गुरु पूर्णिमा उत्तरांचल टुडे विशेष: गुरु का ज्ञान और मार्गदर्शक शिष्यों के लिए जीवन भर आगे बढ़ने के लिए देते हैं प्रेरणा

एक ऐसा रिश्ता जो जीवन के आखिरी समय तक भी नहीं मिटता है. कठिन से कठिन परिस्थितियों में भी आगे बढ़ने की राह दिखाता है. आज हम बात करेंगे गुरु और शिष्य के पवित्र रिश्तों की. ‘गुरु बिन ज्ञान नहीं, ज्ञान बिन आत्मा नहीं, ध्यान-ज्ञान-धैर्य और कर्म सब गुरु की ही देन हैं.

इन चंद लाइनों के बिना गुरु पूर्णिमा की बात अधूरी है. वैसे तो पूर्णिमा हर महीने आती है लेकिन इसका महत्व तब और बढ़ जाता है जब इसके आगे ‘गुरु’ लग जाता है. तब यह हो जाती है ‘गुरु पूर्णिमा’. आज गुरु पूर्णिमा का शुभ मुहूर्त शुरू हो गया है जो कल भी रहेगा. इस बार गुरु पूर्णिमा उत्सव दो दिन का है. बता दें कि हिंदू पंचांग के अनुसार प्रत्येक साल आषाढ़ महीने की पूर्णिमा तिथि को गुरु पूर्णिमा के तौर पर मनाया जाता है.

इस साल पंचांग के अनुसार, गुरु पूर्णिमा 12 जुलाई को रात्रि में 2 बजकर 35 मिनट से शुरू हो रही है. इसलिए उदया तिथि में 13 जुलाई को गुरु पूर्णिमा का पर्व मनाया जाएगा. गुरु पूर्णिमा का स्नान पूर्णिमा तिथि के प्रारंभ होते ही शुरू हो जाएगा. गुरु पूर्णिमा के स्नान – दान का उत्तम शुभ मुहूर्त सूर्योदय के पहले तक माना जाता है. वैसे पूर्णिमा तिथि 13 जुलाई को रात्रि के 12:06 बजे तक है. इसके उपरांत सावन का प्रवेश हो जाएगा और उदया तिथि में 14 जुलाई से सावन के महीने का प्रारंभ होगा.

यह भी पढ़ें -  हल्द्वानी: 38 साल बाद 'सियाचिन हीरो' चंद्रशेखर हरबोला पंचतत्व में विलीन, बेटियों ने दी मुखाग्नि

गुरु पूर्णिमा का स्नान-दान: 13 जुलाई को सुबह करीब 4 बजे प्रारंभ
इन्द्र योग: 13 जुलाई को दोपहर 12:45 बजे तक
चन्द्रोदय समय: 13 जुलाई, शाम 07:20 बजे
भद्राकाल: 13 जुलाई को सुबह 05 बजकर 32 मिनट से दोपहर 02 बजकर 04 मिनट तक
राहुकाल: 13 जुलाई को दोपहर 12 बजकर 27 मिनट से दोपहर 02 बजकर 10 मिनट तक


गुरु पूर्णिमा एक ऐसा त्योहार है जिसमें गुरु और शिष्य के पवित्र रिश्तों की हजारों कहानियां हैं. गुरु पूर्णिमा के दिन दान-पुण्य के साथ गुरुओं का आशीर्वाद लेने की पुरानी परंपरा रही है. बिना गुरु के जीवन अधूरा माना जाता है. शिष्यों के लिए गुरु का आशीर्वाद जीवन में सरल और सुगम बन जाता है. सही मायने में यह दिन गुरु को समर्पित है. बिना गुरु के कोई ज्ञान प्राप्‍त नहीं कर सकता. जब किसी को सच्‍चा गुरु मिल जाता हैं, तो उसके जीवन के सारे अंधकार मिट जाते हैं. यह दिन इसलिए काफी अहम है कि इस दिन आपने जिससे भी कुछ ज्ञान हासिल किया हो उनके प्रति सम्मान प्रकट किया जाता है.

आपको बता दें कि इसी दिन महाभारत के रचयिता महर्षि वेद व्यास का जन्मदिवस भी मनाया जाता है. वेदव्यास ने सभी 18 पुराणों की रचना की थी. यही कारण है कि कुछ स्‍थानों पर गुरु पूर्णिमा को व्यास पूर्णिमा के नाम से भी जाना जाता है. वे संस्कृत के प्रकांड विद्वान थे और उन्होंने चारों वेदों की भी रचना की थी. इस कारण उनका एक नाम वेद व्यास भी है. उन्हें आदिगुरु कहा जाता है.

गुरु तथा देवता में समानता के लिए एक श्लोक में कहा गया है कि जैसी भक्ति की आवश्यकता देवता के लिए है वैसी ही गुरु के लिए भी. ‘जिस प्रकार आषाढ़ मास के समय आकाश बादलों से घिर जाता है तो उस अंधकार को दूर करने के लिए सूर्य के प्रकाश की आवश्यकता होती है, उसी प्रकार जीवन के अंधकार को दूर करने के लिए किसी गुरु का होना अत्यंत आवश्यक होता है’. ‘गु’ शब्द का वास्तविक अर्थ है अंधकार और ‘रु’ का मतलब है निरोधक.

अर्थात जो अंधकार को दूर कर ज्ञान का प्रकाश फैलाता है उसे गुरु कहते हैं. गुरु शिष्यों को हर संकट से बचाने के लिए प्रेरणा देते रहते हैं, इसलिए हमारे जीवन में गुरु का अत्यधिक महत्व है.

यह भी पढ़ें -  दिल्ली हाईकोर्ट की बाबा रामदेव को खरी-खरी, कहा-अपने बयानों से लोगों को गुमराह न करें

शंभू नाथ गौतम, वरिष्ठ पत्रकार

Related Articles

Stay Connected

58,944FansLike
3,244FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

Latest Articles

UKSSSC पेपर लीक मामले में एक और गिरफ्तारी, अब तक 20 आरोपी गिरफ्तार

0
उत्तराखंड अधीनस्थ चयन सेवा आयोग(UKSSSC) पेपर लीक मामले में एसटीएफ ने अब उत्तर प्रदेश के धामपुर निवासी जूनियर इंजीनियर ललित शर्मा को लंबी पूछताछ...

यूट्यूबर बॉबी कटारिया की होगी गिरफ्तारी, देहरादून की एक कोर्ट ने जारी किया गैर...

0
देहरादून में सड़क पर ट्रैफिक रोककर कुर्सी पर बैठकर शराब पीने और पुलिस को धमकाने के मामले में यूट्यूबर बॉबी कटारिया को दून पुलिस...

कृष्ण नगरी में जन्माष्टमी की धूम: मथुरा-वृंदावन में मंदिरों को रंग-बिरंगी रोशनी से सजाया...

0
कृष्ण जन्माष्टमी की आज पूरे देश भर में धूम है, 'जय श्री कृष्णा' के जयकारे गूंज रहे हैं. भारत ही नहीं दुनिया के तमाम...

दिल्ली आबकारी मामले में मनीष सिसोदिया के कई ठिकानों पर सीबीआई का तलाशी अभियान...

0
दिल्ली आबकारी घोटाले के मामले में सीबीआई ने मनीष सिसोदिया के कई ठिकानों पर तलाशी अभियान शुरू किया है. तलाशी के बाद सीबीआई प्राथमिकी...

डोलो को लेकर डॉक्टरों को ₹1,000 करोड़ बांटने के दावे पर सुप्रीमकोर्ट के जज...

0
गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट के जज जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ एक केस की सुनवाई के दौरान अचानक दंग रह गए जब उन्होंने याद आया कि...

राशिफल 19-08-2022: पढ़े आज का सभी राशियों का राशिफल

0
मेष: आज के दिन आर्थिक स्थिति बेहतर होने के योग बनते नजर आ रहे हैं. जीवनसाथी की सेहत खराब हो सकती है, ध्यान रखें. वृष:...

19 अगस्त 2022 पंचांग: जानें आज का शुभ मुहूर्त, कैलेंडर-व्रत और त्यौहार

0
आपके लिए आज का दिन शुभ हो. अगर आज के दिन यानी 19 अगस्त 2022 को कार लेनी हो, स्कूटर लेनी हो, दुकान...

Covid19: उत्तराखंड में मिले कोरोना के 175 नए मामले, एक्टिव केस 977

0
उत्तराखंड में 24 घंटे के भीतर कोरोना के 175 नए मरीज मिले हैं. जबकि 131 मरीजों ने कोरोना को मात दी है. इसके साथ...

यूकेएसएसएससी पेपर लीक मामला: एसटीएफ की ताबड़तोड़ कार्रवाई जारी, उत्तरकाशी से 19वीं गिरफ्तारी

0
यूकेएसएसएससी पेपर लीक मामले में एसटीएफ की ताबड़तोड़ कार्रवाई जारी है. गुरुवार को एसटीएफ ने यूकेएसएसएससी पेपर लीक मामले में एक और गिरफ्तारी...

Ind Vs Zim-Ist ODI: धवन और गिल की आंधी में उड़ी जिंबाब्वे टीम, टीम...

0
टीम इंडिया ने जिंबाब्वे दौरे पर तीन मैचों की वनडे सीरीज का आगाज जीत के साथ किया है. टीम इंडिया ने गुरुवार को पहले...
%d bloggers like this: