लादेन की भतीजी का चौंकाने वाला बयान, अगर ट्रंप मौजूदा राष्ट्रपति चुनाव हारते हैं- तो अमेरिका पर 9.11 जैसा बड़ा आतंकी हमला संभव

वॉशिंगटन|….. कुख्यात आतंकवादी ओसामा बिन लादेन की भतीजी ने एक चौंकाने वाला बयान जारी किया है. ओसामा के बड़े भाई यसलाम बिन लादिन की बेटी नूर बिन लादिन ने यह दावा किया है कि केवल डोनाल्ड ट्रंप ही अमेरिका को 9/11 जैसे हमले से बचा सकते हैं. नूर बिन लादेन ने आगे यह भी कहा कि अगर जो बाइडेन अमेरिका के राष्ट्रपति चुने जाते हैं तो 9/11 जैसा एक और हमला अमेरिका में हो सकता है. नूर ने ये बातें न्यूयॉर्क पोस्ट को दिए साक्षात्कार में कही है.

खूंखार आतंकी संगठन अलकायदा के आतंकवादियों ने 11 सितंबर 2001 को अमेरिका में 4 हमलों को अंजाम दिया था. इन हमलों में 2,977 लोगों की मौत हो गई थी, जबकि 25 हजार से ज्यादा लोग घायल हुए थे.

नूर बिन लादिन, ओसामा बिन लादेन के बड़े भाई यसलाम बिन लादिन की बेटी हैं. यसमान की शादी प्रसिद्ध स्विस लेखक कारमेन ड्यूफोर के साथ हुई है. 1988 में यसमान और कारमेन का तलाक हो गया था. इस वाकये के बाद नूर बिन लादेन अपनी दो बहनों वफ़ा और नाजिया के साथ स्विट्जरलैंड में अपनी मां के साथ रहती हैं. यह परिवार ओसामा बिन लादेन से दूरी दिखाने के लिए अपने उपनाम को लादेन की जगह लादिन लिखता है.

न्यूयॉर्क पोस्ट को दिए गए इंटरव्यू में ओसामा बिन लादेन की भतीजी नूर बिन लादिन ने कहा कि आईएसआईएस ने ओबामा और बाइडेन के कार्यकाल के दौरान प्रसार किया और वे यूरोप तक आ गए. ट्रंप ने दिखाया है कि वे अमेरिका और हमें विदेशी खतरों से बचा सकते हैं. वे आतंकवादियों को हमले का मौका मिलने से पहले ही उन्हें खत्म कर सकते हैं.

नूर बिन लादिन ने कहा कि वह भले हीं स्विट्जरलैंड में रहती हैं, लेकिन वे दिल से खुद को अमेरिकी मानती हैं. उन्होंने यह भी कहा कि 12 साल की उम्र में ही उन्होंने अपने कमरे में अमेरिका का बड़ा झंडा लगाया था. उनका सपना छुट्टी के समय पूरे अमेरिका का आरवी ट्रिप करना है. उन्होंने कहा कि 2015 से ही वह ट्रंप की समर्थक रही हैं. मैं उनसे कभी नहीं मिली, मैंने उन्हें दूर से ही देखा है। मैं उनके संकल्प की प्रशंसा करती हूं.

नूर बिन लादिन ने कहा कि ट्रंप को अमेरिका का दोबारा राष्ट्रपति चुना जाना चाहिए. ट्रंप का चुना जाना ना केवल अमेरिका, बल्कि पश्चिमी सभ्यता के भविष्य के लिए महत्वपूर्ण है. उन्होंने कहा कि आप पिछले 19 वर्षों में यूरोप में हुए सभी आतंकवादी हमलों को देखिए. इन घटनाओं ने हमें पूरी तरह से हिला दिया है. कट्टरपंथी इस्लाम ने हमारे समाज में गहरी पैठ बना ली है. अमेरिका में यह बहुत चिंताजनक है कि वामपंथियों ने उस विचारधारा को फैलाने वाले लोगों के साथ गठबंधन कर लिया है.

Related Articles

Latest Articles

पीएम मोदी ने की बंगाल की खाड़ी से उठे चक्रवात रेमल को लेकर समीक्षा...

0
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार शाम बंगाल की खाड़ी से उठे चक्रवात रेमल को लेकर समीक्षा बैठक की. इस दौरान पीएम मोदी ने अधिकारियों...

बेबी केयर सेंटर का मालिक गिरफ्तार, पुलिस एफआईआर में जोड़ सकती है धारा-304

0
रविवार को पूर्वी दिल्ली के विवेक विहार में बच्चों के एक अस्पताल में भीषण आग लगने से 6 नवजात शिशुओं की मौत के मामले...

स्वाति मालीवाल ने आप नेताओं पर गंभीर आरोप लगाए, यूट्यूबर ध्रुव राठी का भी...

0
आम आदमी पार्टी की राज्यसभा सांसद स्वाति मालीवाल और अरविंद केजरीवाल के निजी सचिव रहे बिभव कुमार के बीच का विवाद थमने का नाम...

मलेशिया मास्टर्स खिताब जीतने से चूकी सिंधु फाइनल में नहीं लांघ पाईं ‘चीनी दीवार’

0
भारत की स्टार महिला शटलर पीवी सिंधु का 2 साल से खिताबी सूखा बदस्तूर जारी है. सिंधु रविवार को मलेशिया मास्टर्स बैडमिंटन टूर्नामेंट में...

हल्द्वानी: लावारिस सांड की एक बाइक से टक्कर, हादसे में युवक की मौत

0
हल्द्वानी| हल्द्वानी से दुखद घटना की खबर सामने आ रही है. यहां एक लावारिस सांड की एक बाइक से टक्कर हो गई. इस हादसे...

क्या है ‘रेमल’ का मतलब! आखिर कौन तय करता है तूफान का नाम

0
चक्रवार्ती तूफान ‘रेमल’ रविवार (26 मई) की रात पश्चिम बंगाल और ओडिशा के तट से टकरा सकता है. मौसम विभाग ने कहा है कि...

‘रेमल’ चक्रवात भीषण चक्रवाती तूफान में तब्दील, रविवार रात बंगाल-बांग्लादेश के तटों से टकराएगा

0
चक्रवाती तूफान रेमल रविवार की रात पश्चिम बंगाल और बांग्लादेश के समुद्र तटों पर दस्तक दे सकता है. बंगाल की खाड़ी में बना चक्रवाती...

दिल्‍ली: बेबी केयर हॉस्पिटल में आग लगने से 6 किलकारियां हमेशा के लिए खामोश

0
देश की राजधानी दिल्‍ली के विवेक विहार में एक बेबी केयर हॉस्पिटल में आग लगने से 6 किलकारियां हमेशा के लिए खामोश हो गईं....

लोकसभा चुनाव 2024: छठे चरण में 58 सीटों पर मतदान संपन्न, 59.06 फीसदी मतदान...

0
शनिवार को लोकसभा चुनाव के छठे चरण में सात राज्यों और केंद्र शासित प्रदेश की 58 सीटों पर मतदान हो चुका है. आठ राज्यों...

रविवार को भगवान सूर्य देवता को जल चढ़ाने के होते हैं कई फायदे, जानिए...

0
हिंदू धर्म में सूर्य को जल देने की परंपरा बहुत पुरानी है जिसे आज भी निभाते हैं. श्रद्धालु हर रोज सूर्य देवता को अर्घ्य...