पंजाब के पूर्व प्रभारी हरीश रावत के बयानों पर मनीष तिवारी का हमला, कहा-कभी नहीं सुनी ऐसी गटरछाप भाषा

पंजाब कांग्रेस में जारी बवाल अभी शांत भी नही हुआ था कि अब आनंदपुर साहिब से कांग्रेस सांसद मनीष तिवारी ने राज्य के पूर्व प्रभारी हरीश रावत के बयानों पर बरसते हुए कहा कि पार्टी के इतिहास में ऐसी कभी गटरछाप भाषा नहीं सुनी.

कांग्रेस सांसद मनीष तिवारी ने रविवार को कई ट्वीट कर पंजाब के पूर्व कांग्रेस प्रभारी हरीश रावत पर निशाना साधा. मनीष तिवारी ने फाइनेंशियल एक्सप्रेस में छपे हरीश रावत के इंटरव्यू को ट्वीट करते हुए लिखा कि आदरणीय हरीश रावत जी, चूंकि आपने इस साक्षात्कार में मेरा जिक्र किया है.

इसलिए मैं यह कहना चाहता हूं कि मेरे मन में भी आपके लिए उस समय से सम्मान है जब आप कांग्रेस सेवा दल का नेतृत्व करते थे और मैं छात्र संगठन एनएसयूआई का नेतृत्व करता था. हालांकि कांग्रेस में मेरे 40 साल में इतनी अराजकता कभी नहीं देखी जो आज पंजाब कांग्रेस में हो रही है.

यह भी पढ़ें -  सांसदों का निलंबन वापसी की मांग के बीच राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा सवालों और सच से डरती है सरकार

आगे दूसरे ट्वीट में मनीष तिवारी ने लिखा कि आज प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष द्वारा कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्व की खुलकर अवहेलना की जा रही है और कांग्रेस के नेता आपस में बच्चों की तरह सार्वजनिक रूप से झगड़ने लगते हैं. एक दूसरे के खिलाफ ऐसी गटरछाप भाषा का इस्तेमाल किया जा रहा है जो कोई नहीं करता होगा.

पिछले 5 महीनों से पंजाब कांग्रेस के एक गुट दूसरे गुट से लड़ रहे हैं. क्या यह नहीं लगता है कि पंजाब के लोग इस डेली सोप ओपेरा को नापसंद करने लगे होंगे.

इसके अलावा उन्होंने यह भी कहा कि विडंबना यह है कि जिन लोगों ने सबसे अधिक नियमों के उल्लंघन और नुकसान की शिकायत की, दुर्भाग्य से वही इसके सबसे बड़े अपराधी बने हुए हैं. इतिहास में ऐसा कभी नहीं हुआ कि अफवाहों और वास्तविक शिकायतों की सुनवाई के लिए कमेटी बनाई गई हो.

यह भी पढ़ें -  120 साल के बाद भी नहीं बदला ब्लेड का डिजाइन, जानें इसके पीछे का कारण

यह एक गंभीर गलती थी. बरगाड़ी, ड्रग्स, पावर पीपीए, अवैध रेत खनन सहित जिन मुद्दों ने विधायकों और दूसरे कांग्रेस नेताओं को उद्वेलित किया, उसकी क्या स्थिति है. क्या कोई आंदोलन आगे बढ़ा है.

कांग्रेस सांसद मनीष तिवारी की यह प्रतिक्रिया हरीश रावत के द्वारा एक अंग्रेजी अखबार को दिए उस इंटरव्यू के बाद आई. जिसमें हरीश रावत से यह सवाल पूछा गया कि अमरिंदर सिंह के पद छोड़ने के बाद कांग्रेस के वरिष्ठ नेता व सांसद मनीष तिवारी ने एक अंग्रेजी अखबार को दिए एक साक्षात्कार में कहा कि राज्य के कांग्रेस प्रभारी यह बताने में विफल रहे कि कैसे कैप्टन ने सीमावर्ती राज्य में राजनीतिक स्थिति को संभाला और मुद्दों का समाधान किया या कि उन्होंने कैसे एक स्थिर सरकार चलाई.

यह भी पढ़ें -  राशिफल 03-12-2021: आज कर्क राशि की वाहन खरीदारी सम्भव, जानें अन्य का हाल

इस सवाल के जवाब में हरीश रावत ने कहा कि मनीष तिवारी जी हमारे बहुत वरिष्ठ नेता हैं, बहुत सक्षम और बुद्धिमान हैं. मुझे उनसे बड़ा लगाव है. लेकिन उन्हें पंजाब की जमीनी स्थिति को समझना चाहिए. यह सिर्फ सुरक्षा का मामला नहीं है, बल्कि सरकार के बने रहने का भी मामला है.

जब विधायक बगावत कर रहे होते हैं तो सरकार की स्थिरता खतरे में पड़ जाती है. कैप्टन ने शायद ही कभी कांग्रेस विधायक दल की बैठक बुलाई या अपने विधायकों के बैठकर राज्य के मुद्दों पर विचार किया.

Related Articles

Stay Connected

58,944FansLike
3,159FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

-- Advertisement --

--Advertisement--
--Advertisement--

Latest Articles

उत्तराखंड: जनसभा को संबोधित करने 16 दिसंबर को दून आयेंगे राहुल गांधी

0
आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर राजनीतिक पार्टियों ने अपनी तैयारियां शुरू कर दी हैं. कल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली के जवाब में कांग्रेस...

नेवी चीफ आर हरि कुमार ने कहा- चीन की तरफ से मिलने वाली चुनौतियों...

0
मानव रहित प्रणालियों के रोडमैप पर नौसेना प्रमुख एडमिरल आर हरि कुमार हमारे पास स्वदेशी मानव रहित हवाई, पानी के भीतर और स्वायत्त प्रणालियों...

IND vs NZ 2nd Test: अंतिम सत्र शुरू, टीम इंडिया का स्कोर...

0
भारत और न्यूजीलैंड के बीच दो मैचों की टेस्ट सीरीज का आज दूसरा और आखिरी मुकाबला है. इस सीरीज का पहला मैच ड्रॉ होने के...

पीएम मोदी की रैली को सफल बनाने के लिए भाजपा नेताओं ने झोंकी पूरी...

0
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की देहरादून में चार दिसंबर को होने वाली रैली को भव्य बनाने के लिए भाजपा ने पूरी ताकत झोंक दी है....

मायावती ने भाजपा, सपा, कांग्रेस पर साधा निशाना, चुनावी वादों को लेकर कही ये...

0
बहुजन समाज पार्टी (बसपा) मुखिया मायावती 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर काफी सक्रिय हैं. इसीलिए वह ट्वीटर के माध्यम से समय-समय...

देहरादून: सीएम धामी ने किया डांडी कांठी क्लब की स्मारिका 2021 ‘दृढ़ संकल्प’ का...

0
शुक्रवार को मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने मुख्यमंत्री आवास में डांडी कांठी क्लब की स्मारिका 2021 ‘दृढ़ संकल्प’ का विमोचन किया. मुख्यमंत्री ने कहा...

पीएम मोदी का देहरादून दौरा: सीएम धामी ने स्थलीय निरीक्षण कर लिया विभिन्न व्यवस्थाओं...

0
शुक्रवार को मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने परेड ग्राउंड का स्थलीय निरीक्षण कर विभिन्न व्यवस्थाओं का जायजा लिया. 4 दिसम्बर 2021 को परेड ग्राउण्ड, देहरादून...

लाइव रिपोर्ट: पीएम मोदी की देहरादून में रैली कल, खराब मौसम के बाद भी...

0
उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में तीन दिनों से मौसम खराब है. धूप के दर्शन नहीं हुए, बादल छाए हुए हैं. ऊपरी इलाकों पहाड़ पर...

दिल्ली में ‘ओमिक्रॉन’ की दस्तक, मिले 12 संदिग्ध मरीज

0
राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस के नए वेरिएंट ‘ओमिक्रॉन’ के 12 संदिग्ध मरीज मिले हैं. सभी को लोक नायक जय प्रकाश नारायण अस्पताल...

आंध्र प्रदेश में चक्रवात जवाद का खौफ: सरकार ने दिया दो दिनों तक स्कूल...

0
आंध्र प्रदेश में चक्रवात जवाद के खौफ से सरकार ने विशाखापत्तनम और श्रीकाकुलम जिलों में स्कूलों को बंद करने का आदेश दिया गया है....