सैयद जफर इस्लाम की वफादारी भाजपा ने निभाई ‘राज्यसभा की यारी’


दुनिया का दस्तूर रहा है एक हाथ से ले दूसरे हाथ से दे। भारतीय जनता पार्टी एक ऐसा दल है जो अपने वफादारों का एहसान चुकाना नहीं भूलती है. बात को आगे बढ़ाएं उससे पहले कुछ वफादारी के बारे में भी जान लिया जाए. यहां हम आपको बता दें की जब केंद्र की मोदी सरकार ने ट्रिपल तलाक पर देश में कानून बनाने का फैसला किया था तब उत्तर प्रदेश बहराइच के पूर्व सांसद और पी वी नरसिम्हा राव सरकार में केंद्रीय मंत्री रहे आरिफ मोहम्मद खान ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जमकर प्रशंसा की थी. आरिफ मोहम्मद की यह बात मोदी को इतनी पसंद आ गई कि उन्हें कुछ समय बाद ही केरल के राज्यपाल के पद पर नियुक्ति दे दी थी.

आरिफ के राजपाल की नियुक्ति पर विपक्षी दलों के नेताओं ने मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा था. ऐसे ही देश के चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया रहे रंजन गोगोई ने भी कई फैसले केंद्र सरकार के मन के मुताबिक सुनाएं. इसमें अयोध्या का राम मंदिर, राफेल विमान की खरीद, यही नहीं और राहुल गांधी का पीएम मोदी के लिए बयान ‘चौकीदार चोर’ के मामले में राहुल गांधी को फटकार और मोदी सरकार को क्लीन चिट देने के बाद भाजपा सरकार इतनी खुश हुई थी कि रंजन गोगोई के मुख्य न्यायाधीश पद से रिटायर होते ही उन्हें पिछले दरवाजे (राष्ट्रपति द्वारा मनोनीत) से राज्यसभा भेज दिया गया.

अब बात करते हैं एक ऐसे युवा शख्स की जो पिछले कुछ वर्षों से पर्दे के पीछे भाजपा के प्रति पूरी तरह वफादार और महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं. हम बात कर रहे हैं सैयद जफर इस्लाम की. इसी साल मार्च में सैयद जफर ने ज्योतिरादित्य सिंधिया को भाजपा में लाने की सबसे बड़ी भूमिका निभाई थी. आपको बता दें कि सिंधिया और जफर इस्लाम दोनों की दोस्ती काफी पुरानी है. अब भाजपा भी एक कदम आगे बढ़कर जफर इस्लाम के प्रति ‘अमर प्रेम’ दिखाया है. गौरतलब है कि समाजवादी पार्टी के नेता अमर सिंह का इसी माह एक अगस्त को सिंगापुर में उपचार के दौरान एक अस्पताल में निधन हो गया था. अमर सिंह उत्तर प्रदेश से राज्यसभा सांसद थे. अब भारतीय जनता पार्टी अमर सिंह के निधन के बाद खाली हुई सीट से सैयद जफर इस्लाम को यूपी से राज्यसभा सांसद भेज रही है.


11 सितंबर को होगा राज्यसभा का उपचुनाव
अमर सिंह के निधन से खाली हुई सीट पर 11 सितंबर को उप-चुनाव होगा. चुनाव आयोग ने इसकी घोषणा कर दी है. भारतीय जनता पार्टी की केंद्रीय चुनाव समिति ने उत्तर प्रदेश में होने वाले आगामी राज्य सभा उप-चुनाव 2020 के लिए सैयद जफर इस्लाम को अपना उम्मीदवार घोषित किया है. सैयद जफर ने सात साल पहले ही नरेंद्र मोदी के कहने पर भाजपा की सदस्यता ग्रहण की थी. इन वर्षों में वह भाजपा में एक मुखर और उदारवादी मुस्लिम चेहरा बनकर उभरे हैं.

सोशल मीडिया पर भी वह काफी सक्र‍िय रहते हैं। जफर को भारतीय जनता पार्टी ने अपना राष्ट्रीय प्रवक्ता भी बना रखा है. आपने देखा होगा चैनलों की डिबेट में जफर बहुत उदारवादी तरीके से भाजपा का पक्ष रखते हुए दिख जाएंगे. आइए जानते हैं जफर के बारे में, सैयद जफर इस्लाम भाजपा में शामिल होने से पहले जर्मन ड्यूश बैंक में एमडी पद पर तैनात थे. वह जर्मनी के फ्रैंकफर्ट में रहते थे. उन्होंने राजनीति में अपने करियर की शुरुआत के लिए भारतीय जनता पार्टी को चुना. मोदी सरकार ने उनको वर्तमान समय में एयर इंडिया के निदेशक मंडल में शामिल कर रखा है.


मोदी सरकार की ‘गुडलिस्ट’ में शामिल हैं सैयद जफर इस्लाम
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह सैयद जफर इस्लाम पर बहुत ही भरोसा जताते हैं. यही नहीं मोदी सरकार के अधिकांश फैसलों में भी जफर को शामिल किया जाता है. नरेंद्र मोदी के अलावा भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्‌डा की गुडलिस्ट में भी शामिल हैं. मोदी सरकार को एक ऐसे प्रतिनिधि की जरूरत है जिसकी अंग्रेजी के साथ ही हिंदी पर भी बहुत अच्छी पकड़ हो. इसमें जफर इस्लाम एकदम खरे उतरे हैं.

अभी पिछले दिनों राजस्थान में सचिन पायलट को भाजपा में लाने के लिए जफर ने बहुत प्रयास किए थे लेकिन बात नहीं बन पाई. जफर और ज्योतिरादित्य सिंधिया इस प्रकार आए थे करीब. सिंधिया से जफर इस्लाम की मित्रता सियासी गलियारों में काफी चर्चित है. बात उन दिनों की है जब ज्योतिरादित्य सिंधिया यूपीए सरकार में केंद्रीय वाणिज्य मंत्री हुआ करते थे, उसी दौरान जफर इस्लाम बैंकर की जॉब में थे. दोनों की मुलाकात धीरे-धीरे दोस्ती में बदल गई. सिंधिया को भाजपा में शामिल कराने में भी जफर इस्लाम ने ही प्रमुख भूमिका निभाई थी. उसी के बदले भाजपा सैयद जफर इस्लाम को उत्तर प्रदेश से राज्यसभा भेज रही है.

शंभू नाथ गौतम, वरिष्ठ पत्रकार

Related Articles

Latest Articles

IPL 2024 Qualifier 2: राजस्थान को हराकर हैदराबाद फाइनल में, खिताब के लिए कोलकाता...

0
पैट कमिंस की कप्तानी वाली सनराइजर्स हैदराबाद की टीम ने राजस्थान रॉयल्स को हराकर फाइनल की टिकट कटा ली है. शुक्रवार को ...

राशिफल 25-05-2024: आज इन राशियों पर रहेगी शनि देव की विशेष कृपा, पढ़ें मेष...

0
मेष-: आज मेष राशि वालों की आर्थिक स्थिति बढ़िया रहेगी. निवेश के नए अवसर मिलेंगे. व्यापार में विस्तार होगा. धन लाभ के नए अवसर...

25 मई 2024 पंचांग: जानें आज का शुभ मुहूर्त, कैलेंडर-व्रत और त्यौहार

0
आपके लिए आज का दिन शुभ हो. अगर आज के दिन यानी 25 मई 2024 को कार लेनी हो, स्कूटर लेनी हो, दुकान का...

योगी सरकार का बड़ा फैसला! मैरिज सर्टिफिकेट बनवाते समय देना होगा दहेज का पूरा...

0
यूपी की योगी सरकार ने हाल ही में एक बड़ा फैसला लिया है. नए फैसले के अनुसार यूपी में अब मैरिज सर्टिफिकेट बनवाते समय...

अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन करें अधिकारी, चारधाम यात्रा में लापरवाही पाए जाने पर होगी...

0
शुक्रवार को सीएम पुष्कर सिंह धामी ने उत्तराखंड सदन, नई दिल्ली से वर्चुअल माध्यम से चारधाम यात्रा की समीक्षा करते हुए निर्देश दिए कि...

लैला खान के कातिल ‘पिता’ परवेज को सजा-ए-मौत, 13 साल बाद आया फैसला

0
देश का आर्थिक राजधानी मुंबई से बड़ी खबर सामने आ रही है. यहां मुंबई की सेशन कोर्ट ने अभिनेत्री लैला खान हत्या मामले में...

टेलीकॅाम डिपार्टमेंट ने 6.80 लाख संदिग्ध नंबर्स को किया चिंहित, 60 दिन के अंदर...

0
देश में जितने भी डिजिटली फ्रॅाड होते हैं सबके पीछे फर्जी नंबर्स की सूची सामने आती है. जिसे गंभीरता से लेते हुए टेलीकॅाम डिपार्टमेंट...

आजम खान के लिए राहत भरी खबर, सात साल की सजा पर रोक

0
समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता और यूपी के पूर्व कैबिनेट मंत्री आजम खान एंड फैमिली के लिए राहत भरी खबर है. इलाहाबाद हाईकोर्ट ने...

केरल में सबसे ज्यादा बेकारी.. जानें देशभर में क्या है बेरोजगारी के नए आंकड़े

0
सांख्यिकी और कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्रालय (MOSPI) द्वारा जारी पीरियोडिक लेबर फोर्स सर्वे (PLFS) में देशभर के विभिन्न हिस्सों में बेरोजगारी दर के चौंकाने वाले...

टी20 वर्ल्ड कप से ठीक पहले अमेरिका ने रचा इतिहास, बांग्लादेश को हराकर दर्ज...

0
अमेरिका|.... टी20 वर्ल्ड कप का आगाज होने में अब सिर्फ एक हफ्ते का समय बचा है. टी20 वर्ल्ड कप से ठीक पहले अमेरिका ने...