spot_imgspot_img

देहरादून: कुम्भ मेला 2021 निर्धारित समय पर होगा आयोजित, सर्व सम्मति से लिया गया निर्णय

देहरादून| मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने कहा कि कुम्भ मेला 2021 दिव्य एवं भव्य रूप से आयोजित किये जाने के लिये राज्य सरकार दृढ़ संकल्पित है. उन्होंने विश्वास व्यक्त किया कि सभी अखाड़ों के सन्त महात्माओं के सहयोग एवं आशीर्वाद से यह आयोजन सफल होगा. शनिवार को सचिवालय में अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष एवं महामंत्री तथा अन्य पदाधिकारियों के साथ कुम्भ मेले के आयोजन के सम्बन्ध में मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने व्यापक विचार विमर्श किया.

इस अवसर पर नगर विकास मंत्री मदन कौशिक, मुख्य सचिव ओम प्रकाश, पुलिस महानिदेशक कानून व्यवस्था अशोक कुमार के साथ ही शासन के उच्चाधिकारी एवं मेले से जुड़े अधिकारी उपस्थित थे. मुख्यमंत्री ने कुम्भ मेले की व्यवस्थाओं के तहत किये जा रहे निर्माण कार्यों की समीक्षा करते हुए सभी स्थायी व अस्थायी निर्माण कार्यों को 15 दिसम्बर से पूर्व सम्पन्न करने के निर्देश सम्बन्धित अधिकारियों को दिये.

बैठक में सभी अखाड़ों के सुझावों पर मुख्यमंत्री ने नील धारा सहित अन्य क्षेत्रों में निर्मित होने वाले स्नान घाटों के नाम 13 अखाड़ों के ईष्ट देवों के नाम पर रखे जाने, 2010 कुम्भ मेले की भांति इस बार भी उतने ही क्षेत्रफल में कुम्भ मेले के आयोजन, मंशा देवी हिल वाई पास सड़क को मेले के दौरान प्रयोग में लाये जाने तथा आन्तरिक सड़कों के निर्माण में तेजी लाये जाने के निर्देश दिये.

यह भी पढ़ें -  पेशावर ब्लास्ट के बाद ऐसा क्यों बोले पाकिस्तान के रक्षा मंत्री, 'पूजा करते वक्त भारत में नहीं मारे जाते श्रद्धालु'

मुख्यमंत्री ने हरिद्वार में संत महात्माओं को भू समाधि के लिये स्थान चयन को संत समाज के हित में लिया गया निर्णय बताया. मुख्यमंत्री ने कहा कि इस वर्ष भी सभी अखाड़ों के सहयोग से छड़ी यात्रा आयोजित की जायेगी धर्मस्व एवं संस्कृति विभाग इसका नोडल विभाग होगा. उन्होंने कहा कि कुम्भ मेले को भव्य एवं दिव्य रूप से आयोजित किये जाने के लिये लगातार बैठकें की जाती रही हैं.

कोविड के कारण उत्पन्न समस्याओं का तत्समय आभास नहीं था. पूरा विश्व इस संकट का सामना कर रहा है. इससे सभी स्तरों पर कार्यों की गति में अवरोध पैदा हुआ है उन्होंने कहा कि इस दौरे से भी हम निजात पायेंगे तथा संतों के आशीर्वाद से इस आयोजन को बेहतर तरीके से सम्पन्न कर पायेंगे. उन्होंने कहा कि इस सम्बन्ध में देश काल व परिस्थिति के अनुसार भी निर्णय लिया जायेगा. आगे स्थितियां कैसी होगी, इसका पूर्वानुमान लगाया जाना कठिन है.

मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर सभी संत महात्माओं को उनकी अगुवाई में राम मन्दिर निर्माण के शिलान्यास के लिये भी बधाई दी. उन्होंने कहा कि इसके लिये हमारे संत महात्माओं ने भी अपना बलिदान दिया. आखिर वह शुभ दिन आया जब प्रधानमंत्री मोदी ने राम के भव्य मन्दिर का शिलान्यास किया.

यह भी पढ़ें -  'हिंद सिटी' के नाम से जाना जाएगा यूएई का अल मिन्हाद जिला, उपराष्ट्रपति मकतूम ने बदला नाम

इस अवसर पर नगर विकास मंत्री मदन कौशिक ने कहा कि कुम्भ मेले के आयोजन में सभी अखाड़ों का सहयोग मिल रहा है. अखाड़ों की सुविधा के लिये भी सभी व्यवस्थायें की जा रही हैं. निर्माण कार्यों में तेजी लायी गई है. कोरोना के कारण इसकी गति कुछ धीमी जरूर हुई है. कुम्भ मेले से सम्बन्धित सभी पुलों, स्नान घाटों, सड़कों, आस्था पथों आदि का निर्माण 15 दिसम्बर तक पूर्ण हो इसका प्रयास किया जा रहा है.

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेन्द्र गिरी ने उज्जैन व प्रयाग राज कुम्भ की भांति अखाड़ों को धनराशि व अन्य सुविधायें उपलब्ध कराये जाने की बात रखी. उन्होंने अखाड़ों में साफ-सफाई व अतिक्रमण को हटाने, आवागमन व पेशवाई मार्ग निर्धारण, पुलों, घाटों के निर्माण में तेजी लाये जाने का भी अनुरोध किया.

यह भी पढ़ें -  31 जनवरी 2023 पंचांग: जानें आज का शुभ मुहूर्त, कैलेंडर-व्रत और त्यौहार

उन्होंने कुम्भ मेले के सफल आयोजन के लिये सभी अखाड़ों की ओर से हर संभव सहयोग का भी आश्वासन दिया. इस अवसर पर मेलाधिकारी दीपक रावत द्वारा निर्माण कार्यों से संबंधित प्रस्तुतीकरण दिया गया.

बैठक में अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के महामंत्री महन्त हरि गिरि, महन्त प्रेम गिरि, महन्त महेश पुरी, महन्त सत्यगिरि, महन्त कैलाशपुरी, महन्त मुकुन्दानन्द ब्रम्हचारी, महन्त सोमेश्वरानन्द ब्रम्हचारी, महन्त ओंकार गिरि, महन्त रविन्द्र पुरी सहित बड़ी संख्या में संत महात्मा एवं अधिकारीगण उपस्थित थे.

Related Articles

Stay Connected

58,944FansLike
3,250FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

Latest Articles

Ind Vs Nz: भारतीय गेंदबाजों के आगे निकला न्यूजीलैंड का दम, 66 रन पर...

0
टीम इंडिया ने बुधवार (एक फरवरी, 2023) को न्यूजीलैंड को तीसरे टी-20 में करारी मात दी. टीम इंडिया के सलामी बल्लेबाज शुभमन गिल और...

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में तीनों फॉर्मेट में सबसे कम उम्र में सैकड़ा जड़ने वाले खिलाड़ी...

0
अहमदाबाद| टी20 फॉर्मेट में बल्लेबाजी की आलोचना करने वालों को अपने करियर के सर्वश्रेष्ठ फॉर्म में चल रहे युवा बल्लेबाज शुभमन गिल ने अहमदाबाद...

बजट 2023: शानदार बजट पेश करने के लिए सीएम धामी ने निर्मला सीतारमण को...

0
सीएम पुष्कर सिंह धामी ने केंद्रीय बजट 2023 -24 हेतु केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण को बधाई देते हुए कहा है कि पीएम मोदी...

बजट में मोदी सरकार ने देश को दिया बड़ा तोहफा, देश में खुलेंगे 50...

0
बुधवार को सदन में केंद्रीय बजट भाषण के दौरान, केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 1 फरवरी को घोषणा की कि देश...

वित्तीय वर्ष 2023-24 का बजट पेश, इनकम टैक्स में क्या बदला क्या नही जानिए

0
केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने वित्तीय वर्ष 2023-24 का बजट पेश कर दिया।यह मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का आखिरी पूर्ण बजट है।...

वित्तीय वर्ष 2023-24 का बजट पेश जानिए गरीब वर्ग के लिए क्या है खास

0
केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने वित्तीय वर्ष 2023-24 का बजट पेश कर दिया। सरकार ने अलग-अलग वर्गों के लिए कई बड़े एलान किए...

जम्मू-कश्मीर: गुलमर्ग स्कीइंग रिजॉर्ट के पास भारी हिमस्खलन, 2 विदेशी टूरिस्ट की मौत

0
जम्मू-कश्मीर के बारामूला जिले के गुलमर्ग में लोकप्रिय स्की रिसॉर्ट में बुधवार को आए हिमस्खलन के बाद दो विदेशी स्कीयर मारे गए, जबकि कई...

आम बजट 2023-24 पेश होते ही राजनीतिक हलचल किसी ने की तारीफ तो कोई दिखा...

0
बता दें कि केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने देश का आम बजट पेश कर दिया है। इस बार के बजट में महिलाओं,युवाओं और...

मोदी सरकार ने बजट 2023 के लिए दिया ‘सप्तर्षि’ सूत्र, जानें- क्या हैं ‘पीएम...

0
बजट भाषण में केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बुधवार (एक फरवरी, 2023) को कुछ खास शब्दों का इस्तेमाल किया. उन्होंने इस दौरान पीएम...

उत्तराखंड: कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी के बिगड़े बोल, कहा- इंदिरा-राजीव की हत्या शहादत...

0
देहरादून| उत्तराखंड के बीजेपी सरकार में मंत्री गणेश जोशी ने पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी और राजीव गांधी की हत्या को शहादत नहीं बल्कि ‘दुर्घटना’...
%d bloggers like this: