वर्ल्ड रिवर डे विशेष: आओ गंदगी और प्रदूषण रोकने की करें पहल, नदियों को स्वच्छ जल के साथ बहने दें

आज संडे है. बात होगी जेपी दत्ता की 21 साल पहले आई फिल्म रिफ्यूजी के गाने से, पंछी नदियां पवन के झोंके, कोई सरहद न इन्हें रोके… किसी भी देश के लिए नदी, झरने, झील, पहाड़ और हरी-भरी वादियां अनमोल उपहार हैं. इन्हें देख कर मन को बहुत ‘सुकून’ मिलता है.

यह प्राकृतिक नजारे देश की सुंदरता को और भी बढ़ाते हैं. आइए अब बात को आगे बढ़ाते हैं. आज सितंबर महीने का आखिरी रविवार को हम विश्व नदी दिवस के रूप में मनाते हैं. नदियों से कल-कल बहता पानी मन को मोह लेता है. इस दिवस का उद्देश्य नदियों में बढ़ रहा जल प्रदूषण को कम करना है.

भारत ही नहीं बल्कि अन्‍य देशों में तेजी से हो रहे विकास और प्रकृति के प्रति लापरवाही के चलते नदियों का जल बहुत ज्‍यादा दूषित होता जा रहा है और इस कारण जलवायु में भी परिवर्तन हो रहा है जिससे कई प्रकार की बीमारियां उत्‍पन्‍न हो रही हैं. ऐसे में धीरे-धीरे नदियों का जल सूख रहा है. उन सभी नदियों का जल बचाने के दूषित होने से रोकना ही विश्‍व नदी दिवस का महत्‍व है.

‘यह दिवस विश्‍व के सभी लोगों को संदेश देता है कि जितना ज्‍यादा हो सके पानी को दूषित हाेने से बचाइए, क्योंकि पानी के बिना जीवन नही है. पानी है तो जीवन है’. बता दें कि इस वर्ष के आयोजन का विषय (थीम) एक बार फिर ‘हमारे समुदायों में जलमार्ग है, जिसमें शहरी जलमार्गों की सुरक्षा और पुनर्स्थापना की आवश्यकता पर विशेष जोर दिया गया है.

यह भी पढ़ें -  Kanpur Test: चौथे दिन स्टंप तक न्यूजीलैंड का स्कोर 4/1, आखिरी दिन 280 रनों की जरूरत

नदियों को स्वच्छ करने के लिए चलाया जाता है जागरूकता अभियान
हर वर्ष सितंबर के आखिरी सप्ताह के रविवार को विश्व नदी दिवस मनाया जाता है. इस दिन देश में कई स्वयंसेवी संगठन नदियों को साफ करने के लिए जागरूक अभियान चलाते हैं. प्रदूषण की वजह से जलवायु में भी परिवर्तन हुआ है जिसके कारण कई नदियां सिकुड़ती जा रही हैं. विश्व नदी दिवस पर लाखों लोग और कई अंतरराष्ट्रीय संगठन नदियों के बचाव के लिए अपना योगदान करते हैं.

इस दिन लोग संकल्प लेते हैं कि वे नदियों को प्रदूषित नहीं करेंगे और उन्हें प्रदूषित होने से बचाएंगे. यहा दिन लोगों में नदियों के महत्व उसकी स्वच्छता के प्रति जागरूकता भी लाता है. विश्व नदी दिवस पर सभी देश एकजुट होकर नदियों के संरक्षण के विषय पर बात करते हैं.

इस दिन को एक ‘पर्व’ की तरह भी मनाया जाता है. भारत समेत तमाम देशों में विश्व नदी दिवस पर आयोजन किए जाते हैं जिसमें लोग बढ़चढ़ कर हिस्सा लेते हैं. इसमें नदियों की सफाई करने से लेकर ‘रिवर राफ्टिंग’ जैस कार्यक्रम होते हैं. जिसमें लोग नदियों की सफाई के साथ घूमने का लुफ्त भी उठाते हैं.

यह भी पढ़ें -  जम्मू के एलजी मनोज सिन्हा ने कहा, उमर अब्दुल्ला क्या कहते हैं, उस पर मुझे कुछ कहने की जरूरत नहीं

नदियों को साफ बनाने के लिए मोदी सरकार का अभियान गति नहीं पकड़ सका
नदियां हमारे जीवन का अभिन्न अंग हैं. नदियां जीवन दायिनी हैं. प्राकृतिक रुप से बहुत सारे जीव-जंतु और प्राणी जल के लिए नदियों पर ही निर्भर हैं, लेकिन पर्यावरण में फैलता हुआ प्रदूषण नदियों के लिए अभिशाप बन गया है.

सबको जीवन देने वाली नदियों का अस्तित्व खुद खतरें में हैं. कुछ नदियां अत्यधिक प्रदूषित हो चुकी हैं तो कुछ लुप्त होने की कगार पर हैं. ऐसे में नदियों का संरक्षण करना अति आवश्यक हो गया है. यहां हम आपको बता दें कि साल 2014 में केंद्र की सत्ता पर जब भारतीय जनता पार्टी आई थी तब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत में गंगा समेत तमाम नदियों को ‘स्वच्छता अभियान’ चलाने के लिए बड़ी पहल की थी.

इसके लिए एक अलग मंत्रालय का गठन भी किया गया था. 7 साल बाद भी नदियों में प्रदूषण और गंदगी रोकने और स्वच्छ बनाने की दिशा में कोई खास अंतर नहीं आया है. केंद्र सरकार का यह गंगा स्वच्छ अभियान उतनी तेजी के साथ आगे नहीं बढ़ सका जैसे पहले उम्मीद लगाई जा रही थी.

आज भी देश में नदियों की स्थिति जस की तस बनी हुई है. इसके पीछे लोग भी कम जिम्मेदार नहीं हैं. देशवासियों को भी अपनी जिम्मेदारी समझनी होगी और नदियों में कूड़ा-कचरा और प्रदूषण को रोकने के लिए आगे आना होगा.

यह भी पढ़ें -  यूपीटीईटी की परीक्षा रद्द, केंद्र में पहुंचने से पहले ही पेपर लीक

साल 2005 में अंतरराष्ट्रीय नदी दिवस मनाने की हुई थी शुरुआत
वर्ष 2005 में सभी देशों के द्वारा जल संसाधनों की देखभाल के लिए या फिर पानी के प्रति लोगो को जागरूक करने के लिए सयुंक्‍त राष्‍ट्र ने वॉटर फॉर लाइफ डिकेड (विश्‍व नदी दिवस) को घोषित किया. तब से लेकर अंतरराष्ट्रीय नदी दिवस प्रतिवर्ष 26 सितम्‍बर को मनाया जाता है.

इस दिवस का प्रस्‍ताव रिस्‍पांस में मार्क एंजेलो के तहत रखा गया. इसके अलावा बिट्रिश कोलंबिया में कैनडियन लोग बिट्रिश कोलंबिया रिवर डे मनाते है. भारत, ब्रिटेन, कनाडा, अमेरिका, पोलैंड, दक्षिण अफ्रीका, ऑस्ट्रेलिया, मलेशिया और बांग्लादेश समेत कई देशों में नदियों की रक्षा को लेकर कई कार्यक्रमों का आयोजन होता है. अंतरराष्ट्रीय विश्व नदी दिवस पर आओ हम भी अपने नदियों को साफ-सुथरा बनाएं.

शंभू नाथ गौतम, वरिष्ठ पत्रकार

Related Articles

Stay Connected

58,944FansLike
3,152FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

-- Advertisement --

--Advertisement--
--Advertisement--

Latest Articles

पराग अग्रवाल होंगे ट्विटर के नए सीईओ, जैक डॉर्सी ने दिया इस्तीफा

0
माइक्रो ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म ट्विटर के मुख्य कार्यकारी अधिकारी जैक डॉर्सी ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, भारतीय मूल...

उत्तराखंड: सीएम पुष्कर सिंह धामी ने की ‘ओमीक्रोन’पर हाई-लेवल मीटिंग, दिए ये...

0
सोमवार को सीएम पुष्कर सिंह धामी ने कोविड सैम्पलिंग को बढ़ाने और कान्टैक्ट ट्रेसिंग को सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं. कोविड के बढ़ते...

Covid19: उत्तराखंड में मिले 8 नए कोरोना संक्रमित, एक मरीज की मौत

0
उत्तराखंड में बीते 24 घंटे में आठ नए कोरोना संक्रमित मिले हैं. वहीं, एक मरीज की मौत हुई है. 18 मरीजों को ठीक होने के बाद घर...

देहरादून: मत्स्य पालन कर आत्मनिर्भर बनने के लिए प्रशिक्षण कार्यक्रम, प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना...

0
प्रधानमंत्री मत्स्यसम्पदा योजना एक दिवसीय जागरूकता एवं प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन राष्ट्रीय सहकारी विकास निगम द्वारा आज 29 नवम्बर को IRDT,ऑडिटोरियम, देहरादून...

पेटीएम पेमेंट्स बैंक ने लॉन्च किया ट्रांजिट कार्ड, जानें कैसे और कहां होगा इस्‍तेमाल

0
देश की सबसे बड़ी ई-वॉलेट कंपनी पेटीएम ने हाल में एक प्रीपेड रुपे कार्ड पेटीएम वॉलेट ट्रांजिट कार्ड पेश किया है. इस कार्ड...

दिल्ली में डेंगू का कहर जारी: अब तक सामने आए 8276 मामले, इस महीने...

0
कोरोना संक्रमण के साथ साथ डेंगू भी खतरे की घंटी बजा रहा है. अगर बात करे दिल्ली की तो इस सीजन में डेंगू के...

उत्तराखंड: देहरादून अनाथालय के नाबालिग के साथ हुआ दुष्कर्म, आरोपी भी नाबालिग

0
राजधानी देहरादून के एक अनाथ आश्रम में एक नाबालिग के साथ दुष्कर्म का मामला सामने आया है. यह अनाथालय खुड़बुड़ा पुलिस चौकी इलाके में...

Kanpur Test-5th Day: जीत के करीब पहुंचकर चूकी टीम इंडिया, न्यूजीलैंड खिलाफ ...

0
टीम इंडिया और न्यूजीलैंड के बीच कानपुर में खेला गया टेस्ट ड्रॉ हो गया है. टीम इंडिया गेंदबाजों ने पांचवें और आखिरी दिन शानदार...

जल्द लगेगा कोरोना टीके का बूस्टर डोज और किशोरों को टीका, कोविड-19 टास्क फोर्स...

0
कोरोना वायरस के नए स्वरूप ओमिक्रॉन ने खतरे की घंटी बजा दी है. इसको ध्यान में रखते हुए कोविड-19 टास्क फोर्स के अध्यक्ष डा....

राज्यसभा के 12 सांसद निलंबित, कांग्रेस के 6, शिवसेना-टीएमसी के 2-2

0
सदन में हंगामे को लेकर राज्यसभा के 12 सांसदों को निलंबित कर दिया गया है. शीतकालीन सत्र के पहले दिन ही इन 12 सांसदों...