चमोली: ट्रेकर्स के लिए खुशखबरी! खुलने को तैयार है प्रसिद्ध फूलों की घाटी

ट्रेकर्स के लिए खुशखबरी है. उत्तराखंड के चमोली जिले में स्थित प्रसिद्ध फूलों की घाटी ट्रेक 1 जून 2022 से खुलने के लिए तैयार है. यूनेस्को ने इसे विश्व धरोहर स्थल घोषित किया हुआ है. फूलों की घाटी नंदा देवी बायोस्फीयर रिजर्व में आती है. अगर आप ट्रेकिंग की योजना बना रहे हैं, तो 31 अक्टूबर से पहले अपना यह सपना पूरा कर लें क्योंकि उसके बाद यह ट्रेन बंद हो जाएगा.

फूलों की घाटी में हर साल लाखों की तादाद में पर्यटक आते हैं और यहां की सुंदरता का लुत्फ उठाते हैं. यह क्षेत्र ट्रेकिंग के लिए भी मशहूर है. यह घाटी 87.50 किमी वर्ग क्षेत्र में फैली है. यहां आपको फूलों की 500 से ज्यादा प्रजातियां देखने को मिल जाएंगी.

हालांकि, फूलों की घाटी राष्ट्रीय उद्यान के अंदर पर्यटकों को शिविर लगाने की अनुमति नहीं दी जाती है. ऐसे में पर्यटक इस घाटी के निकटतम कैंपिंग साइट पर ही कैंपिंग करते हैं.
फूलों की घाटी का नजदीकी कैंपिंग साइट घांघरिया का सुरम्य गांव होगा. जहां शिविर लगाकर पर्यटक कई दिनों तक रहते हैं और फूलों की घाटी के आसपास के पर्यटक स्थलों की भी घुमक्कड़ी करते हैं.

फूलों की घाटी घूमने का बेस्ट टाइम
फूलों की घाटी हर साल 1 जून को खुलती है और अक्टूबर में बंद होती है. यहां विजिट करने का सबसे अच्छा वक्त जुलाई से लेकर सितंबर के बीच माना जाता है. इस दौरान आपको इस घाटी में फूलों की अनेक प्रजातियां देखने को मिलेंगी जो कि आपका दिल जीत लेंगी. अगर आप खिले हुए फूलों को देखना चाहते हैं, तो आपको इस घाटी के भ्रमण के लिए अगस्त महीने में जाना चाहिए. इस वक्त यहां चारों तरफ फूल ही फूल खिले रहते हैं.

फ्रेंक स्मिथ ने 1931 में खोजी थी फूलों की घाटी
फूलों की घाटी की खोज सबसे पहले फ्रैंक स्मिथ ने 1931 में की थी. फ्रैंक ब्रिटिश पर्वतारोही थे. फ्रेंक और उनके साथी होल्डसवर्थ ने इस घाटी को खोजा और उसके बाद यह प्रसिद्ध पर्यटल स्थल बन गया. इस घाटी को लेकर स्मिथ ने “वैली ऑफ फ्लॉवर्स” किताब भी लिखी है. फूलों की घाटी में उगने वाले फूलों से दवाई भी बनाई जाती है. हर साल लाखों की संख्या में पर्यटक फूलों की घाटी देखने के लिए आते हैं.

जन श्रुती के अनुसार रामायण काल में भगवान हनुमान जी संजीवनी बुटी लेने के लिए फूलों की घाटी आये थे. फूलों की इस घाटी को स्थानीय लोग परियों का निवास मानते हैं. यही कारण है कि लंबे समय तक लोग यहां जाने से कतराते थे. स्थानीय बोली में फूलों की घाटी को भ्यूंडारघाटी कहा जाता है.

अगर आप दिल्ली से फूलों की घाटी बस से जा रहे हैं तो कश्मीरी गेट से बस पकड़ें. आपको यहां से ऋषिकेश तक बस मिलेगी और वहां से आगे जोशीमठ वाली बस में बैठना होगा. दिल्ली से फूलों की घाटी की दूरी करीब 500 किलोमीटर होगी. ऋषिकेश से इस घाटी की दूरी 270 किलोमीटर है. बस या गाड़ी द्वारा आप गोविंदघाट तक ही जा सकेंगे और उसके बाद आपको चलकर जाना होगा.



Related Articles

Stay Connected

58,944FansLike
3,241FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

Latest Articles

पौराणिक मान्यताओं के अनेक राज समेटे हुए है बाणासुर का किला

0
उत्तराखंड़ को देवों की भूमि (देवभुमी)कहा जाता है, कहते हैं ऋषि मुनियों ने सैकड़ों साल तपस्या करके इसे दिव्यभूमि बनाया है, जिसका वैभव पाने...

जापान की राजधानी टोक्यो पहुंचे पीएम मोदी, क्वाड शिखर सम्मेलन में होंगे शामिल

0
टोक्यो|...प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज (सोमवार को) जापान की राजधानी टोक्यो पहुंचे. यहां मंगलवार को वह क्वाड शिखर सम्मेलन में शामिल होंगे. जापान पहुंचने के...

चमोली: जानिए नीति घाटी और रीणी के झूला पुल का इतिहास

0
रैणी गाँव गौरा देवी और चिपको आंदोलन के पहले से ही एक समृद्ध प्रदेश के रुप में जाना जाता था. रैणी गाँव के ऊपर...

राशिफल 23-05-2022: जानें अपनी राशि के अनुसार आज के दिन का हाल

0
मेष-: आज का दिन शुभ साबित होगा. आप अपने लक्ष्यों को पूरा करने में सफल रहेंगे. पदोन्नति के प्रबल आसार दिखाई दे रहे हैं.वृष-:...

23 मई 2022 पंचांग: जानें आज का शुभ मुहूर्त, कैलेंडर-व्रत और त्यौहार

0
आपके लिए आज का दिन शुभ हो. अगर आज के दिन यानी 23 मई 2022 को कार लेनी हो, स्कूटर लेनी हो, दुकान का...

बैडमिंटन खिलाड़ी साइना नेहवाल पिता के साथ बाबा केदारनाथ-बद्रीनाथ धाम पहुंचीं

0
भारतीय बैडमिंटन की प्रसिद्ध खिलाड़ी साइना नेहवाल ने रविवार को पिता हरवीर सिंह नेहवाल के साथ बाबा केदारनाथ और बद्रीनाथ धाम पहुंचकर पूजा-अर्चना की....

एप्पल के लिए भारत, वियतनाम भविष्य के संभावित उत्पादन केंद्र : रिपोर्ट

0
सैन फ्रांसिस्को|..... टेक के मामले में दिग्गज कंपनी एप्पल ने कथित तौर पर कहा है कि वह चीन के बाहर विनिर्माण का विस्तार करना...

वरुण धवन, कियारा आडवाणी की फिल्म जुग जुग जियो का ट्रेलर रिलीज

0
वरुण धवन, कियारा आडवाणी, अनिल कपूर और नीतू कपूर की फिल्म जुग-जुग जियो का ट्रेलर रिलीज हो गया है. जुग-जुग जियो एक फैमिली ड्रामा...

Ind Vs SA-T20: दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टीम इंडिया का ऐलान, किसे मिला और...

0
आईपीएल 2022 समाप्त होने के बाद अगले मीहने से भारतीय खिलाड़ी अंतरराष्ट्रीय मंच पर अपना दमखम दिखाते हुए नजर आएंगे. टीम इंडिया और दक्षिण...

टीएमसी में हुई भाजपा सांसद अर्जुन सिंह की वापसी

0
भाजपा के लोकसभा सांसद अर्जुन सिंह कोलकाता में पार्टी महासचिव अभिषेक बनर्जी की मौजूदगी में तृणमूल कांग्रेस में शामिल हो गए हैं. 2019 लोकसभा...
%d bloggers like this: