लगातार हार पर भी कांग्रेस अपनी विचारधारा में परिवर्तन नहीं कर पा रही

कुछ वर्षों से कांग्रेस की लगातार हार होती जा रही है, उसके बावजूद भी गांधी परिवार इसे स्वीकार करने के लिए तैयार नहीं है. इसके बावजूद भी कांग्रेस में विचारधारा, संगठन और शीर्ष नेतृत्व के स्तर पर कोई खास बदलाव नहीं हो रहा है. इसके उलट जो लोग इस तरह के बदलाव की मांग कर रहे हैं उन्हें पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया जाता है.

‘बता दें कि सात अगस्त को कांग्रेस के 23 प्रमुख नेताओं ने सोनिया गांधी को चिट्ठी लिखकर कांग्रेस में संगठन, उसकी कार्यप्रणाली और नेतृत्व में परिवर्तन की मांग की थी. इसके बाद भी पार्टी में कोई नया परिवर्तन देखने को नहीं मिला’, हालत यह है कि पार्टी के पास अभी एक नियमित अध्यक्ष नहीं है.

‘सोनिया गांधी कांग्रेस की कार्यवाहक या अंतरिम अध्यक्ष बनी हुई हैं। कांग्रेस के कई शीर्ष नेता अब गांधी परिवार का कोई अध्यक्ष देखना नहीं चाहते हैं’. कांग्रेस का सबसे बड़ा संकट यह है कि वह हर जरूरी सवाल से भाग रही है.

नेतृत्व का मसला सुलझाए और संगठन में बदलाव किए बिना कांग्रेस का संकट खत्म नहीं होने वाला है लेकिन पार्टी का शीर्ष नेतृत्व इसे छोड़कर हर बार कुछ नया प्रयोग करने लग जा रहा है। नेतृत्व का मसला सुलझाए और संगठन में बदलाव किए बिना कांग्रेस का संकट खत्म नहीं होने वाला.

पिछले दिनों ही गांधी परिवार के दो बहुत खास और कद्दावर नेता मोतीलाल वोरा और अहमद पटेल भी अब नहीं रहे’. अब गांधी परिवार को अपनी सोच और विचारधारा में कुछ परिवर्तन लाना होगा. पिछले दिनों शिवसेना भी कांग्रेस में नेतृत्व को लेकर सवाल उठा रही है. जबकि वह महाराष्ट्र में कांग्रेस के समर्थन से सरकार चला रही है, उसके बावजूद वह विरोध में आ खड़ी हुई है.

शंभू नाथ गौतम, वरिष्ठ पत्रकार

Related Articles

विज्ञापन

Latest Articles

संदेशखाली हिंसा मामले में कलकत्ता हाईकोर्ट ने दिए सीबीआई जांच के आदेश

0
पश्चिम बंगाल के संदेशखाली हिंसा मामले में कलकत्ता हाईकोर्ट मंगलवार को एक्शन में दिखी. मामले पर सख्त रुख अख्तियार करते हुए कोर्ट ने कुल...

सीएम धामी ने रोड शो के बाद जनसभा में की घोषणा, नगरपालिका बनेगी पुरोला...

0
मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने आज उत्तरकाशी के बड़कोट में एक भव्य रोड शो का आयोजन किया। इसके बाद उन्होंने लाभार्थी योजना सम्मान समारोह...

बीजेपी कि गढ़वाल और हरिद्वार लोकसभा सीट पर कश्मकश जारी, जल्द हो सकती है...

0
भाजपा के लिए गढ़वाल और हरिद्वार लोकसभा सीटों पर तुरुप का इक्का कौन होगा, इस मुद्दे पर नई दिल्ली में चर्चा जारी है। दोनों...

पिछौड़ा ओढ़कर अनंत-राधिका की प्री वेडिंग में पहुंची साक्षी धोनी

0
अनंत अंबानी और राधिका मर्चेंट का प्री वेडिंग सेलिब्रेशन गुजरात के जामनगर में हुआ। इस मौके पर पूर्व भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान महेंद्र...

सीएम धामी का उत्तरकाशी में भव्य रोड शो, रामलीला मैदान में लाभार्थी सम्मान समारोह

0
मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने उत्तरकाशी बड़कोट में एक विशाल रोड शो किया। साथ ही, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र भट्ट भी इस कार्यक्रम में...

योगी सरकार ने डेढ़ करोड़ किसानों को दिया उपहार, निजी नलकूपों पर मुफ्त बिजली...

0
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में आयोजित कैबिनेट बैठक में किसानों के हित में महत्वपूर्ण निर्णय लिया गया है। कैबिनेट ने निजी नलकूपों पर...

उत्तराखंड लोक सेवा आयोग ने पीसीएस-जे मुख्य परीक्षा का परिणाम किया घोषित

0
उत्तराखंड लोक सेवा आयोग ने उत्तराखंड न्यायिक सेवा सिविल न्यायाधीश परीक्षा-2022 की मुख्य परीक्षा का परिणाम घोषित कर दिया है। उत्तराखंड न्यायिक सेवा के...

उत्तराखंड: मार्च में बढ़ेगा पारा, रहें गर्मी झेलने को तैयार

0
उत्तराखंड में मार्च के पहले दिनों में बारिश और बर्फबारी के कारण ठंड ने कुछ दिनों के लिए बढ़ गई, लेकिन इस महीने के...

देहरादून के 15 लाख वोटर 1880 मतदान स्थलों पर करेंगे मतदान

0
लोकसभा चुनाव के लिए निर्वाचन आयोग ने लगभग सभी तैयारियां पूरी कर ली हैं। इस बार टिहरी गढ़वाल और हरिद्वार लोकसभा सीटों के लिए...

उत्तराखंड: अप्रैल में भारी बिजली संकट, केंद्र की विशेष सहायता खत्म होने की आशंका

0
उत्तराखंड में अप्रैल माह से बिजली की समस्या बढ़ने का खतरा है, और केंद्र की विशेष सहायता की मियाद 31 मार्च को समाप्त हो...