इमरान खान के खास रहे असीम बाजवा ने दिया इस्तीफा, आखिर क्या है वजह


इस्लामाबाद|…..असीम बाजवा की पहचान दो वजहों से है पहले तो वो पाकिस्तानी सेना में बड़े ओहदे पर रहे हैं और दूसरी तरफ पीएम इमरान खान के विश्वस्त सहयोगी भी. बाजवा के नाम पर तरह तरह की खबरें आती रही हैं वो भ्रष्टाचार के सागर में डूबे हुए हैं, हालांकि उन्होंने सीपीईसी अथॉरिटी के चेयरमैन पद से इस्तीफा दे दिया है.

बता दें कि असीम बाजवा जब पाकिस्तानी फौज में थे तो वो भ्रष्टाचार के खिलाफ बड़ी बड़ी बातें किया करते थे. उन्होंने एक बार कहा कि भ्रष्टाचार के खिलाफ जीरो टॉलरेंस की नीति पर काम किया जाएगा. इसका अर्थ यह था कि पाकिस्तानी फौज या शासन सत्ता करप्शन से फ्री होगा.

बाजवा ने उम्मीदों को तोड़ा
असीम बाजवा की इस तरह के बयानों पर लोग यकीन भी कर रहे थे. लेकिन जब उनसे संबंधित खबरें आने लगी कि किस तरह से सेना में रहते हुए उन्होंने अपने पद का बेजा इस्तेमाल करते हुए अपनी तिजोरी भरी उसके बाद माहौल उनके खिलाफ होने लगा.

यह भी पढ़ें -  लोकसभा चुनाव 2024 में कांग्रेस नहीं, इनसे मिलेगी बीजेपी को तगड़ी फाइट- ताजा सर्वे के आंकड़े रहे चौंका

खासतौर से सीपीईसी में उनकी भूमिका पर सवाल उठने लगे. इस तरह के आरोप लगे कि एक तरफ बाजवा करप्शन फ्री देश की बात करते हैं तो दूसरी तरफ वो खुद उसी व्यवस्था के भागीदार हैं.

असीम बाजवा के खिलाफ हुए प्रदर्शन
पाकिस्तान के विपक्षी दल आरोप लगाना शुरू कर दिए कि आखिर इमरान खान असीम बाजवा पर इतने मेहरबान क्यों हैं. बाजवा के खिलाफ जब लोग सड़कों पर उतरने लगे तो इमरान खान सरकार के लिए बाजवा का बचाव करना मुश्किल हो गया.

यह भी पढ़ें -  सिद्धार्थ और कियारा शादी के बंधन में बंधे, सूर्यगढ़ पैलेस में करीबियों की मौजूदगी में लिए 7 फेरे

खासतौर से पीओके में बाजवा के खिलाफ आरोप लगे कि सीपीईसी के नाम पर उन्होंने चीन से सौदेबाजी की और उसका खामियाजा वहां के स्थानीय लोगों को भुगतना पड़ रहा है.


Related Articles

Stay Connected

58,944FansLike
3,251FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

Latest Articles

थारू राजकीय इण्टर कॉलेज पहुंचे सीएम धामी, बच्चों के बीच स्कूली दिनों को याद...

0
सीएम पुष्कर सिंह धामी ने अपने जनपद खटीमा भ्रमण के दौरान थारू राजकीय इंटर कॉलेज पहुंचकर परीक्षा पे चर्चा कार्यक्रम में प्रतिभाग किया. सीएम...

उत्तराखंड के 2 स्कूलों में 42 बच्चे वायरल फीवर से हुए बीमार, 14 बच्चे...

0
उत्तराखंड के पहाड़ों में एक बार फिर से वायरल बुखार स्कूली छात्र छात्राओं को अपना शिकार बना रहा है. अल्मोड़ा सोमेश्वर क्षेत्र के 2...

तुर्किये में आए भूकंप में एक भारतीय लापता, 10 दूरदराज के इलाकों में फंसे-सरकार...

0
तुर्किये और सीरिया में आए भूंकप से हालात बिगड़ गए हैं. अब तक कुल 11,416 लोगों की मौत हो चुकी है. घायलों की संख्या...

पिथौरागढ़: मुख्य सचिव एसएस संधु ने नैनी सैनी एयरपोर्ट और बेस चिकित्सालय का किया...

0
उत्तराखंड के मुख्य सचिव एसएस संधु ने जनपद के नैनी सैनी एयरपोर्ट एवं पिथौरागढ़ स्थित बेस चिकित्सालय भवन का स्थलीय निरीक्षण किया. मुख्य सचिव...

उत्तराखंड को केंद्र से मिल रही लगातार सौगाते, सीएम धामी ने जताया आभार

0
सीएम पुष्कर सिंह धामी ने उत्तराखंड को विशेष सहायता के तहत 65.92 करोड़ रुपए तथा पूंजीगत परिव्यय के रूप में 72 करोड़ रुपए की...

रेलवे स्टेशन के नाम हमेशा पीले बोर्ड पर ही क्यों लिखे जाते हैं, जानिए...

0
आपने भी कभी न कभी तो ट्रेन में सफर किया ही होगा. लेकिन क्या अपने कभी गौर किया है कि रेलवे स्टेशन के नाम...

सर्दी-जुकाम को जल्दी ठीक करने में कारगर है काली मिर्च, जानें इसके फायदे और...

0
आपको अगर कुछ दिनों से खांसी-जुकाम है, तो आज हम आपको बता रहे हैं खांसी-जुकाम दूर करने का ऐसा घरेलू नुस्खा, जो आपकी शुरुआती...

यूपी: मुरादाबाद में बस स्टेशन के पास लगा लंगूर का पोस्टर, जानिए पूरा मामला

0
यूपी के मुदाराबाद में सरकारी बस स्टेशन पर लंगूर के बड़े-बड़े फोटो के साथ फायर साउंड सेंसर मशीनें लगाई गई हैं. ये इंतजाम वहां...

पीएम मोदी पर बयान देकर बुरे फंसे मल्लिकार्जुन खड़गे, राज्यसभा अध्यक्ष बोले-ये आपको शोभा...

0
राज्यसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे के एक बयान पर सदन में हंगामा हो गया. खड़गे ने बुधवार को पीएम नरेंद्र मोदी पर...

दिल्ली आबकारी नीति मामला: सीबीआई की बड़ी कार्रवाई, तेलंगाना के सीएम की बेटी के...

0
सीबीआई ने दिल्ली आबकारी नीति मामले में बड़ी कार्रवाई की है. सीबीआई ने हैदराबाद के चार्टर्ड अकाउंटेंट बुच्ची बाबू गोरंटला को बुधवार को गिरफ्तार...
%d bloggers like this: