चीन ने माना गलवान घाटी में गई थी चीन के सैनिकों की भी जान

बीजिंग|……पूर्वी लद्दाख में पिछले कई महीनों से भारत और चीन के बीच सीमा विवाद चला आ रहा है. 15 जून की रात गलवान घाटी में भारत और चीन की सेना के बीच हुई हिंसक झड़प के बाद दोनों देशों के बीच तनाव चरम पर पहुंच गया है.

दोनों देशों में चल रही तनातनी के बीच पहली बार चीन ने स्वीकार किया है कि गलवान घाटी में हुई हिंसक झड़प में उसके सैनिकों की भी मौत हुई थी. इससे पहले चीन हमेशा से ही इस बात को झुठलाता आ रहा है.

चीन के अखबार ग्लोबल टाइम्स ने इस बात की पुख्ता जानकारी दी गई है कि गलवान घाटी में चीन की सेना को भारी नुकसान पहुंचा था और कई जवानों की मौत हो गई थी.

ग्लोबल टाइम्स के एडिटर इन चीफ हू झिजिन ने रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के एक बयान को ट्वीट कर लिखा कि जहां तक मुझे जानकारी है कि गलवान घाटी में भारत और चीन सेना के बीच हुई झड़प में चीनी सैनिकों के मारे जाने का आंकड़ा भारत के 20 जवानों से कम था.

इतना ही नहीं भारत ने किसी भी चीनी सैनिक को बंदी नहीं बनाया था बल्कि चीन ने भारत के सैनिकों को बंदी बना लिया था. ग्लोबल टाइम्स चीन के पीपुल्ड डेली का अंग्रेजी अखबार है जो चीन की सत्ताधारी पार्टी चाइनीज़ कम्युनिस्ट पार्टी का ही पब्लिकेशन है.

बता दें कि भारत के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने गुरुवार को राज्यसभा में चीन के साथ चल रहे सीमा विवाद पर अपनी बात रखी थी. राजनाथ सिंह ने कहा था कि भारत सभी नियमों और समझौतों को ध्यान में रखते हुए सीमा की सुरक्षा कर रहा है लेकिन चीन की तरफ से बार बार सीमा समझौते का उल्लंघन किया जा रहा है.

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने राज्यसभा में चीन से चल रहे विवाद पर जवाब देते हुए कहा कि लद्दाख में स्थिति गंभीर है लेकिन भारतीय सेना हर परिस्थिति के लिए तैयार है. वहीं गलवान घाटी की झड़प पर उन्होंने कहा कि चीन के दुस्साहस के कारण भारत के 20 जवान शहीद हुए थे, लेकिन उन जवानों ने चीन को कड़ा जवाब दिया.

गौरतलब है कि पूर्वी लद्दाख के गलवान घाटी में चीनी सेना के साथ हुई हिंसक झड़प में भारत के 20 जवान शहीद हो गए थे जबक‍ि चीन को भी भारी नुकसान उठाना पड़ा था. सूत्रों के मुताबिक इस घटना में चीन के 43 सैनिक हताहत हुए हैं.

Related Articles

Stay Connected

58,944FansLike
3,250FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

Latest Articles

जोशीमठ में भारी नुकसान के बाद कर्णप्रयाग में भी मकानों में दरारें, खाली कराए...

0
उत्तराखंड में प्राकृतिक आपदा थमने का नाम नहीं ले रही है. जोशीमठ में भारी नुकसान के बाद चमोली जिले के कर्णप्रयाग में भी आपदा...

देहरादून: ट्रैफिक को लेकर मुख्य सचिव के निर्देश, नए रूट तलाशें

0
सोमवार को मुख्य सचिव डॉ. एस.एस. संधु ने सचिवालय में देहरादून में यातायात संकुलन को कम करने हेतु सभी सम्बन्धित विभागों के साथ बैठक...

अगले साल भारत की यात्रा पर आएंगे पोप फ्रांसिस

0
रोम|.... रविवार को पोप फ्रांसिस ने कहा कि वह अगले साल भारत आने की योजना बना रहे हैं और वेटिकन न्यूज के अनुसार, 2023...

भारतीय कोच मोंटी देसाई बने नेपाल क्रिकेट टीम के हेड कोच

0
भारतीय कोच मोंटी देसाई को नेपाल क्रिकेट टीम का हेडकोच बनाया गया है. इससे पहले मोंटी वेस्टइंडीज क्रिकेट टीम के बल्लेबाजी कोच के रूप...

राहुल गांधी ने हिंडनबर्ग की रिपोर्ट पर केंद्र को घेरा, लगाई आरोपों की झड़ी

0
हिंडनबर्ग की रिपोर्ट को लेकर राहुल गांधी ने केंद्र सरकार पर बड़ा हमला बोला है. राहुल गांधी ने कहा है कि सरकार इस मामले...

बड़ी ख़बर: तुर्की और सीरिया में 7.8 तीव्रता के भूकंप ने मचाई तबाही, अब...

0
इस्तांबुल|….. तुर्की में एक बार फिर भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं. बताया जा रहा है कि 7.6 तीव्रता का भूकंप फिर इस...

Earthquake In Turkey: भारत ने तुर्किए की मदद के लिए बढ़ाए हाथ

0
तुर्किए (तुर्की) में आए भीषण भूकंप से निपटने के लिए भारत ने भी अपना सहायता मिशन तैयार कर लिया है. भारत की तरफ से...

एयर विस्तारा एयरलाइन को पूर्वोत्तर राज्यों की अनदेखी पड़ी भारी, डीजीसीए ने लगाया 70...

0
नागरिक उड्डयन महानिदेशालय यानी डीजीसीए इन दिनों विमान कंपनियों के खिलाफ लगातार सख्त कार्रवाई कर रहा है. इसी कड़ी में डीजीसीए ने एयरलाइन कंपनी...

IND vs AUS: ‘अश्विन तोप है’, टेस्ट सीरीज से पहले थर-थर कांप रहा ये...

0
IND vs AUS, 1st Test: भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच 4 मैचों की टेस्ट सीरीज का आगाज 9 फरवरी से नागपुर में होने जा...

तीसरी बार भी दिल्ली को नहीं मिला मेयर:जानिए क्या हुआ, अब AAP उठाएगी ये...

0
दिल्ली नगर निगम मेयर चुनाव के लिए आज (सोमवार को) सभी पार्षद तीसरी बार फिर सदन में इकट्ठा हुए, लेकिन हंगामे के चलते आज...
%d bloggers like this: