कश्मीर में भाजपा का हुआ आगाज, लेकिन घाटी की सियासत में पैर जमाने में अभी लगेगा वक्त

जम्मू-कश्मीर जिला विकास परिषद के लिए हुए चुनावृ के परिणामों का भारतीय जनता पार्टी के साथ घाटी के कई राजनीति दलों को इंतजार था. ‘यह चुनाव छोटे जरूर थे लेकिन इसके मायने बड़े थे’. आइए हम आपको बताते हैं यह चुनाव परिणाम क्यों महत्वपूर्ण रहे. कड़ाके की ठंड के बीच मंगलवार से कश्मीर की सियासत गरमाई हुई है.

क्योंकि जिला विकास परिषद के परिणाम घोषित किए जा रहे थे. मोदी सरकार के घाटी से ‘अनुच्छेद 370’ हटाने के सवा साल बाद आयोजित हुए इन चुनाव पर पूरे देश की निगाहें लगी हुई थी. ‘आठ चरणों में हुए इस चुनाव में लड़ाई सिर्फ सियासत की नहीं बल्कि लड़ाई जम्मू-कश्मीर के सबसे बड़े मुद्दे की थी’. बम, बारूद और गोली से दूर स्वतंत्र साफ सुथरा चुनाव कराने की भी थी.

ये चुनावी लड़ाई भारतीय जनता पार्टी और जम्मू-कश्मीर की मुख्यधारा की पार्टियों के बीच सीधी टक्कर की थी. चुनाव नतीजों के आने के साथ ही इन सवालों का स्पष्ट जवाब जम्मू-कश्मीर की जनता ने दे दिया है. बता दें कि जम्मू कश्मीर में 280 सीटों के लिए जिला विकास परिषद चुनाव में पहले चरण का मतदान 28 नवंबर को हुआ था और 8वें व अंतिम चरण का मतदान 19 दिसंबर को हुआ.

सबसे बड़ी बात यह रही कि कश्मीर में यह चुनाव बहुत ही शांतिपूर्ण ढंग से आयोजित किए गए. बता दें कि बीजेपी के खिलाफ 7 दलों ने ‘गुपकार गठबंधन’ बनाकर एक साथ चुनाव लड़ा. गुपकार गठबंधन में नेशनल कॉन्फ्रेंस, पीडीपी, पीपल्स कॉन्फ्रेंस, आवामी नेशनल कॉन्फ्रेंस, पीपल्स मूवमेंट के साथ सीपीआई और सीपीएम शामिल हैं.

मालूम हो कि गुपकार गठबंधन वह है जो अभी 2 महीने पहले फारूक अब्दुल्ला और पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने घाटी की कई छोटी पार्टियों के साथ मिलकर बनाया हुआ है. ‘कश्मीर घाटी में चुनाव परिणामों के बाद यह गुपकार गठबंधन सबसेे बड़ा दल बन कर उभरा है लेकिन भारतीय जनता पार्टी को भी मुस्कुराने की वजह मिल गई हैै’. दूसरी ओर जम्मू संभाग में भाजपा ने अच्छा प्रदर्शन किया है. घाटी में अपनी प्रतिष्ठा बचाए रखने के लिए भारतीय जनता पार्टी ने इन चुनावों में काफी जान फूंकी थी.


शंभू नाथ गौतम, वरिष्ठ पत्रकार

Related Articles

Stay Connected

58,944FansLike
3,230FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

Latest Articles

शरद पवार का तंज, कई समारोह का हिस्सा रहा, लेकिन कभी किसी राज्पाल ने...

0
महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी की ओर से राज्य के नए मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे को मिठाई खिलाते हुए वायरल हुई तस्वीरों पर शरद...

मौका-मौका: एसबीआई जल्द करने वाला है क्लर्क के पदों पर बंपर भर्ती, जानिए पूरी...

0
बैंक में सरकारी नौकरी का सपना संजोए बैठे उम्मीदवारों के लिए अच्छी खबर है. स्टेट बैंक ऑफ इंडिया जल्द ही क्लर्क के पदों पर...

उत्तराखंड: पूर्व कैबिनेट मंत्री की करीबी पर शासन ने कसा जांच का शिकंजा, जानिए...

0
उत्तराखंड के पूर्व कैबिनेट मंत्री डॉ. हरक सिंह रावत की परेशानी कम होने का नाम नही ले रही. अब पूर्व कैबिनेट मंत्री की...

महाराष्ट्र विधानसभा के लिए आज का दिन अहम, शिंदे की अग्निपरीक्षा-होना है स्पीकर का...

0
महाराष्ट्र की शिंदे सरकार के लिए आज का दिन अहम में कितना दम है. आज ये भी तय हो जाएगा कि क्या सच में...

राशिफल 03-07-2022: आज सूर्य देव की कृपा से इन राशियों का चमकेगा भाग्य

0
मेष- आत्मविश्वास भरपूर रहेगा. माता का सानिध्य मिलेगा. कारोबार में वृद्धि होगी. परिश्रम अधिक रहेगा. स्वास्थ्य का ध्यान रखें. क्षणे रुष्टा-क्षणे तुष्टा की मन...

3 जुलाई 2022 पंचांग: जानें आज का शुभ मुहूर्त, कैलेंडर-व्रत और त्यौहार

0
आपके लिए आज का दिन शुभ हो. अगर आज के दिन यानी 3 जुलाई 2022 को कार लेनी हो, स्कूटर लेनी हो, दुकान...

Ind Vs Eng-5th Test: दूसरे दिन का खेल खत्म, टीम इंडिया का दबदबा-सैकड़े से...

0
मेजबान इंग्लैंड के खिलाफ अधूरी छूटी सीरीज के पांचवें टेस्ट के दूसरे दिन एजबस्टन में दूसरे दिन बारिश के तीन बार अड़ंगा डालने के...

मोहम्मद जुबैर की जमानत याचिका खारिज, कोर्ट ने 14 दिन की न्यायिक हिरासत में...

0
शनिवार को दिल्ली के पटियाला हाउस कोर्ट के मुख्य मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट (CMM) ने ऑल्ट न्यूज़ के सह-संस्थापक मोहम्मद जुबैर की जमानत याचिका खारिज कर...

प्रशासनिक फेरबदल: योगी सरकार ने फिर 21 आईपीएस अफसरों के किए तबादले, कई जिलों...

0
उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने एक बार फिर पुलिस विभाग में बड़े पैमाने पर ट्रांसफर किए हैं. ‌शनिवार को योगी सरकार ने यूपी...

फूटा गुस्सा: जयपुर एनआईए कोर्ट में पुलिस के सामने ही लोगों ने कन्हैयालाल के...

0
5 दिनों पहले राजस्थान के उदयपुर में कन्हैयालाल टेलर की हत्या के बाद पूरे देश भर में अभी भी गुस्सा बरकरार हैं. एक बार...
%d bloggers like this: