“भीख में आज़ादी” वाले बयान पर कंगना ने की पद्मश्री वापस करने की पेशकश, कही ये बात

बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनोट अपने “भीख में आज़ादी” वाले ब्यान को लेकर एक बार फिर चर्चा में है. उनके बयान के बाद पॉलिटिकल पार्टीज के साथ-साथ सोशल मीडिया पर कई लोग भी उनके पीछे पड़ गए हैं. पर फिर से कंगना ने इंस्टाग्राम पर स्टोरी लगा अपने बयान पर सफाई दी है.

बता दें कि कंगना ने टाइम नाउ नवभारत के इंटरव्यू में कहा था कि हमें भीख में आजादी मिली है. जिसके बाद उनके इस बयान पर हर तरफ आलोचना हो रही है. कई पॉलिटिकल पार्टीज का कहना है कि उनपर देशद्रोह का मुकदमा चलाया जाए. इसी बीच कंगना ने लंबी इंस्टाग्राम स्टोरी लगा कर अपने बयान को सही बताया है. उन्होंने लिखा है कि वह अपना पद्मश्री सम्मान वापस कर देंगी अगर कोई उन्हें ये बताएगा कि 1947 में क्या हुआ था.

यह भी पढ़ें -  उत्तराखंड के पहाड़ी इलाकों में हुई जमकर बर्फबारी, खुश नजर आए पर्यटक

उन्होंने एक कटिंग की फ़ोटो लगा कर लिखा है कि “सब कुछ बहुत स्पष्ट रूप से मेंशन है उसी इंटरव्यू में 1857 में पहली लड़ाई हुई थी स्वतंत्रता के लिए कई लोगों ने बलिदान दिया था जैसे सुभाष चंद्र बोस, रानी लक्ष्मी बाई और वीर सावरकर जी. 1857 मुझे पता है कौन सी लड़ाई 1947 में लड़ी गई थी, मैं इससे अवेयर नहीं हूं.

यह भी पढ़ें -  5 दिसम्बर 2021 पंचांग: जानें आज का शुभ मुहूर्त, कैलेंडर-व्रत और त्यौहार

मैंने रानी लक्ष्मीबाई पर बनी फिल्म में काम किया है. 1857 की क्रांति पर काफी रिसर्च किया है. राष्ट्रवाद के साथ दक्षिणपंथ का भी उभार हुआ लेकिन अचानक से ये गायब कैसे हो गया? और गांधी ने भगत सिंह को क्यों मरने दिया.. आखिर क्यों नेता बोस की हत्या हुई और उन्हें गांधी जी सपोर्ट क्यों नहीं मिला. क्यों बंटवारे की रेखा अंग्रेज द्वारा खींची गई आजादी की खुशियां मनाने के बजाय भारतीय एक दूसरे को मार रहे थे. मुझे इन सभी सवालों के जवाब चाहिए जिसके लिए मुझे मदद की जरूरत है.

यह भी पढ़ें -  पूर्व मंत्री यशपाल आर्य और उनके पुत्र पर हमले के विरोध में कांग्रेसियों का देहरादून में प्रदर्शन

Related Articles

Stay Connected

58,944FansLike
3,157FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

-- Advertisement --

--Advertisement--
--Advertisement--

Latest Articles

पंजाब सीएम चन्नी ने भी की पाकिस्तान के साथ व्यापार खोलने की मांग

0
पंजाब कांग्रेस चीफ नवजोत सिंह सिद्धू के साथ अब मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने भी हाथ मिलाया है. बता दें कि सीएम चन्नी ने...

केजरीवाल का बड़ा ऐलान- “5 जनवरी को दिल्ली सरकार अंबेडकर के जीवन पर आधारित...

0
आज बाबा साहेब डॉ. भीम राव आंडेबकर की 65वीं पुण्यतिथि है. इस उपलक्ष में दिल्ली के सीएम केजरीवाल ने कहा कि बाबा साहेब के...

उत्तराखंड: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली के जवाब में राहुल गांधी आयेंगे दून, यहाँ...

0
चुनावी रैली को संबोधित करने 4 दिसम्बर को प्रधानमंत्री मोदी के दून आने के बाद कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी भी 16...

उत्तराखंड के पहाड़ी इलाकों में हुई जमकर बर्फबारी, खुश नजर आए पर्यटक

0
देवभूमि यानी उत्तराखंड में आज सुबह जबरदस्त बर्फबारी होने से पहाड़ों पर पहुंचे सैलानी खुश नजर आए. इस दौरान उन्होंने बर्फबारी के बीच खूब...

नागालैंड गोलीबारी: सीएम नेफियू रियो ने की राज्य से अफस्पा हटाए जाने की मांग,...

0
कोहिमा|सोमवार को नागालैंड के मोन जिले में सेना की गोलीबारी में मारे गए लोगों के अंतिम संस्कार में शामिल होने के बाद राज्य के...

तेलंगाना आंदोलन के नेता सीएच विट्टल हुए बीजेपी में शामिल

0
तेलंगाना कर्मचारी संघ के पूर्व अध्यक्ष सीएच विट्टल अपने समर्थकों के साथ आज भारतीय जनता पार्टी (BJP) में शामिल होगये. उनके साथ चंदू श्रीनिवास राव,...

टीम इंडिया ने आईसीसी टेस्‍ट रैंकिंग में लगाई बड़ी छलांग, एक...

0
सोमवर को वानखेड़े स्‍टेडियम में खत्‍म हुए टेस्‍ट सीरीज के दूसरे और आखिरी मुकाबले में न्‍यूजीलैंड पर ऐतिहासिक जीत के साथ टीम इंडिया ने...

भारत और रूस के बीच रक्षा सहयोग में खुला एक और नया चैप्टर, दोनों...

0
भारत और रूस ने अपने रक्षा सहयोग को और मजबूत करते हुए हथियार निर्माण पर सोमवार को एक बड़ी डील की. दोनों देशों के...

बड़ी कामयाबी: कोरोना जंग के बीच भारत को मिली एक और उपलब्धि, देश की...

0
देश में ओमिक्रोन के बढ़ते मामलो के बीच भारत ने एक बड़ी उपलब्धि हासिल की है. देश की 50 फीसदी से अधिक आबादी का...

उत्तराखंड: बदरीनाथ मंदिर और आसपास की पूरी घाटी में हुई भारी बर्फबारी, देखे विडियो

0
सोमवार को बदरीनाथ मंदिर और आसपास की पूरी घाटी में भारी बर्फबारी हुई है. इससे पूरी घाटी बर्फ की सफेद चादर में लिपटी...