ममता बनर्जी ने सांसद महुआ मोइत्रा को लगाई फटकार, जानिए इसके पीछे दीदी की कहानी

इन दिनों तृणमूल कांग्रेस में हलचल मची है. वजह है पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और टीएमसी सुप्रीमो ममता बनर्जी का एक वायरल वीडियो. इस वीडियो में देखा जा सकता है कि एक मीटिंग के दौरान उन्होंने सांसद महुआ मोइत्रा को फटकार लगा दी.

ये रिव्यू मीटिंग गुरुवार को नादिया ज़िले के कृष्णानगर में बुलाई गई थी. इस प्रकरण ने महुआ के अपने घरेलू क्षेत्र में पार्टी के भीतर लंबे समय से चल रहे मतभेद और अंदरूनी कलह को उजागर कर दिया है. इस वीडियो से ये साफ संकेत मिल रहा है कि ममता ने महुआ को नादिया जिले की राजनीति से दूर रहने की चेतावनी दे डाली है.

बता दें कि नादिया में निकाय चुनाव होने हैं. लेकिन टीएमसी में सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है. लिहाजा कार्यकर्ताओं के बीच तनाव कम करने को लेकर ममता ने समीक्षा बैठक के दौरान कृष्णानगर से सांसद महुआ की खिंचाई कर डाली.

यह भी पढ़ें -  दिल्ली: त्यागराज स्टेडियम में कुत्ता टहलाना आईएएस दपंति को पड़ा भारी, गृह मंत्रालय ने किया ट्रांसफर

ममता ने कहा कि टिकट का बंटवारा पार्टी द्वारा तय किया जाएगा. झगड़े को शांत करने के लिए ममता ने सार्वजनिक रूप से उन्हें गुटबाजी में शामिल न होने की चेतावनी दी और उन्हें जिले की राजनीति में सभी को साथ लेकर काम करने की सलाह दे डाली.

दरअसल ममता बनर्जी जिस बात को लेकर महुआ मोइत्रा को फटकार लगा रही है, वो घटना पिछले महीने की है. कुछ महिला प्रदर्शनकारियों ने कृष्णानगर डाकघर मोड़ पर जमकर हंगामा किया था. इन सबने ‘बांग्ला अबास योजना’ योजना में भ्रष्टाचार का आरोप लगाया.

उन्होंने इस संबंध में जयंत साहा और उनके सहयोगियों के खिलाफ जांच की भी मांग की थी. हंगामे का ये वीडियो भी वायरल हो गया था. साथ ही वीडियो ने स्थानीय मीडिया में सुर्खियां बटोरी थीं. कहा जा रहा था कि जो लोग प्रदर्शन कर रहे थे, वो महुआ के समर्थक थे.

यह भी पढ़ें -  चेन्नई: पीएम मोदी ने किया 31,500 करोड़ रुपये परियोजनाओं का शिलान्यास

एकअंग्रेजी अखबार ने सूत्रों के हवाले से लिखा है कि ममता नादिया जिले में चल रही अंदरूनी कलह को लेकर ‘बहुत चिंतित’ हैं. इस साल की शुरुआत में राज्य विधानसभा चुनावों में, जब महुआ नादिया में पार्टी अध्यक्ष थीं, सीमावर्ती जिला उन कुछ क्षेत्रों में से था, जहां भाजपा ने अच्छा प्रदर्शन किया था. जिसमें टीएमसी कुल 17 में से 9 सीटों पर हार गई थी. इसके बाद, हालांकि, कृष्णानगर उत्तर भाजपा विधायक मुकुल रॉय टीएमसी में शामिल हो गए, जबकि बाद में अक्टूबर में उपचुनावों में शांतिपुर सीट से टीएमसी को जीत मिल गई.

टीएमसी की आंतरिक रिपोर्ट में कहा गया था कि पार्टी नादिया जिले में अंदरूनी कलह की वजह से इतनी सीटें हार गई थी. बाद में महुआ को उनके पद से हटा दिया गया. पार्टी ने जिला संगठन पद को विभाजित कर दिया. रत्ना घोष को राणाघाट अध्यक्ष नियुक्त किया गया और जयंत साहा को कृष्णानगर का अध्यक्ष बनाया गया.

यह भी पढ़ें -  आय से अधिक संपत्ति मामले में हरियाणा के पूर्व सीएम ओम प्रकाश चौटाला को चार साल की सजा, 50 लाख रुपये का जुर्माना भी लगाया

महुआ और जयंत गुटों के बीच जिले और कृष्णानगर नगर पालिका को नियंत्रित करने के लिए खींचतान तेज हो गई है. जयंत ने नगर पालिका के अध्यक्ष असीम साहा को हटा दिया और अब अपने ही आदमी नरेश दास को इसका प्रशासक नियुक्त कर दिया है. इस बीच महुआ को विधानसभा चुनाव से पहले पार्टी प्रभारी के तौर पर गोवा भेजा गया था.

टीएमसी के एक वरिष्ठ नेता ने कहा, ‘महुआ के जिलाध्यक्ष बनने के बाद, वो अकेले ही संगठन को नियंत्रित करना चाहती थीं और इस तरह सभी वरिष्ठ नेता वहां फंस गए. अंदरूनी कलह तेज हो गई जिससे जिले की 9 सीटों का नुकसान हुआ. अब पार्टी नेतृत्व महुआ को जिले की राजनीति में घेरना चाहता है और इस वजह से मुख्यमंत्री ने उन्हें ये संदेश दिया.’

Related Articles

Stay Connected

58,944FansLike
3,245FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

Latest Articles

राज्यसभा चुनाव: आप ने पद्म श्री संत बलबीर सिंह सिंचवाल और पद्म विक्रमजीत सिंह...

0
पंजाब में आम आदमी पार्टी (AAP) ने पद्म श्री संत बलबीर सिंह सिंचवाल और पद्म विक्रमजीत सिंह साहनी को राज्यसभा के सदस्य के रूप...

बिना नाम के सालों से ट्रेन का बसेरा है ये स्टेशन, ट्रेन रुकने पर...

0
दुनिया में मौजूद हर चीज की एक पहचान होती है. ये पहचान उसके नाम से की जाती है. चाहे इंसान हो या कोई चीज,...

डीजीसीए में इंडिगो पर लगाया 5 लाख रुपये का जुर्माना, जानिए कारण

0
नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (DGCA) ने रांची हवाई अड्डे पर एक विशेष बच्चे के मामले को पर्याप्त रूप से संभालने में विफल रहने के लिए...

मुख्यमंत्रियों की जुगलबंदी: चंपावत में सीएम योगी और धामी के रोड शो में दिखाई...

0
आज चंपावत के टनकपुर में दो युवा मुख्यमंत्रियों का साथ उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड की जनता को खूब भाया. बता दें कि चंपावत में...

AIIMS Rishikesh: एमबीबीएस के छात्र ने छठवीं मंजिल से छलांग लगाकर दी जान

0
अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) ऋषिकेश के एमबीबीएस छात्र ने मेडिकल कॉलेज की छठवीं मंजिल से छलांग लगा दी. आनन-फानन छात्र को ट्रामा सेंटर...

एक और मौका: यूजीसी ने सीयूईटी की प्रवेश परीक्षा के लिए बढ़ाई आवेदन करने...

0
यह उन विद्यार्थियों के लिए अच्छी खबर है जिन्होंने अभी तक किसी कारणवश सीयूईटी प्रवेश परीक्षा में अप्लाई नहीं किया है. ऐसे विद्यार्थियों के...

Corona Vaccination: देश की कम से कम 88 फीसद व्यस्क आबादी को लग चुकी...

0
केंद्रीय स्वास्थ्य व परिवार कल्याण मंत्री मनसुख मंडाविया ने शनिवार को जानकारी दी कि देश में 88 फीसद से अधिक व्यस्क आबादी को वैक्सीन...

‘यूपी की तरह उत्तराखंड में भी चलेगा बुल्डोजर’: जनसभा में बोले सीएम धामी

0
चंपावत विधानसभा उपचुनाव में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी का प्रचार गरमाने के लिए शनिवार को उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पहुंच गए हैं. टनकपुर...

चंपावत विधानसभा उपचुनाव: सीएम पुष्कर धामी के लिए प्रचार करने चंपावत पहुंचे यूपी ...

0
भाजपा के लिए प्रतिष्ठा का सवाल बन चुके चंपावत विधानसभा उपचुनाव में पार्टी को जीत दिलाने के लिए भाजपा ने अब यूपी के मुख्यमंत्री...

सावरकर की जयंती पर फिल्म ‘स्वतंत्र वीर सावरकर’ का पहला लुक आया सामने, रणदीप...

0
स्वतंत्रता सेनानी वीर सावरकर की 28 मई यानी आज 139वीं जयंती मनाई जा रही है. इस खास मौके पर उनके जीवन पर बनने वाली...
%d bloggers like this: