यशपाल आर्य की ‘घर वापसी’ से बढ़ा बीजेपी का सिरदर्द, तो उधर कांग्रेस के भीतर भी मची खलबली

यशपाल आर्य न सिर्फ कांग्रेस में बल्कि बीजेपी में रहते हुए भी प्रदेश में एक बड़ा दलित चेहरा रहे हैं. ऐसे में, आर्य के साथ उनके विधायक बेटे की भी घर वापसी से बीजेपी को बड़ा झटका लगा है. पार्टी को अंदाज़ा है कि यशपाल के जाने से उसको कई सीटों पर नुकसान हो सकता है.

खासकर उत्तराखंड में मौजूद 18 फीसदी दलित वोट बैंक पर उसकी पकड़ कमज़ोर हो सकती है. अब आर्य के कांग्रेस जॉइन कर लेने से एक तरफ बीजेपी का सिरदर्द बढ़ गया है, तो उधर कांग्रेस के भीतर भी खलबली मची हुई है.

डैमेज को यहीं कंट्रोल करना बीजेपी की प्राथमिकता हो गई है. चंद घंटों के भीतर उमेश शर्मा काऊ से लेकर हरक सिंह रावत, सतपाल महाराज के बदले सुर बानगी हैं कि कैसे बीजेपी के सामने कांग्रेसी बैकग्राउंड वाले नेताओं को संभालना चुनौती बन गया है.

यह भी पढ़ें -  कोलकाता: स्विमसूट में तस्वीरें पोस्ट करने पर प्रोफेसर को नौकरी से निकालने पर आलोचनाओं का सामना कर रहा सेंट जेवियर्स विश्वविद्यालय

कांग्रेस से बीजेपी में आए सतपाल महाराज तो यशपाल आर्य का नाम सुनते ही ‘नो कमेंट’ कहकर चल पड़ते हैं. गौरतलब है कि सोमवार को यशपाल आर्य ने जब कांग्रेस जॉइन की, तो चंद घंटों के भीतर ही हरक के बयान ने भी बीजेपी में खलबली मचा दी थी. हरक ने कुमाऊं और गढ़वाल में कई काम गिनाते हुए कहा था कि ‘मेरा प्रभाव प्रदेश की बहुत सी सीटों पर है.’

बीजेपी को हरक के भी हाथ से निकलने की आशंका सताने लगी थी. लिहाज़ा हरक को मैनेज करने के लिए प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक को लगाया गया. मदन कौशिक ने हरिद्वार के डामकोठी गेस्ट हाउस में हरक को बुलाकर करीब एक घंटे तक बातचीत कर मामले को सुलझाया. बीजेपी अब कांग्रेसी बैकग्राउंड के नेताओं को लेकर कोई रिस्क नहीं लेना चाहती. उनको हर हाल में थामे रखना बीजेपी की मजबूरी बन गई है.

दरअसल, यशपाल आर्य उधमसिंह नगर की बाजपुर सीट से विधायक हैं. तराई के इस क्षेत्र में किसान आंदोलन के कारण बीजेपी पहले ही पस्त है. ऊपर से नैनीताल (यशपाल आर्य के बेटे संजीव आर्य की सीट) और बाजुपर दो सीटें उसकी कम हो गईं. बीजेपी के लिए ये चैलैंज बन गया है कि यशपाल आर्य की टक्कर का दलित चेहरा किसे लाया जाए और कम से कम इन दो सीटों की भरपाई कैंसे की जाए. यशपाल आर्य का भीमताल, नैनीताल, किच्छा, सितारगंज आदि सीटों पर भी अच्छा खासा प्रभाव माना जाता है.

यशपाल आर्य के बेटे नैनीताल विधायक संजीव के कांग्रेस में लौटने के बाद नैनीताल सीट पर कांग्रेस में घमासान शुरू हो गया है. पिता पुत्र की वापसी के बारे में अनभिज्ञ रखे जाने का आरोप लगाकर कांग्रेस महिला प्रदेश अध्यक्ष सरिता आर्य ने कहा कि यशपाल बीजेपी में मलाई खाने के बाद लौट आए. सरिता ने कहा कि पार्टी ने टिकट नहीं दिया तो पार्टी छोड़ देंगी.

यह भी पढ़ें -  इंसान से जानवर में मंकीपॉक्स संक्रमण का पहला दुर्लभ मामला, कुत्ते के साथ क्वारंटाइन थे मरीज

वहीं, यशपाल के बीजेपी जॉइन करने के दौरान कांग्रेस पहुंचे हेम आर्य की उम्मीद टूट रही है. हालांकि कांग्रेस के कार्यकर्ताओं में उत्साह में ज़रूर है, लेकिन दावेदार परेशान हैं. दूसरी तरफ, पिछले 5 सालों से गायब दावेदार दिनेश आर्य के साथ अम्बादत्त आर्य, प्रकाश आर्य भी टिकट पर दावा ठोकने लगे हैं. दिनेश आर्य ने कहा कि वो 1993 से दावेदार हैं लेकिन आज तक पार्टी ने टिकट नहीं दिया. अब कड़वे अनुभव ले चुकी पार्टी ऐसे लोगों पर भरोसा नहीं करेगी.

यह भी पढ़ें -  उप मुख्यमंत्री बनते ही तेजस्वी यादव की मुश्किलें बढ़ी, पढ़े पूरी खबर

साभार-न्यूज़ 18

Related Articles

Stay Connected

58,944FansLike
3,244FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

Latest Articles

राशिफल 18-08-2022: आज इन राशियों के पूरे होंगे सभी काम

0
मेष: आज के दिन संतान की तरफ से कोई शुभ समाचार मिल सकता है. सामाजिक कार्यों में सहयोग दें. आर्थिक स्थिति बेहतर होगी. वृष:...

18 अगस्त 2022 पंचांग: जानें आज का शुभ मुहूर्त, कैलेंडर-व्रत और त्यौहार

0
आपके लिए आज का दिन शुभ हो. अगर आज के दिन यानी 18 अगस्त 2022 को कार लेनी हो, स्कूटर लेनी हो, दुकान का...

मुख्य सचिव ने की उत्तराखण्ड लैंडस्लाइड मिटिगेशन एंड मैनेजमेंट सेंटर की प्रगति की समीक्षा

0
देहरादून| बुधवार को मुख्य सचिव डॉ. एस. एस. संधु ने सचिवालय में उत्तराखण्ड लैंडस्लाइड मिटिगेशन एंड मैनेजमेंट सेंटर की प्रगति की समीक्षा की....

सीएम धामी ने कोटद्वार में अग्निवीरो के भर्ती कार्यक्रम में उपस्थित होकर युवाओं का...

0
मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने विधानसभा अध्यक्ष ऋतु खंडूरी भूषण, सैनिक कल्याण मंत्री गणेश जोशी एवं महिला बाल विकास मंत्री रेखा आर्य के...

उत्तराखंड में जन्माष्टमी की छुट्टी में हुआ बदलाव, आदेश जारी

0
देहरादून| उत्तराखंड में कृष्ण जन्माष्टमी की छुट्टी अब 19 अगस्त को घोषित की गई है. पहले यह छुट्टी 18 अगस्त को तय की गई...

हल्द्वानी: 38 साल बाद ‘सियाचिन हीरो’ चंद्रशेखर हरबोला पंचतत्व में विलीन, बेटियों ने दी...

0
हल्द्वानी| लांस नायक चंद्रशेखर हरबोला का अंतिम संस्कार पूरे सैनिक सम्मान के साथ आज रानीबाग के चित्रशिला घाट पर किया गया. शहीद लांसनायक चंद्रशेखर...

सीएम धामी ने लांसनायक चन्द्रशेखर हर्बोला के पार्थिव देह पर पुष्पचक्र अर्पित कर दी...

0
सीएम पुष्कर सिंह धामी ने 1984 में सियाचिन में ऑपरेशन मेघदूत के दौरान शहीद हुए लांसनायक चन्द्रशेखर हर्बोला के पार्थिव देह पर पुष्पचक्र अर्पित...

राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल की सुरक्षा में हुई चूक पर 3 कमांडो बर्खास्त

0
भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल की सुरक्षा में चूक के मामले में गृह मंत्रालय ने एक्शन लेते हुए 3 कमांडो को सर्विस...

बढ़ते कोरोना के मामलों को देख डीजीसीए सख्त, एयरलाइन्स को दिए ये निर्देश

0
देश में बढ़ते कोरोना के मामलों को देखते हुए नागर विमानन महानिदेशालय यानी डीजीसीए सख्त हो गया है. डीजीसीए ने एयलाइन्स को निर्देश दिए...

क्या अब 5 साल तक के बच्चों की भी लेनी होगी ट्रेन टिकट! जानिए...

0
कई लोग ट्रेन से यात्रियों के साथ सफर करते हैं. बच्चों के साथ आरामदायक यात्रा के लिए भारतीय रेलवे कई सुविधाएं प्रदान करती है,...
%d bloggers like this: