यूपी में करना है धर्म परिवर्तन तो व्यक्ति से लेकर धार्मिक पुजारी को भरने पड़ेंगे ये फॉर्म, वरना…

लखनऊ| यूपी की राज्यपाल आनंदी बेन ने योगी कैबिनेट द्वारा पिछले दिनों ‘लव जिहाद’ के खिलाफ पास किए गए अवैध धर्मांतरण रोधी कानून के प्रस्ताव उत्तर प्रदेश विधि विरुद्ध धर्म संपरिवर्तन प्रतिषेध अध्यादेश, 2020 को मंजूरी दे दी.

योगी कैबिनेट से मंजूरी के बाद अध्यादेश राज्यपाल के पास मंजूरी के लिए गया था. इस अध्यादेश के राज्यपाल से मंजूरी मिलने के बाद उत्तर प्रदेश में धर्म परिवर्तन करने के लिए अनुमति लेना आवश्यक हो गया है.

यूपी विधि विरुद्ध धर्म संपरिवर्तन प्रतिषेध अध्यादेश, 2020 के तहत अगर किसी का अपना धर्म परिवर्तन करना है तो उस व्यक्ति को कम से कम 60 दिन पहले जिला मजिस्ट्रेट या जिला मजिस्ट्रेट द्वारा विशेष रूप से अधिकृत अपर जिला मजिस्ट्रेट के समक्ष प्रपत्र में ये घोषणा करनी होगी कि वह खुद और अपनी स्वतंत्र सहमति से, बिना किसी बल, उत्पीड़न, प्रलोभन आदि के अपना धर्म परिवर्तन करना चाहता है.

यह भी पढ़ें -  राजस्थान संकट पर सचिन पायलट ने तोड़ी चुप्पी, दिया ये बयान
धर्म परिवर्तन करने वाले व्यक्ति के लिए प्रपत्र

जो धार्मिक पुजारी किसी व्यक्ति का एक धर्म से अन्य धर्म में परिवर्तन करने लिए अनुष्ठान संपादित करेगा, इस संबंध में उसे भी तय प्रपत्र में नोटिस जिला मजिस्ट्रेट या उस जिला, जहां ऐसे अनुष्ठान संपादित किया जाना प्रस्तावित हो, के जिला मजिस्ट्रेट द्वारा एक महीने पहले देगा.

जिला मजिस्ट्रेट इन दोनों सूचनाओं को प्रस्तावित धर्म परिवर्तन के वास्तविक आशय, प्रयोजन और कारण के संबंध में पुलिस के माध्यम से जांच कराएगा. उल्लंघन करने पर प्रस्तावित धर्म परिवर्तन का प्रभाव अवैध और शून्य हो जाएगा.

यही नहीं प्रपत्र का उल्लंघन करने वाले व्यक्ति को कम से कम 6 महीने और अधिकतम 3 साल तक जेल हो सकती है, साथ ही कम से कम 10 हजार रुपए का जुर्माना भी लगाया जा सकता है. वहीं कोई धार्मिक पुजारी, मौलवी आदि अगर अपने प्रपत्र का उल्लंघन करेगा, उसे कम से कम 1 साल और अधिकतम 5 साल की सजा हो सकती है. वहीं कम से कम 25 हजार रुपए का जुर्माना लगाया जा सकता है.

यह भी पढ़ें -  कांग्रेस पर्यवेक्षकों ने दी क्लीन चिट, अध्यक्ष पद की रेस से बाहर नहीं गहलोत

राज्यपाल के अनुसार चूंकि राज्य में विधानमंडल सत्र में नहीं है और ऐसी परिस्थितियां विद्यमान हैं, जिसके कारण उन्हें तुरंत कार्रवाई करना आवश्यक हो गया है. इसलिए अब भारत के संविधान के अनुच्छेद 213 के खंड (1) द्वारा प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करके राज्यपाल इस अध्यादेश को प्रख्यापित करती हैं.

यह भी पढ़ें -  जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे के अंतिम संस्कार में शामिल हुए पीएम मोदी, 100 से अधिक देशों के नेता भी मौजूद

साभार-न्यूज़ 18

Related Articles

Advertisement

Advertisement

Stay Connected

58,944FansLike
3,243FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

Latest Articles

विश्व पर्यटन दिवस पर पर्यटन के क्षेत्र में राज्य को मिले सम्मान पर सीएम...

0
सीएम पुष्कर सिंह धामी ने मंगलवार को नई दिल्ली में विश्व पर्यटन दिवस के अवसर पर उत्तराखंड को बेस्ट एडवेंचर टूरिज्म डेस्टिनेशन एवार्ड तथा...

उत्तराखंड को मिला बेस्ट टूरिज्म डेस्टिनेशन अवार्ड, पर्यटन के सर्वांगीण विकास के लिए भी...

0
विश्व पर्यटन दिवस के अवसर पर उत्तराखंड राज्य को पर्यटन मंत्रालय भारत सरकार द्वारा बेस्ट एडवेंचर टूरिज्म डेस्टिनेशन और पर्यटन के सर्वांगीण विकास के...

कांग्रेस पर्यवेक्षकों ने दी क्लीन चिट, अध्यक्ष पद की रेस से बाहर नहीं गहलोत

0
राजस्थान में कांग्रेस विधायकों की बगावत के बाद जारी सियासी संकट को लेकर पार्टी पर्यवेक्षकों ने अपनी रिपोर्ट कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को भेज...

मुख्य सचिव ने किया हेमकुंड साहिब और बद्रीनाथ धाम में पुनर्निर्माण कार्यो का निरीक्षण

0
मुख्य सचिव डॉ. एस.एस. संधु ने मंगलवार को हेमकुंड साहिब और बद्रीनाथ धाम में यात्रा व्यवस्थाओं का जायजा लेने के साथ ही मास्टर प्लान...

5 दिन में दूसरी बार सीएम धामी पहुंचे दिल्ली, फिर शुरू हुई कैबिनेट विस्तार...

0
उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी दिल्ली दौरे पर हैं. सीएम धामी के अचानक दिल्ली जाने पर एक बार फिर हलचल शुरू हो गई...

अंकिता भंडारी हत्या मामला: पटवारी वैभव प्रताप निलंबित, डीएम ने दिए जांच के आदेश

0
पौड़ी| आखिरकार अंकिता भंडारी हत्याकांड मामले में कोताही बरतने और दूसरे को चार्ज थमाकर अवकाश पर गए पटवारी वैभव प्रताप को निलंबित कर दिया...

राजस्थान संकट पर सचिन पायलट ने तोड़ी चुप्पी, दिया ये बयान

0
राजस्थान में जारी कांग्रेस संकट पर सचिन पायलट ने पहली बार बयान दिया है. सूत्रों का कहना है कि सचिन पायलट ने हाई कमान...

उत्तराखंड शासन ने किए दो आईपीएस अधिकारियों के तबादले

0
देहरादून। उत्तराखंड शासन ने दो वरिष्ठ आईपीएस अधिकारियों का तबादला कर दिया है, साथ ही दोनों अधिकारियों को नवीन तैनाती भी दे दी है....

जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे के अंतिम संस्कार में शामिल हुए पीएम मोदी,...

0
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंगलवार को जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे के अंतिम संस्कार में शामिल हुए. एएनआई के अनुसार शिंजो आबे का...

विश्व पर्यटन दिवस विशेष: देश में कई राज्यों के लिए त्योहार से कम नहीं...

0
हमारे देश में कई ऐसे राज्य हैं जिनकी कमाई का मुख्य आए पर्यटन उद्योग है. इसके साथ पर्यटन से ही लाखों लोगों को रोजगार...
%d bloggers like this: