गंगोत्री विधानसभा सीट: आजादी के बाद भी कायम ये मिथक, जानिए इससे जुड़ी रोचक जानकारी

उत्तराखंड में 14 फ़रवरी को विधानसभा के चुनाव होने हैं. प्रदेश में विधानसभा की कुल 70 सीटें हैं. 2017 के विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी ने प्रचंड बहुमत के साथ जीत दर्ज करते हुए सरकार बनाई थी. गंगोत्री सीट से भारतीय जनता पार्टी के गोपाल सिंह विधायक चुने गए हैं.

गंगोत्री मां गंगा का उद्गम स्थल होने के कारण करोड़ों लोगों की आस्था का एक बड़ा केंद्र है. यहां देश-विदेश से श्रद्धालु और पर्यटक आते हैं. गंगोत्री विधानसभा सीट टिहरी गढ़वाल संसदीय क्षेत्र के अंतर्गत आती है. यहां के लोगों की आय का मुख्य जरिया पर्यटकों और श्रद्धालुओं से होने वाली कमाई से है. जो कि 6 महीने तक ही रहती है.

9 नवंबर 2000 को उत्तर प्रदेश से अलग होकर उत्तराखंड नया राज्य बना था. उत्तराखंड के नए राज्य बनने से पहले उत्तरकाशी विधानसभा सीट हुआ करती थी, लेकिन राज्य के गठन के बाद उत्तरकाशी को जिला बनाया गया था. इसके अंतर्गत 3 विधानसभा सीटें आती हैं. इनमें पुरोली, यमुनोत्री और गंगोत्री विधानसभा सीट शामिल है.

यह भी पढ़ें -  एक्ट्रेस अमरीन की हत्या में शामिल आतंकी ढेर, घाटी में 3 दिन में 10 आतंकियों का सफाया

गंगोत्री विधानसभा सीट को लेकर लोगों के बीच एक मिथक आज भी कायम है कि जो प्रत्याशी इस सीट से जीतता है सरकार उसी की बनती है. 1958 के विधानसभा चुनाव से लेकर 2017 के विधानसभा चुनाव में भी यही देखा गया है. 2000 में नए राज्य के गठन के बाद भी यह मिथक जस का तस बना रहा.

इस सीट पर हुए विधानसभा चुनावों के परिणाम
2002 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस पार्टी के उम्मीदवार विजय पाल सिंह यहां से विधायक चुने गए थे. उन्होंने सीपीआई के कमला राम नौटियाल को हराया था.

2007 के विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार को गोपाल सिंह रावत विधायक चुने गए थे. उन्होंने कांग्रेस पार्टी के उम्मीदवार विजय पाल सिंह को हराया था.

यह भी पढ़ें -  उत्तराखंड: सीएस ने उत्तराखण्ड स्टार्टअप काउंसिल की बैठक में दिए निर्देश, पालिसी में सुधार की होगी कोशिश

2012 विधानसभा चुनाव के आंकड़े
2012 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस पार्टी के उम्मीदवार में विजयपाल सिंह विधायक चुने गए थे. उन्होंने भारतीय जनता पार्टी के विधायक रहे गोपाल सिंह रावत को हराया था. इस चुनाव में कांग्रेस के विजय पाल सिंह को 20,246 वोट मिले थे, जबकि भाजपा के गोपाल सिंह रावत को 13,223 वोट मिले थे. तीसरे नंबर पर निर्दलीय उम्मीदवार सुरेश सिंह थे,जिन्हें 6,436 मिला था.

2012 के विधानसभा चुनाव में इस सीट पर पार्टियों का वोट शेयर
2012 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस पार्टी का वोट शेयर 40.13 प्रतिशत था, जबकि भारतीय जनता पार्टी का वोट शेयर 26.13 प्रतिशत निर्दलीय उम्मीदवार सुरेश सिंह का वोट शेयर 12.76 प्रतिशत था.

यह भी पढ़ें -  उत्तराखंड: भाजपा विधायक किशोर उपाध्याय की भाभी कोच्चि में गिरफ्तार, ढाई साल से थी फरार

2017 विधानसभा चुनाव के आंकड़े
2017 के विधानसभा चुनाव में इस सीट पर भारतीय जनता पार्टी के पूर्व विधायक रहे गोपाल सिंह रावत विधायक चुने गए थे. इस चुनाव में भाजपा के गोपाल सिंह को 25,683 वोट मिला था, जबकि कांग्रेस पार्टी के पूर्व विधायक रहे विजय पाल सिंह को 16,073 वोट मिला था. तीसरे नंबर पर निर्दलीय उम्मीदवार सूरत राम नौटियाल थे ,जिन्हें 9,491 वोट मिला था.

2017 के विधानसभा चुनाव में इस सीट पर पार्टियों का वोट शेयर
2017 के विधानसभा चुनाव में इस सीट पर भारतीय जनता पार्टी का वोट शेयर 46.94 प्रतिशत था, जबकि कांग्रेस पार्टी का वोट शेयर 29.37 प्रतिशत और निर्दलीय उम्मीदवार को वोट शेयर 17.34 प्रतिशत था.

Related Articles

Stay Connected

58,944FansLike
3,245FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

Latest Articles

पाक पीएम शहबाज शरीफ ने सुनवाई के दौरान खुद को बता डाला मजनूं

0
लाहौर|..... शनिवार को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ ने कोर्ट में एक मामले की सुनवाई के दौरान खुद को मजनूं बता डाला. पाक पीएम...

राज्यसभा चुनाव: आप ने पद्म श्री संत बलबीर सिंह सिंचवाल और पद्म विक्रमजीत सिंह...

0
पंजाब में आम आदमी पार्टी (AAP) ने पद्म श्री संत बलबीर सिंह सिंचवाल और पद्म विक्रमजीत सिंह साहनी को राज्यसभा के सदस्य के रूप...

बिना नाम के सालों से ट्रेन का बसेरा है ये स्टेशन, ट्रेन रुकने पर...

0
दुनिया में मौजूद हर चीज की एक पहचान होती है. ये पहचान उसके नाम से की जाती है. चाहे इंसान हो या कोई चीज,...

डीजीसीए में इंडिगो पर लगाया 5 लाख रुपये का जुर्माना, जानिए कारण

0
नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (DGCA) ने रांची हवाई अड्डे पर एक विशेष बच्चे के मामले को पर्याप्त रूप से संभालने में विफल रहने के लिए...

मुख्यमंत्रियों की जुगलबंदी: चंपावत में सीएम योगी और धामी के रोड शो में दिखाई...

0
आज चंपावत के टनकपुर में दो युवा मुख्यमंत्रियों का साथ उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड की जनता को खूब भाया. बता दें कि चंपावत में...

AIIMS Rishikesh: एमबीबीएस के छात्र ने छठवीं मंजिल से छलांग लगाकर दी जान

0
अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) ऋषिकेश के एमबीबीएस छात्र ने मेडिकल कॉलेज की छठवीं मंजिल से छलांग लगा दी. आनन-फानन छात्र को ट्रामा सेंटर...

एक और मौका: यूजीसी ने सीयूईटी की प्रवेश परीक्षा के लिए बढ़ाई आवेदन करने...

0
यह उन विद्यार्थियों के लिए अच्छी खबर है जिन्होंने अभी तक किसी कारणवश सीयूईटी प्रवेश परीक्षा में अप्लाई नहीं किया है. ऐसे विद्यार्थियों के...

Corona Vaccination: देश की कम से कम 88 फीसद व्यस्क आबादी को लग चुकी...

0
केंद्रीय स्वास्थ्य व परिवार कल्याण मंत्री मनसुख मंडाविया ने शनिवार को जानकारी दी कि देश में 88 फीसद से अधिक व्यस्क आबादी को वैक्सीन...

‘यूपी की तरह उत्तराखंड में भी चलेगा बुल्डोजर’: जनसभा में बोले सीएम धामी

0
चंपावत विधानसभा उपचुनाव में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी का प्रचार गरमाने के लिए शनिवार को उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पहुंच गए हैं. टनकपुर...

चंपावत विधानसभा उपचुनाव: सीएम पुष्कर धामी के लिए प्रचार करने चंपावत पहुंचे यूपी ...

0
भाजपा के लिए प्रतिष्ठा का सवाल बन चुके चंपावत विधानसभा उपचुनाव में पार्टी को जीत दिलाने के लिए भाजपा ने अब यूपी के मुख्यमंत्री...
%d bloggers like this: