कोरोना वायरस का 5जी से क्या है संबंध! दूरसंचार विभाग ने किया स्पष्ट

संचार मंत्रालय के दूरसंचार विभाग (डीओटी) के संज्ञान में यह जानकारी आई है कि विभिन्न सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर इस तरह के भ्रामक संदेश चल रहे हैं जिनमें यह दावा किया गया है कि कोरोना वायरस की दूसरी लहर आने का कारण 5जी मोबाइल टावरों से किए जा रहे परीक्षण हैं.

दूरसंचार विभाग (डीओटी) की ओर से जारी एक वक्तव्य के अनुसार ऐसे सभी संदेश भ्रामक एवं असत्य होने के साथ ही बिलकुल भी सही नहीं हैं. इस प्रेस वक्तव्य के माध्यम से यह सूचित किया जाता है कि 5जी प्रौद्योगिकी और कोविड-19 संक्रमण के फैलाव में कोई सम्बन्ध नहीं है.

जनसामान्य से यह अनुरोध किया जाता है कि वे इस सम्बन्ध में चल रही असत्य एवं गलत सूचनाओं और फैलाई जा रही अफवाहों से भ्रमित न हों. 5जी प्रौद्योगिकी को कोविड-19 वैश्विक महामारी से जोड़ने वाले दावे भ्रामक हैं और उनका कोई वैज्ञानिक आधार नहीं है. साथ, ही यह भी सूचित किया जाता है कि अभी तक भारत में 5जी नेटवर्क कहीं भी शुरू नहीं हुआ है.

अतः यह दावा आधारहीन गलत है कि भारत में कोरोना वायरस वायरस 5जी के परीक्षण अथवा इसके नेटवर्क के कारण फैला.

यह भी पढ़ें -  दूरी: नीति आयोग की बैठक से सीएम चंद्रशेखर राव ने किया किनारा, नीतीश भी नहीं होंगे शामिल

मोबाइल टावरों से बहुत कम क्षमता की नॉन-आयोनाइजिंग रेडियो तरंगें उत्सर्जित होती है और वे मनुष्यों सहित किसी भी जीव को किसी भी प्रकार की हानि पहुंचाने में अक्षम होती हैं. दूरसंचार विभाग ने रेडियो आवृत्ति (फ्रीक्वेंसी) क्षेत्र (अर्थात आधार स्टेशन उत्सर्जन) से उत्पन्न होने वाले खतरे (एक्सपोजर) की सीमा के लिए जो मानक निर्धारित किए हैं वे नॉन-आयोनाइजिन्ग विकिरण सुरक्षा पर अन्तर्राष्ट्रीय आयोग (इंटरनेशनल कमीशन ऑन नॉन-आयोनाइजिंग रेडिएशन प्रोटेक्शन-आईसीएनआईआरपी) द्वारा निर्धारित और विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) द्वारा अनुमोदित सुरक्षा सीमाओं से 10 गुना अधिक कड़े हैं.

यह भी पढ़ें -  सीएम धामी ने पीएम मोदी अध्यक्षता में आयोजित नीति आयोग की बैठक में किया प्रतिभाग

डीओटी की एक सुगठित प्रणाली है ताकि सभी टीएसपी इन निर्धारित मानकों का कड़ाई से पालन कर सकें. तथापि यदि किसी नागरिक को यह आशंका है कि किसी मोबाइल टावर से विभाग द्वारा निर्धारित सुरक्षित मानकों से अधिक रेडियो तरंगों का उत्सर्जन हो रहा है. https://tarangsanchar.gov.in/emfportal के तरंग संचार पोर्टल पर ईएमएफ मापन/परीक्षण के लिए लिखित अनुरोध किया जा सकता है.

मोबाइल टावरों से होने वाले विद्युत वाहक बल (इलेक्ट्रो मोटिव फ़ोर्स–ईएमएफ) उत्सर्जन से स्वास्थ्य पर पड़ने वाले प्रभावों से जनसामान्य की आशंकाओं के निवारण के लिए दूरसंचार विभाग लोगों में ईएमएफ विकिरण के बारे में जागरूकता लाने की दिशा में बहुत से कदम उठा रहा है.

यह भी पढ़ें -  एनआईए की बड़ी कार्रवाई, दिल्ली के बाटला हाउस से दबोचा आईएसआईएस का एक्टिव मेंबर

उदाहरणार्थ- राष्ट्रव्यापी जागरूकता अभियान, ईएमएफ से जुड़े विभिन्न विषयों पर इश्तहारों/सूचना ब्रोशर्स का वितरण, डीओटी की वेबसाइट पर ईएमएफ से जुड़े विभिन्न मुद्दों पर विस्तृत सूचनाओं का प्रकाशन, समाचारपत्रों में विज्ञापन, “तरंग समाचार’’ पोर्टल इत्यादि शुरू करना.

डीओटी की क्षेत्रीय इकाइयां भी जन जागरूकता अभियान चला रही हैं ताकि अधिक से अधिक लोगों को मोबाइल टावरों से होने वाले ईएमएफ उत्सर्जनों के स्वास्थ्य पर प्रभावों के बारे में वैज्ञानिक तथ्यों से अवगत कराया जा सके.

Related Articles

Stay Connected

58,944FansLike
3,241FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

Latest Articles

8 अगस्त 2022 पंचांग: जानें आज का शुभ मुहूर्त, कैलेंडर-व्रत और त्यौहार

0
आपके लिए आज का दिन शुभ हो. अगर आज के दिन यानी 8 अगस्त 2022 को कार लेनी हो, स्कूटर लेनी हो, दुकान...

IND vs WI, 5th T20I: टीम इंडिया ने पांचवें टी20 में भी वेस्टइंडीज को...

0
रविवार को फ्लोरिडा में विंडीज के खिलाफ खत्म हुयी पांच टी20 मैचों की सीरीज के आखिरी मुकाबले में टीम इंडिया ने वेस्ट इंडीज को...

सीएम धामी ने पीएम मोदी अध्यक्षता में आयोजित नीति आयोग की बैठक में किया...

0
मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने नई दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में आयोजित नीति आयोग की शासी परिषद की 7 वीं बैठक...

देहरादून: मसूरी में रोडवेज बस अनियंत्रित होकर पलटी, यात्रियों ने खिड़कियों से कूदकर बचाई...

0
देहरादून|.... रविवार दोपहर मसूरी लाइब्रेरी मार्ग पर आईटीबीपी गेट के पास एक दर्दनाक हादसा हो गया. यहां एक यात्रियों से भरी रोडवेज बस अनियंत्रित...

CWG 2022: निकहत जरीन ने जड़ा गोल्डन पंच, भारत को दिलाया 17वां गोल्ड

0
वर्ल्ड चैंपियन मुक्केबाज निकहत जरीन ने कॉमनवेल्थ गेम्स में भी गोल्ड मेडल अपने नाम किया है. 26 वर्षीय निकहत इसी साल मई में वर्ल्ड...

CWG 2022: 16 साल बाद भारतीय महिला हॉकी टीम ने जीता मेडल, शूटआउट में...

0
भारतीय महिला हॉकी टीम ने बर्मिंघम कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 (Commonwealth Games) में ब्रॉन्ज मेडल जीतकर इतिहास रच दिया है. भारत ने ब्रॉन्ज मेडल मुकाबले...

मिस यूनिवर्स हरनाज कौर संधू को कोर्ट ने जारी किया नोटिस, पढ़े पूरा मामला

0
चंडीगढ़ की एक अदालत ने अभिनेत्री उपासना सिंह द्वारा फिल्म प्रमोशन विवाद से जुड़े दायर एक मामले में मिस यूनिवर्स हरनाज कौर संधू को...

एनआईए की बड़ी कार्रवाई, दिल्ली के बाटला हाउस से दबोचा आईएसआईएस का एक्टिव मेंबर

0
स्वतंत्रता दिवस से पहले राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने दिल्ली में तलाशी अभियान चलाया और आईएसआईएस मॉड्यूल मामले की गतिविधियों में कथित रूप से...

CWG 2022: CWG 2022: दक्षिण अफ्रीका को मात देकर फाइनल में पहुंची भारतीय पुरुष...

0
बर्मिंघम|.... भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने शनिवार को बर्मिंघम राष्ट्रमंडल खेलों के सेमीफाइनल में दक्षिण अफ्रीका को 3-2 के अंतर से मात देकर फाइनल में...

सांप्रदायिक तनाव के बाद मणिपुर के कई जिलों में 5 दिन के लिए इंटरनेट...

0
सांप्रदायिक तनाव के बाद मणिपुर सरकार ने राज्य में कई जिलों में इंटरनेट सेवा 5 दिनों के लिए बंद कर दी है. राज्य सरकार...
%d bloggers like this: