बड़ी खबर: देहारादून मैक्स के डॉक्टरों का कारनामा, 82 साल के व्यक्ति को लगाया ब्लूटूथ संचालित पेसमेकर

डॉक्टरों ने ब्लूटूथ संचालित पेसमेकर लगाकर, रोगी को न केवल संभावित जटिलताओं से बचाया, बल्कि रोगी के लंबे समय तक अस्पताल में रहने / अस्पताल आने- जाने और अन्य खर्चों को भी बचाया। इस अत्याधुनिक तकनीक की मदद से रोगी की दूर से निगरानी की जा सकती है और इसके कारण रोगी के जीवित रहने की दर भी अधिक साबित हुई है। इसकी मदद से किसी भी समय और कहीं भी रोगी के धड़कनो की महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त की जा सकती है।

कार्डियोलॉजी की एसोसिएट डायरेक्टर और हेड डॉ प्रीति शर्मा के अनुसार ब्लूटूथ संचालित पेसमेकर को प्रत्यारोपित करने का मैक्स हॉस्पिटल देहरादून में यह पहला मामला है। यह प्रक्रिया अहमदाबाद के एक रोगी पर की गयी, जिसे बेहोशी के दौरे की शिकायत के कारण तीन दिनों के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया था। डॉ प्रीति शर्मा के अनुसार, जांच में रोगी में सिक साइनस सिंड्रोम का पता चला, जिसके कारण उसमें डुअल चैंबर परमानेंट पेसमेकर प्रत्यारोपित किया गया, जो एक ही सीटिंग में किया गया ।

यह भी पढ़ें -  राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल की सुरक्षा में हुई चूक पर 3 कमांडो बर्खास्त

डॉ प्रीति शर्मा ने कहा’ हमने मरीज की उम्र और स्वास्थ्य की स्थिति के कारण ब्लूटूथ संचालित पेसमेकर लगाने का फैसला किया। वह फिजिकल फौलोदृअप के लिए हमारे पास वापस नहीं आ सकता है। ब्लू सिंक्टेक्नोलॉजी में टैबलेट-आधारित प्रोग्रामिंग और ऐप-आधारित रिमोट मॉनिटरिंग की सुविधा होती है। साथ ही, तकनीकी रूप से इतनी अत्याधुनिक होने के कारण, इसकी बैटरी 14 साल तक चलती है। यह इस मरीज के लिए एकदम सही था। ”

यह भी पढ़ें -  देहरादून एसएसपी दलीप सिंह कुंवर ने किए बम्पर तबादले, देखें सूची

यह नया पेसमेकर दूर से निगरानी करने में सक्षम बनाता है और अस्पताल में रहने के समय को कम करता है और जांच के लिए बाद में अस्पताल आने की जरूरतों को भी कम करता है। मरीज ऐप के माध्यम से हार्ट डिवाइस डेटा को ट्रांसफर करने के लिए सामान्य रूप से अपने स्मार्टफोन का उपयोग कर सकते हैं, यहां तक कि जब वे घर के बाहर होते हैं तब भी, मॉडल का नाम और बैटरी की उम्र सहित चुनिंदा पेसमेकर डेटा को देख सकते हैं जिस से बेड साइड मॉनिटर की जरूरत नहीं पडती ।

दिल की सर्जरी और पेसमेकर के क्षेत्र में ब्लूटूथ पेसमेकर एक अग्रणीय कदम है । पारंपरिक पेसमेकर के साथ बहुत सारी समस्याएं जुडी होती हैं, और रोगी को चेकअप के लिए अक्सर डॉक्टर से मिलने की आवश्यकता होती है। हालाँकि, ब्लूटूथ संचालित पेसमेकर डॉक्टरों के साथ-साथ रोगियों के लिए एक नई दुनिया का निर्माण कर रहे हैं। वे बहुत जल्द कार्डियक एरीदमिया का पता लगाते हैं और इसे कम करते हैं, जिससे रोगियों को उच्चतम दर्जे की चिकित्सा देखभाल की सुविधा मिलती है। इन पेसमेकरों के कारण फौलोदृअप में कम समय लगता है क्योंकि हॉस्पिटल में कम आने की जरूरत होती है और बेहतर कनेक्टिविटी और सपोर्ट की सुविधा मिलती है।

Related Articles

Stay Connected

58,944FansLike
3,244FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

Latest Articles

हल्द्वानी: 38 साल बाद ‘सियाचिन हीरो’ चंद्रशेखर हरबोला पंचतत्व में विलीन, बेटियों ने दी...

0
हल्द्वानी| लांस नायक चंद्रशेखर हरबोला का अंतिम संस्कार पूरे सैनिक सम्मान के साथ आज रानीबाग के चित्रशिला घाट पर किया गया. शहीद लांसनायक चंद्रशेखर...

सीएम धामी ने लांसनायक चन्द्रशेखर हर्बोला के पार्थिव देह पर पुष्पचक्र अर्पित कर दी...

0
सीएम पुष्कर सिंह धामी ने 1984 में सियाचिन में ऑपरेशन मेघदूत के दौरान शहीद हुए लांसनायक चन्द्रशेखर हर्बोला के पार्थिव देह पर पुष्पचक्र अर्पित...

राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल की सुरक्षा में हुई चूक पर 3 कमांडो बर्खास्त

0
भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल की सुरक्षा में चूक के मामले में गृह मंत्रालय ने एक्शन लेते हुए 3 कमांडो को सर्विस...

बढ़ते कोरोना के मामलों को देख डीजीसीए सख्त, एयरलाइन्स को दिए ये निर्देश

0
देश में बढ़ते कोरोना के मामलों को देखते हुए नागर विमानन महानिदेशालय यानी डीजीसीए सख्त हो गया है. डीजीसीए ने एयलाइन्स को निर्देश दिए...

क्या अब 5 साल तक के बच्चों की भी लेनी होगी ट्रेन टिकट! जानिए...

0
कई लोग ट्रेन से यात्रियों के साथ सफर करते हैं. बच्चों के साथ आरामदायक यात्रा के लिए भारतीय रेलवे कई सुविधाएं प्रदान करती है,...

यूपी: लखनऊ में अनोखी चोरी, कैडबरी के गोदाम में धावा बोलकर चोर 17 लाख...

0
आपने आज तक चोरी की कितनी ही खबरें और कहानियां पढ़ी और सुनी होंगी. उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में चोरी की एक...

धामी सरकार ने प्रदेश के तीन वरिष्ठ आईएएस अधिकारियों के विभागों में किया फेरबदल

0
धामी सरकार ने प्रदेश के तीन वरिष्ठ आईएएस अधिकारियों के विभागों के कार्यों में फेरबदल किया है. शासन की ओर से बुधवार को इसके...

घी संक्रांति 2022: उत्तराखंड में हर्षोल्लास के साथ मनाई जा रही है घी संक्रांति,...

0
उत्तराखंड की संस्कृति और विरासत अपने आप में कई ऐसे पर्वों को भी समेटे हुई है, जिनका यहां की संस्कृति में खास महत्व है....

हिमाचल प्रदेश: कांग्रेस को लगा बड़ा झटका, पूर्व कार्यकारी अध्यक्ष पवन काजल भाजपा में...

0
शिमला| बुधवार को हिमाचल प्रदेश कांग्रेस के पूर्व कार्यकारी अध्यक्ष पवन काजल भाजपा में शामिल हो गए हैं. उनके अलावा, कांग्रेस के नालागढ़ से...

बीजेपी ने अपने संसदीय बोर्ड में किया बड़ा बदलाव, नितिन गडकरी- शिवराज सिंह चौहान...

0
2024 आम चुनाव के मद्देनजर बीजेपी ने अपने संसदीय बोर्ड में बड़ा बदलाव किया है. नए संसदीय बोर्ड के ऐलान की खास बात यह...
%d bloggers like this: