COP26: 200 देश एक जलवायु समझौते के लिए तैयार, भारत के रुख को मिली सराहना

लंदन|… शनिवार को जीवाश्म ईंधनों का उपयोग ‘चरणबद्ध तरीके से बंद करने के बजाय, इसके उपयोग को चरणबद्ध तरीके से कम करने’ के भारत के सुझाव को महत्व देते हुए ग्लासगो में सीओपी26 शिखर सम्मेलन में लगभग 200 देश एक जलवायु समझौते के लिए तैयार हो गए.

इसके साथ ही ग्लासगो जलवायु समझौता हानिकारक जलवायु प्रभाव वाली ग्रीनहाउस गैसों के लिए जिम्मेदार कोयले के उपयोग को कम करने की योजना बनाने वाला पहला संयुक्त राष्ट्र जलवायु समझौता बन गया है. समझौते में शामिल देश अगले साल कार्बन कटौती पर चर्चा करने के लिए भी सहमत हुए हैं ताकि ग्लोबल वार्मिंग को 1.5 डिग्री सेल्सियस तक सीमित करने के लक्ष्य तक पहुंचा जा सके.

यह भी पढ़ें -  Covid19: देश में मिले कोरोना के 8,309 नए मामले, 236 की मौत

सीओपी26 के अध्यक्ष आलोक शर्मा ने समझौते की घोषणा करते हुए कहा, ‘अब हम इस धरती और इसके वासियों के लिए एक उपलब्धि के साथ इस सम्मेलन से विदा ले सकते हैं.’ हालांकि, कई देशों ने जीवाश्म ईंधन पर भारत के रुख की आलोचना की.

केंद्रीय पर्यावरण मंत्री भूपेंद्र यादव ने ग्लासगो जलवायु शिखर सम्मेलन में पूछा कि कोई विकासशील देशों से कोयले और जीवाश्म ईंधन सब्सिडी को ‘चरणबद्ध तरीके से बंद करने’ के वादे की उम्मीद कैसे कर सकता है, जबकि उन्हें अब भी उनके विकास एजेंडा और गरीबी उन्मूलन से निपटना है.

यह भी पढ़ें -  देहरादून: मुख्य सचिव संधु ने की पर्यटन एवं नागरिक उड्डयन विभाग की समीक्षा, अधिकारियों को दिए ये निर्देश

पर्यावरण मंत्री यादव ने कहा, ‘अध्यक्ष महोदय (शर्मा) सर्वसम्मति बनाने के आपके निरंतर प्रयासों के लिए धन्यवाद. हालांकि, सर्वसम्मति बन नहीं पायी. भारत इस मंच पर रचनात्मक बहस और न्यायसंगत और न्यायपूर्ण समाधान के लिए हमेशा तैयार है.’

मंत्री ने कहा कि जीवाश्म ईंधन और उनके उपयोग ने दुनिया के कुछ हिस्सों को सम्पन्नता और बेहतरी प्राप्त करने में सक्षम बनाया है और किसी विशेष क्षेत्र को लक्षित करना ठीक नहीं है.

यह भी पढ़ें -  कोरोना वायरस के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन को लेकर कई राज्यों में भी बढ़ी सख्ती

यादव ने जोर देकर कहा कि हर देश अपनी राष्ट्रीय परिस्थितियों, ताकत और कमजोरियों के अनुसार ‘नेट-जीरो’ के लक्ष्य पर पहुंचेगा. उन्होंने कहा, ‘विकासशील देशों को वैश्विक कार्बन बजट में अपने उचित हिस्से का अधिकार है और वे इस दायरे में जीवाश्म ईंधन के जिम्मेदार उपयोग के हकदार हैं.

ऐसी स्थिति में, कोई कैसे उम्मीद कर सकता है कि विकासशील देश कोयला और जीवाश्म ईंधन सब्सिडी ​​को चरणबद्ध तरीके से समाप्त करने के बारे में वादा कर सकते हैं, जबकि ​​विकासशील देशों को अब भी अपने विकास एजेंडा और गरीबी उन्मूलन से निपटना है.’

Related Articles

Stay Connected

58,944FansLike
3,152FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

-- Advertisement --

--Advertisement--
--Advertisement--

Latest Articles

देहरादून: मुख्य सचिव संधु ने की पर्यटन एवं नागरिक उड्डयन विभाग की समीक्षा, अधिकारियों...

0
देहरादून| सोमवार को मुख्य सचिव डॉ. एस. एस. संधु ने सचिवालय में पर्यटन एवं नागरिक उड्डयन विभाग की समीक्षा की. मुख्य सचिव ने अधिकारियों...

राशिफल 30-11-2021: आज कर्क राशि वालों का आर्थिक पक्ष रहेगा मजबूत, जानिए अन्य का...

0
मेष-: आज आपके पारिवारिक रिश्ते मजबूत होंगे. थोड़ी-सी मेहनत करके आप अपने उद्देश्यों को आसानी से प्राप्त कर लेंगे. वृष-: आज घर का माहौल...

30 नवम्बर 2021 पंचांग: जानें आज का शुभ मुहूर्त, कैलेंडर-व्रत और त्यौहार

0
आपके लिए आज का दिन शुभ हो. अगर आज के दिन यानी 30 नवम्बर 2021 को कार लेनी हो, स्कूटर लेनी हो, दुकान का...

पराग अग्रवाल होंगे ट्विटर के नए सीईओ, जैक डॉर्सी ने दिया इस्तीफा

0
माइक्रो ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म ट्विटर के मुख्य कार्यकारी अधिकारी जैक डॉर्सी ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, भारतीय मूल...

उत्तराखंड: सीएम पुष्कर सिंह धामी ने की ‘ओमीक्रोन’पर हाई-लेवल मीटिंग, दिए ये...

0
सोमवार को सीएम पुष्कर सिंह धामी ने कोविड सैम्पलिंग को बढ़ाने और कान्टैक्ट ट्रेसिंग को सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं. कोविड के बढ़ते...

Covid19: उत्तराखंड में मिले 8 नए कोरोना संक्रमित, एक मरीज की मौत

0
उत्तराखंड में बीते 24 घंटे में आठ नए कोरोना संक्रमित मिले हैं. वहीं, एक मरीज की मौत हुई है. 18 मरीजों को ठीक होने के बाद घर...

देहरादून: मत्स्य पालन कर आत्मनिर्भर बनने के लिए प्रशिक्षण कार्यक्रम, प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना...

0
प्रधानमंत्री मत्स्यसम्पदा योजना एक दिवसीय जागरूकता एवं प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन राष्ट्रीय सहकारी विकास निगम द्वारा आज 29 नवम्बर को IRDT,ऑडिटोरियम, देहरादून...

पेटीएम पेमेंट्स बैंक ने लॉन्च किया ट्रांजिट कार्ड, जानें कैसे और कहां होगा इस्‍तेमाल

0
देश की सबसे बड़ी ई-वॉलेट कंपनी पेटीएम ने हाल में एक प्रीपेड रुपे कार्ड पेटीएम वॉलेट ट्रांजिट कार्ड पेश किया है. इस कार्ड...

दिल्ली में डेंगू का कहर जारी: अब तक सामने आए 8276 मामले, इस महीने...

0
कोरोना संक्रमण के साथ साथ डेंगू भी खतरे की घंटी बजा रहा है. अगर बात करे दिल्ली की तो इस सीजन में डेंगू के...

उत्तराखंड: देहरादून अनाथालय के नाबालिग के साथ हुआ दुष्कर्म, आरोपी भी नाबालिग

0
राजधानी देहरादून के एक अनाथ आश्रम में एक नाबालिग के साथ दुष्कर्म का मामला सामने आया है. यह अनाथालय खुड़बुड़ा पुलिस चौकी इलाके में...