शारदीय नवरात्रि2021: तीसरे दिन ऐसे करे मां चंद्रघंटा की पूजा, जानें विधि और कथा

पंचांग के अनुसार 9 अक्टूबर 2021 आश्विन मास की शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को शारदीय नवरात्रि का तीसरा दिन है. नवरात्रि के तीसरे दिन मां चंद्रघंटा की पूजा की जाती है. नवरात्रि का तीसरा दिन मां चंद्रघंटा को समर्पित है.

मां चंद्रघंटा ने असुरों का संहार किया था
मां चंद्रघंटा ने पृथ्वी पर धर्म की रक्षा और असुरों का संहार करने के लिए अवतार लिया था. मां दुर्गा के इस रूप की विशेष मान्यता है.

मां चंद्रघंटा का स्वरूप
पौराणिक मान्यताओं के अनुसार मां चंद्रघंटा को परम शांतिदायक और कल्याणकारी माना गया है. मां चंद्रघंटा के मस्तिष्क पर घंटे के आकार का आधा चंद्र है. इसीलिए इन्हें मां चंद्रघंटा कहा जाता है. मां चंद्रघंटा का रूप रंग स्वर्ण के समान है. मां चंद्रघंटा देवी के दस हाथ हैं. इनके हाथों में शस्त्र-अस्त्र विभूषित हैं और मां चंद्रघंटाकी सवारी सिंह है.

मां चंद्रघंटा की पूजा का महत्व
मान्यता है कि जो भी व्यक्ति नवरात्रि में मां चंद्रघंटा की पूजा विधि पूर्वक करता है उसे अलौकिक ज्ञान की प्राप्ति होती है. वहीं मां चंद्रघंटा की पूजा और उपासना से साहस और निडरता में वृद्धि होती है. हर प्रकार के भय से मुक्ति मिलती है. मां चंद्रघंटा की पूजा करने सौम्यता और विनम्रता में भी वृद्धि होती है. विधि पूर्वक पूजा करने से मां अपने भक्तों को आर्शीवाद प्रदान करती हैं. मां चंद्रघंटा की पूजा करने से रोग से भी मुक्ति मिलती है.

मां चंद्रघंटा पूजा विधि
9 अक्टूबर 2021 को शुभ मुहूर्त में मां चंद्रघंटा की पूजा प्रारंभ करनी चाहिए. पूजा आरंभ करने से पूर्व मां चंद्रघंटा को केसर और केवड़ा जल से स्नान कराएं. इसके बाद उन्हें सुनहरे रंग के वस्त्र पहनाएं. इसके बाद मां को कमल और पीले गुलाब की माला चढ़ाएं. इसके उपरांत मिष्ठान, पंचामृत और मिश्री का भोग लगाएं.

मां चंद्रघंटा का मंत्र
या देवी सर्वभूतेषु मां चंद्रघंटा रूपेण संस्थिता।
नमस्तस्यै, नमस्तस्यै, नमस्तस्यै, नमो नम:।।

मां चंद्रघंटा की कथा
पौराणिक कथा के अनुसार जब दैत्यों का आतंक बढ़ने लगा तो मां दुर्गा ने मां चंद्रघंटा का अवतार लिया. असुरों का स्वामी महिषासुर था, जिसका देवताओं से भंयकर युद्ध चल रहा था. महिषासुर देव राज इंद्र का सिंहासन प्राप्त करना चाहता था. उसकी प्रबल इच्छा स्वर्गलोक पर राज करने की थी.

यह भी पढ़ें -  26 अक्टूबर 2021 पंचांग: जानें आज का शुभ मुहूर्त, कैलेंडर-व्रत और त्यौहार

उसकी इस इच्छा को जानकार सभी देवता परेशान हो गए और इस समस्या से निकलने का उपाय जानने के लिए भगवान ब्रह्मा, विष्णु और महेश के सामने उपस्थित हुए.

देवताओं की बात को गंभीरता से सुनने के बाद तीनों को ही क्रोध आया. क्रोध के कारण तीनों के मुख से जो ऊर्जा उत्पन्न हुई. उससे एक देवी अवतरित हुईं. जिन्हें भगवान शंकर ने अपना त्रिशूल और भगवान विष्णु ने चक्र प्रदान किया. इसी प्रकार अन्य देवी देवताओं ने भी माता के हाथों में अपने अस्त्र सौंप दिए. देवराज इंद्र ने देवी को एक घंटा दिया. सूर्य ने अपना तेज और तलवार दी, सवारी के लिए सिंह प्रदान किया.

इसके बाद मां चंद्रघंटा महिषासुर के पास पहुंची. मां का ये रूप देखकर महिषासुर को ये आभास हो गया कि उसका काल आ गया है. महिषासुर ने मां पर हमला बोल दिया. इसके बाद देवताओं और असुरों में भंयकर युद्ध छिड़ गया. मां चंद्रघंटा ने महिषासुर का संहार किया. इस प्रकार मां ने देवताओं की रक्षा की.

यह भी पढ़ें -  फिर बढ़ रहा चीन में कोरोना: लगातार बढ़ते मामलो को देख लेनझाऊ में लगा लॉकडाउन

Related Articles

स्वामी का नाम: प्रदीप चन्द्र पाठक
फ़र्म का नाम: यूटी मीडिया वेंचर्स
पता: HNo - 6 , सर्वोदय कॉलोनी, रनवीर गार्डेन के सामने, धानमिल रोड, हल्द्वानी। पिन: 263139
ईमेल - [email protected]
फोन: 8650000291

Stay Connected

58,944FansLike
3,115FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

-- Advertisement --

--Advertisement--
--Advertisement--

Latest Articles

Covid19: उत्तराखंड में बीते 24 घंटे में मिले 12 नए संक्रमित, एक भी मरीज...

0
उत्तराखंड में अब कोरोना संक्रमण कम हो गया है. बीते 24 घंटे में प्रदेश में 12 नए कोरोना संक्रमित मिले हैं. वहीं, एक भी मरीज की मौत नहीं...

”मुख्यमंत्री स्वरोजगार नैनो योजना” में अब 50 हजार तक मिल सकेगा ऋण और 20...

0
उत्तराखंड में छोटे व्यवसायियों एवं उद्यमियों को मजबूत बनाने की दिशा में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के निर्देश पर उत्तराखंड शासन ने मुख्यमंत्री स्वरोजगार...

परेशान किंग खान: बेटे को जेल से बाहर लाने के लिए शाहरुख ने अब...

0
फिल्म अभिनेता शाहरुख खान ने अपने बेटे आर्यन खान की जमानत करवाने के लिए 15 दिनों से सभी दांव चल दिए हैं. लेकिन शाहरुख...

सीएम धामी ने किया खटीमा मंडी में धान क्रय केन्द्रों का निरीक्षण, किसानों की...

0
मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी मंगलवार को अपराह्न में खटीमा पहुंचे. उन्होंने निर्माणाधीन आश्रम पद्धति जनजाति विद्यालय खटीमा के निर्माणाधीन भवन का निरीक्षण किया तथा...

अखिलेश ने फोटो ट्वीट कर सत्ता में वापसी का किया दावा, भाजपा पर लगाया...

0
उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में सत्ता में वापसी के लिए कमर कस चुके सपा प्रमुख अखिलेश यादव लगातार योगी सरकार पर हमला करते आ...

आइसीसी टी20 वर्ल्ड कप SA vs WI: दक्षिण अफ्रीका ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी...

0
दुबई|… एनरिक नॉर्किया की अगुवाई में अपने गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन के बाद एडेन मार्कराम के 26 गेंद में नाबाद 51 रन की मदद...

नेताओं में जुबानी जंग: केजरीवाल के ‘हिंदुत्व पॉलिटिक्स’ पर योगी का चढ़ा पारा तो...

0
यूपी विधानसभा चुनाव अभी शुरू होने में कुछ माह बचे हैं लेकिन राजनीतिक दलों के नेताओं के बीच 'जुबानी जंग' तेज होती जा रही...

बागेश्वर ग्लेशियर हादसा: सुंदरढूंगा से एसडीआरएफ ने निकाले पांच शव, लापता गाइड की तलाश...

0
बागेश्वर ज़िले के ग्लेशियर रूट पर गायब हुए लोगों में से 5 के मारे जाने की बात​ पिछले करीब चार दिनों से कही जा...

कल होगी राज्यों के स्वास्थ्य मंत्रियों के साथ मनसुख मंडाविया की बैठक, कोरोना टीकाकरण...

0
कल केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया देश में कोविड-19 वैक्सीनेशन अभियान की चर्चा करने के लिए राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के स्वास्थ्य मंत्रियों...

भारत के पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़ ने किया टीम इंडिया के हेडकोच पद के...

0
पूर्व भारतीय कप्तान और नेशनल क्रिकेट एकेडमी (एनसीए) के हेड राहुल द्रविड़ ने टीम इंडिया के हेडकोच पद के लिए आवेदन दिया है. बीसीसीआई...