समझौते के बावजूद भारत-चीन के बीच नहीं दिख रही नरमी, लड़ाई के तरफ बढ़ रहे हैं दोनों देश

भारत और चीन के बीच तनावपूर्ण और खूनी सीमा संघर्ष को चार महीने बीत गए हैं. अब भारत और चीन ने गतिरोध को दूर करने के लिए सुरक्षा बलों को पीछे हटने और तनाव को कम करने के लिए पांच सूत्रीय समझौते पर सहमति जताई है. लेकिन एलएसी पर जैसे हालात हैं, उसके हिसाब से नरमी के संकेत दोनों ही ओर से मिलते नहीं दिख रहे हैं.

चीन एक तरफ बात कर रहा है, लेकिन उसने एलएसी पर सैनिकों की संख्या बढ़ाना भी शुरू कर दिया है. यह भारत और चीन के बीच समझौते का उल्लंघन है. जमीनी स्‍तर पर देखा जाए तो चीन की सेना अधिक सैनिकों को एकत्र कर रही है.

यह भी पढ़ें -  उत्‍तराखंड के कुमाऊ मंडल में हो सकती है जी-20 की बैठक

ताजा रिपोर्ट के अनुसार, अब पैंगोंग झील के उत्तर की ओर फिंगर-3 क्षेत्र के पास पीपुल्स लिबरेशन आर्मी के सैनिकों को एकत्र करने की जानकारी मिली है. भारत के दक्षिण की ओर से कुछ सामरिक ऊंचाइयों पर पहुंचने के बाद, चीनी सेना उत्तर दिशा में भी ऐसा ही कुछ करने की कोशिश कर रही है.

एलएसी पर स्थिति काफी गंभीर है. हालांकि दोनों देशों के नेतृत्व नहीं चाहते कि युद्ध जैसी स्थिति बने. जाहिर है कि न तो पक्ष डी-एस्कलेशन की दिशा में पहला कदम उठाने में सक्षम हैं.

यह भी पढ़ें -  जम्मू कश्मीर की पूर्व सीएम महबूबा मुफ्ती हिरासत में, जानिए पूरा मामला

साथ ही, चीन के राष्‍ट्रपति शी जिनपिंग के लिए यह समय काफी जटिल है. अगले महीने, चीनी कम्युनिस्ट पार्टी (CCP) एक प्रमुख सम्मेलन आयोजित करने वाली है.

यहां शी सीसीपी की स्थापना के शताब्दी वर्ष के समारोह की घोषणा करेंगे. जहां शी चाहेंगे कि पार्टी के दिग्‍गजों में केवल माओ को अगले नेता के तौर पर देखा जाए. और वह इस समारोह के माध्‍यम से बताने की कोशिश करेंगे कि सीसीपी सबसे मजबूत है और चीन सबसे मजबूत स्थिति में है. इसलिए, समय को देखते हुए शी को रियायतें देने के रूप में देखा जा सकता है.

Related Articles

Stay Connected

58,944FansLike
3,251FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

Latest Articles

थारू राजकीय इण्टर कॉलेज पहुंचे सीएम धामी, बच्चों के बीच स्कूली दिनों को याद...

0
सीएम पुष्कर सिंह धामी ने अपने जनपद खटीमा भ्रमण के दौरान थारू राजकीय इंटर कॉलेज पहुंचकर परीक्षा पे चर्चा कार्यक्रम में प्रतिभाग किया. सीएम...

उत्तराखंड के 2 स्कूलों में 42 बच्चे वायरल फीवर से हुए बीमार, 14 बच्चे...

0
उत्तराखंड के पहाड़ों में एक बार फिर से वायरल बुखार स्कूली छात्र छात्राओं को अपना शिकार बना रहा है. अल्मोड़ा सोमेश्वर क्षेत्र के 2...

तुर्किये में आए भूकंप में एक भारतीय लापता, 10 दूरदराज के इलाकों में फंसे-सरकार...

0
तुर्किये और सीरिया में आए भूंकप से हालात बिगड़ गए हैं. अब तक कुल 11,416 लोगों की मौत हो चुकी है. घायलों की संख्या...

पिथौरागढ़: मुख्य सचिव एसएस संधु ने नैनी सैनी एयरपोर्ट और बेस चिकित्सालय का किया...

0
उत्तराखंड के मुख्य सचिव एसएस संधु ने जनपद के नैनी सैनी एयरपोर्ट एवं पिथौरागढ़ स्थित बेस चिकित्सालय भवन का स्थलीय निरीक्षण किया. मुख्य सचिव...

उत्तराखंड को केंद्र से मिल रही लगातार सौगाते, सीएम धामी ने जताया आभार

0
सीएम पुष्कर सिंह धामी ने उत्तराखंड को विशेष सहायता के तहत 65.92 करोड़ रुपए तथा पूंजीगत परिव्यय के रूप में 72 करोड़ रुपए की...

रेलवे स्टेशन के नाम हमेशा पीले बोर्ड पर ही क्यों लिखे जाते हैं, जानिए...

0
आपने भी कभी न कभी तो ट्रेन में सफर किया ही होगा. लेकिन क्या अपने कभी गौर किया है कि रेलवे स्टेशन के नाम...

सर्दी-जुकाम को जल्दी ठीक करने में कारगर है काली मिर्च, जानें इसके फायदे और...

0
आपको अगर कुछ दिनों से खांसी-जुकाम है, तो आज हम आपको बता रहे हैं खांसी-जुकाम दूर करने का ऐसा घरेलू नुस्खा, जो आपकी शुरुआती...

यूपी: मुरादाबाद में बस स्टेशन के पास लगा लंगूर का पोस्टर, जानिए पूरा मामला

0
यूपी के मुदाराबाद में सरकारी बस स्टेशन पर लंगूर के बड़े-बड़े फोटो के साथ फायर साउंड सेंसर मशीनें लगाई गई हैं. ये इंतजाम वहां...

पीएम मोदी पर बयान देकर बुरे फंसे मल्लिकार्जुन खड़गे, राज्यसभा अध्यक्ष बोले-ये आपको शोभा...

0
राज्यसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे के एक बयान पर सदन में हंगामा हो गया. खड़गे ने बुधवार को पीएम नरेंद्र मोदी पर...

दिल्ली आबकारी नीति मामला: सीबीआई की बड़ी कार्रवाई, तेलंगाना के सीएम की बेटी के...

0
सीबीआई ने दिल्ली आबकारी नीति मामले में बड़ी कार्रवाई की है. सीबीआई ने हैदराबाद के चार्टर्ड अकाउंटेंट बुच्ची बाबू गोरंटला को बुधवार को गिरफ्तार...
%d bloggers like this: