शानदार जीत की हकदार थीं न्यूजीलैंड की पीएम जेसिंडा आर्डर्न

आइए आज आपको भारत से साढ़े 12 हजार किलोमीटर दूर लिए चलते हैं. बात करेंगे एक ऐसे खूबसूरत और शांत देश की जो विश्व मीडिया में एक बार फिर सुर्खियों में है. जी हां हम बात कर रहे हैं न्यूजीलैंड की. इस देश की प्रधानमंत्री जेसिंडा आर्डर्न हैं.

’40 वर्षीय जेसिंडा की छवि पूरे दुनिया भर में एक शानदार और ईमानदार प्रधानमंत्री के रूप में जानी जाती हैं’. एक बार फिर न्यूजीलैंड की जनता ने जेसिंडा पर अपना भरोसा जताया है. शनिवार को हुए यहां हुए आम चुनावों में जनता ने उनकी लिबरल लेबर पार्टी को बंपर जनादेश दिया. इस शानदार जीत के बाद यह आर्डर्न एक बार फिर न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री पद शपथ लेंगी. बात को आगे बढ़ाएं आपको कुछ माह पीछे लिए चलते हैं.

कोरोना महामारी जब विश्व के तमाम देशों में दहशत फैला रही थी. ‘इस महामारी के आगे जब कई देशों ने घुटने तक टेक दिए थे उस समय न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री जेसिंडा अपनेे देशवासियों को इस वायरस सेेेे बचाने के मजबूती के साथ खड़ी हुईं थी, उन्होंने इस कोरोना संकट काल का डटकर मुकाबला किया. पीएम जेसिंडा के द्वारा अपनाए गए इस खतरनाक वायरस की रोकथाम की वजह से ही न्यूजीलैंड ही दुनिया में एकमात्र ऐसा देश था जिसने अपने आप को कोरोना मुक्त किया था’.

यह भी पढ़ें -  अगर है इंटेलिजेंस ब्यूरो में नौकरी की चाहत, तो होनी चाहिए ये डिग्री

आर्डर्न की कोरोना वायरस संक्रमण के प्रसार को रोकने की सफल कोशिशें करने को लेकर भी विश्व भर में उनकी लोकप्रियता का ग्राफ ऊपर चढ़ गया था. न्यूजीलैंड की जनता ने अपने प्रधानमंत्री की प्रशंसा की और उनको कोरोना वायरस से निपटने के लिए पूरा सहयोग किया.

‘वह विश्व की दूसरी ऐसा नेता हैं, जिन्होंने इस संवैधानिक पद पर रहने के दौरान 2017 में एक बच्चे को जन्म दिया था और पूरी दुनिया में कामकाजी माताओं के लिए रोल मॉडल बन गईं’. यहां हम आपको बता दें कि 50 लाख की आबादी वाले इस देश में अब कोरोना का खतरनाक काल लगभग सफाया हो चुका है. प्रधानमंत्री की कुशल नीतियों की वजह से ही अब इस देश के लोग खुश हैं और खुली हवा में सांस ले रहे हैं.

न्यूजीलैंड में कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए जेसिंडा ने लगाई थी कठोर पाबंदियां
बता दें कि इस साल के मार्च में जब न्यूजीलैंड में 100 लोगों में कोरोना की पुष्टि हुई तब प्रधानमंत्री जेसिंडा आर्डर्न बिना देर किए अपने देश के नागरिकों की सुरक्षा के लिए आक्रामक नीति अपनाई थी. उनके इस फैसले पर वहां की जनता ने पूरा सहयोग भी किया. पीएम ने न्यूजीलैंड में कठोर पाबंदियों वाला लॉकडाउन लागू कर दिया.

यह भी पढ़ें -  उत्तराखण्ड में बिछेगा बीएसएनएल जाल, 1200 से ज्यादा मोबाइल टावर को मिली स्वीकृति

उनकी यह योजना काम कर गई और देश ने सामुदायिक स्तर पर संक्रमण नहीं होने दिया. उनके इस फैसले को दुनिया भर में सराहा गया था. हालांकि उसके बाद अगस्त महीने में न्यूजीलैंड के ऑकलैंड शहर में कोविड-19 के कुछ नए मामले सामने आने पर एक बार फिर पीएम ने यह तत्काल प्रभाव से दूसरा लॉकडाउन भी लगा दिया.

जिससे यह वायरस आगे नहीं बढ़ पाया. बता दें कि नए मामले सिर्फ उन लोगों में पाए गए जो विदेशों से लौट रहे थे. ऑकलैंड में महामारी फैलने के कारण जेसिंडा ने चुनाव को भी एक महीने के लिए टाल दिया था. यह चुनाव पहले 19 सितंबर को होने वाला था.

प्रधानमंत्री के इस निर्णय की जनता ने खूब सराहना की. देश के इतिहास में इतनी विशाल जीत किसी पार्टी को पहली बार मिली है. जेसिंडा एक बार फिर देश की कमान संभालने के लिए तैयार हैं. आम चुनाव में आर्डर्न को मिली बंपर जीत के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अलावा विश्व के तमाम राष्ट्रअध्यक्षों ने उन्हें बधाई दी है.

50 साल के इतिहास में सबसे बड़ी जीत, जेसिंडा दोबारा बनेंगी प्रधानमंत्री
न्यूजीलैंड में हुए आम चुनावों की गिनती पूरी हो चुकी है. जेसिंडा की लिबरल लेबर पार्टी ने कुल मतों में अब तक 49 प्रतिशत मत हासिल किए हैं, जबकि प्रमुख प्रतिद्वंद्वी एवं कंजरवेटिव नेशनल पार्टी को सिर्फ 27 प्रतिशत मत ही प्राप्त हुए हैं.

यह भी पढ़ें -  उपराष्ट्रपति चुनाव: पीएम मोदी ने किया मतदान, जानें- कब आएंगे परिणाम!

जेसिंडा आर्डर्न ने अपने दूसरे कार्यकाल के लिए आम चुनाव में शनिवार को शानदार जीत दर्ज की. इस जीत के बाद जेसिंडा ने कहा कि उनकी पार्टी को 50 साल के इतिहास में इस बार जबरदस्त समर्थन मिला है, उन्होंने कहा यह कोई सामान्य समय नहीं है.

पिछले कई सालों में न्यूजीलैंड में सरकार बनाने के लिए विभिन्न दलों को गठबंधन करना पड़ता था, लेकिन इस बार जेसिंडा और उनकी पार्टी अपने बूते सरकार बनाएगी. बता दें कि साल 2017 के चुनाव में लेबर पार्टी के दो अन्य दलों के साथ गठजोड़ करने के बाद जेसिंडा प्रधानमंत्री बनीं थी.

आर्डर्न अपने कार्यकाल में कई कारणों से दुनियाभर में चर्चित रहीं और दूसरे देशों के नेताओं को उनसे सीखने की नसीहत दी जाती है.

न्यूजीलैंड में उनके कार्यकाल के दौरान आतंकी हमले से लेकर प्राकृतिक आपदाओं ने कहर मचाया और आखिर में कोरोना वायरस की महामारी से सामना भी करना पड़ा. इन सभी से सफलता से निपटने के लिए जेसिंडा की काफी सराहना की गई.

शंभू नाथ गौतम, वरिष्ठ पत्रकार 

Related Articles

Stay Connected

58,944FansLike
3,241FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

Latest Articles

8 अगस्त 2022 पंचांग: जानें आज का शुभ मुहूर्त, कैलेंडर-व्रत और त्यौहार

0
आपके लिए आज का दिन शुभ हो. अगर आज के दिन यानी 8 अगस्त 2022 को कार लेनी हो, स्कूटर लेनी हो, दुकान...

IND vs WI, 5th T20I: टीम इंडिया ने पांचवें टी20 में भी वेस्टइंडीज को...

0
रविवार को फ्लोरिडा में विंडीज के खिलाफ खत्म हुयी पांच टी20 मैचों की सीरीज के आखिरी मुकाबले में टीम इंडिया ने वेस्ट इंडीज को...

सीएम धामी ने पीएम मोदी अध्यक्षता में आयोजित नीति आयोग की बैठक में किया...

0
मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने नई दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में आयोजित नीति आयोग की शासी परिषद की 7 वीं बैठक...

देहरादून: मसूरी में रोडवेज बस अनियंत्रित होकर पलटी, यात्रियों ने खिड़कियों से कूदकर बचाई...

0
देहरादून|.... रविवार दोपहर मसूरी लाइब्रेरी मार्ग पर आईटीबीपी गेट के पास एक दर्दनाक हादसा हो गया. यहां एक यात्रियों से भरी रोडवेज बस अनियंत्रित...

CWG 2022: निकहत जरीन ने जड़ा गोल्डन पंच, भारत को दिलाया 17वां गोल्ड

0
वर्ल्ड चैंपियन मुक्केबाज निकहत जरीन ने कॉमनवेल्थ गेम्स में भी गोल्ड मेडल अपने नाम किया है. 26 वर्षीय निकहत इसी साल मई में वर्ल्ड...

CWG 2022: 16 साल बाद भारतीय महिला हॉकी टीम ने जीता मेडल, शूटआउट में...

0
भारतीय महिला हॉकी टीम ने बर्मिंघम कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 (Commonwealth Games) में ब्रॉन्ज मेडल जीतकर इतिहास रच दिया है. भारत ने ब्रॉन्ज मेडल मुकाबले...

मिस यूनिवर्स हरनाज कौर संधू को कोर्ट ने जारी किया नोटिस, पढ़े पूरा मामला

0
चंडीगढ़ की एक अदालत ने अभिनेत्री उपासना सिंह द्वारा फिल्म प्रमोशन विवाद से जुड़े दायर एक मामले में मिस यूनिवर्स हरनाज कौर संधू को...

एनआईए की बड़ी कार्रवाई, दिल्ली के बाटला हाउस से दबोचा आईएसआईएस का एक्टिव मेंबर

0
स्वतंत्रता दिवस से पहले राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने दिल्ली में तलाशी अभियान चलाया और आईएसआईएस मॉड्यूल मामले की गतिविधियों में कथित रूप से...

CWG 2022: CWG 2022: दक्षिण अफ्रीका को मात देकर फाइनल में पहुंची भारतीय पुरुष...

0
बर्मिंघम|.... भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने शनिवार को बर्मिंघम राष्ट्रमंडल खेलों के सेमीफाइनल में दक्षिण अफ्रीका को 3-2 के अंतर से मात देकर फाइनल में...

सांप्रदायिक तनाव के बाद मणिपुर के कई जिलों में 5 दिन के लिए इंटरनेट...

0
सांप्रदायिक तनाव के बाद मणिपुर सरकार ने राज्य में कई जिलों में इंटरनेट सेवा 5 दिनों के लिए बंद कर दी है. राज्य सरकार...
%d bloggers like this: