स्थापना दिवस विशेष: कमजोर नेतृत्व और अपनों से जूझती कांग्रेस पार्टी का स्थापना दिवस पर उदास आयोजन

देश की सबसे पुरानी पार्टी कांग्रेस संकटों से लगातार घिरती जा रही है. अपने उसूलों और विचारधारा के लिए जानी जाने वाली यह पार्टी सबसे खराब दौर में है. ‘कांग्रेस की आज हालत ऐसी है कि जैसे कोई वस्तु बीच बाजार में नीलाम होने के लिए खड़ी हुई हो’. पार्टी में सबसे बड़ा संकट डेढ़ साल से नेतृत्व को लेकर रहा है.

यही नहीं ‘कांग्रेस पिछले कुछ महीनों से दो धड़ों बंटी हुई है, यानी पार्टी का एक वर्ग ऐसा है जो खुलेआम गांधी परिवार की खिलाफत करने में जुटा हुआ है’. वर्ष 2014 में केंद्र की राजनीति में जब से भाजपा ने कब्जा जमाया है तभी से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमित शाह, कांग्रेस का देश से वजूद मिटाने में लगे हुए हैं.

कांग्रेस को लगातार दो आम चुनाव में भयानक हार का सामना करना पड़ा, 2014 के आम चुनाव में 44 लोकसभा सीटें लाने वाली पार्टी 2019 के चुनाव में मात्र 52 सीट ही हासिल कर सकी है. यह हार इतनी बुरी थी कि देश के 18 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में पार्टी का खाता नहीं खुल पाया.

‘आज कांग्रेस के लिए 28 दिसंबर बहुत महत्वपूर्ण है. क्योंकि कांग्रेस इस तारीख को अपना स्थापना दिवस मनाती है. देश की सबसे पुरानी पार्टी आज अपना 136वां स्थापना दिवस बड़े उदास मन से मना रही है’. बात को आगे बढ़ाएं उससे पहले बता दें कि भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की स्थापना 72 प्रतिनिधियों की उपस्थिति के साथ 28 दिसंबर1885 को बॉम्बे के गोकुलदास तेजपाल संस्कृत महाविद्यालय में हुई थी.

इसके संस्थापक महासचिव (जनरल सेक्रेटरी) ए ओ ह्यूम थे जिन्होंने कलकत्ता के व्योमेश चन्द्र बनर्जी को अध्यक्ष नियुक्त किया था. उसके बाद कांग्रेस की देश को आजाद कराने में प्रमुख भूमिका भी रही. ‘देश के स्वतंत्र होने के बाद भी कांग्रेस का स्वर्णिम युग शुरू हुआ और पार्टी ने देश पर एकछत्र शासन भी किया.

पंडित जवाहरलाल नेहरू, इंदिरा गांधी और राजीव गांधी ने प्रधानमंत्री पद की कमान भी संभाली. इसके अलावा पार्टी में सैकड़ों ऐसे कद्दावर नेता रहे जो कांग्रेस को आगे बढ़ाते रहें, लेकिन यह पार्टी गांधी परिवार के इर्द-गिर्द ही रही.

लेकिन अब कांग्रेस के कई नेताओं ने गांधी परिवार के खिलाफ विरोधी स्वर दिखाई दे रहे हैं’. इस बार कांग्रेस के स्थापना दिवस पर पार्टी के नेताओं में सामंजस्य नहीं दिख रहा है. नेताओं के आपसी मनमुटाव और राहुल गांधी की अनुपस्थिति की वजह से देशभर के कार्यकर्ता भी मायूस हैं.

शंभू नाथ गौतम, वरिष्ठ पत्रकार

Related Articles

विज्ञापन

Latest Articles

झारखंड: जामताड़ा में बड़ा रेल हादसा, ट्रेन की चपेट में आने से 12 की...

0
झारखंड के जामताड़ा से दिल दहला देने वाली खबर सामने आ रही है. जानकारी के मुताबिक ट्रेन की चपेट में आने से 12 लोगों...

देहरादून: सीएस राधा रतूड़ी ने दी जिलाधिकारियों को जनपदों में संचालित हर योजना के...

0
देहरादून| सीएस राधा रतूड़ी ने राज्य के सीमान्त गांवों में इन्फ्रास्ट्रक्चर विकास के साथ ही कौशल विकास, आजीविका प्रशिक्षण एवं मानव संसाधन विकास पर...

बीसीसीआई का ईशान किशन और श्रेयस अय्यर पर बड़ा एक्शन! सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट की...

0
बीसीसीआई ने सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट वाले खिलाड़ियों की नई लिस्ट जारी कर दी है. इसमें बीसीसीआई ने बड़ा एक्शन लेते हुए ईशान किशन और श्रेयस...

रामपुर: पूर्व सांसद जयाप्रदा अदालत से फरार घोषित, कोर्ट ने पुलिस को खोजकर हाजिर...

0
रामपुर| यूपी के रामपुर की एमपी-एमएलए मजिस्ट्रेट ट्रायल कोर्ट ने मंगलवार को पूर्व सांसद और अभिनेत्री जयाप्रदा को कोर्ट में हाजिर नहीं होने पर...

देहरादून: स्वच्छ और स्वस्थ दून के कर्म पथ पर निकले छात्र

0
स्वच्छ दून स्वस्थ दून को धरातल पर उतारने के लिए छात्र अपने कर्म पथ पर निकल पड़े हैं और गली मोहल्ले स्कूल और बाज़ारों...

देहरादून: त्यूणी मार्ग पर बड़ा हादसा, अनियंत्रित कार गहरी खाई में गिरी-दो बच्चों सहित...

0
देहरादून के विकासनगर में त्यूणी- अटाल मार्ग पर बुधवार को दर्दनाक हादसा हो गया। एक कार अनियंत्रित होकर 500 मीटर खाई में गिर गई. दुर्घटना...
अखिलेश यादव

सीबीआई ने अखिलेश यादव को भेजा समन, 29 फरवरी को पूछताछ के लिए बुलाया,...

0
समाजवादी पार्टी के नेता अखिलेश यादव को केंद्रीय अन्वेषण एजेंसी की ओर से नोटिस दी गई है. जानकारी के मुताबिक अवैध माइनिंग केस में...

देहरादून: एम.आई.टी. की छात्राओं ने की सीएम धामी से भेंट

0
देहरादून| बुधवार को सीएम पुष्कर सिंह धामी से उत्तराखंड विधानसभा की कार्यवाही का अवलोकन करने आये महादेवी इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी (एम.आई.टी.) की छात्राओं ने...

हिमाचल में अभी बाकी है हलचल! सीएम सुक्खू का इस्तीफे से इनकार

0
शिमला| हिमाचल प्रदेश में कांग्रेस में जारी सियासी संकट और इस्तीफे की खबरों के बीच मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू ने बड़ा बयान दिया है....

हिमाचल विधानसभा से बीजेपी के 15 विधायक सस्पेंड

0
हिमाचल में जारी सियासी हलचल के बीच विधानसभा से विपक्ष के नेता जयराम ठाकुर सहित 15 सदस्यों को निलंबित कर दिया गया है. सदन...