भारत को मिले सबूत, पाक की आईसीआई के साथ आतंकी सैयद सलाहुद्दीन की निकटता की पुष्टि


पाकिस्तान और आतंकियों के बीच साठगांठ किसी से छिपी नहीं है. हालांकि पाक इस बात से इनकार करता रहा है. लेकिन अब इस बात के सबूत सामने आए हैं. फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स से पहले ये काफी अहम है. अक्टूबर में इस बात की समीक्षा की जानी है कि पाकिस्तान फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स एक्शन प्लान को लागू करने में कितना सफल रहा है और इससे पहले ही इस्लामाबाद के विशेष रूप से आतंकवाद के वित्तपोषण देने , लगातार आतंक का समर्थन करने और आतंकवाद को दिए जाने वाले सक्रिय समर्थन के बढ़ने के प्रमाण मिले हैं. सुरक्षा एजेंसियों ने एक नया दस्तावेज़ हासिल किया है, जो पाकिस्तान की इंटर-सर्विसेज इंटेलिजेंस के साथ इसकी (आतंकवादी समूह की) एक छद्म शाखा की निकटता की पुष्टि करता है. जिसके चलते फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स मीटिंग में पाकिस्तान की स्थिति के और खराब होने की संभावना है.

पाकिस्तान की ओर से भारत में आतंकवाद को बढ़ावा देने के लिए जिन महत्वपूर्ण आतंकवादी समूहों का इस्तेमाल किया गया है, उनमें से एक हिजबुल मुजाहिदीन है. जिसक अध्यक्ष मोहम्मद यूसुफ शाह है, उसे सैयद सलाहुद्दीन के नाम से भी जाना जाता है. वह कई आतंकवादी संगठनों के पैत्रक संगठन संयुक्त जिहाद परिषद जैसे सगंठन का भी प्रमुख है, जिसके अंतर्गत लश्कर-ए-तैयबा और जैश-ए-मोहम्मद जैसे प्रमुख आतंकी संगठन आते हैं.

अपने पाकिस्तानी आकाओं के निर्देश पर कार्रवाई करते हुए सलाहुद्दीन जम्मू-कश्मीर में भारत विरोधी प्रचार और आतंकवादी गतिविधियों को अंजाम देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता रहा है. उसने कश्मीर में आतंकवादी और अलगाववादी गतिविधियों की फंडिंग में पाकिस्तान की भूमिका को समय-समय पर स्वीकार किया है. जून, 2012 में एक साक्षात्कार में, सलाहुद्दीन ने स्वीकार किया था कि वह कश्मीर में पाकिस्तान की लड़ाई लड़ रहा था, यहां तक ​​कि उसने समर्थन वापस लिए जाने पर इस लड़ाई को इस्लामाबाद तक ले जाने की धमकी भी दी थी.

सलाउद्दीन ने यह भी घोषणा की थी कि “मुजाहिदीन संघर्ष पाकिस्तान के लिए एक रक्षा पंक्ति के रूप में कार्य करता है.” लगता है कि उसके बेटों सैयद शकील यूसुफ और सैयद शाहिद यूसुफ की गिरफ्तारी और हाल ही में भारतीय सुरक्षा बलों के (6 मई को) को उसके दो करीबी सहयोगियों रियाज नाइकू और आदिल अहमद को मौत के घाट उतार देने से सलाउद्दीन परेशान समझ आ रहा है, जिससे वह लगातार और अधिक दुस्साहसी होता जा रहा है.

सलाउद्दीन कई भारतीय प्रॉक्सी एनजीओ और आईएसआई और अन्य पाकिस्तान स्थित संस्थाओं द्वारा समर्थित चैरिटी के माध्यम से भारतीय जमीन पर आतंकवादी गतिविधियों को समर्थन देता है. इनमें से सबसे प्रमुख जम्मू और कश्मीर प्रभावित राहत ट्रस्ट है.

जेकेएआरटी का उपयोग सलाउद्दीन द्वारा वित्तीय प्रोत्साहन देकर नई भर्तियां करने के लिए और “शहीद” होने पर उनके परिवार के सदस्यों की देखभाल करने का वादा करने के लिए किया जाता है. जेकेएआरटी का मुख्य कार्यालय रावलपिंडी में इस्लामाबाद में है, जबकि इसकी शाखाएं मुजफ्फराबाद में कई जगहों पर हैं.

Related Articles

Stay Connected

58,944FansLike
3,250FollowersFollow
494SubscribersSubscribe

Latest Articles

इस मंदिर में झूला झूलती हैं देवी दुर्गा, मां की रखवाली में पहरा देते...

0
झुला देवी मंदिर रानीखेत शहर से 7 कि.मी. की दुरी पर स्थित एक लोकप्रिय पवित्र एवम् धार्मिक मंदिर है. यह मंदिर माँ दुर्गा को...

क्या आप जानते हैं शनिदेव की ये 16 विशेषताएं

0
शनिदेव अत्यंत विशिष्ट देव हैं. वे ग्रह भी है और देवता भी.... उनका प्रताप ऐसा है कि वे राजा को रंक और रंक को...

राशिफल 09-12-2022: आज का दिन इन राशियों पर रहेगा अनुकूल, पढ़े सबका राशिफल

0
मेष-: एक आध्यात्मिक व्यक्ति आशीर्वाद देगा और मन की शांति लाएगा. बिना विशेषज्ञ की सलाह के निवेश करेंगे तो नुकसान हो सकता है. बेवजह...

09 दिसम्बर 2022 पंचांग: जानें आज का शुभ मुहूर्त, कैलेंडर-व्रत और त्यौहार

0
आपके लिए आज का दिन शुभ हो. अगर आज के दिन यानी 09 दिसम्बर 2022 को कार लेनी हो, स्कूटर लेनी हो, दुकान का...

दो दिवसीय प्रवास पर देहरादून पहुंची राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू, कई परियोजनाओं का किया शिलान्यास

0
गुरुवार को राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू दो दिवसीय प्रवास पर देहरादून पहुंच गई हैं. उनके आगमन के दौरान सुरक्षा के कड़े प्रबंध किए गए....

उत्तराखंड: बागेश्वर में दर्दनाक हादसा, तीन महिलाओं समेत चार लोगों की मौत

0
उत्तराखंड के बागेश्वर जिले में गुरुवार शाम दर्दनाक हादसा हो गया. कनौली-शामा सड़क पर एक कार गहरी खाई में जा गिरी. हादसे में तीन...

मैनपुरी लोकसभा उपचुनाव: मुलायम सिंह यादव की विरासत संभालेंगी डिंपल यादव, सपा को मिली...

0
समाजवादी पार्टी के संस्थापक मुलायम सिंह यादव की विरासत अब उनकी बहू डिंपल यादव संभालेंगी क्योंकि उन्होंने मैनपुरी लोकसभा उपचुनाव में भाजपा उम्मीदवार को...

नैनीताल हाईकोर्ट ने फेसबुक पर लगाया 50 हजार रुपये का जुर्माना, 16 फरवरी तक...

0
बुधवार को नैनीताल हाईकोर्ट ने तय समय में जवाब दाखिल नहीं करने पर फेसबुक पर 50 हजार का जुर्माना लगाया. मुख्य न्यायाधीश विपिन सांघी...

रुद्रप्रयाग: पंचकेदार में सर्वोपरी है मदमहेश्वर धाम, होती है शिव की नाभि की पूजा

0
गढ़वाल के सुरम्य पर्वतांचल में स्थित मदमहेश्वर पंचकेदार में सर्वोपरी है. पंचकेदार में केदारनाथ,मदमहेश्वर, रुद्रनाथ, तुंगनाथ और कल्पेश्वर शामिल हैं। इन पांच केदारों में...

देहरादून: सीएम धामी ने भारत के प्रथम सी.डी.एस जनरल रावत की प्रथम पुण्य तिथि...

0
गुरुवार को मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने भारत के प्रथम सी.डी.एस जनरल बिपिन रावत की प्रथम पुण्य तिथि पर बलवीर रोड स्थित भाजपा कार्यालय...
%d bloggers like this: