अभिनेत्री कंगना रनौत में भाजपा को दिखने लगा अपना ‘फायरब्रांड’


दुनिया में एक प्रचलित कहावत है, एक हाथ से ले दूसरे हाथ से दे. यानी कुछ हमने किया, अब बारी आपकी है. आज फिर बात होगी भारतीय जनता पार्टी और बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत की. पिछले कुछ दिनों से कंगना रनौत और महाराष्ट्र की शिवसेना सरकार के साथ उठा ‘तूफान’ अब शांत हो रहा है. यह सभी जानते हैं कि कंगना के उद्धव ठाकरे सरकार को चुनौती देने के पीछे किसका हाथ है.

अभी तक अभिनेत्री रनौत की ताकत के पीछे भाजपा कदम कदम पर साथ खड़ी रही, कंगना भी भाजपा की उम्मीदों पर खरी उतरी है. अब बीजेपी को कंगना की ललकार पसंद आ गई है. पार्टी अब अभिनेत्री को अपना ‘फायरब्रांड नेता’ बनाने की तैयारी में जुट गई है.

इसी को लेकर आरपीआई के मुखिया और भाजपा सरकार में केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले ने गुरुवार शाम को मुंबई स्थित अभिनेत्री रनौत के घर पर जाकर मुलाकात की.

अठावले ने अभिनेत्री को भारतीय जनता पार्टी ज्वाइन करने का निमंत्रण दिया है. वैसे सियासी गलियारों में चर्चा है कि केंद्रीय सामाजिक न्याय और अधिकारिता राज्यमंत्री रामदास अठावले को भारतीय जनता पार्टी के दूत के रूप में देखा जा रहा है. आरपीआई अध्यक्ष अठावले का मुंबई में अच्छा जनाधार माना जाता है.

साथ ही उनकी पार्टी आरपीआई केंद्र की भाजपा सरकार में सहयोगी दल भी है. हालांकि अभी तक अभिनेत्री कंगना ने राजनीति में आने के लिए स्थिति स्पष्ट नहीं की है लेकिन जो संकेत मिल रहे हैं उससे कयास लगाए जा रहे हैं कि रनौत जल्द ही भाजपा में शामिल हो सकती हैं.

यह भी पढ़ें -  Gujarat Election: गुजरात में जेपी नड्डा जारी करेंगे बीजेपी का संकल्प पत्र

अभिनेत्री के गृह राज्य हिमाचल प्रदेश में भी भाजपा की सरकार है. हिमाचल के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर एक्ट्रेस कंगना रनौत को भाजपा में लाने के लिए जी जान लगाए हुए हैं.‌

भाजपा में फायर ब्रांड नेताओं का सियासी भविष्य अच्छा रहा है
भारतीय जनता पार्टी में फायर ब्रांड नेताओं का ‘सियासी भविष्य अच्छा रहा है’. अगर हम बात करें 80 के दशक में जब भाजपा का उदय हुआ था तब से ही भाजपा में कई फायर ब्रांड नेता उभर कर आए थे.

‌ लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, कल्याण सिंह, नरेंद्र मोदी (जब गुजरात की राजनीति में सक्रिय थे) विनय कटियार, उमा भारती, साध्वी ऋतंभरा आदि ऐसे नेता रहे हैं जिनकी छवि सियासी गलियारे में फायर ब्रांड के रूप में देखी जाती थी.

इनमें से नरेंद्र मोदी ही ऐसे रहे जो प्रधानमंत्री हैं और केंद्र की राजनीति में सक्रिय हैं. पिछले एक दशक में भारतीय जनता पार्टी में फायर ब्रांड नेताओं की कमी होने लगी है.

यह भी पढ़ें -  25 नवम्बर 2022 पंचांग: जानें आज का शुभ मुहूर्त, कैलेंडर-व्रत और त्यौहार

हालांकि पार्टी के पास आज भी कई कुशल रणनीतिकार और प्रवक्ता मौजूद हैं लेकिन यह सब भाजपा कार्यालय में रणनीति बनाने में लगे रहते हैं. भाजपा को एक ऐसी ‘तेजतर्रार और हिंदू विचारधारा’ वाली नेता चाहिए जो फील्ड (मैदान) में जाकर पार्टी के लिए दहाड़ सके’.

अभी उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और भोपाल की भारतीय जनता पार्टी की सांसद साध्वी प्रज्ञा पार्टी में फायर ब्रांड नेता के रूप में पहचाने जाते हैं. भाजपा के कई नेता कंगना रनौत को पार्टी में शामिल कराने के लिए प्रयास में जुटे हुए हैं.

इसकी कवायद हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने शुरू कर दी है. अभिनेत्री कंगना के पास हिंदू विचारधारा, मैदान में ललकारने वाली आवाज समेत वह सब कुछ है जो भाजपा को जरूरत है.


अभिनेत्री कंगना की मां आशा रनौत भाजपा से जुड़ीं
अभिनेत्री कंगना रनौत की मां आशा रनौत ने अपनी बेटी को सुरक्षा मुहैया करवाने और हर कदम पर साथ देने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह का आभार जताया है. आशा रनौत कांग्रेसी विचारधारा को छोड़कर भारतीय जनता पार्टी से जुड़ गईं हैं.

यह भी पढ़ें -  उत्तराखंड सरकार ने प्रसून जोशी को बनाया ब्रांड एंबेसडर

भाजपा से जुड़ने के बाद आशा रनौत ने कहा कि उनका परिवार कांग्रेस पार्टी की विचारधारा से जुड़ा रहा है, लेकिन जब कंगना पर परेशानी आई तब भाजपा ने उसका खुलकर साथ दिया.

अभिनेत्री की मां ने कहा कि केंद्र में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली और हिमाचल प्रदेश में जयराम ठाकुर के नेतृत्व वाली बीजेपी सरकार उनकी मदद के लिए खड़ी हुई.

आशा ने कहा कि बीजेपी ने उनकी बेटी को सुरक्षा मुहैया करवाई. हालांकि आशा रनौत का ये बयान आने के बाद कयास लगाए जाने लगे हैं कि वे बीजेपी का दामन जल्द ही थाम सकती हैं.

दूसरी ओर भाजपा केंद्रीय आलाकमान की ओर से आशा को पार्टी में ज्वाइन करने संबंधित कोई अधिकारिक बयान अभी तक नहीं आया है. दूसरी ओर भाजपा के कई दिग्गज नेता ऐसे हैं जो अभिनेत्री कंगना रनौत को पार्टी में शामिल कराने के लिए प्रयासरत हैं.

शंभू नाथ गौतम, वरिष्ठ पत्रकार

Related Articles

Stay Connected

58,944FansLike
3,251FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

Latest Articles

बड़ी खबर: उत्तराखंड में हर साल बढ़ेगा यात्री किराया और मालभाड़ा, एसटीए की बैठक...

0
देहरादून| प्रदेश में अब हर साल एक अप्रैल को यात्री किराया और मालभाड़ा बढ़ जाएगा. राज्य परिवहन प्राधिकरण (एसटीए) की बैठक में इसे सैद्धांतिक...

ऋचा चड्ढा को सपोर्ट करना ब्यूटी ब्रांड मामाअर्थ को पड़ा भारी, बॉयकॉट के बाद...

0
भारतीय सेना पर बॉलीवुड एक्ट्रेस ऋचा चड्ढा की टिप्पणी के समर्थन में उतरा ब्यूटी प्रोडक्ट कंपनी मामाअर्थ (Mamaearth) अब लोगों के निशाने पर...

GATE Jam 2023: गेट जैम परीक्षा के लिए परीक्षा केंद्रों की सूची हुई अपडेट,...

0
आईआईटी की ओर से फरवरी में आयोजित की जाने वाली आईआईटी गेट जैम परीक्षा के लिए परीक्षा केंद्रों की सूची अपडेट की गई है....

अंतरिक्ष में ISRO की एक और उड़ान, श्रीहरि कोटा से 8 नैनो सैटेलाइट समेत...

0
ISRO ने एकर बार फिर इतिहास रचा। बता दें, श्रीहरि कोटा से ओशनसैट-3 समेत 8 नैनो सैटेलाइट को लॉन्च किया गया है। इसी के...

UP News: लोहा गलाने की भट्टी में गिरने से मैनेजर की मौत

0
उत्तरप्रदेश में स्थित हापुड़ जिले से एक दिल दहलाने वाला मामला सामने आया है। जहां लोहा गलाने वाली फैक्ट्री की भट्टी में गिरने से...

दिल्ली: सत्येंद्र जैन को कोर्ट से लगा बड़ा झटका, नहीं मिलेगा धार्मिक मान्यताओं के...

0
मनी लॉन्ड्रिंग केस में जेल के अंदर दिल्ली सरकार में मंत्री सत्येंद्र जैन को दिल्ली की एक कोर्ट ने झटका मिला है. राउज एवेन्यू...

रहस्यों से भरा है हैदराबाद का गोलकोंडा किला, जानें इसकी अनोखी खूबियों के बारे...

0
प्राचीन काल से ही भारत किलों और स्मारकों का देश माना जाता है, ऐसा इसलिए क्योंकि हमारे देश में अंग्रेजों से पहले अलग-अलग इलाकों...

फिल्म इंडस्ट्री के जाने माने अभिनेता विक्रम गोखले का निधन, 77 साल की उम्र...

0
सिनेमा जगत से एक दुखद खबर सामने आई है. टेलीविजन और फिल्म इंडस्ट्री के जाने माने अभिनेता विक्रम गोखले का निधन हो गया है....

रामेश्वरम: मछुआरों ने लगाया श्रीलंकाई सेना पर हमले का आरोप, जैसे तैसे बचायी जान

0
रामेश्वरम के भारतीय मछुआरों ने श्रीलंकाई नौसेना पर आरोप लगाते हुए कहा की, आज श्रीलंकाई नौसेना ने तड़के उनकी नाव पर हमला किया। आरोप...

पेटीएम को लगा तगड़ा झटका! आरबीआई ने खारिज किया पेमेंट एग्रीगेटर लाइसेंस का आवेदन

0
भारतीय रिजर्व बैंक ने पेटीएम पेमेंट सर्विस (पीएसएसएल) द्वारा पेमेंट एग्रीगेटर लाइसेंस प्राप्त करने के लिए किए आवेदन को खारिज कर दिया है. इसे...
%d bloggers like this: