spot_imgspot_img

शारदीय नवरात्रि का दूसरा दिन: ऐसे करें मां ब्रह्मचारिणी की पूजा, जानें विधि और कथा

26 सितम्बर 2022 से चैत्र नवरात्रि की शुरुआत हो गई है. नवरात्रि के दौरान मां के 9 रूपों की पूजा- अर्चना की जाती है. नवरात्रि के दूसरे दिन मां के द्वितीय स्वरूप मां ब्रह्मचारिणी की पूजा- अर्चना की जाती है.

मां ब्रह्मचारिणी की पूजा करने से व्यक्ति को अपने कार्य में सदैव विजय प्राप्त होता है. मां ब्रह्मचारिणी दुष्टों को सन्मार्ग दिखाने वाली हैं. माता की भक्ति से व्यक्ति में तप की शक्ति, त्याग, सदाचार, संयम और वैराग्य जैसे गुणों में वृद्धि होती है.

मां ब्रह्मचारिणी की पूजा तप, शक्ति ,त्याग ,सदाचार, संयम और वैराग्य में वृद्धि करती है और शत्रुओं का नाश करती है.

नवरात्रि की पूजा में मां ब्रह्मचारिणी की पूजा का विशेष महत्व बताया गया है. मां दुर्गा की 9 शक्तियों के दूसरे स्वरूप मां ब्रह्मचारिणी के दर्शन पूजन का विधान है.

यह भी पढ़ें -  लोकसभा चुनाव 2024: कौन होगा नरेन्द्र मोदी का उत्तराधिकारी, जानें ताजा सर्वे में किन नेताओं के बीच है टक्‍कर

देवी ब्रह्मचारिणी का स्वरूप पूर्ण ज्योतिर्मय और अत्यंत भव्य रूप में होता है. देवी के दाहिने हाथ में जप की माला और बाएं हाथ में कमंडल लिए श्वेत वस्त्र में देवी विराजमान होती हैं.

मां ब्रह्मचारिणी कथा
पौराणिक कथा के अनुसार पूर्वजन्म में मां ब्रह्मचारिणी ने हिमालय के घर पुत्री रूप में जन्म लिया था. भगवान शंकर को पति रूप में प्राप्त करने के लिए बहुत कठिन तपस्या की.

इसीलिए इन्हें ब्रह्मचारिणी कहा गया. मां ब्रह्मचारिणी ने एक हजार वर्ष तक फल-फूल खाकर बिताए और सौ वर्षों तक केवल जमीन पर रहकर शाक पर निर्वाह किया.

इसके बाद मां ने कठिन उपवास रखे और खुले आकाश के नीचे वर्षा और धूप को सहन करती रहीं. टूटे हुए बिल्व पत्र खाए और भगवान शंकर की आराधना करती रहीं.

इससे भी जब भोले नाथ प्रसन्न नहीं हुए तो उन्होने सूखे बिल्व पत्र खाना भी छोड़ दिए और कई हजार वर्षों तक निर्जल और निराहार रह कर तपस्या करती रहीं.

यह भी पढ़ें -  भारत ने 'सिंधु जल संधि' में संशोधन के लिए पाकिस्तान को जारी किया नोटिस

पत्तों को खाना छोड़ देने के कारण ही इनका नाम अपर्णा नाम पड़ गया. मां ब्रह्मचारणी कठिन तपस्या के कारण बहुत कमजोर हो हो गई.

इस तपस्या को देख सभी देवता, ऋषि, सिद्धगण, मुनि सभी ने सरहाना की और मनोकामना पूर्ण होने का आशीर्वाद दिया.

मां ब्रह्मचारिणी पूजा विधि
मां ब्रह्मचारणी की पूजा में पुष्प, अक्षत, रोली, चंदन का प्रयोग किया जाता है. पूजन आरंभ करने से पूर्व मां ब्रह्मचारिणी को दूध, दही, शर्करा, घृत और शहदु से स्नान कराया जाता है.

यह भी पढ़ें -  जम्मू-कश्मीर: भारत जोड़ो यात्रा में राहुल गांधी की सुरक्षा में चूक, कांग्रेस ने उठाया प्रशासन पर सवाल

इसके उपरांत मां ब्रह्मचारणी को प्रसाद अर्पित करें. इस क्रिया का पूरा करने के बाद आचमन और फिर पान, सुपारी भेंट करनी चाहिए.

इसके बाद ही स्थापित कलश, नवग्रह, दशदिक्पाल, नगर देवता और ग्राम देवता की पूजा करनी चाहिए.

मां ब्रह्मचारणी की पूजा से मंगल ग्रह की अशुभता को दूर करने में मदद मिलती है. ऐसी मान्यता है कि मां ब्रह्मचारिणी मंगल ग्रह को नियंत्रित करती हैं. जिन लोगों की जन्म कुंडली में मंगल अशुभ है उन्हें मां ब्रह्मचारणी की पूजा करनी चाहिए.


Related Articles

Stay Connected

58,944FansLike
3,250FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

Latest Articles

ईरान में 5.9 तीव्रता का भूकंप, 7 की मौत-440 घायल

0
शनिवार को ईरान में भूकंप के झटके महसूस किए गए. यूएस जियोलोजिकल सर्वे के अनुसार, ईरान के खोय शहर में आए इस भूकंप की...

राशिफल 29-01-2023: आज सूर्य देव करेंगे इनका कल्याण, पढ़ें दैनिक राशिफल

0
मेष- किसी मित्र के सहयोग से कारोबार के अवसर मिल सकते हैं. माता के स्वास्थ्य का ध्यान रखें. माता को स्वास्थ्य विकार हो सकते...

29 जनवरी 2023 पंचांग: जानें आज का शुभ मुहूर्त, कैलेंडर-व्रत और त्यौहार

0
आपके लिए आज का दिन शुभ हो. अगर आज के दिन यानी 29 जनवरी 2023 को कार लेनी हो, स्कूटर लेनी हो, दुकान का...

पीएम मोदी ने 75 रुपए का स्पेशल सिक्का किया जारी, जानें इसके बारे में

0
शनिवार को एनसीसी के 75 सफल वर्षों के उपलक्ष्य में पीएम मोदी ने 75 रुपए का विशेष सिक्का जारी किया है. बताया जा रहा...

एनसीसी दिवस पर बोले पीएम मोदी, भारत के युवाओं के कारण दुनिया हमारी तरफ...

0
शनिवार को पीएम मोदी करियप्पा परेड ग्राउंड में एनसीसी की वार्षिक रैली में शामिल हुए. इस दौरान रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह भी मौजूद रहे....

बाटला हाउस एनकाउंटर मामले के आरोपी की एम्स में इलाज के दौरान...

0
बाटला हाउस एनकाउंटर मामले में दोषी ठहराए गए आरोपी की मौत की खबर सामने आई है. इंडियन मुजाहिदीन का आतंकी शहजाद अहमद की एम्स...

उत्तराखंड: धामी सरकार ने दिया था खास तोहफा, महिलायों ने जताया सीएम का आभार

0
शनिवार को सीएम पुष्कर सिंह धामी ने मुख्यमंत्री कैम्प कार्यालय स्थित मुख्य सेवक सदन में भाजपा प्रदेश महिला मोर्चा द्वारा आयोजित कार्यक्रम में प्रतिभाग...

त्रिपुरा विधानसभा चुनाव: कांग्रेस ने जारी की 17 उम्मीदवारों की पहली लिस्ट

0
त्रिपुरा में 16 फरवरी को होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस ने अपने उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी कर दी है. पार्टी ने...

त्रिपुरा विधानसभा चुनाव: बीजेपी ने 48 सीटों पर जारी की अपने उम्मीदवारों की पहली...

0
त्रिपुरा में 16 फरवरी को होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले बीजेपी ने 60 सीटों में से 48 सीटों पर अपने उम्मीदवारों की पहली...

उत्तराखण्ड की झांकी के कलाकारों ने राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू से राष्ट्रपति भवन में...

0
शनिवार को नई दिल्ली में उत्तराखण्ड सूचना एवं लोक सम्पर्क विभाग के संयुक्त निदेशक एवं झांकी के टीम लीडर के.एस. चौहान के नेतृत्व में...
%d bloggers like this: