पुलिस अधिकारी से विवादास्पद आतंकवाद विरोधी कानून के तहत पत्रकारों और वकीलों के खिलाफ...

डब्लूएचओ ने ‘ओमीक्रॉन’ को लेकर दक्षिण पूर्व एशिया क्षेत्र के देशों को किया आगाह

0
ब्रसेल्स|.... दक्षिण अफ्रीका में सामने आए कोरोना वायरस के नए वैरिएंट को लेकर दुनियाभर में व्‍याप्‍त चिंताओं के बीच विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन (WHO) ने...

कोरोना का नया वेरिएंट: ‘ओमिक्रॉन’ ने भारत की भी बढ़ाई टेंशन, केंद्र से लेकर...

0
काफी समय बाद भारत में एक बार फिर कोरोना के नए वेरिएंट ने केंद्र से लेकर राज्य सरकारों तक टेंशन बढ़ा दी है. शनिवार...

एयरसेल मैक्सिस मामला: पी चिदंबरम और उनके बेटे कार्ति चिदंबरम की बढ़ी मुश्किलें, दिल्ली...

0
शनिवार को दिल्ली की एक अदालत ने एयरसेल मैक्सिस मामले में ईडी और सीबीआई मामलों में पूर्व केंद्रीय मंत्री पी. चिदंबरम, उनके बेटे...

कोरोना का नया वेरिएंट: अफ्रीकी देशों में ओमिक्रॉन के मिल रहे हैं सबसे ज्यादा...

0
बता दें कि सबसे अधिक दक्षिण अफ्रीकी देशों में इस नए ओमिक्रॉन के मरीज सामने आ रहे हैं. अब ओमिक्रॉन से नई लहर का...

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने ओमिक्रोन वैरिएंट को लेकर मोदी सरकार पर साधा निशाना,...

0
कोरोना वायरस के नए वैरिएंट ने देशभर में चिंता का माहोल है. इसी बीच कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर...

Kanpur Test 3rd Day: तीसरे दिन तक टीम इंडिया के पास 63 रनों की...

0
टीम इंडिया के गेंदबाजों ने कानपुर टेस्ट के तीसरे दिन शानदार वापसी करते हुए बगैर किसी नुकसान के 129 रन से आगे खेलने उतरी...

एलन मॉस्क को भारत में लगा झटका! सरकार ने बुकिंग करने से रोका

0
दुनिया के सबसे अमीर शख्स एलन मॉस्क को भारत में झटका लगा है. डिपॉर्टमेंट ऑफ टेलिकॉम ने भारतीय ग्राहकों से कहा है कि वह...