नीति आयोग, उत्तराखण्ड के विकास में पार्टनर : डॉ राजीव कुमार

देहरादून| शनिवार को नीति आयोग के उपाध्यक्ष डा. राजीव कुमार ने कहा है कि नीति आयोग उत्तराखण्ड के विकास में पार्टनर की भूमिका निभा रहा है. नीति आयोग, उत्तराखण्ड के विकास में अधिक से अधिक मददगार बनने के लिए संकल्पित है. मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने जीएसटी कम्पनसेशन को वर्ष 2022 के बाद भी जारी रखने में सहयोग का अनुरोध किया.

उन्होंने कहा कि केंद्रीय योजनाओं के मानकों में फ्लोटिंग पापुलेशन भी शामिल किया जाए. सचिवालय स्थित वीर चंद्र सिंह गढ़वाली सभागार में नीति आयोग के उपाध्यक्ष डा. राजीव कुमार, मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी, नीति आयोग के वरिष्ठ सलाहकारों और राज्य सरकार के अधिकारियों की बैठक में उत्तराखण्ड के सुनियोजित विकास पर विस्तार से विचार विमर्श किया गया.

नीति आयोग के उपाध्यक्ष डा. राजीव कुमार ने कहा कि नीति आयोग उत्तराखण्ड के विकास में भागीदार की भूमिका निभा रहा है. राज्य सरकार की विकास से संबंधित हर सम्भव सहायता की जाएगी. उन्होंने कहा कि विभिन्न विषयों पर राज्य सरकार के पक्ष पर नीति आयोग केंद्र सरकार के मंत्रालयों से बात करेगा. राज्य सरकार के संबंधित अधिकारी भी निरंतर फॉलोअप करें.

डा. कुमार ने कहा कि राज्य के विकास के लिए सेक्टरवार प्लान व समग्र प्लान बनाया जाए. उत्तराखण्ड में जिलावार एसडीजी (सतत विकास लक्ष्य) निर्धारित करने को अच्छा कदम बताते हुए कहा कि जिलों में विकास की प्रतिस्पर्धा को प्रोत्साहित किया जाना चाहिए. महत्वपूर्ण संकेतकों पर विशेष ध्यान दिया जाए. इनकी लगातार मॉनिटरिंग जरूरी है.

यह भी पढ़ें -  सभी प्रकार की पीड़ाओं को खत्म कर सकता है बारह मुखी रुद्राक्ष

डा. कुमार ने जमीनी स्तर पर प्रक्रियागत सरलीकरण की आवश्यकता बताई. निवेशकों को विभिन्न क्षेत्रों में जो मंजूरियां लेनी होती हैं, उनका सरलीकरण करने के साथ ही जहां तक सम्भव हो कम किया जाए. 

आर्गेनिक फार्मिंग के साथ ही नेचुरल फार्मिंग पर भी विशेष ध्यान दिया जाए. इससे किसानों की आय को दोगुनी करने में मदद मिल सकती है. उन्होंने प्रत्येक ब्लॉक में एक गांव के प्राकृतिक कृषि के लिए समर्पित करने का सुझाव दिया.

डा. कुमार ने कहा कि उत्तराखण्ड में स्कूली शिक्षा की बेहतर स्थिति है. परंतु उच्च शिक्षा के लिए बेहतर शिक्षण संस्थाएं कम हैं. छात्रों को बेहतर उच्च शिक्षा राज्य में ही प्राप्त हो सके. इस ओर भी ध्यान दिया जाए. नदियों के पुनर्जीवन पर भी काफी काम किया जा सकता है. इसमें नीति आयोग नमामि गंगे से राज्य को सहायता को दिलवाने के लिए प्रयास करेगा.

यह भी पढ़ें -  देश में बीते 24 घंटे में मिले 16,682 नए मामले-379 की मौत


पर्यटन में अधिक से अधिक स्थानीय संसाधनों का उपयोग किया जाए. किस तरह से अधिक से अधिक स्थानीय लोगों को इससे जोड़ा जा सकता है, इसके लिए सुनियोजित योजना की जरूरत है. कृषि में हाई वेल्यु उपजों जैसे कि औषधीय खेती, मसाले, फूलों की खेती पर बल देना होगा. डा राजीव कुमार ने इनलैंड कन्टेनर डिपो की स्थापना के लिए निजी क्षेत्र का सहयोग लेने का सुझाव दिया.

डॉ. कुमार ने बैठक में दिये गये राज्य के प्रस्तुतीकरण को ध्यान से सुनते हुए कहा कि फोरेस्ट क्लीयरेंस की प्रक्रिया को सरल किये जाने की जरूरत है. इस संबंध में राज्य सरकार के जो भी सुझाव हैं, नीति आयोग को भेजे. इस संबंध में केन्द्र से बात की जाऐगी. उन्होंने नेशनल पार्को में हाथियों और टाईगर की संख्या में बढोतरी को देखते हुए इनकी केरिंग केपेसिटी का आंकलन किए जाने पर सहमति व्यक्त की. 

यह भी पढ़ें -  मुख्यमंत्री बनने के बाद पुष्कर सिंह धामी पहली बार पहुंचे अयोध्या, रामलला के किए दर्शन

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने नीति आयोग उपाध्यक्ष डा. राजीव कुमार और उनकी टीम का उत्तराखण्ड में स्वागत करते हुए कहा कि आगामी 9 नवम्बर को उत्तराखण्ड 21 वर्ष का होने जा रहा है. पीएम मोदीने हमें लक्ष्य दिया है कि 2025 में जब उत्तराखण्ड 25 वर्ष का होगा तो आदर्श विकसित राज्य हो. केंद्र व राज्य सरकार मिलकर उत्तराखण्ड के तेजी से विकास के लिए काम कर रही हैं.

मुख्यमंत्री ने कहा कि सतत विकास और अंत्योदय हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता है. जब तक समाज में अंतिम छोर पर खड़े व्यक्ति तक सरकार और प्रशासन पहुंच नहीं जाते हैं, उन तक विकास का लाभ नहीं पहुचंता है, हम चैन से नहीं बैठेंगे. लोगों को विकास योजनाओं का अधिक से अधिक लाभ आसानी से मिले, इसके लिए सरलीकरण पर फोकस किया गया है. उद्योगों में सिंगल विंडो सहित तमाम प्रक्रियाओं को सरल किया गया है. इन्वेस्टर्स फ्रेंडली माहौल तैयार किया गया है. उद्यमियों सहित विभिन्न क्षेत्रों के स्टॉक होल्डर्स से संवाद शुरू किया गया है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन में राज्य में सड़क, रेल और एयर कनेक्टीवीटी पर काफी काम किया गया है. राज्य को केंद्र से पूरा सहयोग मिल रहा है. मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तराखण्ड को जीएसटी कम्पनसेशन वर्ष 2022 में समाप्त हो रहा है. इससे राज्य के लिए वित्तीय समस्या खड़ी हो जाएगी.

यह भी पढ़ें -  20 नवंबर को शीतकाल के लिए बंद होंगे बद्रीनाथ के कपाट, विजयदशमी के खास मौके पर हुआ ऐलान
यह भी पढ़ें -  हल्द्वानी: हड़ताल के चलते नलकूप बंद, ढाई लाख से ज्यादा आबादी प्रभावित

राज्य के सीमित संसाधनों को देखते हुए इसे उत्तराखण्ड के लिए आगे भी जारी रखे जाने की जरूरत है. चीन व नेपाल के साथ अंतरराष्ट्रीय सीमाओं के कारण उत्तराखण्ड की महत्वपूर्ण सामरिक स्थिति है. यहां बार्डर एरिया डेवलपमेंट प्लान में और अधिक धनराशि दिए जाने की आवश्यकता है.

मुख्यमंत्री ने राज्य के कुमायूं क्षेत्र में एक और एम्स की स्थापना किए जाने के साथ ही लखवाड़ व्यासी परियोजना, जमरानी बहुद्देशीय परियोजना, सौंग बांध सहित राज्य सरकार के विभिन्न प्रस्तावों को अंतिम मंजूरी दिलाए जाने में सहयोग का अनुरोध किया. मुख्यमंत्री ने कहा कि केंद्रीय योजनाओं के मानकों में फ्लोटिंग पॉपुलेशन को भी शामिल किया जाना चाहिए.  

बैठक में राज्य सरकार द्वारा नीति आयोग के समक्ष राज्य के विकास से संबंधित विभिन्न विषयों पर विस्तृत प्रस्तुतीकरण दिया.

इस अवसर पर नीति आयोग की वरिष्ठ सलाहकार डाॅ नीलम पटेल, अनुराग गोयल, नीति आयोग उपाध्यक्ष के नीजि सचिव रवीन्द्र प्रताप सिंह, सलाहकार अविनाश मिश्रा, डा प्रेम सिंह, उत्तराखण्ड की अपर मुख्य सचिव राधा रतूड़ी, मनीषा पंवार, आनंद बर्द्धन सहित शासन के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे. सचिव नियोजन डॉ बी वी आर सी पुरुषोत्तम ने प्रस्तुतीकरण दिया.

Related Articles

स्वामी का नाम: प्रदीप चन्द्र पाठक
फ़र्म का नाम: यूटी मीडिया वेंचर्स
पता: HNo – 6 , सर्वोदय कॉलोनी, रनवीर गार्डेन के सामने, धानमिल रोड, हल्द्वानी। पिन: 263139
ईमेल – [email protected]
फोन: 8650000291

Stay Connected

58,944FansLike
3,082FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

-- Advertisement --

--Advertisement--
--Advertisement--

Latest Articles

अयोध्या में रामलला के दर्शन के बाद भाव विभोर हुए मुख्यमंत्री धामी ने ट्वीट...

"जिमि अमोघ रघुपति कर बाना, एही भाँति चलेउ हनुमाना" आज मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान राम की पावन धरती अयोध्या पहुंचकर हनुमान गढ़ी में श्री हनुमानजी...

सीएम पुष्कर सिंह धामी ने द हंस फाउण्डेशन डायलिसिस केन्द्र का किया लोकार्पण

शनिवार को सीएम पुष्कर सिंह धामी ने मोहकमपुर देहरादून में द हंस फाउण्डेशन डायलिसिस केन्द्र का लोकार्पण किया. माता मंगला के जन्मोत्सव के...

Covid19: उत्तराखंड में बीते 24 घंटे में मिले आठ नए कोरोना संक्रमित

उत्तराखंड में बीते 24 घंटे में आठ नए कोरोना संक्रमित मिले हैं. वहीं, एक भी मरीज की मौत नहीं हुई है. जबकि छह मरीजों को ठीक होने...

देहरादून : ट्रेन से सफर करने वाले ध्यान दें, एक दिसंबर से 28 फरवरी...

कोहरे में सुस्त होने वाली भारतीय रेलवे अपनी रफ्तार को बरकरार रखने के लिए लगातार नए-नए तरीके इजाद कर रही है. इसके बावजूद कोहरे...

मुख्यमंत्री बनने के बाद पुष्कर सिंह धामी पहली बार पहुंचे अयोध्या, रामलला के किए...

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी मुख्यमंत्री बनने के बाद आज पहली बार दो दिवसीय दौरे पर भगवान राम की नगरी अयोध्या पहुंचे. ‌अयोध्या...

उत्तराखंड: क्या कांग्रेस देगी बीजेपी एक और झटका! हरक सिंह रावत- उमेश काऊ दिल्ली...

उत्तराखंड सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे यशपाल आर्य की इसी हफ्ते में कांग्रेस में वापसी हुई और अब राज्य की भाजपा सरकार में एक...

जम्मू-कश्मीर: दो पुलिस कांस्टेबल की हत्या में शामिल लश्कर का मोस्ट वाटेंड आतंकवादी मुश्ताक...

श्रीनगर|जम्मू-कश्मीर में दो पुलिस कांस्टेबल की हत्या में शामिल लश्कर का मोस्ट वाटेंड आतंकवादी मुश्ताक खांडे शनिवार को सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में...

समर्थकों की सुनी बात: राहुल गांधी ने कहा, कांग्रेस पार्टी का अध्यक्ष बनने के...

आज दिल्ली में आयोजित हुई कांग्रेस वर्किंग कमेटी में केरल के वायनाड सांसद राहुल गांधी ने पार्टी के भीतर अपने समर्थकों की बात सुन...

अनुशासन की दी सीख: नाराज नेताओं को सोनिया का सख्त संदेश, कहा- ‘मैं पूर्णकालिक...

आज गांधी परिवार के लिए अच्छा दिन कहा जा सकता है. देश की सबसे पुरानी पार्टी कांग्रेस में पिछले काफी समय से जारी 'आंतरिक...

अंत्योदय की भावना के साथ काम कर रही सरकारः सीएम धामी

सीएम धामी ने शनिवार को सर्वे चौक स्थित आईआरडीटी सभागार में उत्तराखण्ड जन विकास समिति  के ‘‘पहल 2021’’ अधिवेशन का शुभारम्भ किया.
यह भी पढ़ें -  जन्मदिन विशेष: मिसाइल-मैन और पूर्व राष्ट्रपति डॉ कलाम के विचार हमेशा प्रासंगिक रहेंगे
सीएम ने...