पूरे विधि विधान के साथ बद्रीनाथ धाम के कपाट भी खुले, श्रद्धालु अगले 6 महीने तक कर सकेंगे बाबा बद्रीनाथ के दर्शन

उत्तराखंड के चमोली जिले में स्थित बाबा बद्रीनाथ धाम के कपाट भी रविवार 8 मई को सुबह पूरे विधि विधान के साथ श्रद्धालुओं के लिए खोल दिए गए. कपाट खुलने से पहले बद्रीनाथ मंदिर को 15 क्विंटल फूलों से सजाया गया. कपाट को खोलने के लिए तैयारी शनिवार से ही शुरू हो गई थी.

अब श्रद्धालु अगले 6 महीने तक बाबा बद्रीनाथ के दर्शन कर सकेंगे. ‌‌ इससे पहले श्री कुबेर जी बामणी गांव से लक्ष्मी द्वार से मंदिर में पहुंचे. वहीं श्री उद्धव जी की डोली मुख्य द्वार से अंदर लाई गई. रावल (मुख्य पुजारी) ने गर्भगृह में प्रवेश कर मां लक्ष्मी को मंदिर में विराजमान किया.

यह भी पढ़ें -  एमएनएस चीफ राज ठाकरे ने बताया क्यों रद्द किया अयोध्या दौरा!

इसके बाद भगवान के सखा उद्धव जी और देवताओं के खजांची कुबेर जी मंदिर गर्भगृह में विराजमान किए गए. बद्रीनाथ धाम के कपाट श्रद्धालुओं के लिए विधि-विधान, मंत्रोच्चार और सेना बैंड की धुनों के साथ आज सुबह 6 बजकर 15 मिनट पर खोल दिए गए.

जैसे ही भगवान बदरीनाथ के कपाट खुले तो पूरा धाम ‘जय बदरीविशाल’ के जयकारों से गूंज उठा. इसी के साथ उत्तराखंड स्थित चारों धामों के कपाट श्रद्धालुओं के लिए खुल गए हैं. सबसे पहले 3 मई को गंगोत्री, यमुनोत्री धाम के कपाट खोले गए थे उसके बाद 6 मई को बाबा केदारनाथ धाम के कपाट खोले गए.

यह भी पढ़ें -  राशिफल 22-05-2022: आज मेष राशि के छात्रों को पढ़ाई में मिलेगी सफलता, जानिए अन्य का हाल

कोरोना काल में लगभग दो साल बाद बद्रीनाथ धाम के कपाट आम भक्तों के लिए खोले गए हैं. अब अगले छह महीने तक भक्त बद्री विशाल के दर्शन कर सकेंगे.

बता दें कि बद्रीनाथ धाम में रोजाना 15 हजार, केदारनाथ में 12 हजार, गंगोत्री में 7 हजार और यमुनोत्री में 4 हजार श्रद्धालुओं को ही प्रतिदिन दर्शन करने की अनुमति होगी.

यह भी पढ़ें -   उत्तराखंड चारधाम यात्रा 2022: चारधाम यात्रा में अभी तक लगभग आठ लाख श्रद्धालु पहुंचे

Related Articles

Stay Connected

58,944FansLike
3,241FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

Latest Articles

पौराणिक मान्यताओं के अनेक राज समेटे हुए है बाणासुर का किला

0
उत्तराखंड़ को देवों की भूमि (देवभुमी)कहा जाता है, कहते हैं ऋषि मुनियों ने सैकड़ों साल तपस्या करके इसे दिव्यभूमि बनाया है, जिसका वैभव पाने...

जापान की राजधानी टोक्यो पहुंचे पीएम मोदी, क्वाड शिखर सम्मेलन में होंगे शामिल

0
टोक्यो|...प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज (सोमवार को) जापान की राजधानी टोक्यो पहुंचे. यहां मंगलवार को वह क्वाड शिखर सम्मेलन में शामिल होंगे. जापान पहुंचने के...

चमोली: जानिए नीति घाटी और रीणी के झूला पुल का इतिहास

0
रैणी गाँव गौरा देवी और चिपको आंदोलन के पहले से ही एक समृद्ध प्रदेश के रुप में जाना जाता था. रैणी गाँव के ऊपर...

राशिफल 23-05-2022: जानें अपनी राशि के अनुसार आज के दिन का हाल

0
मेष-: आज का दिन शुभ साबित होगा. आप अपने लक्ष्यों को पूरा करने में सफल रहेंगे. पदोन्नति के प्रबल आसार दिखाई दे रहे हैं.वृष-:...

23 मई 2022 पंचांग: जानें आज का शुभ मुहूर्त, कैलेंडर-व्रत और त्यौहार

0
आपके लिए आज का दिन शुभ हो. अगर आज के दिन यानी 23 मई 2022 को कार लेनी हो, स्कूटर लेनी हो, दुकान का...

बैडमिंटन खिलाड़ी साइना नेहवाल पिता के साथ बाबा केदारनाथ-बद्रीनाथ धाम पहुंचीं

0
भारतीय बैडमिंटन की प्रसिद्ध खिलाड़ी साइना नेहवाल ने रविवार को पिता हरवीर सिंह नेहवाल के साथ बाबा केदारनाथ और बद्रीनाथ धाम पहुंचकर पूजा-अर्चना की....

एप्पल के लिए भारत, वियतनाम भविष्य के संभावित उत्पादन केंद्र : रिपोर्ट

0
सैन फ्रांसिस्को|..... टेक के मामले में दिग्गज कंपनी एप्पल ने कथित तौर पर कहा है कि वह चीन के बाहर विनिर्माण का विस्तार करना...

वरुण धवन, कियारा आडवाणी की फिल्म जुग जुग जियो का ट्रेलर रिलीज

0
वरुण धवन, कियारा आडवाणी, अनिल कपूर और नीतू कपूर की फिल्म जुग-जुग जियो का ट्रेलर रिलीज हो गया है. जुग-जुग जियो एक फैमिली ड्रामा...

Ind Vs SA-T20: दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टीम इंडिया का ऐलान, किसे मिला और...

0
आईपीएल 2022 समाप्त होने के बाद अगले मीहने से भारतीय खिलाड़ी अंतरराष्ट्रीय मंच पर अपना दमखम दिखाते हुए नजर आएंगे. टीम इंडिया और दक्षिण...

टीएमसी में हुई भाजपा सांसद अर्जुन सिंह की वापसी

0
भाजपा के लोकसभा सांसद अर्जुन सिंह कोलकाता में पार्टी महासचिव अभिषेक बनर्जी की मौजूदगी में तृणमूल कांग्रेस में शामिल हो गए हैं. 2019 लोकसभा...
%d bloggers like this: