सर्वपितृ अमावस्या आज: श्राद्ध पक्ष के आखिरी दिन पितर होते हैं विदा, श्राद्ध कर दिवंगत पूर्वजों से लें आशीर्वाद

आज सर्वपितृ अमावस्या है. यानी पितरों की विदाई का दिन है. श्राद्ध पक्ष में पितर 16 दिन के लिए देव लोक से धरती पर आते हैं. देव लोग जाते पितर अपने परिजनों को आशीर्वाद देकर लौटते हैं. सर्व पितृ अमावस्या के दिन उन लोगों का श्राद्ध किया जाता है, जिनके परिजनों को पितरों की देहांत तिथि ज्ञात नहीं होती है या किसी कारणवश नहीं कर पाते.

कहते हैं कि इस दिन श्राद्ध करने से भोजन पितरों को स्वथा रूप में मिलता है. कहते हैं कि पितरों को अर्पित किया गया भोजन उस रूप में परिवर्तित हो जाता है, जिस रूप में उनका जन्म हुआ होता है. अगर मनुष्य योनि में हो तो अन्न रूप में उन्हें भोजन मिलता है, पशु योनि में घास के रूप में, नाग योनि में वायु रूप में और यक्ष योनि में पान के रूप में भोजन पहुंचाया जाता है.

यह भी पढ़ें -  विजयादशमी पर संघचालक मोहन भागवत ने देश को तोड़ने नहीं बल्कि जोड़ने वाली संस्कृति का पुरजोर समर्थन किया

मान्यता है कि श्राद्ध कर्म करने से पितर प्रसन्न होते हैं और उनका आशीर्वाद मिलता है. अमावस्या तिथि आज शाम 4 बजकर 34 मिनट तक रहेगी. पितृ पक्ष का आखिरी दिन सर्व पितृ अमावस्या मनाई जाती है. यह पितृ पक्ष का आखिरी दिन होता है. इसे पितृ विसर्जन अमावस्या के नाम से भी जानते हैं. आज श्राद्ध के लिए धरती पर आए पितरों की विदाई की जाती है. खीर, पूड़ी और अपने पितरों की मनपंसद चीजें बनाकर श्राद्ध कार्य किए जाते हैं.

यह भी पढ़ें -  फिर बदलेगा उत्तराखंड के मौसम का मिजाज, रविवार और सोमवार को भारी बारिश के आसार
यह भी पढ़ें -  जन्मदिन विशेष: मिसाइल-मैन और पूर्व राष्ट्रपति डॉ कलाम के विचार हमेशा प्रासंगिक रहेंगे

कहते हैं श्राद्ध में पितरों को दिये अन्न-जल से उन्हें संतुष्टि मिलती है और वो अपने परिवार के लोगों को खुशियों का आशीर्वाद देकर वापस लौटते हैं. आज अपने पितरों के निमित्त किसी ब्राह्मण को भोजन जरूर कराएं. बता दें कि सर्वपितृ अमावस्‍या पर हस्त नक्षत्र है.

साथ ही सर्वार्थसिद्धि योग है. आज सूर्य, चंद्रमा, मंगल और बुध एक ही राशि में रहेंगे. ऐसे में सूर्य और बुध मिलकर बुधादित्य यह बना रहे हैं और चंद्र-मंगल मिलकर महालक्ष्मी योग बना रहे हैं. ग्रहों की यह शुभ स्थिति दान-पुण्‍य करने के लिए बेहद शुभ है.

यह भी पढ़ें -  दशहरा 2021: आज है विजयदशमी, ये है शुभ मुहूर्त और पूजन विधि

आज के दिन गंगाजल या किसी अन्‍य पवित्र नदी के जल को नहाने के पानी में मिलाकर स्‍नान करें. इसके बाद पितरों का तर्पण करके दान करें. इससे पितृदोष भी दूर होगा . सर्व अमावस्या के दिन श्राद्ध कर तर्पण करें. इस दिन अपने पितरों को खुश करने और उनका आशीर्वाद पाने के लिए गीता के सातवें अध्याय का पाठ करना चाहिए.

Related Articles

यह भी पढ़ें -  विजयादशमी पर संघचालक मोहन भागवत ने देश को तोड़ने नहीं बल्कि जोड़ने वाली संस्कृति का पुरजोर समर्थन किया

उत्तराँचल टुडे विशेष: साल 1965 में हेमा मालिनी ने साउथ फिल्मों से की अपने करियर की शुरुआत

स्वामी का नाम: प्रदीप चन्द्र पाठक
फ़र्म का नाम: यूटी मीडिया वेंचर्स
पता: HNo – 6 , सर्वोदय कॉलोनी, रनवीर गार्डेन के सामने, धानमिल रोड, हल्द्वानी। पिन: 263139
ईमेल – [email protected]
फोन: 8650000291

Stay Connected

58,944FansLike
3,082FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

-- Advertisement --

--Advertisement--
--Advertisement--

Latest Articles

उत्तराँचल टुडे विशेष: साल 1965 में हेमा मालिनी ने साउथ फिल्मों से की अपने...

हेमा मालिनी ने साउथ फिल्मों से ही अपने करियर की शुरुआत की थी. साल 1965 में फिल्म ‘पांडवा वनवासम’ में उन्होंने एक छोटा सा...

बसंती हुईं 73 की: हेमा मालिनी आज भी बॉलीवुड और प्रशंसकों की बनी हुईं...

बॉलीवुड की एक ऐसी अभिनेत्री जिनकी खूबसूरती और उनका नाम बड़े शहरों से लेकर छोटे शहरों तक लोगों के जुबान पर छा गए. 70...

फिर बदलेगा उत्तराखंड के मौसम का मिजाज, रविवार और सोमवार को भारी बारिश के...

एक बार फिर से उत्तराखंड के मौसम का मिजाज बदल रहा है. मौसम विभाग के अनुसार रविवार और सोमवार को राज्य के अधिकतर इलाकों...

Covid19: पिछले 24 घंटे में देश में मिले 15,981 नए मामले-166 की मौत

देश में कोरोना के नए मामलों में कभी उछाल आता है तो कभी इससे राहत मिलती दिखाई देती है.
यह भी पढ़ें -  सियासी दांव: यशपाल आर्य की भरपाई में जुटी भाजपा, मिशन 22 के लिए धामी तलाश रहे दलित 'चेहरा'
यही कारण है कि कोरोनावायरस पर...

अगर चाहिए शनि देव की कृपा, तो आजमाएं ये उपाय

शनिवार, शनि अमावस्या, शनि प्रदोष ऐसे अवसर हैं जब शनि महाराज को प्रसन्न किया जा सकता है. सामान्य समय में शनि की शुभता के...

सभी प्रकार की पीड़ाओं को खत्म कर सकता है बारह मुखी रुद्राक्ष

प्रायः व्यक्ति की जन्म कुंडली में सूर्य से जुड़ी हुईं समस्यायें तो मौजूद रहती ही हैं. अगर किसी व्यक्ति का सूर्य कमजोर होता है...

राशिफल 16-10-2021: क्या कहते है आप के आज के सितारे, जानिए

मेष- अगर आप किसी नतीजे या फैसले का इंतजार कर रहे हैं तो शांत रहें, सब ठीक हो जाएगा. पुराने प्रेम संबंधों की समस्याएं...

16 अक्टूबर 2021 पंचांग: जानें आज का शुभ मुहूर्त, कैलेंडर-व्रत और त्यौहार

आपके लिए आज का दिन शुभ हो अगर आज के दिन यानी 16 अक्टूबर 2021 को कार लेनी हो, स्कूटर लेनी हो, दुकान का...

सिंघु बॉर्डर पर युवक की हत्या के 15 घंटे बाद निहंग का सरेंडर

सिंघु बॉर्डर पर युवक की हत्या के 15 घंटे बाद एक निहंग ने पुलिस के सामने सरेंडर कर दिया है. कुंडली थाने से पुलिस...

वरिष्ठ पत्रकार हरीश कोठारी मुख्यमंत्री धामी के बने मीडिया कोऑर्डिनेटर, शासनादेश जारी

साल 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने अपनी टीम में एक और नियुक्ति की. सीनियर रिपोर्टर हरीश...